हेडली ने कहा- पिता की मौत के बाद पूर्व पीएम गिलानी भी हमारे घर आए थे। | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

हेडली ने कहा- पिता की मौत के बाद पूर्व पीएम गिलानी भी हमारे घर आए थे।

Published

on

डेविड हेडली
हेडली

मुंबई में 26/11 के आतंकी हमलों की साजिशों में शामिल डेविड कोलमैन हेडली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए क्रॉस एग्जामिनेशन शुक्रवार को तीसरे दिन भी जारी है।

हेडली ने खुलासा करते हुए बताया कि उसके पिता की मौत के कुछ हफ्तों बाद ही पाकिस्तानी प्रधानमंत्री युसूफ रजा गिलानी उसके घर आए थे।

हेडली का कहना है कि जब उसके पिता जो कि रेडियो पाकिस्तान के महानिदेशक थे का निधन 25 दिसंबर 2008 को हुआ था। हेडली ने कहा कि उसके पिता, भाई और कुछ बाकी परिजन पाकिस्तान इस्टैबलिसमेंट से जुड़े हुए थे, लेकिन वह उनका नाम जाहिर नहीं कर सकता।

कोर्ट को हेडली ने बताया कि उसने खुद अपने पिता से लश्कर के साथ अपनें संबंधों की चर्चा की थी। हैडली ने कहा, ‘मैंने खुद अपने पिता को बताया था कि मैं लश्कर से जुड़ा हूं।’

आतंकी ने बताया कि 9/11 के हमले को लेकर कभी उससे कोई पूछताछ नहीं की गई। उसने कहा कि पाकिस्तान में उसे एक बार गिरफ्तार किया गया था, क्योंकि उसकी पूर्व पत्नी फैजा ने उसके खि‍लाफ केस दर्ज करवाया था।

हेडली ने मुंबई के एक कोर्ट में जिरह के दौरान कहा कि वह भारत से बदला लेना चाहता था, क्योंकि भारत ने विमान के जरिए 1971 में उसके स्कूल को तबाह किया था। अपने इस बदले को पूरा करने के लिए ही उसने लश्कर-ए-तैयबा ज्वॉइन किया.

हेडली ने अदालत को बताया कि उसकी याचिका में भारत या पाकिस्तान को प्रत्यर्पण से इनकार जैसी शर्तों को उसने नहीं जुड़वाया है। हेडली ने कहा, ‘इस ओर एफबीआई और वकीलों की मीटिंग के दौरान मैं शामिल नहीं रहा हूं। मैंने याचिका में यह शर्तें नहीं जुड़वाई कि मैं भारत या पाकिस्तान को प्रत्यर्पण नहीं करूंगा या मुझे फांसी की सजा नहीं दी जाए।’

हेडली ने जिरह के तीसरे दिन कहा, ‘मैं बहुत खराब इंसान हूं। मैं अपना अपराध स्वीकार कर चुका हूं।’

जेल में कोई लग्जरी सुविधा न दिए जाने पर आतंकी ने हंसते हुए जवाब दिया, “वकील वाहब खान से उससे पूछा कि क्या जेल में उसे वैवाहिक अधिकार दिया गया? लेकिन जज जीके सनप और स्पेशल पब्लिक प्रॉसिक्यूटर उज्ज्वल निकम ने इस तरह के सवाल करने पर आपत्ति जताई।

इससे पहले गुरुवार को जिरह के दौरान हेडली ने कहा था कि लश्कर ने शि‍वसेना के संस्थापक बाल ठाकरे की हत्या की असफल कोशि‍श की थी। उसने यह भी कबूल किया उसने इस बाबत दो बार शि‍वसेना भवन की रेकी की थी।

wefornews bureau 

अंतरराष्ट्रीय

ट्रंप चुनाव अभियान के आखिरी 3 दिनों में 14 रैलियां करेंगे

Published

on

Donald Trump

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मंगलवार के राष्ट्रपति चुनाव से पहले 14 रैलियां करने वाले हैं। ट्रंप इस दौरान मतदाताओं से उन्हें दूसरे कार्यकाल के लिए चुनने का आग्रह करेंगे।

द हिल न्यूज वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रपति के चुनाव-प्रचार अभियान के लिए शुक्रवार को एक बयान में बताया गया कि ट्रंप पेंसिल्वेनिया में शनिवार को चार रैलियां करेंगे। यह एक प्रमुख चुनावी मैदान माना जाता है, जहां ट्रंप मतदाताओं को उनका समर्थन करने की अपील करेंगे।

साल 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप ने पेंसिल्वेनिया में 48.18 प्रतिशत मतपत्रों के साथ जीत हासिल की। लेकिन इस बार के चुनाव में राष्ट्रपति ट्रंप अपने डेमोकेट्रिक प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन से पीछे हैं।

गुरुवार को जारी नवीनतम हिल/हैरिस बैटलग्राउंड पोल में, बाइडन ट्रंप पर भारी पड़ते दिखाई दे रहे हैं। बाइडेन को जहां 51 प्रतिशत लोगों का समर्थन मिलता दिख रहा है, वहीं ट्रंप के समर्थन में 46 प्रतिशत लोग नजर आ रहे हैं।

