उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मुख्यमंत्री के रूप में दोबारा ताजपोशी होने जा रही है। उनके साथ कई मंत्रियों को शपथ लेना है। इसके लिए वह उनके सरकारी आवास पहुंच गये हैं। भाजपा का फोकस मिशन 2024 पर है, इसको देखते हुए योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल 2.0 में जातीय व क्षेत्रीय समीकरण की तस्वीर देखने को मिल सकती है।

पांच साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद योगी दोबारा सत्ता संभालेंगे। गुरुवार को योगी आदित्यनाथ ने सर्वसम्मति से विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया। योगी आदित्यनाथ आज शाम चार बजे अटल बिहारी वाजपेयी क्रिकेट स्टेडियम भव्य समारोह में शपथ लेंगे। योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को करीब चार दर्जन मंत्रियों के साथ शपथ लेंगे। अभी उपमुख्यमंत्री को लेकर संस्पेंस बना हुआ है।बीते दो-तीन दिन में जिन विधायकों का आरटीपीसीआर टेस्ट हुआ है, उनका मंत्री बनना तय है।

शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में उनको ही मंच पर जाने की इजाजत होगी, जिनका कोरोना टेस्ट हुआ है। 45-50 विधायकों के साथअ 70 लोगों को मंच पर स्थान मिलेगा। इनमें राज्यपाल तथा मुख्य सचिव व डीजीपी के साथ पीएम की सुरक्षा में लगे कमांडो भी हैं।बीते दो-तीन दिन में जिन विधायकों का आरटीपीसीआर टेस्ट हुआ है, उनका मंत्री बनना तय है।

शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में उनको ही मंच पर जाने की इजाजत होगी, जिनका कोरोना टेस्ट हुआ है। 45-50 विधायकों के साथ 70 लोगों को मंच पर स्थान मिलेगा। इनमें राज्यपाल तथा मुख्य सचिव व डीजीपी के साथ पीएम की सुरक्षा में लगे कमांडो भी हैं।आज सुबह से ही कई विधायकों का मुख्यमंत्री आवास पहुंचना शुरू हो गया है। माना जा रहा है कि जो विधायक या नेता मुख्यमंत्री आवास पहुंच रहे हैं, उनका मंत्री बनना लगभग तय है। उन्हें आलाकमान से फोन आया है जिसके बाद ही वह मुख्यमंत्री आवास पहुंच रहे हैं।

इन नेताओं में केशव प्रसाद मौर्य, बेबी रानी मौर्य, विजय लक्ष्मी गौतम, कल्याण सिंह के पोते संदीप सिंह, कानपुर मेयर प्रमिला पांडेय, धर्मवीर प्रजापति, सलिल विश्नोई, जयवीर सिंह, अनूप वाल्मीकि, एके शर्मा, स्वतंत्र देव सिंह, नंद गोपाल नंदी, नितिन अग्रवाल, जितिन प्रसाद, ब्रजेश पाठक, पूरन शर्मा, एके शर्मा आशीष पटेल, राकेश राठौर, प्रतिभा शुक्ला, असीम अरुण, दयाशंकर सिंह भी शामिल हैं।बलिया के विधायक दयाशंकर सिंह ने बताया कि उन्हें भाजपा कार्यालय से फोन आया है। उन्हें मुख्यमंत्री आवास पहुंचने की बात कही गयी है। इसलिए वह पहुंचे हैं।

–आईएएनएस

Share.

Leave A Reply


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/wefornewshindi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5212

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/wefornewshindi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5212