अकाली दल 17 सितंबर को मनाएगी ‘काला दिवस’

पार्टी के एक नेता ने रविवार को कहा कि शिरोमणि अकाली दल (शिअद) तीन केंद्रीय कृषि कानूनों को लागू करने के एक साल पूरे होने पर 17 सितंबर को ‘काला दिवस’ के रूप में मनाएगा। किसानों के साथ पार्टी कार्यकर्ता उस दिन नई दिल्ली में गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब से संसद तक कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग करते हुए विरोध मार्च निकालेंगे।   पार्टी अध्यक्ष सुखबीर बादल की अध्यक्षता में शनिवार को हुई...

अमरिंदर सिंह ने खेत मजदूरों के लिए 520 करोड़ रुपये की कर्ज राहत योजना शुरू की

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने तीन ‘काले’ कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को अपना समर्थन जारी रखते हुए शुक्रवार को 2.85 लाख खेत मजदूरों और भूमिहीन किसानों के लिए पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की गरीब समर्थक नीति को ‘श्रद्धांजलि’ में 520 करोड़ रुपये की कर्ज राहत योजना शुरू की। उन्होंने अपने ‘करीबी दोस्त’ की 77वीं जयंती पर राज्य को महत्वपूर्ण योजना समर्पित करते हुए कहा, “मैं आशा करता हूं और चाहता...

राहुल ने सरकार के खिलाफ मार्च का नेतृत्व किया,कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग

संसद सदस्यों और विभिन्न विपक्षी दलों के नेताओं ने मानसून सत्र में कटौती के विरोध में गुरुवार को संसद से विजय चौक तक मार्च निकाला। सांसदों ने बैनर और तख्तियां लेकर कृषि कानूनों को वापस लेने का आह्वान किया और इनमें ‘लोकतंत्र की हत्या’ लिखा हुआ था।   विरोध का नेतृत्व करते हुए, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आरोप लगाया, “हमें प्रेस से बात करने के लिए यहां आना होगा क्योंकि विपक्ष में हमें संसद...

किसानों के समर्थन में जंतर मंतर पहुंचे राहुल समेत 14 दल के सांसद

कोरोना काल के बीच 19 जुलाई से शुरू हुआ संसद का मानसून विपक्ष के हंगामे की भेंट चढ़ता दिख रहा है। पेगासस जासूसी और कृषि कानूनों को लेकर कांग्रेस, टीएमसी समेत सभी विपक्षी दल राज्यसभा और लोकसभा में हंगामा कर रहे हैं। बीच शुक्रवार को कृषि कानूनों को निरस्त करने की किसानों की मांग का समर्थन करने के लिए 14 राजनीतिक दलों को विपक्षी नेता जंतर-मंतर पहुंचे हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी...

राज्यसभा में निलंबन नोटिस की विपक्ष की मांग खारिज

267 नियम के तहत विपक्ष के नोटिस को अध्यक्ष ने खारिज कर दिया है क्योंकि उपाध्यक्ष ने कहा कि किसानों के विषय पर अल्पावधि चर्चा की अनुमति दी गई है। उन्होंने कहा, मैं एलओपी और संसदीय कार्य मंत्री से अपील करता हूं कि बैठकर चर्चा की तारीख तय करें।   हंगामे के बाद सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।   विपक्ष ने शुक्रवार को बैठक की और पेगासस...

लोकसभा में जारी रहा विपक्ष का हंगामा, तीन बार स्थगित हुई कार्यवाही

लोकसभा सोमवार को एक और दिन ठप रही और कृषि कानूनों और जासूसी विवाद को लेकर जारी हंगामें के बीच सदन की कार्यवाही तीन बार स्थगित हुई। विपक्ष ने जहां इन मुद्दों पर चर्चा की मांग की, वहीं सरकार ने उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया। सुबह 11 बजे जब लोकसभा शुरू हुई तो स्पीकर ओम बिरला ने सदन को बताया कि पी. वी. सिंधु ने 1 अगस्त को ओलंपिक में कांस्य पदक जीता है।...

विपक्ष के विरोध के बीच राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित

राज्यसभा की कार्यवाही गुरुवार को दूसरी बार दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। पेगासस जासूसी, कृषि कानूनों और ईंधन की कीमतों में वृद्धि पर विपक्ष के विरोध के बाद सदन की कार्यवाही स्थगित की गई।   सदन में इन मुद्दों पर विपक्षी सदस्यों ने नारेबाजी की। नारेबाजी के दौरान सदन में सीटी की आवाज आने के बाद उपसभापति हरिवंश ने चेतावनी दी कि वह सदस्य का नाम लेंगे।   यह कहते...

BJP संग हमारे जंग जैसे हालात, एक किसान नहीं देगा वोट, कृषि कानूनों पर PM का दावा झूठा: राकेश टिकैत

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन एक बार फिर जोर पकड़ने लगा है। जंतर-मंतर पर किसान संसद चल रही है। जहां आगे की रणनीतियां तय की जा रही है। इन सबके बीच किसान नेता राकेश टिकैत लगातार अलग अलग राज्यों का भी दौरा कर रहे हैं। इन सबके बीच एक बार फिर राकेश टिकैत ने मोदी सरकार को अपने इरादे को लेकर आगाह किया है। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि वह चुनाव...

कृषि कानूनों के खिलाफ ट्रैक्टर चलाकर संसद पहुंचे राहुल, कहा- किसानों का संदेश लेकर आया हूं

संसद में चल रहे मानसून सत्र के बीच केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली में किसान संगठनों का आंदोलन अब तेज हो गया है। दिल्ली के जंतर-मंतर पर पिछले कई दिनों से चल रही ‘किसान संसद’ में सोमवार को बड़ी संख्या में महिलाएं शामिल हुईं। वहीं, किसानों के आंदोलन को राजनीतिक समर्थन भी मिल रहा है। सोमवार को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन...

पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह और सिद्धू ने पुरानी बातों को भुलाया

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए तीन विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ 250 दिनों से अधिक समय से दिल्ली की सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों को समर्थन देते हुए कहा कि असली मुद्दा उनका था। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के साथ लंबे अंतराल के बाद मंच साझा करने वाले सिद्धू ने यहां पदभार ग्रहण करने के बाद अपने पहले भाषण में अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर उतर...

विपक्ष के हंगामे के कारण चौथे दिन भी नहीं चल सकी लोकसभा की कार्यवाही

मानसून सत्र के चौथे दिन भी हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही नहीं चल सकी। 11 बजे से सदन शुरू होते ही विपक्ष के सांसदों ने कृषि कानूनों, जासूसी के मुद्दों पर नारेबाजी शुरू कर दी, जिससे पहले 12 बजे तक कार्यवाही स्थगित हुई और फिर दोबारा गतिरोध शुरू हुआ तो 26 जुलाई को दिन में 11 बजे तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी। इससे पूर्व संसदीय समितियों में खाली पदों को...

आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में राहुल गांधी ने संसद में किया प्रदर्शन

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को तीन नए कृषि कानूनों को निरस्त करने की किसानों की मांग को लेकर संसद परिसर में किसानों के समर्थन में विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। राहुल गांधी ने पार्टी के कई सांसदों के साथ संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास विरोध प्रदर्शन किया।   कांग्रेस नेताओं ने तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग की और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।  ...

कृषि कानूनों के विरोध में जंतर-मंतर पहुंचे किसान

केंद्र द्वारा पारित नए कृषि कानूनों को लेकर पिछले साल नवंबर से प्रदर्शन कर रहे किसान गुरुवार को कड़ी सुरक्षा के बीच जंतर-मंतर पहुंचे और इस कानून के खिलाफ अपना आंदोलन तेज किया। केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर किसान नारे लगाते हुए धरना स्थल पर पहुंचे।   किसान उन बसों में पहुंचे, जिन्हें दिल्ली पुलिस ने कोविड के नियमों का पालन करते हुए समग्र सुरक्षा सुनिश्चित...

किसानों के विरोध के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने जंतर-मंतर पर सुरक्षा कड़ी की

राष्ट्रीय राजधानी के जंतर-मंतर रोड पर दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा कड़ी कर दी है, क्योंकि गुरुवार को कई किसान तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ वहां विरोध प्रदर्शन करने वाले हैं। दिल्ली के विशेष पुलिस आयुक्त (अपराध) सतीश गोलचा और संयुक्त पुलिस आयुक्त जसपाल सिंह ने मौके पर इकट्ठा होने वाले किसान संगठनों से पहले सुरक्षा की समीक्षा करने के लिए जंतर-मंतर का दौरा किया। हालांकि, दिल्ली पुलिस ने कहा, “अभी तक किसानों को संसद...

प्रदर्शनकारी किसानों की मौत पर मुआवजे से इनकार, राहुल बोले- जिन्होंने अपनों को खोया, उनके आंसू में सबकुछ दर्ज है

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को नए तीन कृषि कानूनों के विरोध में मारे गए किसानों को कोई मुआवजा नहीं दिए जाने को लेकर केंद्र पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अपने प्रियजनों को खोने वालों के आंसू में सब कुछ दर्ज है। उन्होंने हैशटैग फार्मरपोस्ट के साथ हिंदी में एक ट्वीट में कहा, “जिन लोगों ने अपनों को खोया उनके आंसुओं में सब कुछ दर्ज है।” उन्होंने एक समाचार रिपोर्ट भी...

लोकसभा : डीजल-पेट्रोल के दाम, महंगाई और कृषि कानूनों पर विपक्ष ने नोटिस देकर की बहस की मांग

संसद के सोमवार से शुरू हो रहे मानसून सत्र के पहले दिन विपक्ष के लोकसभा सांसदों ने तेल के बढ़ते दाम, महंगाई और कृषि कानूनों पर कार्यस्थगन नोटिस दिया। सांसदों ने इन विषयों पर सदन में बहस की मांग की है। कांग्रेस के लोकसभा सांसद मनिकम टैगोर ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों व महंगाई पर सदन में चर्चा के लिए कार्यस्थगन नोटिस दिया।   इसी तरह कांग्रेस के लोकसभा सांसद मनीष तिवारी ने भी कृषि...

किसानों के संसद घेराव के ऐलान से टेंशन में दिल्ली पुलिस, अलर्ट पर रखे गए कई मेट्रो स्टेशन

तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली सीमा पर कई महीनों से आंदलोन कर रहे हैं। किसानों ने अब अपने आंदोलन को और तेज करने का फैसला किया है। दरअसल कल (19 जुलाई) से संसद का मौनसून सत्र शुरू हो रहा है। इसी बीच किसानों सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाने के लिए 22 जुलाई को संसद घेराव का आह्वान किया हुआ है। किसानों के इस ऐलान के बाद से ही दिल्ली पुलिस की चिंता...

किसान आंदोलन: 22 जुलाई से संसद के बाहर बैठेंगे किसान

भीषण गर्मी से लेकर हाड़ कंपाने वाली सर्दी और फिर गर्मी झेल रहे किसानों का आंदोलन 7 महीने से ज्यादा के वक्त से जारी है। दिल्ली के बॉर्डर इलाकों पर किसान नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर अड़े हुए हैं। उनकी मांग है कि केंद्र सरकार की ओर से बनाए गए तीनों कृषि कानून रद्द होने चाहिए और एमएसपी पर कानून बनना चाहिए। हालांकि किसानों और सरकार की यह जंग कब खत्म...

22 जुलाई से हमारे 200 लोग संसद के पास करेंगे विरोध प्रदर्शन: राकेश टिकैत

किसान नेता राकेश टिकैत ने 22 जुलाई से संसद के मानसून सत्र के दौरान धरने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार बातचीत करना चाहती है, तो हम तैयार हैं। 22 तारीख से हमारा दिल्ली जाने का कार्यक्रम रहेगा। 22 जुलाई से संसद सत्र शुरू होगा। 22 जुलाई से हमारे 200 लोग संसद के पास धरना देने जाएंगे   उन्होंने आगे कहा, “मैंने ये नहीं कहा था कि कृषि क़ानूनों को लेकर UN...

पिछले 5 महीनों से केंद्र से कोई बातचीत नहीं हुई, हमने सर्दी-गर्मी सही, अब बारिश भी सहेंगे- टिकैत

विवादित कृषि कानूनों पर अगले दौर की बातचीत के लिए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तौमर से मिले आमंत्रण के बावजूद किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि पिछले 5 महीनों से केंद्र सरकार के साथ हमारी कोई बातचीत नहीं हुई। इंडिया टीवी से बातचीत में किसान नेता ने कहा कि संसद के आगामी सत्र में किसानों का मुद्दा उठाया जाना चाहिए। हालांकि इस दौरान उन्होंने कहा कि किसानों का संसद का घेराव करने का कोई...

कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन को 7 महीने पूरे, राहुल गांधी बोले- हम सत्याग्रही अन्नदाता के साथ

केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों का आंदोलन पिछले सात महीने से जारी है। किसानों की मांग है कि तीनों कृषि कानूनों को वापस लिया जाए और न्यूनतम समर्थन मूल्य कानून बनाया जाए। इसीबीच कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि सीधी-सीधी बात है। हम सत्याग्रही अन्नदाता के साथ हैं। बता दें कि आंदोलन के सात महीने पूरे होने पर किसानों की तादाद एक बार फिर से सड़कों पर बढ़ गई है। भारतीय किसान...

किसान 30 जून को ‘हूल क्रांति दिवस’ मनाएंगे

संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने 30 जून को सभी सीमा विरोध स्थलों पर ‘हूल क्रांति दिवस’ मनाने का फैसला किया है। केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन सातवें महीने के करीब है। किसानों के मुताबिक स्थानीय इलाकों के ग्रामीण और खाप भी विरोध का समर्थन कर रहे हैं। एसकेएम ने कहा कि 30 जून को जनजातीय क्षेत्रों के सदस्यों को धरना स्थलों पर आमंत्रित किया जाएगा। एसकेएम ने एक बयान...

कृषि कानूनों के खिलाफ 26 जून को राजभवनों में प्रदर्शन करेंगे किसान

केंद्र सरकार द्वारा पेश किए गए नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध को करीब 200 दिन हो गए हैं और अपने आंदोलन को तेज करने के लिए किसानों ने देश भर के राजभवन में 26 जून को धरना देने की घोषणा की है। संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के एक नेता ने शुक्रवार को कहा, “26 जून को किसानों का विरोध प्रदर्शन होगा और काले झंडे दिखाए जाएंगे। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को एक...

राकेश टिकैत ने किम जोंग-उन से की पीएम मोदी की तुलना

नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन पिछले 6 महीनों से जारी है। इस बीच भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत ने मंगलवार को देश में महंगाई को लेकर केंद्र पर हमला बोला। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष करते हुए उनकी तुलना उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन से कर दी। उनके मुताबिक ये आंदोलन फसल और नस्ल बचाने का है, ऐसे में वो लड़ाई जारी रखेंगे। टिकैत ने ट्वीट...

बीजेपी का अहंकार किसानों के जीवन को खतरे में डाल रहा है: कांग्रेस

विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ छह महीने के आंदोलन के पूरा होने पर किसानों के देशव्यापी विरोध से पहले, कांग्रेस नेता जयवीर शेरगिल ने मंगलवार को आरोप लगाया कि भाजपा का अहंकार किसानों के जीवन को खतरे में डाल रहा है। उन्होंने कहा ”बीजेपी सरकार एक कलम के झटके से किसानों के संकट को हल कर सकती है। केवल कठिनाई भाजपा सरकार का अहंकार है । किसानों की गारंटीकृत आय एमएसपी छीनने और निजी खिलाड़ियों...

हरियाणा सरकार के खिलाफ किसानों में रोष, कई जिलों में मंत्री-विधायकों के पुतले फूंके

कृषि कानूनों व किसानों के मुद्दे पर हरियाणा विधानसभा में कांग्रेस का अविश्वास प्रस्ताव गिरने से सरकार के खिलाफ रोष बढ़ता जा रहा है। किसान संगठनों द्वारा राज्य के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शन तेज कर दिए गए हैं। यहां 4 जिलों में मंत्री-विधायकों के पुतले फूंके गए हैं। सत्तारूढ़ भाजपा-जजपा और हलोपा नेताओं के खिलाफ गुस्सा जाहिर किया जा रहा है। सिरसा में किसान-आंदोलन की अगुवाई कर रहे अगुआ ने कहा कि, जिन विधायकों ने...

किसानों के समर्थन में फिर बोले राहुल, कहा- असंभव किसानों को पीछे हटाना, तीनों कानूनों को पड़ेगा लौटाना!

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को कहा कि तीनों केंद्रीय कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को पीछे हटाना असंभव है और सरकार को ये कानून वापस लेने ही होंगे। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘अन्नदाता का बारिश से नाता पुराना, ना डरते ना करते मौसम का बहाना, तो क्रूर सरकार को फिर से बताना, असंभव किसानों को पीछे हटाना, तीनों क़ानूनों को पड़ेगा लौटाना!’’ उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ महीनों से दिल्ली...

किसानों की सुने सरकार, तीनों कृषि कानूनों को ले वापस: खड़गे

राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, “हमारी मांग है कि जो किसान तीन कानून वापस लेने का आग्रह करके 105 दिनों से बैठे हैं उनकी बात सुनें और उस पर फिर से चर्चा हो। हम अगर चर्चा में आपके सामने कोई चीज लाते हैं तो आप उसे स्वीकार करो और उसे वापस लो।”

राज्यसभा की कार्यवाही 15 मार्च तक के लिए स्थगित

राज्यसभा में बुधवार को कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी सदस्यों ने तेल की बढ़ी कीतमों और किसानों से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर तत्काल चर्चा कराने की मांग करते हुए हंगामा किया

बजट सत्र:  लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित

संसद में बजट सत्र के दूसरे चरण का आगाज हो गया है। पेट्रोल-डीजल व एलपीजी की लगातार बढ़ रही कीमतों और कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले 100 से भी ज्यादा दिनों से चल रहे किसान आंदोलन को देखते हुए बजट सत्र के दूसरे चरण में भी हंगामा देखने को मिल रहा है। सोमवार को विपक्ष के हंगामे पर राज्यसभा के चेयरमैन वेंकैया नायडू नाराज हो गए और कहा कि वो सत्र के पहले ही दिन...

7 मार्च को मेरठ में किसान पंचायत को संबोधित करेंगी प्रियंका

कांग्रेस महासचिव प्रभारी प्रियंका गांधी सात मार्च को गत वर्ष सरकार द्वारा लागू किए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ मेरठ में एक किसान पंचायत को संबोधित करने वाली हैं। यह किसानों की दुर्दशा को उजागर करने के लिए पार्टी द्वारा आयोजित बैठकों की श्रृंखला का एक हिस्सा है। उन्होंने हाल ही में मथुरा जिले में एक किसान पंचायत को संबोधित किया था, जो तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 27...

आप ने कृषि कानूनों के मुद्दे पर फिर दिखाया अपना असली रंग : अमरिंदर सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार को आम आदमी पार्टी (आप) पर एक बार फिर हमला करते हुए कहा कि कृषि कानूनों और किसानों के आंदोलन के मुद्दे पर पार्टी ने अपना असली रंग दिखा दिया है। यह बात उन्होंने विधेयक को निरस्त करने पर की जा रही वोटिंग के पहले आप के सदस्यों द्वारा वॉक आउट करने पर कही। मुख्यमंत्री ने बयान जारी कर कहा कि असल में आम आदमी पार्टी कभी भी...

जब तक सरकार बात नहीं मानेगी, आंदोलन ऐसे ही चलता रहेगा: राकेश टिकैत

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। किसान दिल्ली की सीमाओं पर डटे हुए हैं। किसानों का कहना है कि जब तक सरकार तीनों कृषि कानूनों वापस नहीं लेती और एमएसपी पर लीगल गारंटी नहीं देती तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने आंदोलन की दिशा और दशा को लेकर अहम बयान दिया है। उन्होंने साफ कर दिया है कि वह पीछे हटने वाले नहीं हैं। भारतीय...

सरकार किसानों को जाति-धर्म में बांट रही :टिकैत

कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली के सिंघु, टिकरी और गाज़ीपुर बॉर्डर पर चल रहे किसानों के विरोध प्रदर्शन को तीन महीने से ज्यादा हो गया है। केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों को लेकर किसानों ने कहा है कि अगर इसको रद्द नहीं किया गया तो वो 2 अक्टूबर 2021 तक आंदोलन करेंगे। जबकि सरकार ने फिर से बातचीत के रास्ते खुले होने की बात कही है लेकिन किसान कानून रद्द कराने की मांग पर...

कृषि कानूनों पर भाषण के बाद किसान नेता ने कहा- ‘अलविदा! मेरा समय खत्म होता है’…और चली गई जान

कृषि कानूनों के विरुद्ध चल रहे किसान आंदोलन पर अपने विचार व्यक्त करने के बाद किरती किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष व संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य मास्टर दातार सिंह ‘अलविदा! मेरा समय खत्म होता है’ कहकर अपनी कुर्सी पर बैठ गए। कुछ पल के बाद उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वह कुर्सी से नीचे गिर पड़े। किसान नेताओं ने उन्हें तुरंत एक निजी अस्पताल पहुंचाया। वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।...

मध्यप्रदेश के गेहूं उत्पादक किसानों को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाएंगे नए कानून: कमलनाथ

नए कृषि कानूनों को लेकर मध्यप्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रविवार को केंद्र सरकार पर हमला बोला। दरअसल, उन्होंने दावा करते हुए कहा कि नए कृषि कानूनों के प्रावधानों से सबसे बड़ा नुकसान राज्य के गेहूं उत्पादक किसानों को होगा। कमलनाथ ने यहां कांग्रेस के संभागीय कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा, “मध्य प्रदेश आज गेहूं उत्पादन में देशभर में शीर्ष पायदान पर है और पंजाब को पहले ही पीछे छोड़ चुका...

बॉर्डर पर गन्ने का रस निकालने के लिए लगा कोल्हू, टिकैत ने चरखे से काता सूत

कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन के बीच अब गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने कोल्हू लगा दिया है। वहीं दूसरी ओर गुजरात से कुछ प्रदर्शनकारी चरखा लेकर यहां पहुंचे। भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने रविवार को कोल्हू चलाकर किसानों के लिए गन्ने का रस निकाला। उन्होंने चरखा चला कर सूत भी काता।  भाकियू प्रवक्ता टिकैत ने कोल्हू चलाने के बाद आईएएनएस को बताया कि, कोल्हू गन्ने का रस पीने के लिए...

कृषि कानून के जरिए मोदीजी कृषि का पूरा व्यापार दो मित्रों के हवाले करना चाहते हैं : राहुल गांधी

केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों से संवाद करने राजस्थान पहुंचे कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को खुद ट्रैक्टर चलाया और ऊंट गाड़ी पर भी चढ़े। अजमेर के पास रूपनगढ़ में किसान संवाद कार्यक्रम रखा गया था। यहां ट्रालियों को जोड़कर बनाए गए मंच से राहुल गांधी ने किसानों को संबोधित किया। इसके बाद कांग्रेस नेता वहां रखी चारपाइयों में से एक चारपाई पर बैठे। इसके बाद राहुल गांधी मंच के बने घेरे में...

किसान एकता तोड़ने की कोशिशों से सावधान रहने की जरूरत, अजीत सिंह ने खुला पत्र लिखकर दी चेतावनी

केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को एक खुले पत्र में राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) के अध्यक्ष चौधरी अजीत सिंह ने चेतावनी दी है कि किसानों की एकता को तोड़ने के लिए आने वाले दिनों में प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने किसानों से इस तरह के प्रयासों से सावधान रहने को कहा है। साथ ही उन्होंने किसानों से डटे रहने की अपील करते हुए कहा कि उनकी पार्टी का हर कार्यकर्ता किसानों...

ओडिशा में फिर से लागू होगा कृषि सुधार अध्यादेश

केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर में चल रहे किसान विरोध प्रदर्शनों के बीच ओडिशा की नवीन पटनायक सरकार ने कृषि सुधार अध्यादेश को राज्य में फिर से लागू करने की मंजूरी दी। सरकार ने राज्य भर में पशुधन सहित भौगोलिक रूप से प्रतिबंध मुक्त व्यापार और कृषि उपज के लेन-देन को सक्षम करने के लिए ओडिशा कृषि उत्पादन बाजार संशोधन अधिनियम में सुधार के अध्यादेश को फिर से लागू करने का फैसला किया। मुख्यमंत्री...

राजस्थान विधानसभा में लगे ‘जय श्री किसान’ और ‘आंदोलनजीवी जिंदाबाद’ के नारे

राजस्थान विधानसभा का बजट सत्र बुधवार को शुरू हुआ जिस दौरान एक विधायक ने केंद्रीय कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग के लिए आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में ‘जय श्री किसान’ और ‘आंदोलनजीवी जिंदाबाद’ के नारे लगाए। राजस्थान की 15 वीं विधानसभा का छठा सत्र बुधवार सुबह 11 बजे शुरू हुआ और राज्यपाल कलराज मिश्र का अभिभाषण हुआ जिसमें उन्होंने सरकार की उपलब्धियों एवं पहलों पर प्रकाश डाला। राज्यपाल के अभिभाषण के...

किसान प्रदर्शन अनिश्चितकाल तक चलेगा : राकेश टिकैत

भारतीय किसान यूनियन(बीकेयू) नेता राकेश टिकैत ने कहा कि अगर सरकार तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को वापस नहीं लेती है तो किसान प्रदर्शन अनिश्चितकाल तक के लिए चलेगा। टिकैत ने आईएएनएस को बताया, अगर सरकार ने हमारी मांगें नहीं मानी, तो हम 2024 तक भी धरने पर बैठे रहेंगे। उन्होंने आगे कहा, जब तक तीन कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया जाता है, एमएसपी पर एक कानून नहीं बनाया जाता है और स्वामीनाथन समिति की...

किसानों की ‘अवैध गिरफ्तारी’ पर संयुक्त राष्ट्र को पत्र

 केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों को पूरी तरह निरस्त करने की मांग पर अड़े किसान संगठनों के कानूनी प्रकोष्ठ ने दिल्ली से सटे बॉर्डर पर धरनास्थल पर इंटरनेट सेवा बंद किए जाने और किसानों की ‘अवैध गिरफ्तारी’ को लेकर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग (यूएनएचआरसी) को पत्र लिखा है। सार्वजनिक सुरक्षा बरकरार रखने और किसी अप्रिय घटना को टालने के लिए सिंघु, गाजीपुर और टीकरी बॉर्डर स्थित धरनास्थल पर इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई...

