मोदी 5 देशों की यात्रा के आखिरी पड़ाव में मेक्सिको पहुंचे | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राष्ट्रीय

मोदी 5 देशों की यात्रा के आखिरी पड़ाव में मेक्सिको पहुंचे

Published

on

5 देशों की यात्रा के आखिरी पड़ाव

मेक्सिको: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच देशों की यात्रा के अंतिम चरण में गुरुवार को मेक्सिको पहुंच गए हैं।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने गुरुवार को ट्वीट के जरिए बताया, “हैलो मेक्सिको! पीएम नरेंद्र मोदी कूटनीति की एक महत्वपूर्ण शाम के लिए मेक्सिको पहुंच गए हैं।”

मोदी के वेलकम के लिए एयरपोर्ट पर मेक्सिको की विदेश मंत्री क्लॉडिया रूज थी। मेक्सिको की विदेश मंत्री क्लॉडिया रूज इस साल मार्च में भारत आई थीं और उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की थी।

मोदी मेक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना निटो के साथ द्विपक्षीय बातचीत करेंगे। इस दौरान परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में भारत की सदस्यता के मुद्दे पर भी बातचीत हो सकती है।

अमेरिका और स्विटजरलैंड के बाद मैक्सिको ने भी परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) की सदस्यता के लिए भारत की दावेदारी का समर्थन किया है। इस पर पीएम नरेंद्र मोदी ने मैक्सिको के राष्ट्रपति का आभार जताया।

दोनों देशों के प्रमुखों के बीच वार्ता के बाद उन दोनों ने संयुक्त बयान जारी किया। पीएम मोदी ने कहा कि मैक्सिको भारत का अहम साझेदार है, अब अंतरिक्ष और तकनीक के क्षेत्र में साथ मिलकर काम करेंगे।

wefornews bureau 

key words: modi,mexico,5 countries, journey, पीएम , पांच देशों की यात्रा, मेक्सिको

राष्ट्रीय

LNJP अस्पताल में भर्ती हुए मनीष सिसोदिया

Published

on

कोरोना वायरस से संक्रमित दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया दिल्ली के लोकनायक जय प्रकाश अस्पताल में भर्ती हो गए हैं। उन्हें बुखार और ऑक्सीजन की कमी की शिकायत थी। सिसोदिया की 14 सितंबर को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

इसके बाद से ही वह होम आइसोलेशन में थे। बुधवार को जब उन्हें बुखार हो गया और ऑक्सीजन की शिकायत हुई तो उन्हें एलएनजेपी में भर्ती कराया गया है।

Continue Reading

राष्ट्रीय

पानीपत : कृषि बिलों के विरोध में यूथ कांग्रेस की ट्रैक्टर रैली

Published

on

हरियाणा के पानीपत में बुधवार को भारतीय युवा कांग्रेस(आईवाईसी) ने कृषि बिलों के विरोध में ट्रैक्टर रैली निकाली। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने संसद द्वारा पारित इस बिल को किसान-विरोधी और मजदूर-विरोधी बताया।

यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी.वी. की अगुवाई में सैकड़ों युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पानीपत से अपनी रैली की शुरुआत की और ये लोग राष्ट्रीय राजधानी तक पहुंचना चाहते थे।

हालांकि रैली को हरियाणा पुलिस ने पानीपत के पास रोक दिया। पुलिस ने कार्यकर्ताओं को तितर-बितर करने के लिए वाटर केनन का प्रयोग किया। वहीं श्रीनिवास और कई अन्य कार्यकर्ताओं को हरियाणा पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

मीडिया से बात करते हुए, श्रीनिवास ने कहा, “देश के युवा और किसान रोजगार और अपने उत्पाद के उचित दाम मांग रहे हैं, लेकिन मोदी सरकार केवल भाषण दे रही है।”

उन्होंने मनोहर लाल खट्टर सरकार पर हरियाणा के पीपली में प्रदर्शन कर रहे किसानों पर लाठीचार्ज करने का आदेश देने का आरोप लगाया।

