राजनीतिसरकार आई तो आर्टिकल 370 पर करेंगे विचार: दिग्विजय सिंह

WeForNews DeskJune 12, 20211471 min
Congress Senior leader and former Madhya Pradesh Chief Minister Digvijay Singh

अपने बयानों से चर्चाओं में रहने वाले और विवाद खड़ा करने वाले कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह एक बार फिर बीजेपी के निशाना पर आ गए हैं।

अनुच्छेद 370 पर कथित दिग्विजय सिंह की टिप्पणी के बाद विवाद छिड़ गया है, जिसके बाद बीजेपी उनको और कांग्रेस को जमकर आड़े हाथों ले रही है।

हाल ही में क्लब हाउस ऐप पर पाकिस्तान के एक पत्रकार से बातचीत में सिंह ने कथित तौर पर आर्टिकल 370 को रद्द करने के फैसले पर फिर से विचार करने के संकेत दिए हैं, जिसका ऑडियो बीजेपी आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने जारी किया है। जिस पर दिग्विजय सिंह ने भी पलटवार किया है।

अमित मालवीय की ओर से जारी किए गए ऑडियो में बातचीत के दौरान दिग्विजय सिंह ने क्लब हाउस पर चैट के दौरान कथित तौर पर कहा कि कश्मीर में लोकतंत्र नहीं था, जब उन्होंने अनुच्छेद 370 को रद्द किया तो ‘इंसानियत’ नहीं थी क्योंकि उन्होंने सभी को सलाखों के पीछे डाल दिया था। इस बीच ‘कश्मीरियत’ कुछ ऐसा है जो धर्मनिरपेक्षता का मूल है। क्योंकि मुस्लिम बहुल राज्य में एक हिंदू राजा था और दोनों एक साथ काम करते थे।

वास्तव में कश्मीर में आरक्षण कश्मीरी पंडितों को दिया गया था, इसलिए अनुच्छेद 370 को रद्द करने और जम्मू-कश्मीर के राज्य का दर्जा कम करने का निर्णय एक दुखद निर्णय है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी सरकार में आती है तो निश्चित रूप से इस मुद्दे पर फिर से विचार किया जाएगा।

Related Posts