कश्मीर में गोलीबारी, 3 आतंकवादी ढेर | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

राष्ट्रीय

कश्मीर में गोलीबारी, 3 आतंकवादी ढेर

Published

on

कश्मीर

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में शनिवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में तीन आतंकवादियों को मार गिराया गया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, “पुलवामा जिले के पंजगाम गांव में हिजबुल मुजाहिद्दीन के तीन स्थानीय आतंकवादी आज सुबह (शनिवार) को मार गिराया गया।”

राष्ट्रीय राइफल्स, विशेष ऑपरेशन्स समूह और केंद्रीय रिजर्व पुलिसबल के जवानों ने शुक्रवार देर रात गांव को चारों ओर से घेर लिया और तड़के लगभग 3.30 बजे मुठभेड़ शुरू हो गई।

जिस स्थान पर आतंकवादी छिपे हुए थे। उस स्थान को सुरक्षाबलों द्वारा चारों ओर से घेरने के बाद आतंकवादियों ने अंधाधुंध गोलियां चलानी शुरू कर दी।

फिलहाल, घटनास्थल पर गोलीबारी बंद हो गई है लेकिन तलाशी अभियान जारी है।

wefornews bureau

मनोरंजन

सुशांत मामले में अर्जुन रामपाल की गर्लफ्रेंड का भाई हुआ अरेस्ट

Published

on

सुशांत सिंह राजपूत ड्रग्स मामले की जांच भले ही धीमी हो गई हो मगर इस मामले में एनसीबी द्वारा गिरफ्तारी अभी भी जारी है। हाल ही में इस मामले में 22वीं गिरफ्तारी की गई थी। जय मधोक नामक शख्स को एनसीबी ने गिरफ्तार किया था। अब ताजा रिपोर्ट्स की मानें तो मामले में 23वीं गिरफ्तारी भी हो गई है। अफ्रीकी मूल के निवासी अगिसिलाओस डेमेट्रिएड्स को ड्रग्स मामले में एनसीबी ने गिरफ्तार किया है।

सुशांत केस में ड्रग एंगल आने के बाद से इस केस में काफी बदलाव देखने को मिला. बॉलीवुड के कई स्टार्स पर एनसीबी ने शिकंजा कसा। अब तक 22 लोगों को एनसीबी ने गिरफ्तार किया था अब ये 23वीं बड़ी गिरफ्तारी भी हो गई है। अफ्रीका मूल के इस निवासी का गिरफ्तार होना इस मामले में क्या राज खोलेगा ये तो आने वाले वक्त में ही पता चलेगा. ड्रग्स के लेन-देन के मामले में शख्स को गिरफ्तार किया गया है।

अगिसिलाओस डेमेट्रिएड्स की बात करें तो उनके पास थे हशीष और एल्प्राजोलम की टेबलेट्स बरामत की गई है। बता दें कि अगिसिलाओस डेमेट्रिएड्स दरअसल एक्टर अर्जुन रामपाल की लिव इन पार्टनर गैब्रिएला डेमेट्रिएड्स के भाई हैं।

Continue Reading

राष्ट्रीय

दिल्ली हिंसा: तीन आरोपियों की जामनत याचिका अदालत ने की खारिज

Published

on

Delhi Violence

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़के साम्प्रदायिक दंगों के मामले में आरोपी तीन लोगों की जमानत याचिका अदालत ने खारिज कर दी है। अदालत ने कहा कि इन आरोपियों पर हत्या, हत्या प्रयास व आगजनी जैसे गंभीर आरोप हैं। इन्हें जमानत पर रिहा नहीं किया जा सकता।

कड़कड़डूमा स्थित अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश विनोद यादव की अदालत ने दयालपुर इलाके में हुए दंगोंं से जुड़े तीन आरोपियों की जामनत याचिका नामंजूर करते हुए कहा कि इन आरोपियों के खिलाफ कई सारे दंगे के मामले दर्ज हैं।

