'आतंकियों से मिलीभगत साबित हुई तो जान से मार देना' | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राष्ट्रीय

‘आतंकियों से मिलीभगत साबित हुई तो जान से मार देना’

Published

on

अगवा एसपी
अगवा एसपी, सलविंदर सिंह

पठानकोट हमले से पहले सामना हुए उस पुलिस अधिकारी का बयान सामने आया है, जिससे सबसे पहले आतंकियों का सामना हुआ था.

गुरदासपुर के एसपी सलविंदर सिंह ने मीडिया से बातचीत में दावा किया है कि आतंकियों ने उन्हें बंधक बना लिया था. उस वक्त वो निहत्थे थे और आतंकी एके 47 जैसे हथियारों से लैस थे. उन्‍होंने कहा कि आतंकवादियों को नहीं पता था कि मैं एसपी हूं. उन्‍होंने मेरे हाथ-पैर बांध दिए थे.

एसपी सलविंदर ने कहा, ‘मैंने वारदात की सूचना देने में देर नहीं की. मेरी तत्‍परता की वजह से कई लोगों की जान बच गई. मुझ पर आतंकियों से मिले होने पर गलत आरोप लगा है. मेरे पास हथियार नहीं था, वरना मैं उनसे मुकाबला करता. साथ ही कहा कि अगर मेरी आतंकियों से मिलीभगत साबित हुई तो मुझे जान से मार दिया जाए.’

उन्‍होंने आगे कहा, ‘आतंकियों ने मेरे हाथ, मुंह और आंखों पर पट्टी बांध दी थी. आतंकियों को तो बाद में पता चला कि मैं एसपी हूं. आतंकी मुझे ढूंढने वापस आए थे.’

बीते शुक्रवार एक जनवरी को एसपी सलविंदर सिंह और उनके साथ सफर कर रहे 2 लोगों को आतंकियों ने बंधक बनाकर उनकी गाड़ी और फोन छीन लिया था. एसपी ने अपनी पहचान जाहिर न करते हुए खुद को आम आदमी की तरह पेश कर जान बचाई.

उनकी दी गई जानकारी को पंजाब पुलिस ने करीब 12 घंटों तक गंभीरता से नहीं लिया. बाद में केंद्रीय एजेंसियों को सूचना दी गई.

wefornews Bureau

राष्ट्रीय

दिल्ली में कोरोना के 1984 नए केस, 37 की मौत

Published

on

दिल्ली में कोरोना का कहर थोड़ा कम होता द‍िख रहा है। पिछले यहां सक्रि‍य मामलों की संख्या अब 10 फीसदी से भी कम हो गई है।

पिछले 24 घंटे में यहां 1984 नए मरीज सामने आए जिसके बाद संक्रमितों का कुल आंकड़ा बढ़कर 2,73,098 हो गया। वहीं 37 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 5272 हो गई। पिछले 24 घंटे में 4052 लोग ठीक भी हुए जिन्हें मिलाकर अब तक कुल 2,40,703 लोग ठीक हो चुके हैं।

बता दें  देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 60,74,702 हो गए है। वहीं संक्रमण से 1,039 और मरीजों की मौत होने से देश में मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 95,542 हुई। भारत में कोविड-19 के 9,62,640 मरीजों का इलाज रहा है। अब तक 50,16,520 लोग ठीक हो चुके हैं।

WeForNews

Continue Reading

राष्ट्रीय

CAPF के दिव्यांग जवानों और शहीदों के आश्रितों को ‘सैन्य कर्मियों’ की तर्ज पर केरल सरकार देगी पक्की नौकरी

Published

on

Jammu and Kashmir Shopian Indian Army

केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) के दिव्यांग जवानों या किसी ऑपरेशन में शहीद हुए कर्मियों के आश्रितों को केरल सरकार ‘सैन्य कर्मियों’ की तर्ज पर सरकारी नौकरी देगी। अभी तक केरल में डिफेंस पर्सनल और बीआरओ की जनरल रिजर्व इंजीनियरिंग फोर्स (ग्रीफ) के लिए ही सरकारी नौकरी दिए जाने का प्रावधान रखा गया था। केरल सरकार के आदेशों के अनुसार, अब सीएपीएफ ‘बीएसएफ, सीआरपीएफ, सीआईएसएफ, आईटीबीपी, एनएसजी, एसएसबी और असम राइफल’ को भी सरकारी नौकरी वाली योजना का हिस्सा बनाया गया है।

