लखीमपुर में अखिलेश बोले, ‘सपा सरकार बनने पर मिलेगा दो-दो करोड़ का मुआवजा’

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में रविवार को हुए बवाल के बाद मामले में सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल और प्रियंका के बाद सपा मुखिया अखिलेश यादव गुरुवार को किसान और पत्रकार के परिवार से मिलने उनके घर पहुंचे। कहा कि उन्होंने सरकार से मुआवजे के लिए दो करोड़ की मांग की थी। यदि पूरी नहीं हुई तो सपा सरकार आने पर पूरी करेंगे। लखीमपुर के तिकुनिया में हुई घटना के...

27 सितंबर को भारत बंद: किसान महापंचायत ने कृषि कानूनों पर आक्रामक होने का किया फैसला

मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत में रविवार को संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के तत्वावधान में 15 राज्यों के 300 से अधिक किसान संगठनों ने भाग लिया, जो किसान एकता की ताकत का एक बड़ा प्रदर्शन साबित हुआ और इसमें विरोध जारी रखने के अपने संकल्प को दोहराया गया। किसानों ने सर्वसम्मति से तीन विवादास्पद कृषि कानूनों के विरोध में 27 सितंबर को पूर्ण भारत बंद का आह्वान किया है।   वक्ताओं ने कहा, “उन्होंने (केंद्र ने)...

Priyanka Gandhi: किसान इस देश की आत्मा, योगी सरकार विज्ञापन देकर किसानों की बदहाली नहीं छिपा सकती

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि किसान इस देश की आत्मा हैं। यूपी सरकार फुल पेज विज्ञापन देकर किसानों की बदहाली छिपा नहीं सकती। प्रियंका गांधी ने कहा कि बताइए आपने क्या किया? छुट्टा पशुओं को लेकर? फसल नुकसान के मुआवजे पर? गन्ना मूल्य के भुगतान पर? काले कृषि कानूनों पर? महंगाई और बिजली के दाम को लेकर?

BJP संग हमारे जंग जैसे हालात, एक किसान नहीं देगा वोट, कृषि कानूनों पर PM का दावा झूठा: राकेश टिकैत

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन एक बार फिर जोर पकड़ने लगा है। जंतर-मंतर पर किसान संसद चल रही है। जहां आगे की रणनीतियां तय की जा रही है। इन सबके बीच किसान नेता राकेश टिकैत लगातार अलग अलग राज्यों का भी दौरा कर रहे हैं। इन सबके बीच एक बार फिर राकेश टिकैत ने मोदी सरकार को अपने इरादे को लेकर आगाह किया है। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि वह चुनाव...

लखनऊ का भी करेंगे दिल्ली की तरह घेराव, हमारी लड़ाई मोदी सरकार के खिलाफ: राकेश टिकैत

किसान नेता राकेश टिकैत ने बड़ा ऐलान किया है। दिल्ली की तरह ही अब लखनऊ को भी घेरने का ऐलान किया है। राकेश टिकैत ने कहा कि लखनऊ को भी दिल्ली बनाया जाएगा जिस तरह दिल्ली में चारों तरफ के रास्ते सील हैं, ऐसे ही सील होंगे। हम इसकी तैयारी करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि 8 महीने आंदोलन करने के बाद संयुक्त मोर्चा ने फैसला किया है कि हम उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, पंजाब और पूरे...

कृषि कानूनों के विरोध में जंतर-मंतर पहुंचे किसान

केंद्र द्वारा पारित नए कृषि कानूनों को लेकर पिछले साल नवंबर से प्रदर्शन कर रहे किसान गुरुवार को कड़ी सुरक्षा के बीच जंतर-मंतर पहुंचे और इस कानून के खिलाफ अपना आंदोलन तेज किया। केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर किसान नारे लगाते हुए धरना स्थल पर पहुंचे।   किसान उन बसों में पहुंचे, जिन्हें दिल्ली पुलिस ने कोविड के नियमों का पालन करते हुए समग्र सुरक्षा सुनिश्चित...

कल सिंघू बॉर्डर से जंतर-मंतर के लिए रवाना होंगे 200 किसान: राकेश टिकैत

किसानों का आंदोलन गुरुवार को एकबार फिर से दिल्ली की सीमाओं में दाखिल हो रहा है। दरअसल, कल से 200 किसान जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेंगे। इसके लिए पुलिस प्रशासन और सरकार से भी अनुमति मिल गई है। इस अनुमति के बाद भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने बताया है कि हमारे 200 लोग कल ही अलग-अलग धरनास्थलों से जंतर-मंतर के लिए रवाना होंगे। राकेश टिकैत ने बताया कि सिंघू बॉर्डर से 4-5 बसें...

किसानों के विरोध के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने जंतर-मंतर पर सुरक्षा कड़ी की

राष्ट्रीय राजधानी के जंतर-मंतर रोड पर दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा कड़ी कर दी है, क्योंकि गुरुवार को कई किसान तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ वहां विरोध प्रदर्शन करने वाले हैं। दिल्ली के विशेष पुलिस आयुक्त (अपराध) सतीश गोलचा और संयुक्त पुलिस आयुक्त जसपाल सिंह ने मौके पर इकट्ठा होने वाले किसान संगठनों से पहले सुरक्षा की समीक्षा करने के लिए जंतर-मंतर का दौरा किया। हालांकि, दिल्ली पुलिस ने कहा, “अभी तक किसानों को संसद...

किसानों के संसद घेराव के ऐलान से टेंशन में दिल्ली पुलिस, अलर्ट पर रखे गए कई मेट्रो स्टेशन

तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली सीमा पर कई महीनों से आंदलोन कर रहे हैं। किसानों ने अब अपने आंदोलन को और तेज करने का फैसला किया है। दरअसल कल (19 जुलाई) से संसद का मौनसून सत्र शुरू हो रहा है। इसी बीच किसानों सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाने के लिए 22 जुलाई को संसद घेराव का आह्वान किया हुआ है। किसानों के इस ऐलान के बाद से ही दिल्ली पुलिस की चिंता...

Rahul Gandhi: सदियों का बनाया, पलों में मिटाया, देश जानता है, कौन ये कठिन दौर लाया

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने वैक्सीन की किल्लत, वास्तविक नियंत्रण रेखा, किसान समेत तमाम मुद्दों पर सरकार को घेरा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “सदियों का बनाया, पलों में मिटाया, देश जानता है कौन, ये कठिन दौर लाया।” साथ उन्होंने वैक्सीन की किल्लत, वास्तविक नियंत्रण रेखा, बेरोजगारी, महंगाई, पीएसयू, किसान, पीआर जैसे हैशटैग का इस्तेमाल किया। इससे पहले बुधवार को कोरोना वैक्सीन की कमी को लेकर कांग्रेस नेता...

किसान आंदोलन: 22 जुलाई से संसद के बाहर बैठेंगे किसान

भीषण गर्मी से लेकर हाड़ कंपाने वाली सर्दी और फिर गर्मी झेल रहे किसानों का आंदोलन 7 महीने से ज्यादा के वक्त से जारी है। दिल्ली के बॉर्डर इलाकों पर किसान नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर अड़े हुए हैं। उनकी मांग है कि केंद्र सरकार की ओर से बनाए गए तीनों कृषि कानून रद्द होने चाहिए और एमएसपी पर कानून बनना चाहिए। हालांकि किसानों और सरकार की यह जंग कब खत्म...

22 जुलाई से हमारे 200 लोग संसद के पास करेंगे विरोध प्रदर्शन: राकेश टिकैत

किसान नेता राकेश टिकैत ने 22 जुलाई से संसद के मानसून सत्र के दौरान धरने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार बातचीत करना चाहती है, तो हम तैयार हैं। 22 तारीख से हमारा दिल्ली जाने का कार्यक्रम रहेगा। 22 जुलाई से संसद सत्र शुरू होगा। 22 जुलाई से हमारे 200 लोग संसद के पास धरना देने जाएंगे   उन्होंने आगे कहा, “मैंने ये नहीं कहा था कि कृषि क़ानूनों को लेकर UN...

पिछले 5 महीनों से केंद्र से कोई बातचीत नहीं हुई, हमने सर्दी-गर्मी सही, अब बारिश भी सहेंगे- टिकैत

विवादित कृषि कानूनों पर अगले दौर की बातचीत के लिए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तौमर से मिले आमंत्रण के बावजूद किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि पिछले 5 महीनों से केंद्र सरकार के साथ हमारी कोई बातचीत नहीं हुई। इंडिया टीवी से बातचीत में किसान नेता ने कहा कि संसद के आगामी सत्र में किसानों का मुद्दा उठाया जाना चाहिए। हालांकि इस दौरान उन्होंने कहा कि किसानों का संसद का घेराव करने का कोई...

बॉर्डर पर सैकड़ों ट्रैक्टर लेकर पहुंचे नरेश टिकैत, कहा, ‘सरकार नहीं मानती बात तो चुनावों में करेंगे विरोध’

गाजीपुर बॉर्डर पर सहारनपुर और मुजफ्फरनगर से सैकड़ों की संख्या में किसान पहुंचे हैं। बीते कुछ महीनों की तुलना में आज बॉर्डर पर किसानों की संख्या में ज्यादा है। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत के नेत्रत्व में ये सभी ट्रैक्टर लाए गए हैं, उन्होंने इस दौरान कहा कि, “अगर सरकार बात नहीं मानती तो हम आगामी चुनाव का खुलकर विरोध करेंगे।” हालांकि उन्होंने, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को लेकर भी कहा...

केंद्र पर नाराजगी जताते हुए बोले टिकैत, ‘ट्रैक्टर और लोग यहीं के, चाइना या अफगानिस्तान से नहीं आए

कृषि कानून पर किसानों का प्रदर्शन दिल्ली की सीमाओं पर 7 महीने से चल रहा है ऐसे में किसान सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए नजर आ रहे हैं। इसी बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि, ‘चार लाख ट्रैक्टर भी यही हैं, वो 25 लाख किसान भी यही हैं।’ इस मसले पर राकेश टिकैत ने आईएएनएस से बात की और उन्होंने कहा कि, ‘सरकार आंदोलन में बाहर की फंडिंग, खालिस्तानी, पाकिस्तानी बताते...

आंदोलन को तेज करने, देश को लुटेरों से बचाने के लिए जरूरी ‘ट्रिपल टी’ फार्मूला: टिकैत

कृषि कानून पर बीते 7 महीनों से किसान दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं। ऐसे में किसान नेता अब ‘ट्रिपल टी’ फार्मूला का जिक्र कर आंदोलन को तेज करने की कवायद में लगे हुए हैं। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है, “देश को लुटेरों से बचाने के लिए तीन चीजें जरूरी हैं। सरहद पर टैंक, खेत में ट्रैक्टर, युवाओं के हाथ में ट्विटर।” भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने आईएएनएस...

इलाज तो करना पड़ेगा, ट्रैक्टरों के साथ अपनी रखो तैयारी : टिकैत

कृषि कानून के विरोध में किसान दिल्ली की सीमाओं पर बैठे हुए हैं और आंदोलन जारी है। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने एक बार फिर सरकार को सख्त लहजे में चेतावनी दे डाली है। उन्होंने कहा है कि, “सरकार मानने वाली नहीं है। इलाज तो करना पड़ेगा।” राकेश टिकैत ने ट्वीट करते हुए कहा कि, “सरकार मानने वाली नहीं है। इलाज तो करना पड़ेगा। ट्रैक्टरों के साथ अपनी तैयारी रखो। जमीन बचाने...

कृषि कानूनों के खिलाफ 26 जून को राजभवनों में प्रदर्शन करेंगे किसान

केंद्र सरकार द्वारा पेश किए गए नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध को करीब 200 दिन हो गए हैं और अपने आंदोलन को तेज करने के लिए किसानों ने देश भर के राजभवन में 26 जून को धरना देने की घोषणा की है। संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के एक नेता ने शुक्रवार को कहा, “26 जून को किसानों का विरोध प्रदर्शन होगा और काले झंडे दिखाए जाएंगे। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को एक...

कई मौतों के बाद भी अपने रुख पर कायम हैं किसान : राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि धरना स्थल पर कई लोगों की मौत के बावजूद किसान तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, “अपने खेतों और देश की रक्षा के लिए, किसान धीरे धीरे मर रहे हैं। लेकिन वे डरते नहीं हैं और अपने रुख के प्रति सच्चे हैं।” पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सैकड़ों किसान पिछले...

अब किसान और बंटने वाला नहीं : टिकैत

जयपुर: किसान नेता राकेश टिकैत ने कृषि कानूनों को लेकर केन्द्र पर निशाना साधते हुए मंगलवार को कहा कि सरकार लोगों को जाति-धर्म में बांटा लेकिन अब अन्नदाता बंटने वाले नहीं हैं और जरूरत पड़ी तो वे संसद में भी अपनी फसल बेचकर दिखाएंगे। टिकैत मंगलवार को जयपुर में आयोजित किसान महापंचायत को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘इन्होंने (सरकार) जाति में बांटा, धर्म में बांटा.. अब किसान...

आर्थिक तंगी के चलते किसान ने आत्महत्या की

बांदा (उत्तर प्रदेश), 17 मार्च : उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के मटौंध क्षेत्र में आर्थिक तंगी से परेशान एक किसान ने बुधवार को अपने घर में कथित रूप से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस सूत्रों ने बताया कि मटौंध थाना क्षेत्र के मुड़ेरी गांव में लघु सीमांत किसान रणविजय सिंह (45) का शव सुबह उसके घर में फांसी के फंदे से लटकता पाया गया। उन्होंने किसान के परिजनों के हवाले से बताया कि...

कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे एक और किसान ने की खुदकुशी

कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन जारी है। इस बीच एक और किसान ने दिल्ली बॉर्डर पर खुदकुशी कर ली है। हरियाणा के एक 55 साल किसान ने रविवार को टिकरी-बहादुरगढ़ सीमा पर आत्महत्या कर ली है। पुलिस के अनुसार, हिसार जिले के राजबीर के रूप में पहचाने गए पीड़ित ने पेड़ पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। किसान राजबीर केंद्र की मोदी सरकार द्वारा पारित कृषि कानूनों के खिलाफ...

आंदोलन के 100 दिन  पूरे होने पर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर निशाना साधा

किसानों के आंदोलन को 100 दिन पूरे होने पर कांग्रेस ने भी मोदी सरकार पर ट्वीट के जरिए हमला बोला है। कांग्रेस ने वीडियो शेयर कर कहा है कि अहंकार में चूर हो, क्यों इतने मग़रूर हो। सामने किसान है, हथेली पर उनकी जान है।। तुम क्या चाहते हो, वो हथकंडों से डर जाएंगे। अन्नदाता हैं, अहंकार तुम्हारा चूर कर जाएंगे।। अहंकार में चूर हो, क्यों इतने मग़रूर हो।सामने किसान है, हथेली पर उनकी जान...

जो देश को अन्न देता रहा है, अब वो किसान हक लेकर रहेगा: राहुल गांधी

कृषि कानूनों को लेकर किसानों द्वारा लंबे समय से किए जा रहे विरोध प्रदर्शन के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने किसानों का समर्थन करते हुए केंद्र सरकार पर एक बार फिर हमला बोला है।

एक आंख दिल्ली पर तो दूसरी खेत पर रखे किसान, अन्यथा अगले 30 साल में नहीं बचेगी जमीन : राकेश टिकैत

आज किसान को ताकत दिखानी होगी। दिल्ली पर कब्जा रखना होगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली की गद्दी पर तोमरो का कब्जा रहा है। एक बार फिर उन्हें अपनी ताकत दिखानी होगी।

सरकार और किसान नेताओं के बीच आठवें दौर की वार्ता जारी

गुरुवार को प्रदर्शनकारी किसानों ने तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने की अपनी मांग को लेकर ट्रैक्टर रैलियां निकाली, जबकि केंद्र ने इस बात पर जोर दिया कि वह इन कानूनों वापस लेने के अलावा हर प्रस्ताव पर विचार के लिए तैयार है।

मध्यप्रदेश : किसान ने कीटनाशक पीकर की आत्महत्या

खरगोन (मध्यप्रदेश), 17 दिसम्बर : खरगोन जिले में राजपुरा गांव के एक किसान ने कर्ज से परेशान होकर कीटनाशक पीकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली। जिला अस्पताल पुलिस चौकी प्रभारी तेजराम डाबर ने आज बताया, ‘‘बिस्टान थाना क्षेत्र के राजपुरा गांव के किसान कैलाश लाल सिंह जमरे (35) ने अपने खेत में कल रात कीटनाशक पी लिया और आज सुबह जिला अस्पताल में उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया।’’ उन्होंने कहा कि पुलिस...

उत्तर प्रदेश में कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जिले में एक किसान ने कर्ज अदा न कर पाने से परेशान होकर नहर में कूदकर जान दे दी। पुलिस ने पानी में किसान की तलाश की लेकिन देर रात तक कोई कामयाबी नहीं मिल सकी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, जिले के करहल थाना क्षेत्र के ग्राम नगला बाग के निवासी किसान चेतराम जाटव ने तीन साल पूर्व मैनपुरी स्टेशन रोड स्थित बैंक ऑफ...

भूत-प्रेतों की वजह से आत्महत्या कर रहे हैं किसान : एमपी के गृहमंत्री

मध्य प्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन किसानों की आत्महत्या का मामला छाया रहा। कांग्रेस विधायक के किसानों की आत्महत्या से जुड़े सवाल का जवाब देते हुए गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि किसान फसल खराब होने की वजह से नहीं भूत-प्रेतों के कारण आत्महत्या कर रहे हैं। दरअसल, मानसून सत्र के दूसरे दिन सदन की कार्रवाई शुरू होते ही कांग्रेस विधायक शैलेन्द्र पटेल ने सीहोर जिले में किसानों की आत्महत्या को लेकर...

5 लाख तक लोन पर किसानों को नहीं देना होगा ब्याज : रमन सिंह

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि राज्य में किसानों को पांच लाख रुपए तक ब्याज मुक्त ऋण दिया जा रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य में फर्जी चिटफंड कंपनियों से निपटने के लिए राज्य सरकार ने कठोर कानून बनाया है। सिंह ने कहा कि आकाशवाणी से प्रसारित मासिक रेडियो वार्ता ‘रमन के गोठ’ में कहा कि राज्य के किसानों को खेती के लिए पांच लाख रुपए तक ब्याज मुक्त अल्पकालीन कृषि...

भारत- मोजांबिक एक दूसरे के अच्छे सहयोगी : पीएम मोदी

चार अफ्रीकी देशों की यात्रा के तहत गुरुवार को मोंजाबिक पहुंचे पीएम मोदी ने इस देश से दाल आयात के मुद्दे पर खुलकर विचार व्‍यक्‍त किए। उन्‍होंने कहा कि मोजांबिक से दाल आयात करने पर इस देश के किसानों को फायदा होगा। साथ ही भारत की भी जरूरतें पूरी होंगी। भारत और मोजांबिक को अच्‍छा सहयोगी बताते हुए पीएम ने कहा कि मोंजाबिक जो भी चाहता है, वह भारत में उपलब्‍ध है। मोजांबिक पहुंचने पर...

