कल से पांच देशों के दौरे पर पीएम मोदी, जानें दौरे का कार्यक्रम… | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राष्ट्रीय

कल से पांच देशों के दौरे पर पीएम मोदी, जानें दौरे का कार्यक्रम…

Published

on

नरेंद्र मोदी एक बार फिर से पांच देशों के तूफानी दौरे पर निकल रहे हैं।

कल यानी चार जून की सुबह का नाश्ता वो दिल्ली में कर रहे हैं, तो दोपहर का भोजन अफगानिस्तान के हेरात शहर में और रात का खाना कतर की राजधानी दोहा में। जी हां! मोदी कल सुबह साढ़े नौ बजे दिल्ली से रवाना होंगे, दोपहर में हेरात पहुंचेंगे, जहां उनकी मुलाकात अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अब्दुल गनी से होनी है। वहां लंच करने के बाद वो कतर के लिए रवाना होंगे, जहां शाम में न सिर्फ भारतीय समुदाय के लोगों से मिलने वाले हैं, बल्कि वहां वो कतर के शासक और वहां के व्यवसायी वर्ग से भी चार और पांच जून के कतर प्रवास के दौरान मिल रहे हैं।

पीएम मोदी का दौरा कितना तूफानी है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि महज छह दिनों के अंदर न सिर्फ वो अफगानिस्तान, कतर, स्विट्जरलैंड, अमेरिका और मैक्सिको यानी कुल मिलाकर पांच देशों का दौरा कर रहे हैं, बल्कि इस दौरान पूरे 45 घंटे यानी करीब दो दिनों तक हवाई जहाज में उड़ते रहने वाले हैं अपने इस विदेश दौरे को पूरा करने के लिए। इस दौरान ध्यान रहे कि इन सभी पांच देशों के राष्ट्राध्यक्षों के साथ उनकी औपचारिक मुलाकात भी होनी है। अगर छह दिन की यात्रा के दौरान होने वाले पीएम के कुल आधिकारिक कार्यक्रमों की बात की जाए, तो ये संख्या चालीस के करीब हो जाती है यानी औसतन सात कार्यक्रम प्रति दिन।

ये कार्यक्रम भी तरह-तरह के हैं- एक तरफ मोदी जहां दोहा और वॉशिंगटन डीसी में भारतीय समुदाय के लोगों के साथ मुलाकात करने वाले हैं, तो दूसरी तरफ कतर, अमेरिका और मैक्सिको में वहां के स्थानीय व्यवसायियों और उद्योगपतियों के साथ। मोदी अपनी विदेश यात्रा की शुरुआत हेरात से करने वाले हैं, उसका मकसद खास है। दरअसल मोदी वहां सलमा डैम के उदघाटन के कार्यक्रम में शरीक होने वाले हैं, जिसका निर्माण भारत सरकार के आर्थिक सहयोग से हुआ है। हेरात के बाद कल शाम ही मोदी दोहा में होंगे. परसों का दिन भी वहीं बीताकर वे स्विटजरलैंड के लिए रवाना होंगे, जहां छह तारीख को बर्न में उनकी मुलाकात वहां के शासनाध्यक्ष से होनी है, जिसे कालाधन पर रोकथाम के सिलसिले में उनकी मुहिम के तौर पर देखा जा रहा है।

मोदी सात तारीख को अमेरिका में होंगे, जहां वो राजकीय मेहमान के तौर पर वाशिंगटन डीसी के ब्लेयर हाउस में रहेंगे। प्रधानमंत्री मोदी के अमेरिका दौरे के दो महत्वपूर्ण कार्यक्रमों पर न सिर्फ भारत बल्कि पूरी दुनिया की निगाहें लगी होंगी। एक तरफ जहां वो अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ उनके ओवल ऑफिस में सात जून को लंच के साथ ही द्विपक्षीय बातचीत करने वाले हैं, वही अगले दिन यानी आठ जून को वहां की कांग्रेस यानी अमेरिकी संसद को संबोधित करने वाले हैं। अमेरिकी कांग्रेस के संयुक्त अधिवेशन को संबोधित करने वाले मोदी पांचवें भारतीय प्रधानमंत्री होंगे। मोदी इससे पहले बतौर प्रधानमंत्री पिछले दो वर्षों में अमेरिका का तीन बार दौरा कर चुके हैं।

उनकी पहली यात्रा सितंबर 2014 में, तो दूसरी यात्रा सितंबर 2015 में और तीसरी इसी साल 31 मार्च से एक अप्रैल के बीच हुई थी, जब वो न्यूक्लियर सिक्यूरिटी सम्मिट में भाग लेने के लिए अमेरिका गये थे। पहले की तीनों यात्राएं अंतरराष्ट्रीय बैठकों के सिलसिले में हुई थीं, तो ये चौथा दौरा पूरी तरह द्विपक्षीय बातचीत और भारत-अमेरिका संबंधों को मजबूत बनाने के लिए होने वाला है। मोदी नौ तारीख को मैक्सिको में होंगे, जहां की राजधानी मैक्सिको सिटी में ही उनकी मुलाकात वहां के शासनाध्यक्ष से होनी है। ये मोदी के पांच देशों के दौरे का आखिरी आधिकारिक पड़ाव होगा।

इसके बाद उनकी विदेश से वापसी का सिलसिला शुरु होगा और जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में टेक्नीकल स्टॉप के साथ ही दस जून की सुबह पांच बजे के करीब वो नई दिल्ली पहुंच जाएंगे। इस तरह महज छह दिनों के अंदर मोदी का पांच देशों का तूफानी विदेश प्रवास पूरा हो जाएगा। खास बात ये है कि मोदी पहले भी ऐसा तूफानी दौरा करते रहे हैं, जिसमें वो एक तिहाई समय विमान में होते हैं, तो दो तिहाई समय आधिकारिक कार्यक्रमों में एक के बाद एक शिरकत करने में। उनका मौजूदा दौरा भी इसी कड़ी में है और पहले के मुकाबले कुछ ज्यादा ही तूफानी।

wefornews bureau

राष्ट्रीय

रक्षा अधिग्रहण परिषद ने हथियारों के लिए 2290 करोड़ रुपये की दी मंजूरी

Published

on

Jammu And Kashmir

पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ जारी तनाव और पाकिस्तान की मदद से आतंकियों द्वारा लगातार हो रही घुसपैठ की कोशिशों के बीच भारत सरकार ने भारतीय सेना को उपकरण और हथियारों की खरीद के लिए 2 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम की मंजूरी दी है।

रक्षा मंत्रालय ने बताया कि रक्षा अधिग्रहण परिषद ने भारतीय सशस्त्र बलों को विभिन्न आवश्यक उपकरणों के लिए पूंजी अधिग्रहण के प्रस्तावों को मंजूरी दे दी है। इनकी अनुमानित लागत 2,290 करोड़ रुपये की बताई जा रही है। मंत्रालय की ओर से बताया गया कि इस आवंटित राशि से घरेलू उद्योग के साथ-साथ विदेशी विक्रेताओं से खरीद भी की जा सकती है।

परिषद ने इंडियन श्रेणी के तहत, DAC ने Static HF Tans- रिसीवर सेट और स्मार्ट एंटी एयरफील्ड वेपन की खरीद को भी मंजूरी दे दी है। रक्षा मंत्रालय की ओर से बताया गया कि एचएफ रेडियो सेट सेना और वायु सेना की फील्ड इकाइयों के लिए निर्बाध संचार को सक्षम करेगा। ये 540 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत पर खरीदे जा रहे हैं।

इसके अलावा स्मार्ट एंटी एयरफील्ड वेपन को करीब 970 करोड़ रुपये की लागत से खरीदा जाएगा. इन हथियारों से भारतीय नौसेना और वायुसेना की ताकत में इजाफा होगा। इसके अलावा मोर्चे पर डटे भारतीय सेना के जवानों के लिए परिषद ने SIG SAUER असॉल्ट राइफल्स की खरीद के लिए 780 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है।

Continue Reading

राष्ट्रीय

झारखंड के शिक्षा मंत्री कोरोना पॉजिटिव

Published

on

coronavirus

झारखंड के शिक्षा मंत्री जगन्नाथ महतो सोमवार को कोरोना जांच रिपोर्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं।
मंत्री को इलाज के लिए रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शुरुआत में उन्हें सांस संबंधी समस्या को लेकर आईसीयू में भर्ती कराया गया था बाद में उन्हें कोविड वार्ड में स्थानांतरित कर दिया गया।

रिम्स के कोविड टास्क डिपार्टमेंट के डॉक्टर नितिश एक्का ने कहा, मंत्री की हालत अभी स्थिर है। उन्हें उच्च दाब के ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है। हम लगातार उनका चेकअप कर रहे हैं। उनकी हालत में और सुधार आने पर सीटी स्कैन की जाएगी।

आईएएनएस

Continue Reading

राष्ट्रीय

ग्लोबल सप्लाई चेन का किसी एक सोर्स पर निर्भर होना खतरनाक : मोदी

Published

on

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कोविड 19 ने दिखाया है कि ग्लोबल सप्लाई चेन्स का किसी भी सिंगल सोर्स (एकमात्र स्त्रोत) पर अत्याधिक निर्भर होना खतरे से भरा है। हम जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ मिलकर सप्लाई चेन में विविधता और लचीलापन लाने के लिए काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने एक समान सोच वाले देशों से इस कोशिश से जोड़ने की अपील की।

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिकसेन के साथ द्विपक्षीय वर्चुअल शिखर सम्मेलन में कहा, मेरा मानना है कि हमारी वर्चुअल समिट ना सिर्फ भारत-डेनमार्क संबंधों के लिए उपयोगी सिद्ध होगी, बल्कि वैश्विक चुनौतियों के प्रति भी एक साझा अप्रोच बनाने में मदद करेगी।

दोनों देशों के बीच परस्पर संबंध को मजबूत करने के लिए आयोजित इस वर्चुअल सम्मेलन में प्रधानमंत्री मोदी ने डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिकसेन से कहा, कुछ महीने पहले फोन पर हमारी बहुत प्रोडक्टिव बात हुई। हमने कई क्षेत्रों में भारत और डेनमार्क के बीच सहयोग बढ़ाने के बारे में चर्चा की थी। यह प्रसन्नता का विषय है कि आज हम इस वर्चुअल समिट के माध्यम से इन इरादों को नई दिशा और गति दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पिछले कई महीनों की घटनाओं ने यह स्पष्ट कर दिया है कि हमारे जैसी एक सोच रखने वाले देशों का, जो एक नियम आधारित, पारदर्शी, मानवीय और लोकतांत्रिक मूल्य साझा करते हैं, साथ मिलकर काम करना कितना आवश्यक है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत की क्षमताओं का दुनिया को लाभ होता है।

(आईएएनएस)

Continue Reading
Advertisement
Jammu And Kashmir
राष्ट्रीय11 mins ago

रक्षा अधिग्रहण परिषद ने हथियारों के लिए 2290 करोड़ रुपये की दी मंजूरी

coronavirus
राष्ट्रीय19 mins ago

झारखंड के शिक्षा मंत्री कोरोना पॉजिटिव

राष्ट्रीय31 mins ago

ग्लोबल सप्लाई चेन का किसी एक सोर्स पर निर्भर होना खतरनाक : मोदी

sensex
व्यापार37 mins ago

सेंसेक्स 593 अंक उछला, 11200 के ऊपर बंद हुआ निफ्टी

फाइल फोटो
टेक41 mins ago

एप्पल सबसे पहले द. कोरिया में लॉन्च करेगा आईफोन 12

Court
राष्ट्रीय43 mins ago

कोर्ट ने गुजरात फार्मा कंपनी से जुड़े बैंक धोखाधड़ी मामले में चार को किया भगोड़ा घोषित

COVID
राजनीति51 mins ago

कर्नाटक के कांग्रेस विधायक पाटिल हुए कोरोना पॉजिटिव

राष्ट्रीय1 hour ago

राजौरी के नौशेरा सेक्टर में संघर्ष विराम का किया उल्लंघन

Coronavirus
राष्ट्रीय1 hour ago

आंध्रप्रदेश के एक और मंत्री कोरोना पॉजिटिव

राष्ट्रीय1 hour ago

पाक के सीजफायर उल्लंघन में भारतीय सेना का जवान जख्मी

Mayawati
राजनीति3 weeks ago

मायावती शासन की अनियमितताओं पर शुरू होगी कार्रवाई

राजनीति1 week ago

किसान बिल पर हंगामे के चलते राज्यसभा के 8 सांसद निलंबित

Sonia Gandhi and Rahul
ब्लॉग3 weeks ago

कांग्रेस की बीमारियां उन्हें क्यों सता रहीं जिन्होंने इसे वोट दिया ही नहीं?

Blood Pressure machine
लाइफस्टाइल4 weeks ago

हाई-ब्लड प्रेशर, हाइपरटेंशन में वायु प्रदूषण का योगदान : शोध

Rhea-
मनोरंजन3 weeks ago

सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती को भेजा गया मुंबई जेल

former president pranab-mukjerjee
राष्ट्रीय4 weeks ago

भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति का 84 साल की उम्र में निधन

Rhea Chakraborty
मनोरंजन4 weeks ago

सुशांत मामला : रिया से आज फिर पूछताछ करेगी सीबीआई

Supreme Court
राष्ट्रीय3 weeks ago

लोन मोरेटोरियम केस: SC ने कहा- आखिरी सुनवाई से पहले जवाब दाखिल करे सरकार

Face-Shield
लाइफस्टाइल4 weeks ago

‘फेस शील्ड और एन-95 मास्क मिलकर भी कोरोना को नहीं रोक सकता’

अंतरराष्ट्रीय4 weeks ago

मॉडर्ना जापान को कोविड वैक्सीन की 4 करोड़ खुराक की करेगी आपूर्ति

8 suspended Rajya Sabha MPs
राजनीति7 days ago

रात में भी संसद परिसर में डटे सस्पेंड किए गए विपक्षी सांसद, गाते रहे गाना

Ahmed Patel Rajya Sabha Online Education
राष्ट्रीय1 week ago

ऑनलाइन कक्षाओं के लिए गरीब छात्रों को सरकार दे वित्तीय मदद : अहमद पटेल

Sukhwinder-Singh-
मनोरंजन1 month ago

सुखविंदर की नई गीत, स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर देश को समर्पित

Modi Independence Speech
राष्ट्रीय1 month ago

Protected: 74वें स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी का भाषण, कहा अगले साल मनाएंगे महापर्व

राष्ट्रीय2 months ago

उत्तराखंड में ITBP कैम्‍प के पास भूस्‍खलन, देखें वीडियो

Kapil Sibal
राजनीति4 months ago

तेल से मिले लाभ को जनता में बांटे सरकार: कपिल सिब्बल

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय5 months ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर5 months ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य6 months ago

WHO को दिए जाने वाले अनुदान पर रोक को लेकर टेडरोस ने अफसोस जताया

Sonia Gandhi Congress Prez
राजनीति6 months ago

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

Most Popular