दिव्यांग या शहीदों के परिजनों को जिला सैनिक कल्याण अधिकारी के पास नौकरी का आवेदन देना होगा। दस्तावेजों की सूची में मेडिकल प्रमाण पत्र के अलावा संबंधित फोर्स के डीजी का सहमति पत्र और वह डॉक्यूमेंट भी अटैच करना होगा, जिसमें उसके दिव्यांग होने का कारण लिखा रहेगा।

यानी इसमें ऑपरेशन जैसे घात, एनकाउंटर व गन बैटल आदि की जानकारी से संबंधित कागजात लगाए जाएंगे। इस योजना को सात जून 2019 से लागू माना जाएगा। इस तिथि को या उसके बाद जो भी दिव्यांग या शहीद का आश्रित सभी औपचारिकताएं पूरी कर नौकरी का आवेदन देगा, उसे सरकारी नौकरी दे दी जाएगी।

केरल सरकार के आदेशों के अनुसार, राज्य में अभी तक डिफेंस और जीआरइएफ वालों को ही सरकारी नौकरी मिलती थी। इसमें बीएसएफ को भी शामिल किया गया था, लेकिन उसके लिए सैन्य ड्यूटी जैसी कई शर्तें लागू की गई थीं। योजना में यह प्रावधान किया गया था कि सेना या जीआरइएफ का कोई भी कर्मी यदि सैन्यू ड्यूटी के दौरान मारा जाता है, दिव्यांग हो जाता है या वह लापता होता है तो उस स्थिति में सरकारी मदद की जाती है।

अब वे सभी प्रावधान सीएपीएफ के लिए भी लागू कर दिए गए हैं। संबंधित कर्मी को अपने दिव्यांग होने या शहीद के आश्रितों को बल के डीजी द्वारा हस्ताक्षरित डिक्लेयर प्रमाण पत्र अपने आवेदन के साथ लगाना होगा। अन्य औपचारिकताओं में कर्मी का 50 फीसदी से अधिक दिव्यांग वाली स्थिति का मेडिकल प्रमाण पत्र देना जरूरी होगा।

साथ ही दस्तावेजों में मेडिकल बोर्ड का वह प्रमाण पत्र, जिसमें उसे सिविल जॉब के लिए अयोग्य दिखाया गया हो, शामिल रहेगा। अगर जॉब के लिए दिव्यांग ने आवेदन दिया है, तो उसे स्वयं मेडिकल बोर्ड के सामने उपस्थित होना पड़ेगा। दिव्यांग पेंशन के दस्तावेज भी जमा कराने होंगे।

केरल सरकार द्वारा यह नौकरी, उन्हें दी जाएगी, जिनके पास केरल का जन्म प्रमाण पत्र और डोमिसाइल प्रमाण पत्र होगा। नौकरी के लिए योग्यताएं वही रहेंगी, जो सेना के कर्मियों के लिए तय की गई हैं। जिला सैनिक कल्याण अधिकारी के पास आवेदन देना होगा। वहां से आवेदन को निदेशक के पास भेजा जाएगा। निदेशक उसे सरकार के पास भेजेगा। अन्य दस्तावेजों में पीपीओ, आयु व शैक्षणिक योग्यता वाले प्रमाण पत्र, ऑपरेशन केजुअल्टी प्रमाण पत्र, आवेदक के स्थानीय निवासी होने का तहसीलदार से जारी प्रमाण पत्र और यदि आश्रित किसी अन्य को नौकरी दिलाना चाहता है तो उसके लिए सहमति पत्र देना होगा।

सरकारी नौकरी केवल एक ही व्यक्ति को मिलेगी। नौकरी मिलने के बाद अगर किसी आवेदक को उसकी पसंद का जिला नहीं मिलता है तो यह प्रयास किया जाएगा कि जल्द से जल्द उसका तबादला संबंधित जिले में कर दिया जाए। आवेदन के साथ अटैच दस्तावेजों में कोई गलती मिली तो नियुक्ति रद्द कर दी जाएगी।

Continue Reading

राष्ट्रीय

मोइन कुरैशी मामले में 3 पूर्व प्रमुखों से पूछताछ न करने पर सीबीआई की खिंचाई

Published

on

Court

नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने मांस निर्यातक मोइन कुरैशी के खिलाफ कथित रिश्वत मामले के सिलसिले में पूर्व सीबीआई निदेशकों रंजीत सिन्हा, ए.पी. सिंह और आलोक वर्मा से पूछताछ नहीं किए जाने पर केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की खिंचाई की।

अक्टूबर, 2018 में तत्कालीन सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। शिकायतकर्ता, सतीश बाबू सना ने आरोप लगाया था कि उन्होंने मोइन कुरैशी मामले की जांच में किसी भी कार्रवाई को नहीं करने के लिए अस्थाना को 2 करोड़ रुपये रिश्वत दी थी।

एक चार्जशीट के अनुसार, कुरैशी सीबीआई के वरिष्ठ अधिकारियों के संपर्क में था। उसने विभिन्न व्यक्तियों से या तो सीधे या अपने एजेंटों के माध्यम से, जैसे कि सतीश बाबू सना के रूप में, सीबीआई द्वारा जांच किए जा रहे मामलों को प्रभावित करने के लिए धन एकत्र किया।

सीबीआई के विशेष न्यायाधीश संजीव अग्रवाल ने एजेंसी के सामने छह सवाल रखे। एक सवाल में, उन्होंने पूछा कि वह उसने अपने पूर्व-निर्देशकों में से दो की भूमिका को लेकर उनसे पूछताछ क्यों नहीं की। इससे लगता है कि एजेंसी उनके खिलाफ जांच को आगे बढ़ाने के प्रति बहुत उत्सुक नहीं है।

अदालत ने कहा, “यह स्पष्ट है कि इस मामले में, इसके पूर्व-निदेशकों में से दो की भूमिका जांच के तहत है, जो कथित बिचौलिए मोइन अख्तर कुरैशी के साथ एपी सिंह और रंजीत सिन्हा हैं, मामले को खुले, ईमानदारी के साथ जांच की जाचने की जरूरत है।”

विशेष सीबीआई न्यायाधीश ने सीबीआई से कहा कि भारत की प्रमुख जांच एजेंसी के रूप में इसकी प्रतिष्ठित छवि है। हालांकि, साथ ही इसे प्रतिष्ठा बनाए रखने के लिए अपने दो शीर्ष पूर्व-माननीयों के खिलाफ आरोपों की जांच को बढ़ाना होगा।

एक अन्य सवाल में, अदालत ने पूछा कि क्या मोइन कुरैशी मामले से जुड़े सीबीआई के एक अन्य पूर्व निदेशक रंजीत सिन्हा की भूमिका की भी जांच की जा रही है।

इसने यह भी पूछा कि सीबीआई ने संभावित संदिग्धों की खोज और हिरासत में पूछताछ जैसे जांच के तरीकों का इस्तेमाल करके जांच को तार्किक अंत तक क्यों नहीं लाया।

कोर्ट ने पूछा कि ए.पी. सिंह की इस मामले में जांच क्यों नहीं हुई? यदि कोई निश्चित समय-सीमा नहीं दी जा सकती है, तो क्या इसका मतलब यह है कि जांच अनिश्चितकाल के लिए चलेगी, ताकि एफआईआर खुद ही खत्म हो जाए?

अदालत ने 27 अक्टूबर, 2020 तक इन सवालों पर सीबीआई से स्टेटस रिपोर्ट मांगी है, जब इस मामले पर आगे सुनवाई होगी।

इसके अलावा, सीबीआई ने उन 9 सवालों के जवाब भी दिए, जो न्यायाधीश ने पहले पूछे थे। एजेंसी ने अदालत को अवगत कराया कि मामले के संबंध में अब तक 544 दस्तावेज एकत्र किए गए हैं और 63 गवाहों की जांच की गई है।

यह पूछे जाने पर कि लोक सेवकों के खिलाफ क्या कार्रवाई की गई है, जिनके लिए कुरैशी कथित रूप से एक बिचौलिया के रूप में काम कर रहा था तो एजेंसी ने कहा कि जांच की जा रही है और ऐसे लोक सेवकों की भूमिका की जांच की जा रही है।

जांच एजेंसी ने अदालत को आगे बताया कि इस मामले के संबंध में कई सीबीआई अधिकारियों की जांच की गई है, जिसमें आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय के कुछ लोक सेवक भी शामिल हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
राष्ट्रीय40 mins ago

दिल्ली में कोरोना के 1984 नए केस, 37 की मौत

Jammu and Kashmir Shopian Indian Army
राष्ट्रीय42 mins ago

CAPF के दिव्यांग जवानों और शहीदों के आश्रितों को ‘सैन्य कर्मियों’ की तर्ज पर केरल सरकार देगी पक्की नौकरी

राजनीति52 mins ago

कृषि विधेयकों को खारिज करने के लिए कानूनों पर विचार करे कांग्रेस शासित राज्य : सोनिया गांधी

Court
राष्ट्रीय55 mins ago

मोइन कुरैशी मामले में 3 पूर्व प्रमुखों से पूछताछ न करने पर सीबीआई की खिंचाई

Amarinder Singh
राजनीति1 hour ago

कृषि कानून: अमरिंदर बोले- मेरा ट्रैक्टर, मैं फूंक रहा हूं तो किसी और को क्या तकलीफ?

