सपा का रजत जयंती समारोह शुरू, मंच पर साथ हैं अखिलेश-शिवपाल | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राजनीति

सपा का रजत जयंती समारोह शुरू, मंच पर साथ हैं अखिलेश-शिवपाल

Published

on

sap-wefornewshindi
फाइल फोटो

लखनऊ में समाजवादी पार्टी के 25 साल पूरे होने पर आज रजत जयंती समारोह आयोजित किया। इस रजत जयंती समारोह में लाखों लोगों के शामिल होने की संभावना है। समारोह में लालू प्रसाद यादव, शरद यादव और देवेगौड़ा मौजूद होंगे।

इनकी मौजूदगी से महागठबंधन की सुगबुगाहट तेज हो गई है। हालांकि, नीतीश कुमार छठ पर्व के कारण समारोह में शिरकत नहीं करेंगे। रजत जयंती समारोह के लिए जनेश्वर मिश्र पार्क सजधज कर तैयार है। शिवपाल यादव ने खुद मौके पर पहुंचकर तैयारियों का जायजा लिया।

उन्होंने आयोजन को यादगार बनाने की बात कही। लखनऊ में समारोह में हिस्सा लेने पहुंचे लालू यादव ने कहा कि यूपी में फिर से एसपी की ही सरकार बनेगी। लालू के साथ पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा और अजीत सिंह मौजूदगी की भी मौजूदगी दिखेगी।

पार्टी की 25वीं सालगिरह को यादगार और शानदार बनाने के लिए मुलायम सिंह यादव ने अपनी पूरी ताकत लगाई है। लखनऊ के जिस जनेश्वर मिश्र पार्क में पार्टी का रजत जयंती समारोह आज है उसे एशिया के सबसे बड़े पार्क में से एक कहा जाता है।

अखिलेश यादव को अपने जिन कामों पर फक्र है उसने ये पार्क बनवाना में शामिल है। लेकिन आज इस पार्क में लाखों की भीड़ जुटाने की जिम्मेदारी है, उनके चाचा शिवपाल यादव उठा रहे हैं, जिनसे आज कल उनकी ठनी हुई है।

रजत जयंती समारोह ऐसे मौके पर हो रहा है जब पार्टी से लेकर परिवार में घमासान मचा हुआ है। शिवपाल यादव और अखिलेश यादव के बीच शक्ति प्रदर्शन की होड़ है।

मुलायम 25वीं सालगिरह किन परिस्थितियों में मना रहे हैं इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि समारोह की पूरी जिम्मेदारी उसी गायत्री प्रजापति को दी गई है जिसे सीएम अखिलेश यादव बिल्कुल पसंद नहीं करते और अपने मंत्रिमंडल से बाहर निकाल चुके थे।

पार्टी के जिन युवा नेताओं ने अखिलेश यादव की रथयात्रा के पीछे अपनी पूरी ताकत लगाई वह सब पार्टी के बाहर हैं और पार्टी के रजत जयंती समारोह में उनको नहीं बुलाया गया है।

Wefornews bureau

keywords: Silver Jubilee samaroh, Lalu Prasad Yadav, Sharad Yadav, devgauda, kalraj Mishra, janeshwar Park

राजनीति

31 दिसंबर को पार्टी का एलान करेंगे रजनीकांत

Published

on

Rajinikanth

दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने आखिरकार नई पार्टी बनाने का एलान कर दिया है। पार्टी को जनवरी में लॉन्च किया जाएगा। इसके संबंध मे 31 दिसंबर को घोषणा की जाएगी।

यह जानकारी रजनीकांत ने ट्वीट के जरिए दी है। अगले साल अप्रैल-मई महीने में तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव होने हैं। इससे पहले रजनीकांत का सक्रिय राजनीति में उतरना काफी अहम माना जा रहा है।

सुपरस्टार ने साफ-सुथरी राजनीति का वादा करते हुए स्पष्ट रूप से कहा कि उनकी पार्टी 2021 में विधानसभा चुनाव लड़ेगी और विजयी होगी। उन्होंने विश्वास जताया कि उनकी संभावित पार्टी लोगों के भारी समर्थन के साथ चुनाव जीतने में सक्षम होगी।

69 साल के अभिनेता ने ट्वीट कर कहा, ‘आगामी विधानसभा चुनावों में साफ-सुथरी राजनीति का उदय निश्चित रूप से होगा।’ उन्होंने कहा कि पार्टी लॉन्च से संबंधित मामलों की घोषणा 31 दिसंबर को की जाएगी।

