राजनीतिअधीर रंजन के हटने के बाद लोकसभा में विपक्ष के नेता नहीं बनेंगे राहुल गांधी: सूत्र

Anil ShrivastavJuly 12, 20212901 min

संसद का मानसून सत्र 19 जुलाई से शुरू होगा। इस बार कांग्रेस ने मोदी सरकार को कोरोना, किसान आंदोलन, महंगाई समेत कई मुद्दों पर घेरने का प्लान बना लिया है। साथ ही दिल्ली के राजनीतिक गलियारों से ये खबर आ रही कि सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस लोकसभा में अपने नेता अधीर रंजन चौधरी को हटा सकती है।

शुरू में कयास लगाए जा रहे थे कि राहुल गांधी को ये जिम्मेदारी दी जाएगी, लेकिन कांग्रेस के सूत्रों ने इस खबर का खंडन किया है।

सूत्रों के मुताबिक अधीर रंजन चौधरी का हटाने का मन कांग्रेस हाईकमान ने बना लिया है। उनकी जगह पर सोनिया गांधी को पत्र लिखने वाले किसी नाराज नेता को ये कुर्सी दी जा सकती है। अभी शशि थरूर, मनीष तिवारी, गौरव गोगोई, रवनीत सिंह बिट्टू और उत्तम कुमार रेड्डी आदि के नाम पर विचार किया जा रहा है। सूत्रों ने साफ किया कि राहुल गांधी इस पद के दावेदारों की लिस्ट में नहीं हैं। साथ ही 19 जुलाई के पहले इस पर फैसला हो जाएगा।

अधीर रंजन को हटाने की खबरें पिछले 15 दिनों से आ रही हैं। हाल ही में पश्चिम बंगाल के बहरामपुर के दौरे पर गए अधीर से मीडियाकर्मियों ने इस मामले पर सवाल पूछ लिया। जिस पर उन्होंने कहा कि अभी उनको इस संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली है। केंद्रीय नेतृत्व अगर उनको हटाने का फैसला करता है, तो वो हट जाएंगे। साथ ही उन्हें जो जिम्मेदारी दी जाएगी उसका पालन करेंगे।

Related Posts