खेत में हल चलाते किसान ने जिंदा नवजात को जमीन से निकाला

हाल ही में मध्य प्रदेश में एक किसान को खेती करने के दौरान जमीन में से जिंदा नवजात मिला है। इस नवजात शिशु के मिलने के बाद किसान की पत्नी उसे अपनी संतान की तरह पाल-पोस रही है। दरअसल, ये मामला सरदारपुर तहसील के ग्राम इचुर का है। जहां किसान पप्पू बुधवार को अपना खेत जोत रहा था। हल चलाते हुए जब अचानक पप्पू ने एक बच्चे के रोने की आवाज सुनी तो घबराए पप्पू...

मजबूर किसान ने बेचा एक टन प्‍याज, कमाया बस 1 रुपया

प्याज की गिरती कीमतों से परेशान एक किसान ने अपनी व्यथा सुनाते हुए कहा है कि जिला कृषि उत्पाद विपणन समिति (एपीएमसी) में लगभग एक टन प्याज बेचकर वह बस एक रुपया ही कमा सका है। एक साधारण बिल है जो आजकल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वायरल होने की वजह है फायदे के कॉलम में एक रुपया लिखा होना. पुणे के शिरुर तहसील के गांव वडगावरासाई के रहने वाले किसान देवीदास परभाणे...

विजय माल्या के लोन गारंटर बन मुसीबत में किसान ‘मनमोहन सिंह’

विजय माल्या की किंगफिशर कंपनी के लोन का गारंटर एक ऐसा किसान है, जिसे नहीं मालूम की किंगफ़िशर क्या है? यह किसान उत्तर प्रदेश के पीलीभीत के गांव खजूरिया का रहने वाला है और इनका नाम मनमोहन सिंह है। किसान के गारंटर होने की बात के सामने आने के बाद किसान के दो बैंक खातों को सीज कर दिया गया है। ये दोनों बैंक खाते बैंक ऑफ बड़ौदा के हैं और इनमें से एक खाते...

मध्यप्रदेश: एक किसान का बिल आया तकरीबन 75 हजार रुपए

मध्यप्रदेश के छतरपुर में एक किसान के घर का एक महीने का बिल 74962 रुपए आया है। बात थोड़ी हैरानी वाली हैं लेकिन बिल्कुल सच हैं। इतना ज्यादा बिल देखने के बाद किसान के पूरे परिवार के होश उड़ गए। इस बिल को लेकर परेशान किसान का कहना है कि उसके घर में एक बल्‍ब के सिवाय कुछ भी नहीं है। इतनी गर्मी में भी उसका परिवार बिना पंखे के गुजारा करता है। परेशान किसान...

महाराष्ट्र : बेटे ने कर्ज में डूबे किसान पिता को आत्महत्या से रोक

महाराष्ट्र के मराठवाड़ा के किसान खेती बरबाद होने की चिंता से जितना परेशान हैं उतना ही वे अपने बच्चों की नौकरी को लेकर भी परेशान हैं। एक किसान ने खेती में 3 साल हुए नुकसान को तो झेल लिया लेकिन बेटी की नौकरी में हुई सरकारी लापरवाही को वो बर्दाश्त नहीं कर पाया और ख़ुदकुशी की कोशिश की, लेकिन राहत की बात ये रही की जान बच गई। जानकारी के अनुसार 45 वर्षीय धनराज शिंदे...

उत्तराखंड: फसल बीमा योजना में संशोधन से किसानों को राहत की उम्मीद

केंद्र सरकार के फैसले से उत्तराखंड के लाखों किसानों को अब राहत मिलने की सम्भावना है। केंद्र ने फसल बीमा योजना में संशोधन करते हुए बीमा के प्रीमियम को पांच फीसदी से घटाकर दो और डेढ़ फीसदी कर दिया है। केंद्र ने अब फसल बीमा योजना को बिना लोन वाली फसलों पर भी लागू कर दिया है। केंद्र सरकार की इस मेहरबानी से राज्य के नौ लाख 12 हजार किसानों को लाभ मिलेगा।कृषि निदेशक गौरीशंकर...