इस आधिकारिक बयान में बताया गया है कि चुनाव अभियान के तहत राष्ट्रपति रविवार को मिशिगन, लोवा, उत्तरी कैरोलिना, जॉर्जिया और फ्लोरिडा में पांच रैलियां करेंगे। चुनाव के दिन भी, ट्रंप सोमवार को उत्तरी कैरोलिना, पेंसिल्वेनिया और विस्कॉन्सिन में पांच और रैलियों में भाग लेंगे।

द हिल न्यूज वेबसाइट की रिपोर्ट में बताया गया है कि घोषणा के अनुसार, राष्ट्रपति ग्रैंड रेपिड्स, मिशिगन में अंतिम कार्यक्रम आयोजित करेंगे, यह वही शहर है, जहां उन्होंने 2016 के अभियान की अपनी अंतिम रैली आयोजित की थी।

शुक्रवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा कि वह चुनाव के दिन यात्रा कर सकते हैं।उन्होंने कहा, मैं आपको अगले दो दिनों में जवाब दूंगा।

आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

दुनियाभर में कोरोना मामलों की संख्या 4.54 करोड़ के पार पहुंची

Published

on

Coronavirus

दुनियाभर में कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या 4.54 करोड़ के पार पहुंच गई है जबकि 1,187,020 से अधिक लोग इस बीमारी से जान गंवा चुके हैं। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी ने यह जानकारी दी।

यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर सिस्टम्स साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) ने अपने नवीनतम अपडेट में बताया कि शनिवार सुबह तक कुल मामलों की संख्या 45,477,552 रही जबकि मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,187,023 हो गई।

सीएसएसई के अनुसार, दुनिया में सबसे अधिक 9,036,678 मामलों और 229,594 मौतों के साथ अमेरिका प्रभावित देशों की सूची में शीर्ष पर बना हुआ है। वहीं, 8,088,851 मामलों के साथ भारत दूसरे स्थान पर है, जबकि देश में मरने वालों की संख्या बढ़कर 121,090 हो गई।

सीएसएसई के अनुसार, कोरोना के अधिकतम मामलों वाले शीर्ष अन्य 15 देश ब्राजील (5,494,376), रूस (1,588,433), फ्रांस (1,377,347), स्पेन (1,185,678), अर्जेटीना (1,157,179), कोलंबिया (1,053,122), ब्रिटेन (992,874), मेक्सिको (912,811), पेरू (897,594), दक्षिण अफ्रीका (723,682), इटली (647,674), ईरान (604,952), जर्मनी (517,736), चिली (508,571) और इराक (470,633) हैं।

वर्तमान में मौतों के मामले में 158,969 लोगों की मौत के साथ ब्राजील दूसरे स्थान पर है।वहीं, 10,000 से ज्यादा मौतों वाले अन्य देश मेक्सिको (90,773), ब्रिटेन (46,319), इटली (38,321), फ्रांस (36,605), स्पेन (35,878), ईरान (34,478), पेरू (34,362), कोलंबिया (31,421),अर्जेंटीना (30,792), रूस (27,462), दक्षिण अफ्रीका (19,230), चिली (14,158), इंडोनेशिया (13,782), इक्वाडोर (12,632), बेल्जियम (11,308), इराक (10,862), जर्मनी (10,391), तुर्की (10,177) और कनाडा (10,163) हैं।


आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

तुर्की और ग्रीस में भूकंप से भीषण तबाही, अब तक 17 लोगों की मौत

Published

on

फोटो- नवजीवन

शक्तिशाली भूकंप में तुर्की में अब तक 17 लोगों की मौत हो गई, जबकि 709 लोग घायल हो गए। तुर्की के आपदा और आपातकालीन प्रबंधन प्रेसीडेंसी ने इस बात की पुष्टि की है। बचाव और राहत कार्य में चिकित्सा बचाव टीमें इजमिर में काम में जुटी हैं।

अमेरिकी जियोलॉजिकल सर्वे (यूएसजीएस) के अनुसार रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 7.0 मापी गई है। इस भूकंप का केंद्र पश्चिमी तुर्की के इजमिर शहर के पास बताया जा रहा है, जहां से सबसे ज्यादा नुकसान की खबरें आ रही हैं।

वहीं, ग्रीस में भी भूकंप से काफी तबाही हुई है। ग्रीस में जहां जोरदार भूकंप आया, वहां इसकी वजह से कई मकान के क्षतिग्रस्त होने की खबर है।

तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगन ने भूकंप के बाद ट्वीट कर लिखा- गेट वेल सून इमजिर। हम राज्य के सभी संसाधनों के साथ भूकंप प्रभावित अपने नागरिकों के साथ खड़े हैं। हमने अपने संबंधित संस्थाओं और मंत्रियों के साथ जरूरी कार्य शुरू कर दिए हैं।

इस दौरान लोगों ने ट्वीट पर वीडियो जारी कर भूकंप के बाद सुनामी आने का दावा भी किया है। वीडियो में भूकंप के बाद पानी की तेज लहरें और शहरी इलाकों में आती दिखाई दे रही है।

इससे पहले अगस्त 1999 में इस्तांबुल के दक्षिणपूर्व में बसे शहर इजमिर में 7.6 तीव्रता का भूकंप आया था। इस भूकंप 17,000 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। साल 2011 में पूर्वी शहर वान में आए एक शक्तिशाली भूकंप ने पांच सौ लोगों की जान ले ली थी।

WeForNews


Continue Reading

Most Popular