MSP पर क़ानून बने यह किसानों के लिए फायदेमंद होगा: राकेश टिकैत

केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों का पिछले ढ़ाई महीने से विरोध प्रदर्शन जारी है। इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंदोलनरत किसानों से अपना आंदोलन खत्म करने की अपील की। जिसके बाद भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत का बयान सामने आया। किसान नेता ने कहा कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर कानून बने यह किसानों के लिए फायदेमंद होगा। देश में भूख से व्यापार करने वालों को बाहर निकाला जाएगा।...

कृषि कानून सिर्फ किसान-मजदूर के लिए ही नहीं, जनता और देश के लिए भी घातक: राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कृषि कानूनों को न सिर्फ किसानों के लिए बल्कि पूरे देश के लिए खतरनाक बताया है। राहुल गांधी ने शनिवार को आंदोलनकारी किसानों को समर्थन देते हुए कहा कि नए कृषि कानून न केवल उनके लिए बल्कि पूरे देश के लिए खतरनाक हैं। गांधी ने एक ट्वीट में कहा, ‘अन्नदाता का शांतिपूर्ण सत्याग्रह देशहित में है, लेकिन ये तीन कानून सिर्फ़ किसान-मजदूर के लिए ही नहीं, जनता व देश के...

किसानों को परेशान कर रही है मोदी सरकार :के सी वेणुगोपाल

केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में किसान संगठनों का आंदोलन करीब ढ़ाई महीने से जारी है। किसानों ने शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड को छोड़कर देशव्यापी ‘चक्का जाम’ किया। इस दौरान पंजाब, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर समेत देश के कई राज्यों की सड़कें अवरुद्ध रहीं। इसी बीच कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल का बयान सामने आया। जिसमें उन्होंने लोकतांत्रिक सरकार की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए। कांग्रेस नेता के सी वेणुगोपाल ने कहा कि किसान...

राकेश टिकैत का बड़ा एलान, 2 अक्टूबर तक गाजीपुर बॉर्डर पर बैठेंगे

तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को रद कराने की मांग को लेकर दिल्ली-यूपी के गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहा किसानों का धरना प्रदर्शन लंबा खिंच सकता है। दरअसल, किसानों के आंदोलन को लेकर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने बड़ा बयान दिया है। शनिवार को चक्का जाम से जुड़े एक सवाल के जवाब में राकेश टिैकत ने कहा कि हम यहां से नहीं उठने वाले हैं। तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को रद करने...

दिल्ली बॉर्डर पर नुकीले तार लगाने पर राहुल-प्रियंका का निशाना, कहा- प्रधानमंत्री जी, अपने किसानों से ही युद्ध?

दिल्ली की सीमाओं पर कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। गाजीपुर समेत दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर बड़ी संख्या में किसान पहुंच रहे हैं। किसानों का आंदोलन तेज हो रहा है। ऐसे में पुलिस-प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए हैं। यही वजह है कि बॉर्डर को किले में तब्दील कर दिया गया है। बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। इसके साथ ही किसानों को रोकने के लिए बैरिकेडिंग्स की...

किसान आंदोलन को समर्थन देने गाजीपुर बोर्डर पहुंचे सुखबीर बादल

शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने दिल्ली-उत्तर प्रदेश की सीमा के पास गाजीपुर पहुंचकर किसानों को अपना समर्थन दिया। अकाली दल ने विवादास्पद कृषि कानूनों के विरोध में भाजपा की अगुवाई वाले एनडीए से नाता तोड़ लिया है।

नरेंद्र सिंह ने फिर की कृषि कानूनों की वकालत, कहा- ये किसानों के लिए बेहतर

किसान आंदोलन के बीच केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने एक बार फिर कृषि कानूनों की वकालत की है। उन्होंने कहा कि नए कानून किसानों को अपनी उपज बेचने के लिए अतिरिक्त चॉइस चैनल के प्रचार की सुविधा प्रदान करते हैं। किसान अपनी उपज राज्य के बाहर और भीतर कहीं भी बेच सकते हैं। यह वर्तमान एमएसपी प्रणाली को प्रभावित नहीं करता है।” Sharad Pawar ji is a veteran politician & a former Union...

महात्मा गांधी का जिक्र कर BJP पर बरसे दिग्विजय, बोले- पहले लड़े थे गोरों से, अब लड़ेंगे…

केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन का 67वां दिन है। कड़ाके की ठंड और शीतलहर के बावजूद दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसान, कानूनों को रद्द करने से कम पर मानने को तैयार नहीं हैं। इस बीच, विपक्षी दल और उनके नेता भी सरकार को कटघरे में खड़े करने की कोशिश में जुटे हुए हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर हमला करते हुए...

सरकार किसानों से कानून वापस न लेने की मजबूरी तो बताए, हम उसका सिर नहीं झुकने देंगे: टिकैत

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने केन्द्र सरकार से कहा कि वह खुद किसानों को बताए कि कृषि कानूनों को वापस क्यों नहीं लेना चाहती। उन्होंने आगे कहा कि हम वादा करते हैं कि सरकार का सिर दुनिया के सामने झुकने नहीं देंगे। ट्रैक्टर परेड में हिंसा के कारण किसान आंदोलन के कमजोर पड़ने के बाद एक बार फिर जोर पकड़ने के बीच टिकैत ने सरकार से कहा कि सरकार की ऐसी...

किसानों के समर्थन में महागठबंधन की बिहार में मानव श्रृंखला, तेजस्वी बोले- कृषि कानूनों की वापसी तक संघर्ष जारी रहेगा

केंद्र के कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में महागठबंधन ने राज्यभर में मानव श्रृंखला बनाई जा रही है। तेजस्वी यादव ने बुद्ध स्मृति पार्क के पास मानव श्रृंखला में शामिल होते हुए कहा कि महागठबंधन के लोग किसानों के संघर्ष में उनके साथ खड़े हैं। केंद्र सरकार पूंजी पतियों के साथ है। उन्होंने कहा कि बिहार में 2006 से ही किसानो की हक मारी हो रही है। तेजस्वी बोले काले...

गाजीपुर बॉर्डर पर फिर बढ़ी तंबुओं की संख्या, टिकैत बोले-जीतकर ही घर लौटेंगे किसान

तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को रद कराने की मांग लेकर 2 महीने से भी अधिक दिन से चल रहा धरना प्रदर्शन 66वें दिन में प्रवेश कर गया है। इस बीच शनिवार को भी सिंघु, टीकरी और यूपी बॉर्डर पर हजारों की संख्या में किसान अपनी मांगों को लेकर जमा हैं। इसके चलते दोनों बॉर्डर पर भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया है।  भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की भावुक अपील के बाद किसानों का गाजीपुर...

देश को कमजोर मत कीजिए मोदी जी, किसान पर हमला, देश पर हमला है: प्रियंका

मोदी सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। इस बीच विपक्ष भी लगातार मोदी सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि किसान का भरोसा देश की पूंजी है। इनके भरोसे को तोड़ना अपराध है। इनकी आवाज न सुनना पाप है। इनको डराना धमकाना महापाप है। किसान पर हमला, देश पर हमला...

किसान आंदोलन: गाजीपुर बॉर्डर दोनों ओर से बंद

दिल्ली की सीमाओं पर कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का धरना प्रदर्शन जारी है। हालांकि गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद केंद्र और राज्य सरकार ने आंदोलनकारी किसान संगठनों पर सख्ती बढ़ा दी है। यूपी सरकार ने गाजीपुर बॉर्डर समेत प्रदेश में हर जगह किसान आंदोलन खत्म कराने के निर्देश दिए हैं। जिसके बाद माहौल बदल गया है।  वहीं गाजीपुर बॉर्डर को बंद कर दिया गया है। जिसके बाद ट्रैफिक...

भाजपा किसानों को भूखा-प्यासा रखकर हराना चाहती है : अखिलेश

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि सबका पेट भरनेवाले किसानों को भाजपा भूखा-प्यासा रखकर व झूठे आरोप लगाकर हराना चाहती है। अखिलेश ने शुक्रवार को ट्वीट के माध्यम से लिखा कि, सबका पेट भरनेवाले किसानों को भाजपा भूखा-प्यासा रखकर व झूठे आरोप लगाकर हराना चाहती है लेकिन चंद भाजपाइयों को छोड़कर सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानी आज भी किसानों के साथ खड़े हैं। सपा किसानों के...

कृषि कानूनों के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव लाएगी ममता सरकार

देश की राजधानी दिल्ली में नए कृषि कानूनों को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है।  इस बीच ममता सरकार ने पश्चिम बंगाल विधानसभा का दो-दिवसीय विशेष सत्र बुधवार से बुलाया है। इस दो दिवसीय सत्र के दौरान ममता सरकार केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध में प्रस्ताव लाएगी, जिसमें कानून रद करने की मांग करेगी। पश्चिम बंगला के  संसदीय कार्य मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि 28 जनवरी को विधानसभा के विशेष सत्र के...

किसानों के समर्थन में उप्र में सपा ने निकाली ट्रैक्टर रैली, पुलिस से हुई झड़प

नए कृषि कानूनों को लेकर दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी है। इधर उत्तर प्रदेश में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आह्वान पर मंगलवार को कार्यकर्ताओं ने ट्रैक्टर लेकर यात्रा निकाली। इस दौरान जमकर हंगामा हुआ। सपाईयों से कई जगह पुलिस वालों की झड़प भी हुई।  पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के निर्देश पर प्रदेश के तहसील मुख्यालयों में मंगलवार को पार्टी का ट्रैक्टर मार्च निकाला गया। लखनऊ के साथ ही...

तमिलनाडुः तीनों कृषि कानूनों पर बोले राहुल – इससे भारतीय खेती बर्बाद हो जाएगी

केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के साथ-साथ विपक्षी दल भी मुखर हैं।आगामी विधान सभा चुनावों से पहले कांग्रेस की मुहिम को धार देने तमिलनाडु पहुंचे राहुल गांधी भी लगातार केंद्र सरकार को घेर रहे हैं। तमिलनाडु के करूर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि केंद्र के नए कृषि कानूनों से भारतीय खेती तहस-नहस हो जाएगी। राहुल गांधी ने सोमवार को कहा, ‘वो (केंद्र की मोदी सरकार) तीन कानून...

मायावती ने किसानों के समर्थन में अपनी मांग दोहराई, कहा- कृषि बिल वापस ले सरकार

बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक बार फिर केंद्र सरकार से कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि बसपा का केन्द्र सरकार से पुनः अनुरोध है कि आंदोलित किसानों की कृषि बिल वापस लेने की मांग सरकार को मान लेनी चाहिए जिससे कि 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर किसी नई परंपरा की शुरूआत न हो तथा न ही दिल्ली पुलिस के संदेह के मुताबिक कोई गलत व अनहोनी...

महाराष्ट्र में भी कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन, नासिक से मुंबई मार्च निकाल रहे किसान

केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन जारी है। गणतंत्र दिवस पर किसान ट्रैक्टर परेड निकालने वाले हैं। इस बीच इनके समर्थन में रविवार को किसानों ने महाराष्ट्र के नासिक से मुंबई की ओर मार्च शुरू कर दिया है। अखिल भारतीय किसान सभा के बैनर तले यह प्रदर्शन हो रहा है। इनकी योजना मुंबई में इकट्ठा होने की है और फिर ये दिल्ली की ओर मार्च करेंगे। लगभग...

जो ट्रैक्टरों को रोकेगा उसका करेंगे इलाज, किसी की जागीर नहीं गणतंत्र दिवस: राकेश टिकैत

मोदी सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। सरकार के बाद अब दिल्ली पुलिस के साथ बैठक भी बेनतीजा ही रह रही है। इन सबके बीच पूरे देश की निगाहें 26 जनवरी को लेकर है। 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर किसानों द्वारा निकाले जाने वाली ट्रैक्टर रैली है। इसको लेकर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने दिल्ली को चेताया है। टिकैत ने कहा “दिल्ली खबरदार! उसका...

विपक्ष में रहने पर भी सुनवाई और कार्रवाई का काम जारी रखूंगा : तेजस्वी

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने आज बिहार सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि वह भले ही विपक्ष में हों, लेकिन चुनाव के समय किया गया वादा ‘पढ़ाई, दवाई, सिंचाई, कमाई, सुनवाई और कार्रवाई’ के सिद्धांत पर काम कर रहे हैं। उन्होंने यह भी घोषणा की कि राजद 23 से 30 जनवरी तक किसान जागरूक सप्ताह मनाएगा और महागठबंधन में शामिल सभी दलों के लोग तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ...

सुप्रीम कोर्ट की कमेटी ने किसान यूनियनों से कहा- कृषि कानूनों पर खुलकर रखें राय

केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए तीन कृषि कानूनों पर विचार के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित कमेटी ने गुरुवार को वर्चुअल बैठक की। इसमें कमेटी ने किसान यूनियनों से आग्रह किया कि वे इन कानूनों के बारे में खुलकर अपनी राय रखें।  बैठक को लेकर मिली खबरों में कहा गया है कि किसान यूनियनों ने चर्चा में हिस्सा लिया और अपनी राय व सुझाव खुलकर कमेटी के सदस्यों के सामने रखे। बता दें, इन कानूनों के...

तेलंगाना : कांग्रेस के नेताओं को कृषि कानूनों के विरोध के दौरान हिरासत में लिया गया

कांग्रेस पार्टी ने केंद्र द्वारा लागू किए गए नए कृषि कानूनों और पेट्रोल व डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में राजभवन की ओर मार्च करने की कोशिश की, जिसके बाद हैदराबाद पुलिस ने पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने राज्य कांग्रेस के प्रमुख उत्तम कुमार रेड्डी और अन्य नेताओं को लुंबिनी पार्क में रोका , जिन्हें बड़ी संख्या में विरोध मार्च को नाकाम करने के लिए तैनात...

किसान आंदोलन: सिंघु बॉर्डर पर 23-24 जनवरी को बुलाई गई किसान संसद, इन्हें भी दिया है न्योता

दिल्ली की सीमा पर चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में अब सिविल सोसाइटी के लोग भी सामने आए हैं। इसी कड़ी में सिविल सोसाइटी की तरफ से दिल्ली के सिंघु बॉर्डर के नजदीकी 23 और 24 जनवरी को किसान संसद बुलाने का फैसला किया गया है। इस किसान संसद में पक्ष-विपक्ष के सभी सांसदों के अलावा पूर्व सांसदों और कृषि विशेषज्ञों समेत किसानों को भी बुलाया जाएगा. इस किसान संसद में केंद्र सरकार द्वारा...

हम झगड़ा नहीं करेंगे, बल्कि गण का उत्सव मनाएंगे : राकेश टिकैत

नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन 55वे दिन भी जारी है। किसान संगठनों ने गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर मार्च निकालने का ऐलान किया है। वहीं सोमवार को दिल्ली पुलिस की याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह दिल्ली पुलिस को तय करना है कि किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने की अनुमति दी जाए या नहीं। शीर्ष अदालत ने जोर देकर कहा कि इस...

कृषि कानूनों पर अपनी गलती मान ले मोदी सरकार : चिदंबरम

सरकार और प्रदर्शनकारी किसानों के बीच नौवें दौर की वार्ता अनिर्णायक समाप्त होने के एक दिन बाद पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी.चिदंबरम ने कहा है कि सरकार को अपनी गलती स्वीकार कर लेना चाहिए। चिदंबरम ने कहा कि उम्मीद के अनुसार वार्ता विफल रही, और इसके लिए सरकार को दोषी ठहराया जाना चाहिए, क्योंकि आरटीआई प्रतिक्रियाओं से सरकार के झूठ का पर्दाफाश होने के बाद भी सरकार कानूनों को निरस्त नहीं करना...

मप्र में कांग्रेस ने सड़क पर उतरकर कृषि कानूनों का विरोध किया

सी तरह राजधानी में पूर्व मंत्री पी सी शर्मा ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ किसान कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प भी हो गई। बाद में पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।

नए कृषि कानून से गरीब किसान खत्म होंगे, मुट्ठी भर लोगों को होगा फायदा- अखिलेश

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को नए कृषि कानूनों को लेकर सत्तारूढ़ भाजपा पर जमकर निशाना साधा। पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि भाजपा गरीब किसानों की कीमत पर मुट्ठी भर लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए काम कर रही है। सपा अध्यक्ष ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘भाजपा का यह कैसा फैसला है कि गरीब किसान खत्म हो जाएं और मुट्ठी भर लोग लाभान्वित हों।’ विधान परिषद चुनावों में अपनी पार्टी...

SC की कमेटी से अलग होने पर भूपिंदर मान ने चुप्पी तोड़ी, फैसले के पीछे की असली वजह बताई 

कृषि कानूनों पर किसानों और सरकार के बीच गतिरोध खत्म करने के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित चार सदस्यीय कमेटी से अलग होने वाले भारतीय किसान यूनियन मान के अध्यक्ष भूपिंदर सिंह मान ने इस मामले में चुप्पी तोड़ी। मोहाली में अपने घर पर उन्होंने इस मुद्दे पर मीडिया से बातचीत में अपनी स्थिति साफ की।  मान ने कहा कि 14 जनवरी को दोपहर 12 बजे जब उनके पास आधिकारिक दस्तावेज आए तब उन्हें पता...

तीन कृषि कानूनों पर शुक्रवार को सरकार के साथ होगी 9वें दौर की वार्ता

नये कृषि कानूनों के मसले का समाधान के लिए सुप्रीम कोर्ट की पहल के बावजूद केंद्र सरकार आंदोलन की राह पकड़ किसान नेताओं के साथ वार्ता जारी रखेगी।

किसान नेता मान ने कृषि कानूनों पर सुप्रीम कोर्ट की बनाई समिति छोड़ी

नई दिल्ली । किसान नेता भूपिंदर सिंह मान ने सुप्रीम कोर्ट की ओर से तीन नए केंद्रीय कृषि कानूनों के मुद्दे पर किसानों के साथ वार्ता करने के लिए नियुक्त समिति से हटने का फैसला किया है। कृषि कानून के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलनों की समस्या को सुनने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने चार सदस्यीय समिति का गठन किया था। इस समिति में भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के अध्यक्ष भूपिंदर सिंह मान को भी...

मोदी जी किसानों की बात सुनिए: कांग्रेस

कृषि कानूनों के विरोध में जारी किसान आंदोलन के बीच कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री जी… इतने अहंकारी मत बनिए। किसानों की सुनिए नहीं, तो देश आपकी बात सुनना बंद कर देगा। रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने समस्या समाधान के लिए जो 4 सदस्यीय कमेटी बनाई है, उनमें शामिल लोग तो पहले से ही मोदी जी के कानूनों...

राहुल गांधी ने फिर की मांग, कहा- कृषि कानूनों को वापस ले सरकार

केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली बॉर्डर पर चल रहा किसानों का आंदोलन आज 47वें दिन में प्रवेश कर गया। किसान कानूनों को रद्द करने से कम पर मानने को राजी नहीं हैं। सरकार की अब तक की सारी कोशिशें नाकाम रहीं। इस बीच, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कृषि कानूनों को लेकर सरकार पर एक बार फिर वार किया है। उन्होंने सरकार पर किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने का...

समिति के सभी सदस्य सरकार के साथ हैं, सामने नहीं जाएंगे: किसान नेता

कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमा पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के आंदोलन का आज 48वां दिन है। अदालत के फैसले के बाद किसान संगठनों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि वह किसी कमेटी के सामने पेश नहीं होंगे। यह सरकार की शरारत है, इस कमेटी में सभी सदस्य सरकार के पक्ष वाले हैं। किसान संगठनों का कहना है कि वह किसी भी कमेटी के सामने पेश नहीं होंगे। उन्होंने सरकार के कमेटी...

किसानों से मिलने के लिए प्रधानमंत्री से नहीं कह सकते : सीजेआई

सुप्रीम कोर्ट ने किसानों के एक वकील की उन दलीलों को खारिज कर दिया, जिसमें कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विवादास्पद कृषि कानूनों पर चर्चा करने के लिए अब तक आंदोलनकारी किसानों से नहीं मिले हैं। न्यायमूर्ति ए. एस. बोपन्ना और वी. रामासुब्रमण्यन के साथ ही प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) एस. ए. बोबड़े और ने कहा, हम प्रधानमंत्री को जाने के लिए नहीं कह सकते। वह यहां पर पार्टी नहीं हैं। अधिवक्ता एम. एल. शर्मा...

किसानों के खिलाफ बल प्रयोग करने पर इस्तीफा दें खट्टर : शैलजा

कांग्रेस ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के इस्तीफे की मांग की है। कांग्रेस ने रविवार को प्रदेश के करनाल जिले में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के खिलाफ पुलिस के इस्तेमाल का विरोध किया और मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग की। कांग्रेस की राज्य प्रमुख कुमारी शैलजा ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, मुख्यमंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए, क्योंकि उन्होंने लोगों, विशेष रूप से किसानों...

जिद्दी और घमंडी रवैया छोड़े भाजपा : कांग्रेस

नई दिल्ली, 10 जनवरी (आईएएनएस)। कांग्रेस ने तीन नए कृषि कानूनों पर भाजपा पर जिद्दी और घमंडी रवैया अपनाने का आरोप लगाया है और कहा है कि किसानों की मांग के अनुसार इन कानूनों को रद्द कर देना चाहिए। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 2015 में संसद में कृषि मुद्दों पर भाषण का एक पुराना वीडियो ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा था कि किसानों की भूमि महंगी हो रही है, और सरकार किसानों को कमजोर...

किसानों के समर्थन में 15 जनवरी को राजभवनों का घेराव करेगी कांग्रेस

 कांग्रेस ने शनिवार को फैसला किया कि वह तीनों नए कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग पर बल देने के लिए 15 जनवरी को सभी राज्यों में किसान अधिकार दिवस मनाएगी और उसके नेता एवं कार्यकर्ता राजभवनों का घेराव करेंगे। कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने फैसला किया है कि किसानों के समर्थन में हर प्रांतीय मुख्यालय पर कांग्रेस पार्टी...

मायावती ने केन्द्र सरकार से उठाई कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग

कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों और केन्द्र सरकार के बीच बातचीत का आठवां दौर भी बेनतीजा रहा। इन सबके बीच बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने एक बार फिर नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग उठाई है। मायावती ने शनिवार को ट्वीट कर कहा, “काफी समय से दिल्ली की सीमाओं पर आन्दोलन कर रहे किसानों व केन्द्र सरकार के बीच वार्ता कल...

सरकार की उदासीनता और अहंकार के कारण 60 किसानों की जान गई: राहुल गांधी

कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि इस तरह की क्रूरता सांठगांठ वाले पूंजीपतियों के हितों को बढ़ावा देने के लिए है। राहुल गांधी ने कहा कि तीनों कानूनों को निरस्त किया जाना चाहिए।

कृषि कानूनों को प्रतिष्ठा का सवाल न बनाएं, किसान मुद्दे पर  गहलोत की केंद्र को सलाह

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कृषि कानूनों पर किसानों और केंद्र सरकार के बीच जारी गतिरोध पर कहा कि जनभावनाओं को देखकर अगर सरकार को कोई कानून वापस लेना पड़े तो लोकतंत्र में इसका स्वागत किया जाता है। केंद्र सरकार को इसे अपनी प्रतिष्ठा का सवाल नहीं बनाना चाहिए। किसान हमारे अन्नदाता हैं और उनकी मांगों को मानना सरकार का नैतिक कर्तव्य है।

दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर बैठे किसानों को वाई-फाई देगी केजरीवाल सरकार

कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली के कई बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों का आंदोलन आज 34वें दिन में प्रवेश कर चुका है। तमाम परेशानियों के बाद भी किसान अपनी मांगें मनवाए बिना आंदोलन खत्म करने को तैयार नहीं हैं। एक ओर जहां सरकार ने किसान नेताओं के साथ होने वाली बैठक की तारीख 30 दिसंबर तय की है, वहीं दूसरी ओर समाजसेवी अन्ना हजारे ने सरकार को पत्र लिख कहा है कि अगर...

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी, सरकार ने फिर लिखी चिट्ठी

बुधवार को 40 किसान संगठनों ने केंद्र द्वारा बातचीत को लेकर भेजे गए प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। वहीं, बैठक को लेकर जानकारी देते हुए भारतीय किसान यूनियन युधवीर सिंह ने कहा था, "जिस तरह से केंद्र बातचीत की प्रक्रिया को आगे बढ़ा रहा है।

लोकतंत्र कहां है? जो भी सरकार के खिलाफ बोलता है, वह राष्ट्रविरोधी है : राहुल

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज तीन कृषि कानूनों को लेकर मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी की सीमाओं पर हजारों किसान लगभग एक महीने से आंदोलनरत हैं और सरकार कुछ नहीं कर रही है। पूर्व कांग्रेस प्रमुख ने पार्टी नेताओं गुलाम नबी आजाद और अधीर रंजन चौधरी के साथ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात के बाद मीडिया से कहा, इन किसानों को असामाजिक, कट्टर वामपंथ और यहां तक कि...

कृषि कानूनों के खिलाफ राहुल गांधी का राष्ट्रपति भवन तक मार्च

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को दिल्ली में विजय चौक से राष्ट्रपति भवन तक पार्टी सांसदों के साथ एक मार्च निकाला। ये सभी पुलिस प्रतिबंधों के बावजूद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने जा रहे थे। राहुल गांधी सितंबर में लागू किए गए कृषि कानूनों के खिलाफ दो करोड़ हस्ताक्षर का ज्ञापन राष्ट्रपति को देने जा रहे हैं। इसके बाद राहुल और अन्य वरिष्ठ नेता राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे और उनके...

गाजीपुर बॉर्डर एंट्री-प्वाइंट को किसानों ने किया बंद, यात्री परेशान

दिल्ली-उत्तर प्रदेश बॉर्डर के पास किसानों ने गाजीपुर एंट्री-प्वाइंट को ट्रैक्टरों से पूरी तरह से बंद कर दिया है, जिससे यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ी। किसानों के इस कदम से दिल्ली से गाजीपुर और गाजियाबाद की ओर जाने वाले यातायात और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के यातायात पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा। किसानों ने दिल्ली-यूपी बॉर्डर के पास चिल्ला प्वाइंट को भी बंद कर दिया, जिससे नोएडा-गाजियाबाद से दिल्ली की ओर जाने वाला ट्रैफिक बाधित हो गया। आनंद...

नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मायावती ने उठाई मांग

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच बसपा मुखिया मायावती ने इस कानून को वापस लेने की मांग उठाई है। मायावती ने शनिवार को ट्वीट कर कहा, केंद्र की सरकार को, हाल ही में देश में लागू तीन नए कृषि कानूनों को लेकर आन्दोलित किसानों के साथ हठधर्मी वाला नहीं बल्कि उनके साथ सहानुभूतिपूर्ण रवैया अपनाकर उनकी मांगों को स्वीकार करके, उक्त तीनों कानूनों को...

किसान आंदोलन 20वें दिन जारी, आज की मीटिंग में तय होगी आगे की रणनीति

किसान आंदोलन मंगलवार को 20वें दिन जारी है। केंद्र सरकार द्वारा लागू तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े किसान देश की राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं। संयुक्त किसान मोर्चा में शामिल किसान संगठनों के नेता आज (मंगलवार) 12 बजे सिंघु बॉर्डर पर होने वाले मीटिंग में आंदोलन के आगे की रूपरेरखा व रणनीति तय करेंगे। यह जानकारी भारतीय किसान यूनियन, पंजाब के एक नेता ने दी। पंजाब...

किसान आंदोलन: कृषि कानूनों को लेकर आज राष्ट्रपति से मिलेंगे विपक्षी दल

विपक्षी दलों के नेता तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन और बिल को लेकर अपनी चिंताओं से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को अवगत कराएंगे। विपक्षी दलों के नेता इस मामले में राष्ट्रपति से हस्तक्षेप की गुहार लगाएंगे। बुधवार को राष्ट्रपति से मुलाकात करने वालों में एनसीपी नेता शरद पवार, कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी के अलावा वामदलों के नेता शामिल होंगे। सीपीआई नेता सीताराम येचुरी ने बताया कि कोवड-19 प्रोटोकॉल के चलते केवल...

दिल्ली को घेरेगी देशभर की ‘चौधराहट’, कूच का आह्वान

नए कृषि कानूनों को रद्द करने और फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की गारंटी की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों के तेवर तल्ख हैं। 10 दिन से राजधानी की सीमाओं पर डटे किसान एलान कर चुके हैं कि बगैर मांग पूरी हुए वह नहीं डिगेंगे। आवाज बुलंद करने के लिए किसानों से जुड़ी हिंदुस्तान की तमाम खाप भी दिल्ली को घेरने की तैयारी कर चुकी हैं। खापों के पारंपरिक केंद्रीय मुख्यालय सोरम...

राहुल का पीएम पर निशाना, कहा- मोदी के अहंकार ने जवान को किसान के खिलाफ खड़ा कर दिया

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली पहुंचने से रोके जाने के प्रयास को लेकर शनिवार को सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अहंकार’ ने जवान को किसान के खिलाफ खड़ा कर दिया है। पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने दावा किया कि दिल्ली आने वाले पूंजीपतियों के लिए लाल कालीन बिछाई जाती है, जबकि किसानों के आने पर रास्ते खोदे...

किसान आंदोलन के कारण होने लगी यूरिया की कमी, कैप्टन करेंगे किसान संगठनों से मुलाकात

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह शनिवार दोपहर डेढ़ बजे पंजाब भवन में किसान संगठनों से मुलाकात करेंगे। पंजाब में कृषि कानूनों के विरोध में करीब डेढ़ माह से चल रहे आंदोलन के कारण मालगाड़ियों का आवागमन ठप हो चुका है। इसके कारण अब प्रदेश में यूरिया की कमी होने लगी है। किसान संगठनों से बैठक के दौरान मुख्यमंत्री उनसे रेल यातायात की बहाली और यूरिया की सप्लाई के मुद्दे पर चर्चा करेंगे। किसान संगठन यात्री...

किसान मजदूर संघर्ष समिति के सदस्यों ने कृषि कानूनों के खिलाफ ‘चक्का जाम’ किया

केन्द्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ राष्ट्रव्यापी ‘चक्का जाम’ के तहत किसानों ने बृहस्पतिवार को पंजाब और हरियाणा में कई स्थानों पर सड़के अवरुद्ध करते हुए इन कानूनों को वापस लेने की मांग की। दोपहर 12 बजे से शाम 4 बजे तक के इस राष्ट्रव्यापी ‘चक्का जाम’ का आह्वान अखिल भारतीय किसान संघर्ष समिति ने किया है। विभिन्न संगठनों से संबंध रखने वाले प्रदर्शनकारी किसानों ने कई जगहों पर राजकीय और राष्ट्रीय राजमार्गों...

हरियाणा विधानसभा: मानसून सत्र का दूसरा चरण आज से, कृषि कानूनों पर घेरेगा विपक्ष

हरियाणा विधानसभा के मानसून सत्र का दूसरा चरण हंगामेदार रहने के आसार हैं। आज से शुरू हो रहे सत्र में नए कृषि कानूनों पर गर्मागर्म बहस व नोकझोंक हो सकती है। कांग्रेस नए कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए विधानसभा में प्रस्ताव लाने की मांग करेगी। जिसमें इनेलो व निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू का साथ मिलेगा। इस विधानसभा सत्र में नए कृषि कानून विपक्ष के पास सबसे बड़ा मुद्दा हैं। इन्हें लेकर सरकार को...

देश की नींव कमजोर करने वाले हैं नए कृषि कानून, पीएम पुनर्विचार करें : राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को नए कृषि कानूनों को किसानों, मजदूरों और देश की नींव कमजोर करने वाला बताया है। साथ ही राहुल ने भरोसा जताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन नए कानूनों पर पुनर्विचार करेंगे। राहुल गांधी रविवार को राजधानी रायपुर स्थित मुख्यमंत्री निवास में राज्योत्सव कार्यक्रम को वीडियो लिंक के माध्यम से संबोधित कर रहे थे। राज्योत्सव कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने जनता को बधाई दी...

राजस्थान: विधानसभा सत्र की होगी शुरुआत, कृषि विधेयक के खिलाफ विधेयक लाएगी कांग्रेस सरकार

राजस्थान विधानसभा का सत्र फिर शुरू होगा। इस दौरान राज्य की अशोक गहलोत सरकार केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि संबंधी कानूनों के खिलाफ संशोधन विधेयक पेश करेगी। । विधानसभा सचिवालय के अनुसार पंद्रहवी राजस्थान विधानसभा के पंचम सत्र की बैठक पुन: 31 अक्तूबर की सुबह 11.00 बजे से होगी। विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने शुक्रवार को विधानसभा भवन और सदन की व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश भी दिए। केंद्रीय कृषि कानूनों के...

केंद्र के कानूनों के खिलाफ छत्तीसगढ़ ने किया मंडी अधिनियम में संशोधन

केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में लागू किए गए कृषि कानूनों को निष्प्रभावी करने के मकसद से छत्तीसगढ़ में कृषि उपज मंडी अधिनियम में संशोधन किया गया है। हालांकि प्रदेश सरकार का कहना है कि कानून में संशोधन से केंद्रीय कानूनों का अतिक्रमण नहीं हो रहा है। छत्तीसगढ़ विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान मंगलवार को छत्तीसगढ़ कृषि उपज मंडी (संशोधन) विधेयक 2020 चर्चा के बाद ध्वनिमत से पारित कर दिया गया। छत्तीसगढ़ के कृषि...

कृषि कानूनों पर 300 किसान संगठनों की बैठक, केंद्र के खिलाफ आंदोलन की तैयारी

कृषि कानूनों में बदलाव की मांग को लेकर किसान राष्ट्रीय स्तर पर विरोध प्रदर्शन आयोजित करने की तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए मंगलवार को दिल्ली के रकाबगंज गुरुद्वारे में 300 से अधिक किसान संगठन बैठक कर आंदोलन की रूपरेखा को अंतिम रूप देंगे। इस बैठक में देशभर के किसान संगठनों को बुलाया गया है, जिससे आंदोलन को व्यापक रूप दिया जा सके। इसके पहले किसानों और सरकार के बीच सहमति बनाने की कोशिशें असफल...

पंजाब के बाद अब राजस्थान में कृषि कानूनों पर बुलाया जाएगा विशेष सत्र

पंजाब के बाद, अब राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी कृषि कानूनों पर चर्चा करने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने का फैसला किया है। मंगलवार को गहलोत ने एक कैबिनेट बैठक बुलाई और घोषणा की कि सरकार किसानों के हित के संरक्षण के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाएगी। उन्होंने कैबिनेट बैठक के बाद ट्वीट किया: मंत्रिपरिषद ने फैसला किया है कि राज्य के किसानों के हितों की रक्षा करने के लिए...

कृषि कानूनों के खिलाफ धरने पर बैठे दो किसानों की मौत

कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब में चल रहे किसानों के धरने में शनिवार को पटियाला और मानसा में एक-एक किसान की मौत हो गई। इससे पहले आंदोलन में शामिल चार किसानों की मृत्यु हो चुकी है। अब तक कुल छह किसानों की जान जा चुकी है। इस बीच, खेती कानूनों के विरोध में अमृतसर, गुरदासपुर, जालंधर, मुक्तसर, रोपड़ और संगरूर में किसानों का धरना- प्रदर्शन जारी रहा और भाजपा नेताओं के घर का घेराव किया। उधर,...

