मध्य प्रदेश के दौरे पर अमित शाह | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राजनीति

मध्य प्रदेश के दौरे पर अमित शाह

Published

on

amit shah_wefornews
अमित शाह(फाइल फोटो)

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को मध्य प्रदेश के एक दिवसीय दौरे पर हैं। शाह दमोह जिले के कुंडलपुर में आयोजित जैन संप्रदाय के एक समारोह में हिस्सा लेने आए हैं।

भोपाल के राजाभोज हवाईअड्डे पर अमित शाह की अगवानी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान और अन्य नेताओं ने की।

हवाईअड्डे पर पुष्प-गुच्छ भेंट कर अमित शाह का स्वागत किया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ मंत्री बाबूलाल गौर, गौरीशंकर शेजवार, महापौर आलोक शर्मा, सांसद आलोक संजर, पार्टी के कई विधायक और अन्य जनप्रतिनिधि, पार्टी के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

शाह यहां से हेलीकॉप्टर से दमोह जिले के पटेरा तहसील स्थित ग्राम कुंडलपुर के लिए रवाना हो गए, जहां वह जैन समाज के एक कार्यक्रम में भाग लेंगे। अमित शाह शाम को कुंडलपुर से भोपाल वापस आएंगे और रात में भोपाल से दिल्ली के लिए प्रस्थान करेंगे।

wefornews  bureau

keywords: MP Shah ,tour,bjp,मध्य प्रदेश , अमित शाह, दौरे 

राजनीति

बिहार चुनाव: एनडीए में सीटों के बंटवारे पर आज अंतिम मुहर, नड्डा के घर पहुंचे गृह मंत्री शाह

Published

on

File Photo

बिहार चुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर आज दिल्ली में बीजेपी की अगुवाई वाली एनडीए और कांग्रेस की अगुवाई वाले महागठबंधन के नेताओं की अपनी-अपनी महत्वपूर्ण बैठक होने जा रही है।

बीजेपी और जेडीयू के नेता दिल्ली पहुंच गए है। एलजेपी को निर्णय करने के लिए अल्टीमेटम भी आज शाम तक का है। वहीं, महागठबंधन में आरजेडी और कांग्रेस के बीच सीटों को लेकर फंसे पेंच को सुलझाने के लिए बिहार के प्रदेश कांग्रेस अध्यदेश मदन मोहन झा और सदानंद सिंह को कांग्रेस आलाकमान ने दिल्ली तलब किया है।

एनडीए के नेताओ में बीजेपी की तरफ से उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल समेत तमाम बड़े नेता दिल्ली पहुंच चुके हैं।

जेडीयू ने ललन सिंह को बैठक के लिये अपनी चिन्हित सीटों लिस्ट के साथ भेजा है। आज शाम तक कुछ नतीजे आने की उम्मीद है। कल से पहले चरण के मतदान के लिए नामांकन होना है।

WeForNews

Continue Reading

राजनीति

बलरामपुर की घटना पर प्रियंका का तंज, कहा मार्केटिंग से कानून व्यवस्था नहीं चलती

Published

on

Priyanka-Gandhi

कांग्रेस की महासचिव व उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरूवार को हाथरस के बाद अब बलरामपुर जिले में सामूहिक दुष्कर्म की घटना को लेकर सरकार पर निशाना साधा और कहा कि मार्केटिंग, भाषणों से कानून व्यवस्था नहीं चलती। ये मुख्यमंत्री की जवाबदेही का वक्त है।

प्रियंका गांधी गुरूवार को ट्विटर के माध्यम से लिखा कि, हाथरस जैसी वीभत्स घटना बलरामपुर में घटी। लड़की का बलात्कार कर पैर और कमर तोड़ दी गई। आजमगढ़, बागपत, बुलंदशहर में बच्चियों से दरिंदगी हुई। यूपी में फैले जंगलराज की हद नहीं। मार्केटिंग, भाषणों से कानून व्यवस्था नहीं चलती। ये मुख्यमंत्री की जवाबदेही का वक्त है। जनता को जवाब चाहिए।

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी वाड्रा का भी गुरुवार को हाथरस के पीड़ित परिवार से मिलने का कार्यक्रम है। इसी बीच सरकार ने जिले की सभी सीमाएं सील कर दी हैं और धारा 144 लगा दी है। हाथरस में इस पीड़ित परिवार की सुरक्षा में तैनात तीन पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हैं। इसी कारण गांव को कंटेनमेंट जोन भी घोषित किया जा सकता है।

पुलिस अधीक्षक विक्रांत वीर ने बताया है कि उन्हें राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के आने की उनके प्रोटोकल के तहत कोई जानकारी नहीं मिली है। हाथरस की सभी सीमाएं सील हैं। किसी को हाथरस की तरफ नहीं आने दिया जाएगा। राजनीतिक लोगों के आगमन की वजह से भीड़ बढ़ सकती है। यहां पर लॉ एंड आर्डर बिगड़ने की आशंका को देखते हुए उन्हें सीमाओं पर ही रोका जाएगा।

WeForNews

Continue Reading

राजनीति

उत्तर प्रदेश में लगे राष्ट्रपति शासन : मायावती

Published

on

Mayawati

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर बड़ा हमला बोला और कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से यहां पर राष्ट्रपति शासन लगाने पर विचार करना चाहिए।

मायावती ने गुरूवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा, उप्र के मुख्यमंत्री योगी सरकार चलाने में सक्षम नहीं है। बेहतर यही है कि आप या तो नेतृत्व परिवर्तन करें और यदि आप नहीं कर पा रहे हैं तो यहां पर राष्ट्रपति शासन लगाएं। कम से कम उत्तर प्रदेश की जनता के पर रहम करें। यही मेरी अपील है।

मायावती ने कहा कि भाजपा ने आरएसएस के दबाव में योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश का नेतृत्व सौंपा, लेकिन अब तो भाजपा को आरएसएस के बड़े दबाव से हटना चाहिए। योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश को संभाल नही पा रहे है, उन्हें वापिस गोरखपुर मठ भेज दिया जाए। वहां जगह न हो तो उन्हें अयोध्या भेज दिया जाए।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश की कानून व्यवस्था संभालने में पूरी तरह नाकाम साबित हुए हैं। एक भी दिन ऐसा नहीं जाता है जब महिलाओं के खिलाफ अपराध न होता हो।

मायावती ने कहा कि यूपी में अपराधी, माफिया और बलात्कारी अब बेलगाम हो चुके हैं और योगी सरकार इन्हें रोकने में पूरी तरह नाकाम साबित हुई है।

बसपा प्रमुख ने कहा कि उत्तर प्रदेश में दलित मां-बेटी के साथ लगातार अपराध बढ़ते ही जा रहे हैं। हाथरस व बलरामपुर की लगातार घटना के बाद किसी को सरकारी नौकरी, प्लाट व आर्थिक मदद देना इसका कोई निदान नहीं है। हाथरस व बलरामपुर में दलित परिवार की बेटियों के साथ सामूहिक दुष्कर्म व हत्या की घटना पर केंद्र सरकार को उत्तर प्रदेश पर गंभीर हो जाना चाहिए। बेहतर होगा यहां पर राष्ट्रपति शासन लगाना चाहिए।

Continue Reading

Most Popular