मैं एंटी-डोपिंग परीक्षण में फेल रही : शारापोवा | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

खेल

मैं एंटी-डोपिंग परीक्षण में फेल रही : शारापोवा

Published

on

रूस की टेनिस स्टार मारिया शारापोवा ने सोमवार को एनाउंस कर बताया कि जनवरी में आस्ट्रेलियन ओपन के दौरान हुए ड्रग टेस्ट में वह असफल हुई हैं।

<>’बीबीसी’ की रिपोर्ट से यह जानकारी मिली।

शारापोवा ने हाल ही में बताया है कि स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों की वजह से 2006 से ही ‘मिल्ड्रोनेट’ नामक दवा ले रही हैं। उन्हें पता नहीं था कि इस दवा को इस साल की शुरुआत में विश्व डोपिग रोधी एजेंसी (वाडा) द्वारा निषिद्ध सूची में शामिल कर लिया गया है।

रूस की टेनिस स्टार द्वारा घोषणा किए जाने के एक घंटे बाद आईटीएफ ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट में बताया कि 28 वर्षीया खिलाड़ी पर 12 मार्च से प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

इस मामले में पहली बार असफल होने वाले खिलाड़ियों पर आमतौर पर दो साल का प्रतिबंध लगाया जाता है।

आईटीएफ ने आगे बताया कि जनवरी में हुए आस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में सेरेना विलियम्स से हारने के बाद हुए ड्रग टेस्ट में फेल हुईं शारापोवा पर दो मार्च को डोपिंग रोधी नियमों के उल्लंघन का आरोप लगा था।

शारापोवा ने कहा कि वह पिछले 10 साल से स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों के कारण ‘मिल्ड्रोनेट’ नामक दवा ले रही हैं, जिसका ड्रग टेस्ट में परिणाम ‘पॉजीटिव’ आया है।

मिल्ड्रोनेट को मिल्डोनियम नाम से भी जाना जाता है, जिसे मधुमेह या मैग्निशियम की कमी के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है।

शारापोवा ने कहा, “मैं अक्सर बीमार रहने लगी थी और मुझमें मैग्निशियम की कमी हो गई थी। मेरे परिवार में पहले भी कई लोगों को मधुमेह की शिकायत रही है। मुझमें भी इसके लक्षण दिखने लगे थे और इसीलिए मैंने अन्य दवाओं के साथ इस दवा को लेना शुरू किया।”

टेनिस स्टार ने कहा, “आपके लिए यह समझना बेहद जरूरी है कि पिछले 10 साल से यह दवा वाडा की प्रतिबंधित दवाओं की सूची में नहीं थी लेकिन एक जनवरी को नियम बदल गए और इसे सूची में शामिल कर लिया गया, जिसके बारे में मुझे पता नहीं था।”

महिला टेनिस संघ (डब्ल्यूटीए) के टूर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) स्टीव सिमोन ने वाडा द्वारा नियमों में किए गए बदलाव पर निराशा जताते हुए कहा कि शारापोवा को नियमों के बारे में पता होना चाहिए था।

wefornews bureau 

खेल

बार्सिलोना एफसी के अध्यक्ष बारटोमेन ने दिया इस्तीफा

Published

on

football

स्पेन के फुटबाल क्लब बार्सिलोना के अध्यक्ष जोसेफ मारिया बारटोमेन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

बारटोमेन 2014 में सांद्रो रसेल की जगह बार्सिलोना एफसी के नए अध्यक्ष बने थे। बोरटोमेन के साथ साथ बोर्ड के बाकी निदेशकों ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है और 90 दिनों के अंदर नए अध्यक्ष के लिए चुनाव किया जाएगा।

बारटोमेन ने एक बयान में कहा, यह एक विचारशील, शांत और मेरे निदेशकों द्वारा इस्तीफा देने का सामूहिक निर्णय है, जिन्होंने पूरी ईमानदारी और प्रतिबद्धता के साथ मेरा साथ दिया और उन्होंने बार्सिलोना के लिए कई बलिदान दिए।

बारटोमेन ने साथ ही कहा बार्सिलोना एक नए यूरोपीय सुपर लीग में शामिल होने पर सहमत हो गया है।

उन्होंने कहा कि इसमें शामिल होने से क्लब की वित्तीय स्थिरता आगे बढ़ने की गारंटी होगी।

57 वर्षीय पूर्व अध्यक्ष ने हालांकि प्रस्तावित सुपर लीग के किसी भी विवरण का खुलासा नहीं किया और न ही यह बताया कि स्पेन की ला लीगा जैसी घरेलू प्रतियोगिताओं के लिए इसका क्या महत्व होगा।

–आईएएनएस

Continue Reading

खेल

भारतीय क्रिकेट के पूर्व कप्तान कपिल देव को पड़ा दिल का दौरा, अस्पताल में भर्ती

Published

on

Kapil-Dev

भारत को पहला क्रिकेट विश्व कप जिताने वाले कप्तान और पूर्व क्रिकेटर कपिल देव को दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कपिल देव की एंजियोप्लास्टी की गई है। डॉक्टर्स के मुताबिक, कपिल देव की तबीयत अभी ठीक है।

बता दें कि कपिल देव की उम्र 61 साल है, क्रिकेट से अलविदा कहने के बाद वो लगातार कमेंट्री करते हुए दिखाई देते रहे हैं। इसके अलावा कई टीवी शो में भी कपिल देव को देखा जा सकता है।

कपिल देव के अस्पताल में भर्ती होने की खबर सामने आने के बाद कई पूर्व क्रिकेटर्स की प्रतिक्रिया आने शुरू हो गई हैं। 1983 विश्व विजेता टीम के हिस्सा मदनलाल ने ट्वीट कर लिखा कि जब कपिल देव को कुछ दिक्कत महसूस हुई, तो उन्हें अस्पताल ले जाया गया।

डॉक्टर्स उनकी निगरानी कर रहे हैं और जल्द ही वो घर वापस आएंगे। हम सभी उनके अच्छे स्वास्थ्य की कामना करते हैं।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने भी ट्वीट कपिल देव के स्वास्थ्य के लिए चिंता व्यक्त की और उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की।

भारत में क्रिकेट को घर-घर तक पहुंचाने में कपिल देव का बड़ा योगदान है। 1983 विश्वकप की जीत के बाद ही देश में क्रिकेटरों की एक नई खेप तैयार हुई।

हरियाणा से आने वाले कपिल देव ने 1978 से लेकर 1994 तक भारतीय टीम के लिए क्रिकेट खेला और उनकी गिनती दुनिया के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडर में होती आई है।

WeForNews

Continue Reading

खेल

IPL2020 : धवन के शतक पर भारी पड़ा पूरन का अर्धशतक, दिल्ली हारी

Published

on

By

दुबई, 20 अक्टूबर । इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें संस्करण में मंगलवार को किंग्स इलेवन पंजाब ने दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए उतार-चढ़ाव भरे मैच में बेहतरीन फॉर्म में चल रही दिल्ली कैपिटल्स को पांच विकेट से हरा दिया।

दिल्ली ने शिखर धवन (नाबाद 106 रन, 61 गेंदें, 12 चौके, 3 छक्के) के लगातार दूसरे आईपीएल शतक के दम पर 20 ओवरों में पांच विकेट खोकर 164 रन बनाए। खराब शुरूआत के बाद पंजाब मैच से बाहर होती दिख रही थी, तभी निकोलस पूरन (53 रन, 28 गेंद, 6 चौके, 3 छक्के) और ग्लैन मैक्सवेल (32 रन, 24 गेंद, तीन चौके) ने मैच को पंजाब की तरफ मोड़ दिया।

इन दोनों के काम को अंजाम दीपक हुड्डा (नाबाद 15) और जिम्मी नीशम (नाबाद 10) ने दिया। पंजाब ने लक्ष्य को 19वें ओवरों में पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया।

पंजाब के इन-फॉर्म बल्लेबाज लोकेश राहुल (15) को अक्षर पटेल ने तीसरे ओवर की दूसरी गेंद पर ही पवेलियन भेज दिया। क्रिस गेल ने आते ही अपने अंदाज में बल्लेबाजी की और तीन चौके तथा दो छक्के मारे।

दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने गेल का अहम विकेट लेने के लिए अपने शीर्ष स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को गेंद थमाई। यह चाल काम कर गई क्योंकि गेल को अश्विन ने बोल्ड कर पंजाब को दूसरा बड़ा झटका दिया। गेल ने 13 गेंदों पर 29 रन बनाए।

पूरन और मयंक अग्रवाल के बीच रन लेने में उलझन हुई और हां-ना करने के बीच मयंक रन आउट हुो गए। मयंक ने सिर्फ पांच रन बनाए।

पूरन ने फिर इसकी भरपाई करने की कोशिश की और सफल भी रहे। 10 ओवरों में पंजाब ने 101 रन बना लिए। पूरन ने महज 27 रनों पर अपना अर्धशतक पूरा किया, लेकिन इसके बाद कैगिसो रबादा ने उन्हें पवेलियन भेज दिल्ली को मैच में वापस ला दिया

पूरन के जाने पर पंजाब का स्कोर 125/4 हो गया। यहां से पंजाब को 45 गेंदो पर 40 रन चाहिए थे। मैक्सवेल ने आज सूझबूझ भरी पारी खेली और एक बार फिर पंजाब को मैच में ला दिया। वह अंत तक तो टिक नहीं सके लेकिन मैच को पंजाब के पक्ष में कर गए। पूरन के साथ उन्होंने 69 रनों की साझेदारी की।

हुड्डा और नीशम ने फिर टीम को जीत की दहलीज पार कराई।

इससे पहले, पृथ्वी शॉ (7), अय्यर (14) के विकेट जल्दी गिर जाने के बाद धवन के ऊपर दिल्ली की जिम्मेदारी आ गई । पृथ्वी को नीशम ने आउट किया और अय्यर, मुरुगन अश्विन का शिकार बने।

ऋषभ पंत (14) भी धवन का साथ ज्यादा दे नहीं पाए। पंत को मैक्सेवल ने मयंक के हाथों कैच कराया। अंतिम ओवरों में दिल्ली को मार्कस स्टोयनिस (9) से तेजी से रन बनाने की उम्मीद थी लेकिन मोहम्मद शमी ने उन्हें पवेलियन भेज दिया।

धवन विकेट के पर पैर जमा चुके थे। विकेटों के गिरने का उन पर असर नहीं पड़ा। वह अपना खेल खेलते रहे और अपना लगातार दूसरा आईपीएल शतक पूरा किया।

शिमरन हेटमायेर को छह गेंद खेलने को मिली और उन्होंने एक छक्के की मदद से 10 रन बनाए।

पंजाब के लिए शमी ने दो विकेट लिए। मैक्सवेल, नीशम, और मुरुगन अश्विन के हिस्से एक-एक सफलता आई।

इस जीत के बाद पंजाब की टीम आठ अंकों के साथ पांचवें स्थान पर पहुंच गई है। दिल्ली के खाते में 14 अंक हैं और वह अभी भी टॉप पर है। यह मैच जीतने की स्थिति में दिल्ली की टीम प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर गई होती। इधर, पंजाब ने इस जीत के साथ प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है।

Continue Reading

Most Popular