Wefornews

Continue Reading

राजनीति

कोविड टीके के मुद्दे पर क्या है पीएम मोदी का स्टैंड : राहुल

Published

on

Rahul Gandhi
FIle Photo

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने हर भारतीय के टीकाकरण के मुद्दे पर भाजपा और केंद्र सरकार के अलग-अलग रुख की आलोचना की है। उन्होंने पूछा है कि इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का क्या स्टैंड है।

गुरुवार को एक ट्वीट में राहुल गांधी ने कहा, पीएम कहते हैं सभी को वैक्सीन मिलेगा। बिहार चुनाव में बीजेपी कहती है सभी को फ्री वैक्सीन मिलेगा। अब, सरकार कहती है कि कभी नहीं कहा कि सभी को वैक्सीन मिलेगा। वास्तव में प्रधानमंत्री का इस मुद्दे पर क्या स्टैंड हैं?

बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने वादा किया था कि सत्ता में आने पर सभी को मुफ्त वैक्सीन दिया जाएगा। कांग्रेस नेता की टिप्पणी केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण के ये कहने के एक दिन बाद आई कि सरकार ने कभी नहीं कहा कि सभी को कोविड-19 का टीका लगाया जाएगा।

बुधवार को एक प्रेस कांफेंस में भूषण ने कहा, मैं बस यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि सरकार ने पूरे देश में टीकाकरण के बारे में कभी नहीं कहा है। यह महत्वपूर्ण है कि हम ऐसे वैज्ञानिक मुद्दों पर चर्चा करें, केवल तथ्यात्मक जानकारी के आधार पर और फिर इसका विश्लेषण करें।

आईएएनएस

Continue Reading

राजनीति

चिदंबरम के खिलाफ एयरसेल मैक्सिस मामले में अनावयक जांच सुस्त

इस पर न्यायाधीश ने कहा, यह अनावश्यक रूप से सुस्त है। जबकि उन्होंने इसके लिए अधिक समय दिया।

Published

on

P Chidambaram

नई दिल्ली, 2 दिसंबर । पूर्व केन्द्रीय मंत्री पी. चिदंबरम और उनके बेटे कार्ती चिदंबरम के खिलाफ एयरसेल-मैक्सिस मामले में केन्द्रीय जांच ब्यूरो और प्रवर्तन निदेशालय से एक पत्र भेजने को लेकर दिल्ली की एक अदालत ने कहा है कि जांच अनावश्यक रूप से सुस्त है। जबकि अदालत ने पत्र भेजने के लिए एजेंसियों को अतिरिक्त समय भी दिया था।

विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहर ने इस मामले को स्थगित कर दिया, जिस पर 1 फरवरी को सुनवाई होनी है। एजेंसियों ने इस मामले को पहले भी कई बार स्थगित करने की मांग की है। अदालत ने सीबीआई और ईडी की ओर से पेश हुए अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल संजय जैन को अधिक समय लेने के अनुरोध को मान लिया।

अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल ने अदालत को बताया, दो एलआर – एक सिंगापुर और दूसरा यूके में भेजे गए थे। यूके को भेजे गए एलआर में कोई प्रगति नहीं हुई है, लेकिन सिंगापुर ने ईडी द्वारा मांगी गई सहायता पर सवाल उठाए हैं। यह उनके प्रश्नों की प्रतिक्रिया को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया में हैं। एक और स्थगन मिलने पर हम और अधिक सकारात्मक जवाब के साथ आपके पास वापस आ सकेंगे।

इस पर न्यायाधीश ने कहा, यह अनावश्यक रूप से सुस्त है। जबकि उन्होंने इसके लिए अधिक समय दिया।

यह मामला एयरसेल-मैक्सिस सौदे में विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी की कथित अनियमितताओं से संबंधित है। यह तब का है जब 2006 में पी. चिदंबरम केंद्रीय वित्त मंत्री थे। सीबीआई और ईडी ने आरोप लगाया था कि चिदंबरम ने वित्त मंत्री के रूप में अपनी क्षमता से परे जाकर समझौते को मंजूरी दी थी, जिससे कुछ व्यक्तियों को लाभ मिल सके और उन्हें इसके लिए रिश्वत मिल सके।

Continue Reading

Most Popular