तालिबान पर मेरे बयान को जानबूझकर तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया: महबूबा

पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के यह कहने के एक दिन बाद कि तालिबान ‘असली इस्लामिक शरिया’ का पालन करता है, दुनिया के लिए एक उदाहरण बन सकता है, उन्होंने गुरुवार को साफ किया कि उनके बयान को ‘जानबूझकर’ तोड़-मरोड़ किया गया। ट्विटर पर उन्होंने लिखा, “आश्चर्य की बात नहीं है कि शरिया पर मेरे बयान को जानबूझकर तोड़ा-मरोड़ा गया है। शरिया को कायम रखने का दावा करने वाले अधिकांश देश इसके वास्तविक मूल्यों को आत्मसात...