इजरायल: तेल अवीव में आतंकवादी हमला, 4 की मौत | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

इजरायल: तेल अवीव में आतंकवादी हमला, 4 की मौत

Published

on

तेल अवीव में इजरायल के रक्षा मंत्रालय के पास बुधवार को शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में दो हमलावरों की तरफ से की गई गोलीबारी में चार लोगों की मौत हो गई।

इन हमलावरों की शिनाख्त फिलिस्तीनी आतंकवादियों के रूप में की गई है। सुत्रों से मिली खबर के मुताबिक, इजरायल पुलसि के प्रवक्ता मिकी रोसेनफील्ड ने बताया कि हमलावरों को पकड़ लिया गया है। इनमें से एक को गोली मार दी गई, जबकि दूसरे को सरोना बाजार में हिरासत में ले लिया गया है।

हमले की किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है। प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू इसे जघन्य अपराध और तेल अवीव में हत्या करार दिया है।

उन्होंने कहा, “हम हमलावरों पर हमला करने के लिए जरूरी कदम उठाएंगे और जरूरतमंदों की रक्षा करेंगे।”

घटनास्थल के पास एक कैफे पर लगे सीसीटीवी फुटेज में अफरा-तफरी साफ देखी जा सकती है। डरे हुए ग्राहक अपनी जान बचाने के लिए यहां-वहां भागते नजर आ रहे हैं। घटना के समय सरोना बाजार में मौजूद इजरायली सांसद अमीर ओहाना ने सीएनएन को बताया कि जिस समय यह हिंसा हुई, यहां लोग एक बढ़िया रात गुजार रहे थे।

उन्होंने कहा, “लोग कॉफी पी रहे थे। मैंने एक मेज पर जन्मदिन का केक भी देखा और इसके तुरंत बाद आप उल्टी पड़ी हुई कुर्सियां, टूटे हुए शीशे और हर तरफ खून देख सकते थे।”

रोसेनफील्ड ने बताया, “चारों मृतक इजरायली नागरिक हैं।”

wefornews bureau 

key words: तेल अवीव, आतंकवादी, हमला, 4 की मौत

अंतरराष्ट्रीय

चीन की अमेरिका को धमकी, एप पर बैन का जल्द देंगे जवाब

Published

on

Houston Howdy Modi Donald Trump

चीन ने कहा कि वह वीचैट और टिकटॉक एप के डाउनलोडिंग को रोकने के अमेरिका के कदम का घोर विरोध करेगा। बीजिंग ने वाशिंगटन को चेतावनी दी कि वह चीनी कंपनियों के हितों की रक्षा के लिए उसके खिलाफ जवाबी उपाय भी करेगा। 

अमेरिका ने शुक्रवार को लोकप्रिय चीनी सोशल मीडिया एप टिकटॉक और वीचैट को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बताते हुए रविवार से प्रतिबंधित करने के आदेश जारी किए। वाशिंगटन ने कहा कि ये एप देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिए खतरा हैं। गौरतलब है कि कुछ सप्ताह पहले भारत ने भी इन एप्स को प्रतिबंधित कर दिया था। 

पिछले महीने, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 15 सितंबर तक टिकटॉक और वीचैट पर प्रतिबंध लगाने के लिए एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए। इस आदेश में कहा गया कि इस दौरान तक इन कंपनियों को अपना स्वामित्व अमेरिकी कंपनियों कौ सौंपना होगा, तब ही ये देश में परिचालन कर पाएंगी। 

चीन के वाणिज्य मंत्रालय ने शनिवार को टिकटॉक और वीचैट पर प्रतिबंध लगाने के लिए ट्रंप प्रशासन द्वारा जारी आदेशों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह इन एप्स के डाउनलोड को ब्लॉक करने के अमेरिका के कदम का घोर विरोध करता है। चीनी मंत्रालय ने अपने बयान में कहा, किसी भी सबूत के अभाव में अमेरिका ने बार-बार गैर-कानूनी कारणों का हवाला देते हुए दोनों कंपनियों को दबाने के लिए राज्य की शक्ति का इस्तेमाल किया है।