ड्रग्स के धंधे को नजरअंदाज कर रही है अकाली सरकार : राहुल

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि पंजाब में ड्रग्स कारोबार का बोलबाला है।      मैंने पहले यह बात कही तो अकाली दल ने बयान का मजाक उड़ाया था। राहुल ने मोहाली के जिरकपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मुलाकात के दौरान ये बातें कही। उन्होंने कहा कि पंजाब में अगर कांग्रेस की सरकार आती है तो हम कुछ ही महीनों में ड्रग्स के धंधे को खत्म कर देंगे। मौजूदा सरकार इस बड़ी गंभीर...

‘मन की बात’ में पीएम मोदी ने फीफा,क्रिकेट और छुट्टियों पर कुछ सिखने की दी नसीहत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को अपने ‘मन की बात’  का 18 वां संस्करण पेश किया .इस मौके पर पीएम मोदी ने देशवासियों को ईस्टर की शुभकामनाएं दी। खेल में क्रांति लाने का जिक्र किया। टी-20 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अहम मुकाबले की भी चर्चा की। क्या कहा पीएम मोदी ने… – मोदी ने कहा,” मेरे प्यारे देशवासियों नमस्कार।” – ”आज ईसाई कम्युनिटी के लोग ईस्टर मना रहे हैं। ढेरों शुभकामनाएं।” – ”एग्जाम और...

पीएम नरेंद्र मोदी की बिहार में होने वाली एक रैली के आयोजन स्थल को लेकर विवाद सामने आया है। रैली के लिए पहले से तय जमीन पर से किसानों की तरफ से फसल काटने से इंकार पर रैली आयोजन की जगह बदल दी गई। दरअसल सुल्तानपुर गांव के किसानों ने करीब 60 एकड़ में लगी बिना तैयार अपनी फसल को काटने से इंकार कर दिया है। जिसके बाद वैशाली जिले में होने वाली मोदी की...

पीएम मोदी ने राज्य सरकारों को साल 2022 तक ,किसानों की आय दोगनी करने की सलाह दी

पीएम मोदी ने बरेली में रविवार को आयोजित ‘किसान कल्याण रैली’ में कहा कि किसान देश की शान हैं..मोदी ने कहा कि किसानों के सामने कई चुनौतियां जरूर हैं, लेकिन इनके साथ आगे बढ़ना असंभव नहीं। उन्होंने ये भी कहा कि इन चुनौतियों को अवसर में तब्दिल किया जा सकता है। मोदी ने सियासी दलों पर हमला बोलते हुए कहा कि कुछ सरकारें सिर्फ किसानों को चुनाव में इस्तेमाल करने का काम कर रही हैं। पीएम...

बीमा योजना में किसानों की सभी समस्याओं का हल- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि प्रधानामंत्री फसल बीमा योजना में किसानों की सभी समस्याओं का समाधान है. साथ ही कहा कि यह किसानों की भलाई की योजना है. मोदी ने शेरपुर में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से संबंधित दिशा-निर्देश जारी करते हुए इसकी औपचारिक शुरुआत की. उन्होंने कहा, “किसानों का पिछली सरकार की बीमा योजना में यकीन नहीं था, यही कारण है कि 20 प्रतिशत किसान भी बीमा नहीं कराते थे. इस चुनौती का सामना...

पीएम की रैली को लेकर उखाड़ी जा रही है किसानों की फसलें

एक तरफ जहां केंद्र सरकार अपने आप को किसानों का हितैषी बता रही है तो वहीं दूसरी तरफ किसानों की अधपकी फसलें उखाड़ कर रैली कर रही है. मामला मध्यप्रदेश में भोपाल के सिहोर जिले का है जहां पीएम मोदी एक किसान सम्मेलन करने वाले हैं. पीएम इस रैली में केन्द्र की फसल बीमा योजना को लेकर किसनों को संबोधित करेंगे. लेकिन मोदी की इस रैली से किसान काफी दुखी है. किसानों के दुखी होने...