अफगानिस्तान में भारतीय वाणिज्य दूतावास पर हमला, मारे गए दो हमलावर | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

Published

on

अफगानिस्तान के मजार-ए-शरीफ में स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास पर रविवार रात बंदूकधारियों ने हमला कर दिया. बताया जा रहा है कि चार हमलावरों ने दूतावास को निशाना बनाया. इनमें से दो हमलावरों के मारे जाने की खबर है.

अफगान स्पेशल फोर्सेज और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है. दो हमलावर वाणिज्य दूतावास के पीछे एक घर में छुपे हुए हैं. अफगानिस्तान की स्पेशल फोर्सेस इन आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में जुटी हुई है.

दूतावास के पास धमाके और गोलीबारी की आवाजें सुनी जा रही हैं. मजार-ए-शरीफ में भारत के वाणिज्य दूतावास में तीन-सदस्यीय टीम है. भारतीय विदेश मंत्रालय के मुताबिक सभी भारतीय सुरक्षित हैं.

आईटीबीपी के जवानों ने 2 आतंकियों को मार गिराया है. अफगानिस्‍तान में आईटीबीपी के 300 जवान तैनात हैं. पिछले डेढ़ साल में यह दूसरा हमला है जिसे आईटीबीपी ने विफल कर दिया. दो आतंकी अभी भी बचे हैं.

wefornews Bureau

Advertisement

अंतरराष्ट्रीय

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कोविड-19 से निपटने के लिए किया गलत सूचनाओं से लड़ने का आह्वान

Published

on

cropped-Antonio-Guterres-1

संयुक्त राष्ट्र, 24 सितंबर (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कोविड-19 महामारी के बारे में गलत सूचनाओं से लोगों को हो रहे नुकसान को कम करने के लिए संयुक्त प्रयास करने का आहवान किया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, बुधवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन के इंफोडेमिक मैनेजमेंट कार्यक्रम में गुटेरेस ने कहा, कोविड-19 केवल सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल नहीं है – यह एक संचार आपात स्थिति भी है। यह वायरस दुनिया भर में फैल गया है। गलत और खतरनाक संदेश सोशल मीडिया पर तेजी से फैले, जिसने लोगों को भ्रमित-गुमराह किया और उन्हें गलत सलाहें दीं।

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने यह भी कहा, इन मारक झूठ ने यह भी सुनिश्चित किया कि वे वैज्ञानिक तथ्यों पर आधारित सलाहों और स्वास्थ्य मार्गदर्शन की तुलना में ज्यादा तेजी से फैले और लोगों को हर जगह उपलब्ध रहे। यह स्थिति ऐसे में और भयावह हो जाती है जब हम कोविड-19 के लिए प्रभावी वैक्सीन तैयार करने में जुटे हैं।

इस मौके पर उन्होंने इन गलत सूचनाओं से लड़ने में मीडिया, प्रभावी लोगों और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों के महत्व को भी बताया।

उन्होंने कहा, हम एक साथ मिलकर ही लोगों को सही सूचनाएं पहुंचाकर इस महामारी से उबर सकेंगे।

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले 3.17 करोड़ से अधिक

Published

on

Coronavirus

वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या 3.17 करोड़ से अधिक हो गई है, जबकि इस संक्रमण से हुई मौतों की संख्या 975,000 का आंकड़ा पार कर गई है। यह जानकारी जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय ने गुरुवार को दी।

विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) ने अपने नवीनतम अपडेट में खुलासा किया कि गुरुवार की सुबह तक कुल मामलों की संख्या 31,787,190 हो गई और मृत्यु दर बढ़कर 975,038 हो गई थी।

सीएसएसई के आंकड़ों के अनुसार, अमेरिका दुनिया के सबसे अधिक मामलों 6,943,071 और 201,957 मौतों के साथ सबसे अधिक प्रभावित देश है।

वहीं वर्तमान में भारत 5,646,010 मामलों के साथ प्रभावित देशों की सूची में शीर्ष पर दूसरे स्थान पर है, जबकि देश में संक्रमण से 90,020 मौतें दर्ज की गई हैं।

सीएसएसई के आंकड़ों के अनुसार, अधिक मामलों वाले अन्य शीर्ष 15 देशों में ब्राजील (4,591,364), रूस (1,117,487), कोलंबिया (784,268), पेरू (776,546), मेक्सिको (710,049), स्पेन (693,556), दक्षिण अफ्रीका (665,188), अर्जेंटीना (664,799), फ्रांस (508,381), चिली (449,903), ईरान (432,798), ब्रिटेन (412,241), बांग्लादेश (353,844), इराक (332,635) और सऊदी अरब (331,359) शामिल हैं।

ब्राजील 138,105 मौतों के साथ संक्रमण से हुई मृत्यु के मामले में अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर है।

वहीं 10,000 से अधिक मौतों वाले देश मेक्सिको (74,949), ब्रिटेन (41,951), इटली (35,758), पेरू (31,568), फ्रांस (31,444), स्पेन (31,034), ईरान (24,840), कोलंबिया (24,746), रूस (19,720), दक्षिण अफ्रीका (16,206), अर्जेंटीना (14,376), चिली (12,345) और इक्वाडोर (11,171) हैं।

आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

कोरोना के चलते सऊदी अरब ने इन तीन देशों की उड़ानों पर लगया प्रतिबंध

Published

on

Airline-

दुनियाभर में बढ़ते कोरोना वायरस के मद्देनजर सऊदी अरब ने भारत, ब्राजील और अर्जेंटीना आने जाने वाली उड़ानों को निलंबित कर दिया है। सऊदी अरब के नागरिक उड्डयन नियामक जनरल अथॉरिटी ऑफ सिविल एविएशन (GACA) ने बुधवार को एयरलाइंस को दिए गए एक नोट में यह जानकारी दी।

जीएसीए के नोट के अनुसार, सऊदी अरब में आने से पहले पिछले 14 दिनों में भारत, ब्राजील और अर्जेंटीना में रहने वाले किसी भी व्यक्ति को सरकारी निमंत्रण के अतिरिक्त इन देशों में यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी। नोट में निलंबन के लिए समय सीमा नहीं बताई गई है।

पिछले कुछ महीनों के दौरान एयर इंडिया, स्पाइसजेट और इंडिगो सहित अधिकांश भारतीय एयरलाइंस ने सऊदी अरब से भारत के लिए चार्टर उड़ानें संचालित की हैं। वर्तमान में, भारत और सऊदी अरब के बीच कोई एयर बबल करार नहीं है।

कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए लगाए गए लॉकडाउन से हवाई यात्रा सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुई हैं। इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (आईएटीए) के सीईओ एलेक्जेंडर डि जुनियाक ने कहा था कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के चलते रेवेन्यू पैसेंजर किलोमीटर (राजस्व यात्री किलोमीटर) अपनी 2019 की स्थिति में साल 2024 तक लौट सकेगा। 

WeForNews
 

Continue Reading

Most Popular