आईवीसी नेता ने सरकार को यह कहते हुए चेतावनी दी, “आपके पास संसद में संख्या है, लेकिन सड़के किसानों और युवाओं की है और हम सरकार द्वारा लाए काले कानून का विरोध करेंगे।”
मंगलवार को, कांग्रेस कार्यकर्ताओं को दिल्ली में संसद की ओर जाने के क्रम में गिरफ्तार किया गया था।

आईएएनएस

Continue Reading

राष्ट्रीय

पंजाब में 31 किसान संगठनों ने लॉकडाउन का आह्वान किया

Published

on

चंडीगढ़, 23 सितम्बर (आईएएनएस)। पंजाब में पार्टी लाइन से ऊपर उठते हुए 31 किसान संगठनों ने 25 सितंबर को कृषि बिलों के विरोध में संयुक्त राज्यव्यापी प्रदर्शन की घोषणा की है।

संगठनों ने कृषि बिल के विरोध में पूरी तरह से ‘पंजाब बंद’ का आह्वान किया है।

इस संबंध में निर्णय मोगा में आयोजित 31 किसान संगठनों की बैठक में लिया गया। संगठनों ने किसी भी प्रकार के राजनीतिक समर्थन नहीं लेकर इस अवसर को ऐतिहासिक बनाने पर निर्णय लिया है।

किसान संगठनों ने 25 सितंबर को प्रदर्शन के बाद रणनीति पर भी चर्चा की।

यह निर्णय लिया गया कि अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के सदस्य जगमोहन सिंह पटियाला प्रदर्शन की अगुवाई करेंगे।

उन्होंने कहा कि किसान सरकार के इस काले कानून के खिलाफ हैं।

उन्होंने कहा, “अगर सरकार किसानों की इच्छा का सम्मान करती है तो बिलों को वापस ले।”

वहीं एनडीए की सहयोगी शिरोमणी अकाली दल ने भी मंगलवार को बिल के विरोध में 25 सितंबर को पूरे राज्य में चक्का जाम की घोषणा की है।

अकाली दल के प्रवक्ता और पूर्व मंत्री दलजीत चीमा ने कहा, “वरिष्ठ नेता अपने क्षेत्र और जिला मुख्यालय में पूर्वाह्न् 11 बजे से अपराह्न् 1 बजे प्रदर्शन की अगुवाई करेंगे।”

इसबीच, पूरे पंजाब में बुधवार को प्रदर्शन जारी है। कई जगहों पर केंद्र सरकार का पूतला भी फूंका गया।

बीकेयू (राजेवल) अध्यक्ष बलबीर सिंह राजेवल ने आईएएनएस से कहा, “हम सरकार को किसानों की कीमत पर कॉर्पोरेट हाउस को खुश करने का मौका नहीं देंगे। यह अबतक सरकार द्वारा लाया गया सबसे खराब बिल है और इसे एक दिन भी नहीं रहना चाहिए।”

इसी बात को दोहराते हुए बीकेयू(लाखोवाल) के महासचिव हरिंद्रर सिंह लाखोवाल ने कहा कि 31 किसान संगठनों ने अपने गुस्से का इजहार करने के लिए एक-दूसरे से हाथ मिलाया है।

उन्होंने कहा, “ये फॉर्म रिफॉर्म नहीं है, बल्कि किसानों के लिए डेथ वारंट है।”

वहीं मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अकाली दल की ओर से 25 सितंबर को ही चक्का जाम करने के निर्णय की आलोचना की है। उन्होंने कहा, “आप दिल्ली क्यों नहीं जाते और भाजपा नेता व अन्य के घर के बाहर प्रदर्शन क्यों नहीं करते हैं, जिन्होंने बेशर्मी से अपने हित के लिए पंजाब के किसानों के हित को बड़े कॉर्पोरेट हाउस को बेच दिया। अगर अकाली दल सच में किसानों की परवाह करती है तो, उसे सरकार का साथ छोड़ देना चाहिए।”

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular