चीन में भारी बारिश, 16 की मौत | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

चीन में भारी बारिश, 16 की मौत

Published

on

rain-min (1)
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

चीन में मूसलाधार बारिश से हुई तबाही में 16 लोग मारे गए हैं और 12 लोगों के लापता होने की सूचना मिली है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, गुआंगशी झुआंग स्वायत्त क्षेत्र में एक सप्ताह से हो रही मूसलाधार बारिश से छह शहरों और 32 काउंटी में बाढ़ की स्थिति पैदा हुई है, जिसमें नौ लोग मारे गए हैं और 360,000 से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं।

बाढ़ की वजह से 1,300 घर क्षतिग्रस्त हुए हैं। 17,000 निवासियों को वहां से निकाला गया है। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान ब्यूरो ने मंगलवार को सुबह 10:30 बजे एक येलो अलर्ट जारी किया जिसमें अगले 24 घंटों में भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है।

गुआंगदोंग प्रान्त में सात लोग मारे गए हैं और एक अभी भी लापता है। मूसलाधार बारिश की वजह से कई सड़कें और कई मकान ध्वस्त हो गए हैं।

हेयुआन शहर की तीन काउंटी, एक सप्ताह से अधिक समय से चलने वाले आंधी-तूफान से सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों में से है।110,000 से अधिक लोग इससे प्रभावित हुए हैं और 956 घर नष्ट हो गए हैं।

–आईएएनएस

अंतरराष्ट्रीय

चीन की बढ़ती दबंगई के बीच ‘क्वाड’ देशों के विदेश मंत्री 6 अक्टूबर को टोक्यो में करेंगे बैठक

Published

on

जापान, संयुक्त राज्य अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और भारत के विदेश मंत्री अगले सप्ताह टोक्यो में मिलेंगे और अपने देशों की मुक्त और खुले भारत-प्रशांत क्षेत्र के प्रति प्रतिबद्धता को जाहिर करेंगे। जापानी मीडिया ने विदेश मंत्री तोशिमित्सु मोतेगी के हवाले से मंगलवार को यह जानकारी दी। 

मोतेगी की 6 अक्टूबर की बैठक, अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ, ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री मारिज पायने और उनके भारतीय समकक्ष सुब्रह्मण्यम जयशंकर की बैठक क्षेत्र में चीन की बढ़ती दबंगई के बीच होनी है। 

लोकतंत्र के प्रतिनिधियों के बीच बातचीत, जिसे सामूहिक रूप से Quad (क्वाड) के रूप में जाना जाता है, कोरोनावायरस महामारी की शुरुआत के बाद से टोक्यो द्वारा आयोजित पहला मंत्री स्तरीय बहुप्रचारित सम्मेलन होगा। वे पिछले साल सितंबर में न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान अलग से उनकी बैठक के बाद मिल रहे हैं। 

मोतेगी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “यह उचित समय पर है कि चार देशों के विदेश मंत्री, जो क्षेत्रीय मामलों में समान महत्वाकांक्षाओं को साझा करते हैं, विभिन्न चुनौतियों पर विचारों का आदान-प्रदान करें।” साथ ही उन्होंने कहा वह अपने प्रत्येक समकक्ष के साथ द्विपक्षीय वार्ता करने का इरादा भी रखते हैं।

उन्होंने कहा, “कोरोनावायरस के बाद की दुनिया में स्वतंत्र और खुले इंडो-पैसिफिक क्षेत्र के विजन का मूल्य बढ़ा गया है और मुझे उम्मीद है कि इस दृष्टि को साकार करने की दिशा में कई देशों के साथ समन्वय को और गहरा बनाने के महत्व के बारे में विदेश मंत्री की बैठक में पुष्टि होगी।”

प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा ने 16 सितंबर को कार्यभार संभाला है और इसके साथ ही पिछले लगभग आठ वर्षों में देश के पहली बार नेतृत्व परिवर्तन हुआ है। जापानी मीडिया के मुताबिक इस मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने सोमवार को बताया कि पीएम सुगा ने इस चार-पक्षीय बैठक के मौके पर पोम्पेओ से अलग से मिलने की योजना भी बनाई है।

इस क्षेत्र में चीन के बढ़ते दबदबे को देखते हुए संयुक्त राज्य अमेरिका, जापान, ऑस्ट्रेलिया और भारत ने भारत-प्रशांत क्षेत्र में नियम-आधारित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए सहयोग को आगे बढ़ाया है। इसमें कानून के शासन का पालन, समुद्र और आसमान में आवाजाही की स्वतंत्रता और विवादों का शांतिपूर्ण निपटारा शामिल है। 

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

नेपाल ने पर्वतारोहण, ट्रेकिंग के लिए जारी किए नए दिशानिर्देश

Published

on

काठमांडू, 29 सितंबर (आईएएनएस)| नेपाल के संस्कृति, पर्यटन और नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने पर्वतारोहण और ट्रेकिंग गतिविधियों में हिस्सा लेने वाले विदेशी पर्यटकों के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं, ताकि कोविड-19 को फैलने से रोका जा सके।

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

कोविड-19 : नया गलोबल टेस्ट ‘मिनटों में’ देगा परिणाम

Published

on

WHO

एक परीक्षण जो कोविड-19 को मिनटों में पता कर सकता है, नाटकीय रूप से कम और मध्यम आय वाले देशों में मामलों का पता लगाने की क्षमता को बढ़ाएगा। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने यह टिप्पणी की है।

निमार्ताओं के साथ एक सौदा छह महीने में 12 करोड़ परीक्षण प्रदान करेगा।

डब्ल्यूएचओ के प्रमुख ने इसे मील का पत्थर कहा है।

परीक्षण कराने और परिणाम प्राप्त करने के बीच लंबे अंतराल ने कई देशों के कोरोनावायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के प्रयासों में बाधा उत्पन्न की है।

भारत और मेक्सिको सहित उच्च संक्रमण दर वाले कुछ देशों में, विशेषज्ञों ने कहा है कि कम परीक्षण दर उनके प्रकोपों के सही प्रसार को बाधित कर रहे हैं।

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस एडहैनम घ्रेब्रेयसस ने सोमवार को एक न्यूज कॉन्फ्रेंस में बताया, नया, अत्यधिक पोर्टेबल और आसानी से इस्तेमाल किया जाने वाला टेस्ट घंटे या दिनों के बजाय 15-30 मिनट में परिणाम प्रदान करेगा।

ट्रेडोस ने बताया कि दवा निमार्ता एबॉट और एसडी बायोसेंसर ने चैरिटेबल बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के साथ मिलकर 12 करोड़ टेस्ट प्रोड्यूस करने के लिए सहमति व्यक्त की है।

डील में 133 देशों को शामिल किया गया है, जिसमें लैटिन अमेरिका के कई देश शामिल हैं जो वर्तमान में कोरोना से बुरी तरह प्रभावित हैं।

ट्रेडोस ने कहा कि यह परीक्षण को बढ़ाएगा, विशेष रूप से कठिन पहुंच वाले क्षेत्रों में, जिनके पास प्रयोगशाला सुविधाएं नहीं हैं या परीक्षण करने के लिए पर्याप्त प्रशिक्षित स्वास्थ्य कार्यकर्ता नहीं है।

–आईएएनएस


Continue Reading

Most Popular