ई-कॉमर्स कारोबार के कंपनी के रूप में पंजीकरण के नियम पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने केंद्र से मांगा जवाब

दिल्ली उच्च न्यायालय ने उपभोक्ता संरक्षण (ई-कॉमर्स) नियमों के एक प्रावधान को चुनौती देने वाली याचिका पर केंद्र से जवाब मांगा है। इस प्रावधान के तहत वस्तुओं और सेवाओं की ऑनलाइन बिक्री करने वाली इकाई के लिए भारत में कंपनी के रूप में पंजीकरण कराना अनिवार्य है।  मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और न्यायमूर्ति प्रतीक जालान की पीठ ने सोमवार को ऑनलाइन कंटेंट का सृजन करने वाले एक व्यक्ति की याचिका पर उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय...

त्यौहारी सीजन में 70 हजार सीधी भर्तियां करेगा फ्लिपकार्ट

 ई-कॉमर्स जाएंट फ्लिपकार्ट ने मंगलवार को कहा कि वह इस त्यौहारी सीजन में 70 सीधी और लाखों अपरोक्ष नौकरियां पाने में लोगों की मदद करेगा। सीधी नौकरियां सप्लाई चेन के तहत होंगी और इसके लिए डिलिवरी एक्जक्यूटिव, पिकर्स, पैकर्स और शॉटर्स की भर्ती की जाएगी। इसके अलावा अपरोक्ष तौर पर फ्लिपकार्ट के सेलर पार्टनर लोकेशन और किराना दुकानों पर रोजगार उत्पन्न किए जाएंगे। ईकार्ट एवं मार्केटप्लेस, फ्लिपकार्ट के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट अमितेश झा ने कहा,...

भारत में 6 अगस्त को शुरू होगा अमेजन प्राइम डे

नई दिल्ली, 21 जुलाई (आईएएनएस)। ई-कॉमर्स जाएंट अमेजन ने कहा है कि भारत में उसका वार्षिक शॉपिंग फेस्टिवल प्राइम डे इस साल 6 अगस्त को शुरू होगा। कम्पनी के मुताबिक इस फेस्टिव की अवधि 48 घंटे होगी। इस तरह कम्पनी अपने सदस्यों को एक्सक्लूसिव डील्स के लिए दो दिनों का समय दे रही है। बीते साल सेल्स हॉलीडे जुलाई के मध्य में आयोजित हुआ था लेकिन इस साल कोरोनावायरस के कारण इसे देरी से आयोजित...

लॉकडाउन से रिटेल सेक्टर तबाह, ई-कॉमर्स में भारी गिरावट

देश में कोरोना वायरस महामारी लगातार पैर पसारती जा रही है। बीमारी को नियंत्रण में करने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन लगाया गया है। लॉकडाउन के कारण अर्थव्यवस्था बदहाली की कगार पर जा पहुंची है। इस दौर में भारत के रिटेल सेक्टर में जबर्दस्त गिरावट आई है। सर्वे एजेंसी नील्सन के अनुसार मार्च के आखिरी सप्ताह में देश के चार में से तीन रिटेल चैनल में भारी घाटा सहना पड़ा है। बता दें कि रिटेल सेक्टर...

‘जीरो’ यूपीआई इंटरचेंज, पीएसपी शुल्क से फोनपे, गूगल पे पर पड़ सकता है असर!

नई दिल्ली: नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) ने एक सर्कुलर जारी कर कहा कि वह 1 जनवरी, 2020 से पूर्वव्यापी प्रभाव वाले सभी घरेलू यूपीआई मर्चेट (पी 2 एम) लेनदेन के लिए यूपीआई इंटरजेंज और पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर शुल्क को ‘जीरो’ संशोधित करने के लिए सहमत हो गया है। जारी किए गए सर्कुलर के अनुसार, शुल्क समाप्ति की अंतरिम अवधि 30 अप्रैल 2020 तक के लिए की गई है। यह मैनडैट्स, ईएमआई, ओवरड्राफ्ट अकाउंट...

ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म ने फैशन सेल लॉन्च की

नई दिल्ली, ई-कॉमर्स साइट अमेजन और मिंत्रा ने साल के आखिर में फैशन सेल शुरू की है और इसमें परिधान, घड़ियां, आभूषण, जूते, स्पोर्ट्सवियर, हैंडबैग, पर्स, धूप का चश्मा और सूटकेस पर छूट दे रहे हैं। अमेजन फैशन की ‘द वार्डरोब रीफ्रेश सेल’ का छठा संस्करण 15-19 दिसंबर तक चलेगा, जिसमें 1200 से अधिक फैशन ब्रांड पर ऑफर दिए गए हैं। अमेजन फैशन के बिजनेस हेड अरुण श्रीदेशमुख ने कहा, “हमें विश्वास है कि चुने...

भारत में ई-कॉमर्स को नई दिशा और दशा देगा डिजिटल मॉल ऑफ एशिया

नई दिल्ली: ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म्स की कमियों और खामियों ने डिजिटल मॉल के कांसेप्ट बढ़ावा दिया है। ई-कॉमर्स कम्पनियों की कई पेचीदी नीतियों के कारण रिटेलर्स और खरीदार मुश्किल में दिखाई दे रहे हैं और इसी कारण इन दिनों डिजिटल मॉल का कॉन्सेप्ट बल पकड़ता दिखाई दे रहा है। ई-कॉमर्स व्यवसाय में कई नकारात्मक बातें सामने आई हैं। यह एक निष्पक्ष बाजार के मूल उद्देश्य को ही खत्म करता है। इसी तरह प्रोडक्ट की जालसाजी जैसे...