राहुल, अमरिंदर का वादा : केंद्र को कृषि कानून रद्द करने के लिए मजबूर करेंगे

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ मिलकर शनिवार को वादा किया कि वे केंद्र सरकार को सख्त कृषि कानूनों को रद्द करने के लिए मजबूर करके रहेंगे। दोनों ने कहा कि इन कानूनों के किसानों पर पड़ने वाले हानिकारक प्रभाव से निपटने के उद्देश्य से सोमवार को एक विशेष विधानसभा सत्र में बहस की जाएगी। अमरिंदर सिंह ने कहा कि उनकी सरकार इन काले कानूनों का मुकाबला करने और...

किसानों ने देश को खाद्य सुरक्षा दी और मोदी सरकार ने किसानों को सिर्फ़ धोखा दिया: राहूुल

मोदी सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने फिर तीखा हमला बोला है। हाल ही में अपने पंजाब दौरे से जुड़ा एक वीडियो ट्वीट करके राहुल गांधी ने कहा कि किसानों ने देश को खाद्य सुरक्षा दी और मोदी सरकार ने किसानों को सिर्फ धोखा दिया, लेकिन अब और नहीं। किसानों ने देश को खाद्य सुरक्षा दी और मोदी सरकार ने किसानों को सिर्फ़ धोखा दिया। लेकिन अब...

कृषि कानून: अमृतसर में किसान मजदूर संघर्ष समिति का रेल रोको आंदोलन जारी

कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब के अमृतसर में किसान मजदूर संघर्ष समिति रेल रोको आंदोलन 20वें दिन भी जारी है। किसान रेलवे ट्रैक पर अड़े हुए हैं। किसानों की मांग है कि केंद्र सरकार कृषि कानूनों को वापस ले। Punjab: Kisan Mazdoor Sangharsh Committee's 'rail roko' agitation against farm laws enters the 20th day. Visuals of protesters from Amritsar raising slogans against the Central govt & state govt. pic.twitter.com/AFL6QVdAqN — ANI (@ANI) October 13, 2020

सुप्रीम कोर्ट ने कृषि कानूनों पर केंद्र सरकार को जारी किया नोटिस

उच्चतम न्यायालय ने संसद द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर केंद्र को नोटिस जारी किया है। अदालत ने केंद्र को चार हफ्तों के अंदर जवाब दाखिल करने को कहा है। बता दें कि पिछले महीने संसद के मानसून सत्र में कृषि से संबंधित तीन विधेयकों को पारित किया गया था। राष्ट्रपति द्वारा हस्ताक्षर किए जाने के बाद ये विधेयक अब कानून बन चुके हैं। WeForNews

गहलोत ने कृषि कानूनों को बताया काला कानून, कहा- किसान हित में उचित कदम उठाएंगे

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में पारित कृषि संबंधी कानूनों को काला कानून करार देते हुए शनिवार को कहा कि उनकी सरकार किसानों के हित में उचित कदम उठाएगी। मुख्यमंत्री यहां बिड़ला सभागार में इन कानूनों के खिलाफ यहां कांग्रेस के राज्यस्तरीय कृषि सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। राज्य सरकार द्वारा इन कानूनों के खिलाफ कदम उठाए जाने का संकेत देते हुए गहलोत ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष...

मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने पर लागू नहीं होंगे कृषि कानून : कमल नाथ

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए तीनों कृषि कानूनों को किसान विरोधी करार देते हुए वादा किया है कि, “उप-चुनाव के बाद मुख्यमंत्री बनते ही इन कानूनों को राज्य में लागू नहीं करने का फैसला लूंगा।” पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने गुरुवार को कहा कि, “केंद्र और मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार इस कानून के जरिए पूंजीपति और कॉरपोरेट क्षेत्र को लाभ पहुंचाना चाहते हैं। इसलिए बिना किसानों...

पंजाब के किसान भाइयों से मिलकर हुआ नई ऊर्जा का अहसास : राहुल

नई दिल्ली, केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों को लेकर कांग्रेस पार्टी लगातार विरोध प्रदर्शन कर रही है। ऐसे में आज राहुल गांधी ने पंजाब में ‘खेती बचाओ’ अभियान की शुरुआत की है। किसानों के हक को लेकर पंजाब से शुरू की गई लड़ाई पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने संतुष्टि जताई है। उन्होंने कहा कि ‘खेती बचाओ यात्रा’ के पहले दिन पंजाब के किसान बहन-भाइयों से मिलकर एक नई ऊर्जा का एहसास...

नए कृषि कानूनों की काट का दावा, कांग्रेस ने तैयार किया आदर्श कानून का मसौदा

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की ओर से पार्टी शासित राज्यों से केंद्रीय कृषि कानूनों को निष्प्रभावी करने वाले कानून बनाने के बारे में विचार करने को कहा गया था। कांग्रेस नेतृत्व ने पार्टी शासित राज्यों से कहा है कि वे संविधान के अनुच्छेद 254 (ए) के तहत कानून पारित करने के संदर्भ में गौर करें। पार्टी का दावा है कि यह अनुच्छेद इन कृषि विरोधी व राज्यों के अधिकार क्षेत्र में हस्तक्षेप करने वाले केंद्रीय...

सोनिया गांधी का केंद्र पर हमला, कहा- किसानों को मोदी सरकार रुला रही है खून के आंसू

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नए कृषि कानूनों पर प्रधानमंत्री पर निशाना साधा है। एक वीडियो बयान में, सोनिया गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री काले कानूनों को लागू करके किसानों के साथ घोर अन्याय कर रहे हैं। महात्मा गांधी की जयंती पर, सोनिया गांधी ने गांधी और लाल बहादुर शास्त्री दोनों को याद किया और कहा कि भारत की आत्मा गांवों में बसती है, जबकि शास्त्री ने ‘जय जवान, किसान किसान’ का नारा दिया था।...

कृषि कानूनों पर पवार को ऐतराज लेकिन विरोध पर अभी फैसला नहीं

कृषि कानूनों को लेकर किसान संगठनों और विपक्षी दलों का विरोध जारी है। कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन को तेजी दी है और उसके कार्यकर्ता कई जगह सड़कों पर आ गए है। इस बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार ने कहा है कि कृषि कानून की कुछ बातों से वे सहमत नहीं हैं लेकिन विरोध प्रदर्शन पर अभी फैसला करना बाकी है। शरद पवार ने कहा, ”कृषि कानून की कुछ बातों पर हम सहमत...

कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन के बीच किसान संगठनों के प्रतिनिधियों से मिले अमरिंदर सिंह

देश भर में कृषि कानून के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन के बीच चंडीगढ़ में आज पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विभिन्न किसान संगठनों के प्रतिनिधियों से मुलाकात की और कानून से जुड़ी उनकी परेशानियों को सुना। चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विभिन्न किसान संगठनों के प्रतिनिधियों से मुलाकात की। pic.twitter.com/V7qfu12fyg — ANI_HindiNews (@AHindinews) September 29, 2020 WeForNews

अकाली दल ने दिल्ली की निकाय संस्थाओं में अपने नेताओं से पदों से इस्तीफा देने को कहा

कृषि कानूनों के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ गठबंधन तोड़ने के बाद शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने अपने सदस्यों से कहा है कि वे दिल्ली के तीनों नगर निगम में अपने पदों से इस्तीफा दें। दिल्ली के नगर निगमों पर भाजपा का कब्जा है। शिअद की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष हरमीत सिंह कालका ने कहा कि पार्टी ने निकाय समेत किसी भी संगठन में भाजपा के साथ नाता नहीं रखने का निर्णय लिया...

कांग्रेस का राज्य सरकारों को निर्देश, कृषि विधेयकों के खिलाफ पारित कराएं बिल

कांग्रेस ने कृषि कानूनों के विरोध में केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कांग्रेस शासित राज्यों की सरकारों से कहा है कि वे अपने यहां अनुच्छेद 254(2) के तहत बिल पास करने पर विचार करें जो केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि विधेयकों को निष्क्रिय करता हो। वेणुगोपाल ने एक बयान में कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सलाह दी है कि कांग्रेस शासित राज्यों को अपने यहां केंद्र...

प्रियंका बोलीं- कृषि कानून के खिलाफ पूरे देश में किसान एकजुट होकर कर रहे हैं विरोध

किसान बिल संसद के दोनों सदनों से पास हो गया लेकिन सियासत अभी थमी नहीं है। उधर मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी बिल को लेकर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि किसान एकजुट होकर नए कृषि कानूनों के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं। प्रियंका गांधी ट्वीट किया है, “पूरे देश के किसान एकजुट होकर नए कृषि कानूनों के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं।” बिलों में एमएसपी का प्रावधान न होना, कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग और...