KC Venugopal
राजनीति1 hour ago

कांग्रेस का राज्य सरकारों को निर्देश, कृषि विधेयकों के खिलाफ पारित कराएं बिल

Adhir Ranjan
राजनीति1 hour ago

बिहार की राजनीति का शिकार हुई रिया की फैमिली, ‘रॉबिनहुड’ ले रहे आशीर्वाद : अधीर रंजन

राष्ट्रीय1 hour ago

कोरोना: अहमदाबाद में रात 10 बजे के बाद सबकुछ बंद, आपातकालीन सेवाएं रहेंगी जारी

Farmers rabi crops
राष्ट्रीय1 hour ago

महाराष्ट्र ने अगस्त में ही लागू कर दिया था कृषि विधेयक

राष्ट्रीय2 hours ago

पश्चिम बंगाल में संविधान की रक्षा नहीं हुई तो मुझे करनी पड़ेगी कार्रवाई: राज्यपाल

Mayawati
राजनीति3 weeks ago

मायावती शासन की अनियमितताओं पर शुरू होगी कार्रवाई

राजनीति1 week ago

किसान बिल पर हंगामे के चलते राज्यसभा के 8 सांसद निलंबित

Sonia Gandhi and Rahul
ब्लॉग3 weeks ago

कांग्रेस की बीमारियां उन्हें क्यों सता रहीं जिन्होंने इसे वोट दिया ही नहीं?

Blood Pressure machine
लाइफस्टाइल4 weeks ago

हाई-ब्लड प्रेशर, हाइपरटेंशन में वायु प्रदूषण का योगदान : शोध

Rhea-
मनोरंजन3 weeks ago

सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती को भेजा गया मुंबई जेल

former president pranab-mukjerjee
राष्ट्रीय4 weeks ago

भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति का 84 साल की उम्र में निधन

Rhea Chakraborty
मनोरंजन4 weeks ago

सुशांत मामला : रिया से आज फिर पूछताछ करेगी सीबीआई

Supreme Court
राष्ट्रीय3 weeks ago

लोन मोरेटोरियम केस: SC ने कहा- आखिरी सुनवाई से पहले जवाब दाखिल करे सरकार

Face-Shield
लाइफस्टाइल4 weeks ago

‘फेस शील्ड और एन-95 मास्क मिलकर भी कोरोना को नहीं रोक सकता’

अंतरराष्ट्रीय4 weeks ago

मॉडर्ना जापान को कोविड वैक्सीन की 4 करोड़ खुराक की करेगी आपूर्ति

8 suspended Rajya Sabha MPs
राजनीति7 days ago

रात में भी संसद परिसर में डटे सस्पेंड किए गए विपक्षी सांसद, गाते रहे गाना

Ahmed Patel Rajya Sabha Online Education
राष्ट्रीय1 week ago

ऑनलाइन कक्षाओं के लिए गरीब छात्रों को सरकार दे वित्तीय मदद : अहमद पटेल

Sukhwinder-Singh-
मनोरंजन1 month ago

सुखविंदर की नई गीत, स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर देश को समर्पित

Modi Independence Speech
राष्ट्रीय1 month ago

Protected: 74वें स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी का भाषण, कहा अगले साल मनाएंगे महापर्व

राष्ट्रीय2 months ago

उत्तराखंड में ITBP कैम्‍प के पास भूस्‍खलन, देखें वीडियो

Kapil Sibal
राजनीति4 months ago

तेल से मिले लाभ को जनता में बांटे सरकार: कपिल सिब्बल

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय5 months ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर5 months ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य6 months ago

WHO को दिए जाने वाले अनुदान पर रोक को लेकर टेडरोस ने अफसोस जताया

Sonia Gandhi Congress Prez
राजनीति6 months ago

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

Most Popular