इसमें कहा गया कि अमेरिका ने कंपनियों की सामान्य व्यावसायिक गतिविधियों को गंभीर रूप से बाधित कर दिया है। साथ ही निवेश के माहौल में अंतरराष्ट्रीय निवेशकों के विश्वास को कम कर दिया और सामान्य वैश्विक आर्थिक और व्यापार को नुकसान पहुंचाया है। मंत्रालय ने कहा कि वाशिंगटन को अपनी कार्रवाइयों को तुरंत रोकना चाहिए और अंतरराष्ट्रीय नियमों और व्यवस्था की रक्षा करनी चाहिए। 

मंत्रालय ने कहा, अगर अमेरिका अपने आदेश को वापिस नहीं लेता है, तो चीन कंपनियों के वैध अधिकारों और हितों की रक्षा करने के लिए आवश्यक उपाय करेगा। हालांकि मंत्रालय ने किसी भी जवाबी कार्रवाई को निर्दिष्ट नहीं किया। 

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

कुलभूषण को नहीं मिलेगा बाहर का वकील, पाक ने ठुकराई मांग

Published

on

kulbhushan jadhav

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नेवी के रिटायर्ड अफसर कुलभूषण जाधव के मामले में निष्पक्ष सुनवाई के लिए भारत ने क्वींस काउंसल या बाहर के वकील की मांग की थी।

पाकिस्तान ने भारत की इस मांग को खारिज कर दिया है। पाकिस्तान ने भारत की मांग को अवास्तविक बताते हुए खारिज किया।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जाहिद हाफिज चौधरी ने कहा कि भारत लगातार बाहरी वकील की मांग कर रहा है। यह अवास्तविक है। उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान ने भारत से साफ कर दिया है कि अंतरराष्ट्रीय चलन के मुताबिक हमारी अदालतों में उन वकीलों को ही पेश होने और पैरवी करने की अनुमति है, जिनके पास यहां प्रैक्टिस का लाइसेंस है।

बता दें कि पाकिस्तान की ओर से यह बयान भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के बयान के बाद आया है। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने 17 सितंबर को पाकिस्तान पर अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के फैसले का क्रियान्वयन नहीं करने का आरोप लगाया था।

उन्होंने जाधव को बगैर किसी शर्त के राजनयिक पहुंच उपलब्ध कराने, निष्पक्ष और स्वतंत्र सुनवाई के लिए एक भारतीय वकील या क्वींस काउंसल नियुक्त करने की मांग की थी।

WeForNews

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

ऐतिहासिक होगी संयुक्त राष्ट्र की आम सभा, पीएम मोदी लेंगे दो बैठकों में हिस्सा

Published

on

Photo-ANI

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि एवं राजदूत टीएस तिरुमूर्ति ने संयुक्त राष्ट्र के 75वें सत्र के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस बार का सत्र कई मायनों में ऐतिहासिक होने वाला है। उन्होंने बताया कि सोमवार से शुरू होने वाले इस डिजिटल सत्र के दो बहस में प्रधानमंत्री मोदी भी शिरकत करेंगे।

तिरुमूर्ति ने कहा कि पहली बहस एक सामान्य बहस है जहां पीएम मोदी राष्ट्रीय व्यक्तव्य रखेंगे, वहीं सोमवार को संयुक्त राष्ट्र के 75वें सत्र की शुरुआत को लेकर दूसरी बहस एवं महत्वपूर्ण बैठकें होंगी। उन्होंने कहा कि इस दौरान प्रधानमंत्री का संबोधन निश्चित रूप से हमारी भागीदारी का मुख्य आकर्षण होगा।
 

तिरुमूर्ति ने आगे कहा कि विदेश मंत्री एस जयशंकर भी संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) की तर्ज पर होने वाली कुछ मंत्रिस्तरीय बैठकों में भाग लेंगे और महत्वपूर्ण मुद्दों  पर चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि हम  एक अलग तरह की परिस्थिति में इस सत्र में भाग लेने जा रहे हैं जो कि बेहद दिलचस्प होने वाला है। वहीं कोरोना संकट और यह महत्वपूर्ण बैठक दोनों हम लोगों को कुछ अलग करने को प्रेरित करेगा।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular