भूख लगने पर बदल जाता है व्यवहार : शोध

भूख लगने पर क्या आपका मूड बदल जाता है और आपको चिड़चिड़ाहट या गुस्सा आने लगता है? अगर ऐसा है तो इसमें आपका कोई दोष नहीं है, क्योंकि गुस्सा, व्याकुलता और झुंझलाहट भूख के सबसे आम कारणों में शामिल हैं। चेन्नई, कोच्चि और नई दिल्ली में भूख के लक्षणों और उसके प्रति लोगों की धारणाओं का मूल्यांकन करने के लिए सप्ताह भर का सर्वेक्षण किया गया। स्निकर्स मार्स रिंगली कन्फेक्शनरी द्वारा तीन-तीन लोगों के समूह...

झारखंड: बच्ची के बाद कथित भूखमरी ने ली रिक्शा चालक की जान

झारखंड में भूख से 11 साल की बच्ची की मौत के बाद अब एक रिक्शा चालक की भी इसी कारण से मौत होने की खबर आ रही है। धनबाद के झरिया में भी एक रिक्शा चालक की कथित रूप से भूख के चलते मौत हो गई है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक रिक्शा चालक बैद्यनाथ के घर में अन्न ना होने के कारण वह बीमार हो गया था। जिससे शनिवार को उसकी मौत हो गई। प्रभात...

झारखंड : भूख से मरी बच्ची की मां को गांव से बाहर निकाला

रांची, 21 अक्टूबर | झारखंड के सिमडेगा जिले के एक गांव में 28 सितंबर को कथित तौर पर भूख के कारण मौत का शिकार हुई 11 साल की बच्ची की मां को उसके गांव से बाहर निकाल दिया गया है। खबरों के मुताबिक, स्थानीय लोगों ने महिला पर गांव की बदनामी करने का आरोप लगाया है। डरी सहमी महिला ने बाद में पंचायत घर में आश्रय लिया है। सिमडेगा जिला प्रशासन ने स्थानीय अधिकारियों से...

16 साल से जारी अनशन 9 अगस्त को खत्म करेंगी इरोम शर्मिला

इम्फाल: सेना के अत्याचारों के विरुद्ध लगभग 16 साल से लगातार अनशन पर रहकर संघर्ष का पर्याय बन चुकीं मानवाधिकार कार्यकर्ता इरोम शर्मिला अपना अनशन 9 अगस्त को खत्म होने जा रही हैं। उनके सहयोगियों के मुताबिक, इरोम शर्मिला शादी करना तथा चुनाव लड़ना चाहती हैं। मानवाधिकार कार्यकर्ता इरोम शर्मिला को कई साल से जबरन नाक में डाली गई ट्यूब के जरिये खिलाया-पिलाया जा रहा है। इरोम शर्मिला ने नवंबर, 2000 में सशस्त्र बल विशेषाधिकार...

BLOG: राजधर्म से क्यों इतनी दूर जा निकले मोदी, राजनाथ, वेंकैया और सुमित्रा?

Blog: Mukesh Kumar Singh बेशक, गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कभी नहीं कहा कि ‘मोदी-राज के रूप में 800 साल बाद हिन्दुओं के हाथ में सत्ता आयी है.’ असली बयान-बहादुर तो दिवंगत अशोक सिंघल थे. उन्होंने ही 21 नवम्बर 2014 को दिल्ली में हुए विश्व हिन्दू कांग्रेस के मौके पर असहिष्णुता की ताज़ा ख़ेप का बीजारोपण किया था. वही बीज अब छायादार पेड़ बन चुका है. इससे तमाम सांसद इतना व्यथित हैं कि उन्होंने संसद में...