इनमें हत्या, हत्या प्रयास, लूट, आगजनी आदि गंभीर आरोप हैं। ये उसी इलाके के रहने वाले हैं जहां शिकायतकर्ता परिवार रहते हैं। ऐसे में गवाहों को धमकाने से लेकर उन्हें प्रभावित करने का खतरा लगातार बना रहेगा। दूसरा अभी दंगों से संबंधित मामलों में जांच जारी है। इन परिस्थितियों में भी आरोपियों को जमानत देना उचित नहीं है।

वहीं बचाव पक्ष के वकीलों का कहना था कि उनके मुवक्किलों को गलत व झूठे आरोपों में फंसाया गया है। वकीलों ने जांच पर भी सवाल खड़े किए। इनका कहना था कि जांच निष्पक्ष नहीं है। जानबूझकर समुदाय विशेष के अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा रहा है। जबकि वह खुद इन दंगों में सबसे ज्यादा प्रभावित रहे हैं। विशेष लोक अभियोजक मनोज चौधरी ने आरोपी पक्ष के वकीलों की दलील का विरोध किया।

उन्होंने कहा कि किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी पुख्ता साक्ष्यों के आधार पर की जा रही है। आरोपी को गिरफ्तार करते समय साक्ष्य देखे जा रहे हैं ना की समुदाय। इस तरह के बेबुनियाद आरोप लगाकर दंगों को एक नया रंग देने का प्रयास ना किया जाए।

पेश मामले में तीनों आरोपियों पर आरोप है कि 23 फरवरी को वजीराबाद रोड चांदबाग से दंगों की शुरुआत हुई। जोकि उत्तर-पूर्वी के अधिकांश हिस्सों मेंं जल्द ही फैल गए। यह दंगे 26 फरवरी तक चले। आरोपियों ने दयालपुर स्थित बृजपुरी पुलिया पर बड़ी संख्या में लोगों के साथ मारकाट की।

इनमें से कई की मौत हो गई। जबकि कई पीड़ित गंभीर रुप से जख्मी हुए। वहीं, इलाके की कई दुकाने लूटी गईं व उन्हें आग लगा दी गई। इन सभी घटनाओं में आरोपी शामिल रहे।

Continue Reading

राष्ट्रीय

यूपी के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा समेत 3 लोगों के खिलाफ रेप का केस दर्ज

Published

on

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले की ज्ञानपुर सीट से निर्दलीय विधायक विजय मिश्रा के खिलाफ रेप का केस दर्ज किया गया है। पीड़िता का आरोप है कि साल 2014 से विजय मिश्रा उसका शारीरिक शोषण कर रहा था।

बता दें, बाहुबली विधायक विजय मिश्रा पर रेप का केस दर्ज होने से पहले मकान और कंपनी पर कब्जा करने समेत कई अन्य मामले भी दर्ज हैं। इस साल अगस्त के महीने में विधायक विजय मिश्रा को मध्य प्रदेश के आगर मालवा से गिरफ्तारी किया गया था।

पीड़िता ने बताया, ‘साल 2014 में विजय मिश्रा ने अपने यहां गायन का कार्यक्रम कराने के लिए बुलाया था। जब कार्यक्रम के लिए मैं पहुंची और अंदर कपड़े बदल रही थी, उसी वक्त विजय मिश्रा कमरे में आ गए और मुझे डरा धमकाकर मेरा यौन शोषण किया। इसके बाद जान से मरवा देने की धमकी भी दी गई।

इसके बाद नौकरी के बहाने से 2015 में इलाहाबाद अल्लापुर बुलाया और वहां भी मेरा शारीरिक शोषण किया। मेरा वीडियो क्लिप भी उसने रखा हुआ है। विजय मिश्रा के बड़े-बड़े अपराधियों से संबंध होने के कारण डर की वजह से मैं किसी को कुछ नहीं बता सकी।’

महिला का आरोप है कि उसे वाराणसी छोड़ने ले जाते वक्त विधायक के बेटे विष्णु मिश्रा और विकास मिश्रा ने भी उसके साथ रेप किया। पीड़िता के मुताबिक, उसने व्हाट्सऐप के स्क्रीन शॉट भी एफआईआर में लगाए हैं।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular