कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने मंगलवार को सेना की भर्ती में हो रही देरी को लेकर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर समस्या का हल निकालने की मांग की है।

प्रियंका गांधी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि सेना में भर्ती के लिए लाखों युवा हाड़तोड़ मेहनत कर देशसेवा के सपने के साथ तैयारी करते हैं। लेकिन ये युवा वायुसैनिक भर्ती (जनवरी 2020) की एनरोलमेंट लिस्ट व परिणाम (वायुसैनिक भर्ती 2021) व सालों से थल सेना में भर्ती न आने से परेशान हैं। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर इस विषय में अविलंब सकारात्मक कदम उठाते हुए सेना भर्ती से जुड़े युवाओं की समस्याएं हल करने का अनुरोध किया।

प्रियंका गांधी ने राजनाथ सिंह को लिखे अपने पत्र में कहा कि सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करना भारत के तमाम युवाओं का सपना होता है। इसके लिए देश के लाखों युवा कड़ी मेहनत से तैयारी करते हैं। देशभर से तमाम युवाओं ने सेना में भर्तियों के परिणामों, नियुक्तियों में देरी व भर्ती रैली से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं की तरफ केंद्र सरकार को ध्यान देना चाहिए।उन्होंने कहा कि वायुसेना में सैनिक की भर्ती ( जनवरी 2020 ) के लिए नवंबर 2020 में परीक्षा हुई थी और उसका परिणाम भी नवंबर 2020 में आ गया था। सभी टेस्ट हो जाने एवं प्रोविजनल सिलेक्शन लिस्ट आ जाने के बावजूद अभी तक इसकी एनरोलमेंट लिस्ट जारी नहीं की गई है।

इस भर्ती से जुड़े युवाओं का कहना है कि एनरोलमेंट लिस्ट जारी करने की तिथि को बार-बार आगे बढ़ाया जा रहा है। जनवरी 2020 की भर्ती की एनरोलमेंट लिस्ट तुरंत जारी की जाए।

इसके अलावा वायुसेना में सैनिकों की भर्ती की एक और परीक्षा जुलाई 2021 में ली गई थी जिसमें लाखों युवाओं ने हिस्सा लिया। इसका परिणाम अगस्त 2021 में आना था , लेकिन अभी तक परिणाम जारी नहीं हुआ है।

प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार से मांग की है कि जुलाई 2021 की भर्ती का परिणाम जारी कर आगे की प्रक्रिया को शीघ्र शुरू किया जाए। लाखों युवा दौड़, नियमित व्यायाम एवं अन्य माध्यमों से सेना भर्ती की तैयारी में लगे हैं, लेकिन कई सालों से सेना की भर्ती नहीं आई है। सेना भर्ती की तैयारी करने वाले युवा परेशान हैं। सेना में खाली पड़े लाखों पद भरने के लिए अविलंब भर्ती निकाली जाए और सभी भर्ती केंद्रों पर भर्ती रैलियों का आयोजन किया जाए। लम्बे समय से सेना में भर्तियों के न आने एवं परिणामों, नियुक्तियों में देरी के चलते कई योग्य युवाओं की उम्र निकल रही है। सेना में भर्ती के लिए एक निश्चित समयसीमा के लिए अभ्यर्थियों को आयु सीमा में 2 साल की छूट दी जाए।

प्रियंका गांधी ने राजनाथ सिंह को लिखे अपने पत्र में कहा दिसंबर 2021 में केंद्र सरकार की तरफ से लोकसभा में दिए गए जवाब में सेना में 1.25 लाख पद खाली होने कि बात कही गई। एकतरफ जहां सेना में लाखों पद खाली पड़े हैं, वहीं सेना भर्ती के परिणामों व प्रक्रियाओं में देरी व सालोंसाल भर्ती न आने से लाखों युवा कड़ी मेहनत करने के बावजूद भी निराश हैं।

प्रियंका गांधी ने राजनाथ सिंह से कहा, “आशा है कि आप सेना में भर्तियों से जुड़े इन सभी बिंदुओं को संज्ञान में लेंगे एवं अविलम्ब आवश्यक कदम उठाएंगे , ताकि सेना भर्ती की तैयारी करने वाले युवाओं की मेहनत को सम्मान व समाधान मिल सके।”

–आईएएनएस

Share.

Leave A Reply


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/wefornewshindi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5212

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/wefornewshindi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5212