महाराष्ट्र सरकार ने शुक्रवार को सर्वोच्च न्यायालय से कहा कि बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान के 2002 में दुर्घटना मामले में बम्बई उच्च न्यायालय ने कमजोर फैसला सुनाया था। महान्यायवादी मुकुल रोहतगी ने न्यायमूर्ति जे. एस. केहर और न्यायमूर्ति सी. नागप्पन की पीठ को मामले की जानकारी दी और निचली अदालतों की सुनवाई से संबंधित दस्तावेज पेश किए। शीर्ष अदालत ने कहा कि चूंकि यह मामला बरी किए जाने से जुड़ा है, इसलिए सभी सबूतों की...