शहरगुड़गांव का हुआ नामकरण, गुरूग्राम के नाम से जाना जाएगा गुड़गांव

Rukhsar AhmadApril 13, 2016611 min

हरियाणा सरकार ने गुड़गांव के इतिहास को ध्यान में रखते हुए गुड़गांव के नाम को लेकर के एक अहम फैसला लिया है।

दिल्ली के पास एनसीआर गुड़गांव अब गुरूग्राम के नाम से जाना जाएगा और वहीं मेवात जिले का नाम बदलकर नूहं करने का फैसला किया गया है। हरियाणा की खट्टर सरकार ने ये फैसला लेकर प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। सरकार की दलील है कि इससे गुड़गांव के इतिहास के बारे में लोगों को जानकारी मिलेगी, वहीं यूथ भी इस बात के समर्थन में आए है। आपको बता दें कि नाम बदलने के पीछे राज्य सरकार ने धार्मिक मान्यताओं का तर्क दिया है। 17 लाख की जनसंख्या वाला गुड़गांव एक फाइनेंशियल और इंडस्ट्रियल हब के तौर पर उबर रहा है।

manohar-lal-khattar-cm-haryana_wefornewshindi

क्या है इतिहास

गुड़गांव का नाम बदलकर गुरूग्राम करने के पीछे एक ऐतिहासिक कारण है। जी हां, महाभारत काल में द्रोणाचार्य का गुड़गांव गांव था और उस वक्त भी गुड़गांव को गुरुग्राम ही कहा जाता था। वहीं, सरकार ने दावा किया है कि इलाके के लोग इस संबंध में मांग कर रहे थे। आधिकारिक प्रवक्ता की माने तो हरियाणा भागवत गीता की ऐतिहासिक भूमि है और गुड़गांव शिक्षा का महान केंद्र रहा है। जहां राजकुमारों को शिक्षा भी दी जाती थी। उन्होंने कहा कि, ये गुर द्रोणाचार्य के समय से गुड़गांव के नाम से जाना जाता था। इसलिए लंबे समय से लोग मांग कर रहे थे कि गुड़गांव का नाम बदलकर गुरग्राम कर दिया जाए।

कांग्रेस सरकार ने प्रस्ताव का किया स्वागत

गुड़गांव का नाम बदलकर गुरु ग्राम रखने का कांग्रेस ने भी स्वागत किया है। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी कहा है कि गुरुग्राम ही गुड़गांव का असली नाम है। हुड्डा ने कहा कि नाम में बदलाव उचित है और इस बारे में प्रस्ताव उनके कार्यकाल के दौरान भी आया था। लेकिन कुछ कारणवश ये प्रस्ताव कैबिनेट में पास नहीं हो पाया था।

2010 में भी आया था प्रस्ताव

गौरतलब है कि पहली बार गुड़गांव का नाम गुरूग्राम रखने की कवायद 2010 में शुरू हो गई थी। लोगों की मांग पर पूर्व निगम कमिश्नर आरके खुल्लर ने ये प्रस्ताव सरकार को भेजा था। लेकिन कई समय तक नामकरण का प्रस्ताव ठंडे बस्ते में रखा रहा था। अंत में सरकार ने लोगों की लगातार मांग पर सरकार ने नाम बदलने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी थी।

wefornews bureau 

Related Posts