राष्ट्रपति चुनाव में इस बार मुख्य मुकाबला द्रौपदी मुर्मू बनाम यशवंत सिन्हा के बीच होने जा रहा है। ओड़िशा की पूर्व मंत्री एवं झारखंड की राज्यपाल रह चुकी द्रौपदी मुर्मू एनडीए उम्मीदवार के तौर पर राष्ट्रपति का चुनाव लड़ेंगी, तो वहीं यूपीए और कुछ अन्य विरोधी दलों ने मिलकर संयुक्त उम्मीदवार के तौर पर पूर्व भाजपा नेता और चंद्रशेखर एवं अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में मंत्री रह चुके यशवंत सिन्हा को संयुक्त उम्मीदवार के तौर पर राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाने का ऐलान किया है।

जयंत सिन्हा यशवंत सिन्हा के पुत्र हैं. यशवंत सिन्हा की राजनीतिक विरासत को वह आगे बढ़ा रहे हैं. यशवंत सिन्हा हजारीबाग से सांसद रह चुके हैं। हालांकि 2014 में उन्होंने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था। इस पर भाजपा ने जयंत सिन्हा को हजारीबाग से टिकट दिया था। जयंत सिंहा 2014 और 2019 में हजारीबाग से चुनाव जीतकर सांसद बने।

Share.

Leave A Reply


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/wefornewshindi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5275