तमिलनाडु: दो किसानों ने 80 कुत्तों को मारकर जलाया | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

शहर

तमिलनाडु: दो किसानों ने 80 कुत्तों को मारकर जलाया

Published

on

तमिलनाडु

चेन्नई : तमिलनाडु के कांचीपुरम जिले में दो किसानों ने करीब 80 कुत्तों को जहर कर मारने के बाद उन्हें जला देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के अनुसार कुत्तों को 4 जून को मारा गया था। स्थानीय लोगों ने कुत्ते मारने की घटना को सही ठहराया है। उनका कहना है पागल कुत्तों ने करीब 10 भेड़ों को मार दिया था और इन आवारा कुत्तों को लेकर की गई शिकायतों पर कोई कार्यवाही नहीं की गई थी। एक महिला ने बताया, “कुत्ते हमारी 15 भेड़ों को ले गए थे और हममें से कुछ को काट भी चुके हैं। पास के ही जंगल में कुत्तों की लाशों के जलने के संकेत मिले हैं।

लाशों को पहले गाड़ा गया था लेकिन बदबू ने अपराध की पोल खोल दी। भारतीय पशु कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष और ब्लू क्रॉस के सहसंस्थापक डॉ चेन्नी कृष्णा ने कहा कि अगर कुत्तों द्वारा हमले के बारे में हमें बताया गया होता तो उन्हें “नूट्रिंग” प्रक्रिया से शांत किया जा सकता था लेकिन इतनी तादात में मार डालना समस्या का समाधान नहीं है।

पुलिस ने लाशों का पोस्टमार्टम नहीं किया है। कार्यकर्ता इस बात से चिंतित हैं कि बिना पोस्टमार्टम रिपोर्ट के ये मजबूत केस नहीं होगा। पुलिस ने कुत्तों को जलाने का इल्जाम स्थानीय लोगों पर लगाया है। एक पुलिस अफसर का कहना है, “हमने कुछ नमूने ले लिए हैं। दो कुत्तों को गाड़ दिया गया था लेकिन हम अब भी अपराध साबित कर सकते हैं।” हालांकि जाचकर्ताओं का दावा है कि केवल नौ कुत्ते ही जलाए गए हैं और उनका इल्जाम स्थानीय लोगों पर लगाया गया है।

भारत में कुत्तों को मारना अपराध है लेकिन पिछले साल 40 आवारा कुत्तों को एक कोयंबटूर जिले की एक पंचायत ने मार दिया है। इसी प्रकार की घटनाएं केरल में भी हुई बताई गई हैं।पुलिस ने पशुओं के प्रति क्रूरता का निवारण अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है।

wefornews bureau

keywords: TN, Two farmers ,killed 80 dogs lit,तमिलनाडु,दो किसानों,80 कुत्तों, जलाया

शहर

नोएडा: दवा बनाने वाली कंपनी में लगी भीषण आग

Published

on

नोएडा सेक्टर 59 स्थित जुबलिएंट कंपनी में अचानक भीषण आग लग गई। आग कंपनी की दूसरी मंजिल पर लगी है। मौके पर आधे दर्जन से अधिक दमकल की गाड़ियां आग बुझाने की कोशिश में लगी हुई हैं। हालांकि अब तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं हैं।

अग्निशमन अधिकारी कुंवर सिंह ने बताया कि सेक्टर 59 के सी-26 स्थित जुबलिएंट कंपनी के दूसरे माले पर बुधवार शाम को अचानक आग लग गई। इस कंपनी में दवाओं की रिसर्च और डेवलपमेंट का काम होता है। 

सूचना के बाद मौके पर आधा दर्जन से अधिक दमकल की गाड़ियां पहुंचीं और सबसे पहले सभी कर्मचारियों को बाहर निकाला। अभी आग बुझाने का काम चल ही रहा है। उन्होंने बताया कि आग पर काबू पाए जाने के बाद ही घटना के कारणों की जांच की जाएगी।

Continue Reading

शहर

दिलशाद गार्डन में एक शख्स ने खुद को गोली मारी

Published

on

gun

दिल्ली के दिलशाद गार्डन इलाके में एक स्विफ्ट कार में ड्राइवर सीट से एक शख्स का शव बरामद हुआ। उसके सिर में गोली लगी हुई थी। शव की पहचान 50 साल के मनीष तनेजा उर्फ बॉबी तनेजा के रूप में हुई है।

मनीष झिलमिल इंडस्ट्रियल एरिया के पोस्ट ऑफिस में पोस्टल असिस्टेंट के पद पर तैनात था। पुलिस के मुताबिक, शुरुआती जांच में मामला आत्महत्या का लग रहा है। हालांकि, शव के पास से कोई सुसाइड नोट (Suicide Note) नहीं मिला है। बताया जा रहा है कि मृतक बीमारी से पीड़ित था ।

Continue Reading

शहर

दिल्ली हिंसा, प्रदर्शनों के दौरान मेट्रो यात्रियों में गिरावट : सरकार

Published

on

DELHI Metro

नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो ने कहा कि यहां हुई हिंसा और विरोध प्रदर्शनों के दौरान सफर करने वाले यात्रियों में कुछ गिरावट दर्ज की गई थी। केंद्र ने संसद में इसकी जानकारी दी।

सवालों के जवाब में आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने गुरुवार को एक लिखित जवाब में लोकसभा में बताया कि डीएमआरसी को कोरोनावायरस महामारी के दौरान बंद मेट्रो सेवाओं के कारण लगभग 1,609 करोड़ रुपये के राजस्व का घाटा हुआ।

मंत्रालय ने कहा कि देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान डीएमआरसी ने डिटेल्ड डिजाइन, टेंडर की तैयारी, टेंडरों के अंतिम रुप देने जैसे कामों को किया है।

यह पूछे जाने पर क्या सरकार डीएमआरसी को हुए नुकसान के प्रभाव को कम करने के लिए कोई रणनीति तैयार की है, इसका जवाब देते हुए मंत्रालय ने कहा, डीएमआरसी ने कई नवाचार किए गए हैं जैसे फीडर प्रणाली, स्टेशनों और अन्य जगहों पर विकास, लिजिंग ऑफ स्पेस, ट्रांजिट ओरिएंट डेवलपमेंट एंड वैल्यू कैप्चर फाइनेंस आदि काम किए गए हैं।

यह पूछे जाने पर कि डीएमआरसी ऋण भुगतान का प्रबंधन या पुनर्गठन कैसे कर रहा है, जिसका जवाब देते हुए मंत्रालय ने कहा, ऋणों का भुगतान शिड्यूल के अनुसार किया गया है।

(आईएएनएस)

Continue Reading

Most Popular