जैक मा के स्थान पर डेनियल झांग ‘अलीबाबा’ के सीईओ नियुक्त

डेनियल झांग चीन की ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा के मुख्य कार्यकारी (सीईओ) होंगे। वह इसके सहसंस्थापक जैक मा के स्थान पर बागडोर संभालेंगे। अलीबाबा की ओर से सोमवार को जारी बयान के मुताबिक, “जैक मा अगले 12 महीनों तक कंपनी के कार्यकारी अध्यक्ष बने रहेंगे।” झांग इससे पहले ताओबाओ के सीईओ थे, जो अलीबाबा के स्वामित्व वाली ऑनलाइन शॉपिंग पॉर्टल है। जैक मा 2020 तक अलीबाबा समूह के निदेशक मंडल के सदस्य बने रहेंगे। –आईएएनएस

Online Shopping में डिस्काउंट के नाम पर धोखाधड़ी, हर तीसरे शख्स को मिलता है नकली सामान

ऑनलाइन शॉपिंग की सुविधा आने के बाद आम आदमी के लिए घर बैठे ही शापिंग कर करना आसान हो गया है। लेकिन इस सुविधा की वजह से धोखाधड़ी भी बढ़ती जा रही है। एक सर्वे के मुताबिक ऑनलाइन शॉपिंग करने वाले हर तीसरे शख्स को नकली सामान मिल रहा है। सर्वे के मुताबिक ई-कॉमर्स कंपनियों के खिलाफ लगातार शिकायतें बढ़ती जा रही है। ऑनलाइन शॉपिंग को लेकर हाल ही में दो सर्वे हुए हैं। इनमें...

जीएसटी : कमोडिटी एक्सचेंज ई-कॉमर्स नहीं

वस्तु एवं सेवा कर व्यवस्था में ई-कॉमर्स की परिभाषा का दायरा इतना बड़ा है कि वह अमेजन और फ्लिपकार्ट मार्केटप्लेस प्लेटफार्म से आगे बढ़कर कमोडिटी एक्सचेंज तक को अपने दायरे में ले लेती है। एसोचैम ने यह बताते हुए सरकार से स्पष्टीकरण की मांग की है ताकि जीएसटी के लागू होने के मद्देनजर व्यापारियों में अनिश्चिता दूर हो सके। एसोचैम ने विभिन्न संबंधित मंत्रालयों को भेजे पत्र में कहा कि इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स’ शब्द का दायरा...

पेटीएम का न्यू एप ‘पेटीएम मॉल’

नई दिल्ली। पेटीएम ई-कॉमर्स ने एंड्रॉयड प्लेटफार्म पर अपना नया एप ‘पेटीएम मॉल’ लांच किया है। इस एप पर फैशन, इलेक्ट्रॉनिक्स, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स और घर के सामान जैसे अन्य चीजों की श्रेणियों में 14 लाख से अधिक विक्रेता लाखों सामान की बिक्री करेंगे। पेटीएम ने एक सोमवार को एक बयान में कहा कि ‘पेटीएम मॉल’ भारतीय उपभोक्ताओं के लिए मॉल और बाजार अवधारण का अनूठा संयोजन पेश करेगा। केवल सख्त गुणवत्ता दिशा-निर्देश और योग्यता मानदंड...

स्नैपडील के को-फाउंडर्स अब नहीं लेंगे सैलरी

ई-कॉमर्स के क्षेत्र में तहलका मचाने वाली कंपनी स्नैपडील अगले कुछ दिनों में तकरीबन 600 लोगों को बाहर का रास्ता दिखाएगी। कंपनी के संस्थापक कुणाल बहल और रोहित बंसल ने वेतन नहीं लेने का फैसला किया है। इस बीच स्नैपडील के स्वामित्व वाली फ्रीचार्च के सीईओ गोविंग राजन ने अपने पद से इस्तीफा भी दे दिया है। ईमेल के जरिए कर्मचारियों को मिली जानकारी एक अंग्रेजी वेबसाइट के मुताबिक कंपनी के एंप्लॉयीज को बुधवार को...

घर बैठे ई-कॉमर्स साइट से मंगवाएं 2000 रुपये

कैश की किल्लत से जूझ रही जनता को थोड़ी और राहत मिलने की उम्मीद नजर आ रही हैं। कैश ऑन डिलिवरी के तहत ई-कॉमर्स बेवसाइट से आप सामान तो ऑर्डर करते ही थे लेकिन अब पैसे भी ऑर्डर कर सकते हैं। आपके ऑर्डर पर कंपनी आपके घर पर ही पैसे पहुंचा जाएगी। लेकिन यहां भी वो नियम हैं जो फिलहाल नोटबंदी के बाद एटीएम पर लागू है यानि की सिर्फ 2000 रुपये ही आप कैश...

साल में 2.5 लाख ई-कॉमर्स जॉब्स की संभावना: एसोचैम

एसोचैम के मताबिक देश के ई-कॉमर्स क्षेत्र में 2016 में करीब 2.5 लाख नई नौकरियां पैदा हो सकती हैं। एसोसिएटेड चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ऑफ इंडिया(एसोचैम) के मुताबिक, देश का ई-कॉमर्स बाजार 2009 में 3.8 अरब डॉलर का था। 2014 में यह 17 अरब डॉलर का हो गया और 2015 में यह 23 अरब डॉलर का हो गया। 2016 में इसके 38 अरब डॉलर का हो जाने का अनुमान है।एसोचैम के शोध पत्र में...