गुजरात: गुलबर्ग सोसाइटी दंगा मामले में आज आ सकता है फैसला | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राष्ट्रीय

गुजरात: गुलबर्ग सोसाइटी दंगा मामले में आज आ सकता है फैसला

Published

on

गुजरात

एक विशेष एसआईटी अदालत 2002 के गोधरा कांड के बाद गुलबर्ग सोसाइटी में हुए दंगों के मामले में आज अपना फैसला सुना सकती है । इस मामले में कांग्रेस के पूर्व सांसद एहसान जाफरी सहित 69 लोग मारे गए थे । विशेष अदालत के न्यायाधीश पी बी देसाई 22 सितंबर 2015 को ट्रायल संपन्न होने के आठ महीने से भी ज्यादा समय बाद ये फैसला सुनाएंगे । मामले की निगरानी कर रहे उच्चतम न्यायालय ने एसआईटी अदालत को निर्देश दिया था कि वह अपना फैसला 31 मई तक सुनाए ।

इस मामले में एसआईटी ने 66 आरोपियों को नामजद किया था जिनमें से नौ आरोपी पिछले 14 साल से जेल में हैं जबकि बाकी आरोपी जमानत पर हैं । एक आरोपी बिपिन पटेल असरवा सीट से भाजपा का निगम पाषर्द है । साल 2002 में दंगों के वक्त भी बिपिन पटेल निगम पाषर्द था । पिछले साल उसने लगातार चौथी बार जीत दर्ज की ।

पिछले हफ्ते अदालत ने नारायण टांक और बाबू राठौड़ नाम के दो आरोपियों की ओर से दायर वह अर्जी खारिज कर दी थी जिसमें उन्होंने अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए नार्को अनालिसिस और ब्रेन मैपिंग टेस्ट कराने की गुहार लगाई थी । अदालत ने कहा कि अब जब फैसला आने वाला है तो इसकी जरूरत नहीं है । गुलबर्ग सोसाइटी मामला 2002 के गुजरात दंगों के उन नौ मामलों में से एक है जिनकी जांच उच्चतम न्यायालय की ओर से गठित एसआईटी कर रही है।

wefornews bureau

राष्ट्रीय

मुंबई से दिल्ली जा रही इंडिगो फ्लाइट से पक्षी टकराया

Published

on

indigo

मुंबई के पास रविवार को एक बड़ा हादसा होने से टल गया, जहां इंडिगो के विमान से अचानक चिड़िया टकरा गई। इसके बाद तुरंत उसे वापस मुंबई एयरपोर्ट पर लैंड करवाया गया।

विमान में सवार सभी यात्री सुरक्षित बताए जा रहे हैं। वहीं यात्रियों के लिए इंडियो प्रबंधन ने दूसरी फ्लाइट की व्यवस्था कर दी है।

जानकारी के मुताबिक इंडिगो की फ्लाइट 6E 5047 रविवार को मुंबई से दिल्ली आ रही थी। इसी दौरान उससे चिड़िया टकरा गई। जिसके बाद तुरंत उसे मुंबई वापस बुला लिया गया।

इस हादसे में किसी भी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। इंडिगो अधिकारियों के मुताबिक उन्होंने तुरंत यात्रियों के लिए दूसरे विमान की व्यवस्था की। हालांकि अब फ्लाइट दिल्ली थोड़ी देरी से पहुंचेगी।

Continue Reading

राष्ट्रीय

तमिलनाडु से लेकर दिल्ली और पंजाब तक जवानों को दे रहे इम्युनिटी बूस्टर

Published

on

कोरोना महामारी से बचाव के लिए अब ज्यादातर राज्य अपने मानव संसाधन की इम्युनिटी बढ़ाने की राह पर हैं। तमिलनाडु से लेकर दिल्ली और पंजाब तक में सुरक्षा जवानों को इम्युनिटी बूस्टर दिए जा रहे हैं ताकि संक्रमण से उनका बचाव हो सके। देश के सात लाख आयुष चिकित्सकों को गाइडलाइंस भी भेजी जा चुकी है।

हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा था कि कोविड महामारी के प्रबंधन में आयुष चिकित्सा की भूमिका अहम है। उन्होंने बताया कि आयुष मंत्रालय के जरिए देश भर के आयुष चिकित्सकों को इम्युनिटी बूस्टर पर दिशा निर्देश भेजे जा चुके हैं।

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए गिलोय, अश्वगंधा और तुलसी इत्यादि औषधियों से निर्मित काढ़ा का इस्तेमाल जवान कर रहे हैं। जवानों को आयुरक्षा किट उपलब्ध कराई जा रही है जिसमें काढ़ा के अलावा औषधियों से बनीं दवाएं शामिल हैं।

पंजाब में भी कुछ ही समय पहले मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पुलिस जवानों को किट वितरित करने का फैसला लिया था। इसमें एमिनिटी प्लस के अलावा मास्क, ऑक्सीमीटर व औषधियों से निर्मित दवाएं शामिल हैं।

इस किट का निर्माण करने वाली एमिल फॉर्मास्युटिकल के कार्यकारी निदेशक डॉ. संचित शर्मा ने बताया कि एमिनिटी प्लस को 51 जड़ी बूटियों से बनाया है। इनमें अश्वगंधा, गुडुची, सुंठी, हरद बड़ी, यास्तीमधु, आमला, मजीठा, हरिद्रा, नीम इत्यादि शामिल हैं। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के अलावा इसमें मौजूदा एंटी आक्सीडेंट तत्व शरीर में मौजूदा जहरीले तत्वों को बाहर निकालने में मददगार हैं।

वहीं तमिलनाडु सरकार ने भी अपने यहां कोरोना योद्घाओं को अथिमाथुराम और काबसुरा कुदिनेर इम्युनिटी बूस्टर का इस्तेमाल कराने का फैसला लिया है। इसे लेकर कोरोना योद्घाओं को किट वितरण का सिलसिला भी शुरू हो चुका है।

मुख्यमंत्री एडाप्पडी के. पलानीस्वामी ने जारी बयान में कहा है कि अब तक कोरोना वायरस का कारगर उपचार सामने नहीं आया है। ऐसे में रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत रखना ही एकमात्र विकल्प है। चूंकि कोरोना योद्घाओं को संक्रमण का खतरा ज्यादा है। इसलिए इम्युनिटी बूस्टर के इस्तेमाल का फैसला लिया।

उधर, आयुष मंत्रालय ने बताया कि इम्युनिटी बूस्टर के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए ई मैराथन का निर्णय लिया है। 28 सिंतबर से 10 अक्तूबर तक चलने वाले इस आयोजन का समापन आयुष फॉर इम्युनिटी अभियान के विहारा केंद्र बिंदु के साथ होगा। प्रतिभागी अपनी पंसद की जगह पर भाग ले सकेंगे। कंप्यूटर तकनीक आधारित एक ऐप के जरिए सभी प्रतिभागियों को जोड़ा जाएगा।

Continue Reading

मनोरंजन

ड्रग्स केस में कोर्ट ने क्षितिज प्रसाद को 3 अक्टूबर तक NCB रिमांड पर भेजा

Published

on

सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड मामले ने पिछले तीन महीने से ज्यादा समय में बड़े मोड़ लिए हैं। इन सभी में ड्रग्स का केस समय के साथ और बड़ा होता जा रहा है।

आज धर्मा के पूर्व एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर क्षितिज प्रसाद की कोर्ट में पेशी हुई, जिसमें उन्हें 3 अक्टूबर तक की रिमांड में रखने का आदेश दे दिया गया है। अब क्षितिज 3 अक्टूबर तक एनसीबी की कस्टडी में रहेंगे। इस दौरान एनसीबी की टीम ड्रग पेडलर्स के बारे में जानकारी उनसे हासिल करेगी।

एनसीबी ने क्षितिज प्रसाद की 9 दिनों की रिमांड की मांग कोर्ट से की है। एनसीबी का कहना है कि अंकुश अरनेजा से पूछताछ में क्षितिज प्रसाद का नाम सामने आया था। क्षितिज के घर पर एनसीबी के अधिकारीयों ने जब जांच की थी तब उन्हें गांजा बरामद हुआ था।

कोर्ट में पेशी से पहले क्षितिज का मेडिकल टेस्ट हुआ है। ड्रग्स केस में पूछताछ के बाद क्षितिज को एनसीबी गिरफ्तार कर ली थी। एनसीबी की पूछताछ में क्ष‍ितिज ने ड्रग डीलर्स से ड्रग लेने की बात कबूल की है।

वहीं पूछताछ में दीपिका पादुकोण ने स्वीकार कर लिया है कि जिस ड्रग्स चैट का खुलासा हुआ था वो उन्हीं की थी। ड्रग्स मामले को लेकर मुंबई में एनसीबी की सारा अली खान और श्रद्धा कपूर से पूछताछ जारी है।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular