रैली के दौरान डोनाल्ड ट्रंप का मर्डर करने पहुंचा युवक गिरफ्तार | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

रैली के दौरान डोनाल्ड ट्रंप का मर्डर करने पहुंचा युवक गिरफ्तार

Published

on

अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी से लगभग तय उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को एक ब्रिटिश युवक मार डालना चाहता था।

शनिवार को लास वेगास में ट्रंप की एक रैली में सिक्योरिटी गार्ड से बंदूक छीनने की कोशिश में गिरफ्तार युवक से पूछताछ में यह खुलासा हुआ है। गिरफ्तार किए गए 19 साल का युवक माइकल स्टीवन सैंडफोर्ड ब्रिटिश नागरिक है। कोर्ट में पेश किए गए दस्तावेज के आधार पर कहा जा रहा है कि सैंडफोर्ड ट्रंप को जान से मारने के लिए ही गार्ड से बंदूक छिन रहा है।उसे जल्द ही नेवादा कोर्ट में पेश किया जाएगा। इस मामले में 5 जुलाई को कोर्ट में सुनवाई होगी।

कोर्ट को दी गई जानकारी के मुताबिक सैंडफोर्ड शनिवार को ट्रेजर आइलैंड कसीनो में हुए डोनाल्ड ट्रंप की रैली में गया था। वहां वह एक सिक्योरिटी गार्ड के पास गया। उसने कहा कि वह डोनाल्ड ट्रंप से ऑटोग्राफ लेना चाहता है। गार्ड के हल्के ढीले पड़ते ही उसने बंदूक छीनने की कोशिश की। इसके बाद कई गार्ड्स ने मिलकर उसे गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बताया कि सैंडफोर्ड के पास ब्रिटिश ड्राइविंग लाइसेंस है। वह करीब डेढ़ साल से अमेरिका में रह रहा है। सैंडफोर्ड पिछले एक साल से ट्रंप को मारने की योजना बना रहा था। शनिवार को उसने इसे अमली जामा पहनाने का फैसला किया। उसने बताया कि अब इस काम को करने के लिए हिम्मत जुटा ली थी।

सैंडफोर्ड ने बताया कि उसने पहले कभी भी फायरिंग नहीं की है। इसे सीखने के लिए वह 17 जून को लास वेगास के एक फायरिंग रेंज में गया था। पुलिस के मुताबिक उसे पता था कि वह केवल एक या दो राउंड ही फायर कर सकेगा। इस दौरान पुलिस वाले उसे मार देंगे, इसका अंदाजा भी उसने पहले ही लगा लिया था।

गिरफ्तारी के बाद सैंडफोर्ड ने बताया कि अगर वो लास वेगस की रैली में ट्रंप को मारने की कोशिश नहीं कर पाता तो वह फिनीक्स की रैली में यह कोशिश जरूर करता। उसने ट्रंप की फिनीक्स रैली में शामिल होने के लिए टिकट भी लिया हुआ था।

wefornews bureau

अंतरराष्ट्रीय

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले 3.38 करोड़ के पार

Published

on

coronavirus

वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या 3.38 करोड़ के पार हो गई है, जबकि इससे होने वाली मौतों की संख्या लगभग 1,012,900 हो गई है। यह जानकारी जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी ने गुरुवार को दी।

विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) ने अपने नवीनतम अपडेट में खुलासा किया कि गुरुवार की सुबह तक कुल मामलों की संख्या 33,874,283 हो गई और मृत्यु संख्या बढ़कर 1,012,894 हो गई।

सीएसएसई के अनुसार, अमेरिका दुनिया में सबसे अधिक संक्रमण के मामलों 7,229,723 और उससे हुई 206,905 मौतों के साथ सबसे ज्यादा प्रभावित देश है। वहीं भारत 6,225,763 मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है, जबकि देश में मरने वालों की संख्या 97,497 हो गई है।

सीएसएसई के आंकड़ों के अनुसार, मामलों की ²ष्टि से अन्य शीर्ष 15 देशों में ब्राजील (4,810,935), रूस (1,170,799), कोलम्बिया (829,679), पेरू (811,768), स्पेन (769,188), अर्जेंटीना (751,001), मेक्सिको (743,216), दक्षिण अफ्रीका ( 674,339), फ्रांस (604,031), चिली (462,991), ईरान (457,219), ब्रिटेन (455,846), बांग्लादेश (363,479), इराक (362,981) और सऊदी अरब (334,605) हैं।

संक्रमण से हुई मौतों के हिसाब से वर्तमान में ब्राजील 143,952 आंकड़ों के साथ दूसरे स्थान पर है।वहीं 10,000 से अधिक मौत वाले देश मेक्सिको (77,646), ब्रिटेन (42,233), इटली (35,894), पेरू (32,396), फ्रांस (32,396), स्पेन (31,791), ईरान (26,169), कोलंबिया (25,998), रूस (20,630), अर्जेंटीना (16,937), दक्षिण अफ्रीका (16,734), चिली (12,741), इक्वाडोर (11,355), इंडोनेशिया (10,740) और बेल्जियम (10,001) है।

आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

नवाज शरीफ ने गिरफ्तारी वारंट लेने से फिर किया इनकार

Published

on

nawaz sharif

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने लंदन में अपने आवास पर गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट प्राप्त करने के लिए एक बार फिर इनकार कर दिया है। इस्लामाबाद हाईकोर्ट (आईएचसी) को बुधवार इसके बारे में सूचित किया गया।

पीएमएल-एन प्रमुख शरीफ को इस महीने की शुरुआत में अपराधी घोषित किया गया है। उन्होंने इससे पहले भी अपने नाम से जारी गिरफ्तारी वारंट प्राप्त करने से इनकार कर दिया था।

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, संघीय सरकार ने मंगलवार को ब्रिटेन के अधिकारियों को दोषी पूर्व प्रधानमंत्री के निर्वासन के लिए फिर से पत्र लिखने का फैसला किया है। शरीफ को नवंबर 2019 में चिकित्सा उपचार के लिए लंदन जाने की अनुमति दी गई थी, लेकिन बाद में पाकिस्तान में कुछ अदालतों द्वारा उन्हें फरार घोषित कर दिया गया।

आईएचसी की दो सदस्यीय खंडपीठ ने अल-अजीजिया मामले में अपनी सजा के खिलाफ शरीफ की अपील पर सुनवाई करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री की गिरफ्तारी वारंट के निष्पादन के बारे में पूछा।

इस पर अतिरिक्त अटॉर्नी जनरल तारिक खोखर ने कहा कि पाकिस्तान उच्चायोग का एक प्रतिनिधि पूर्व प्रधानमंत्री को गिरफ्तारी वारंट देने के लिए एवेनफील्ड अपार्टमेंट पहुंचा। उन्होंने बताया कि हालांकि उनके द्वारा गिरफ्तारी वारंट स्वीकार नहीं किया गया।

उन्होंने कहा, पाकिस्तान उच्चायोग के एक अधिकारी, राव अब्दुल हनन वारंट के साथ एवेनफील्ड अपार्टमेंट पहुंचे। हालांकि, वारंट स्वीकार नहीं हुआ।

खोखर ने कहा, नवाज शरीफ के वारंट को लागू करने के लिए हर संभव प्रयास किया गया है।

अदालत ने कहा कि नवाज के वकील ने स्वीकार किया है कि वे पीएमएल-एन सुप्रीमो को जारी गिरफ्तारी वारंट के बारे में जानते हैं। सुनवाई के दौरान, भ्रष्टाचार निरोधक इकाई के एक अधिकारी ने अदालत से पूर्व प्रधानमंत्री को भगोड़ा घोषित करने की प्रार्थना की।

न्यायमूर्ति मोहसिन अख्तर कयानी ने सुझाव दिया कि लंदन में पाकिस्तानी मिशन द्वारा एक बयान दर्ज किया जाए, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आरोपी भविष्य में दावा नहीं कर सकता है कि वह इसके बारे में जागरूक नहीं था।

उन्होंने कहा, आरोपी जानता है कि उसने पूरी व्यवस्था को बिगाड़ दिया है।

न्यायाधीश मोहसिन ने कहा कि पीएमएल-एन सुप्रीमो ने देश छोड़ दिया और सरकार और पाकिस्तान के लोगों को धोखा दिया है। मामले की सुनवाई सात अक्टूबर तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

सूत्रों के अनुसार, मंगलवार को एक संघीय कैबिनेट बैठक में प्रधानमंत्री इमरान खान ने संबंधित अधिकारियों को पीएमएल-एन नेता को वापस लाने के लिए सभी उपाय करने को कहा है।

एकेके/एसजीके

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

नवाज शरीफ ने गिरफ्तारी वारंट लेने से फिर किया इनकार

Published

on

nawaz sharif

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने लंदन में अपने आवास पर गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट प्राप्त करने के लिए एक बार फिर ‘इनकार’ कर दिया है। इस्लामाबाद हाईकोर्ट (आईएचसी) को बुधवार इसके बारे में सूचित किया गया।

पीएमएल-एन प्रमुख शरीफ को इस महीने की शुरुआत में अपराधी घोषित किया गया है। उन्होंने इससे पहले भी अपने नाम से जारी गिरफ्तारी वारंट प्राप्त करने से इनकार कर दिया था।

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, संघीय सरकार ने मंगलवार को ब्रिटेन के अधिकारियों को दोषी पूर्व प्रधानमंत्री के निर्वासन के लिए फिर से पत्र लिखने का फैसला किया है। शरीफ को नवंबर 2019 में चिकित्सा उपचार के लिए लंदन जाने की अनुमति दी गई थी, लेकिन बाद में पाकिस्तान में कुछ अदालतों द्वारा उन्हें फरार घोषित कर दिया गया।

आईएचसी की दो सदस्यीय खंडपीठ ने अल-अजीजिया मामले में अपनी सजा के खिलाफ शरीफ की अपील पर सुनवाई करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री की गिरफ्तारी वारंट के निष्पादन के बारे में पूछा।

इस पर अतिरिक्त अटॉर्नी जनरल तारिक खोखर ने कहा कि पाकिस्तान उच्चायोग का एक प्रतिनिधि पूर्व प्रधानमंत्री को गिरफ्तारी वारंट देने के लिए एवेनफील्ड अपार्टमेंट पहुंचा। उन्होंने बताया कि हालांकि उनके द्वारा गिरफ्तारी वारंट स्वीकार नहीं किया गया।

उन्होंने कहा, पाकिस्तान उच्चायोग के एक अधिकारी, राव अब्दुल हनन वारंट के साथ एवेनफील्ड अपार्टमेंट पहुंचे। हालांकि, वारंट स्वीकार नहीं हुआ।

खोखर ने कहा, नवाज शरीफ के वारंट को लागू करने के लिए हर संभव प्रयास किया गया है।अदालत ने कहा कि नवाज के वकील ने स्वीकार किया है कि वे पीएमएल-एन सुप्रीमो को जारी गिरफ्तारी वारंट के बारे में जानते हैं। सुनवाई के दौरान, भ्रष्टाचार निरोधक इकाई के एक अधिकारी ने अदालत से पूर्व प्रधानमंत्री को भगोड़ा घोषित करने की प्रार्थना की।

न्यायमूर्ति मोहसिन अख्तर कयानी ने सुझाव दिया कि लंदन में पाकिस्तानी मिशन द्वारा एक बयान दर्ज किया जाए, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आरोपी भविष्य में दावा नहीं कर सकता है कि वह इसके बारे में जागरूक नहीं था।

उन्होंने कहा, आरोपी जानता है कि उसने पूरी व्यवस्था को बिगाड़ दिया है। न्यायाधीश मोहसिन ने कहा कि पीएमएल-एन सुप्रीमो ने देश छोड़ दिया और सरकार और पाकिस्तान के लोगों को धोखा दिया है। मामले की सुनवाई सात अक्टूबर तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

सूत्रों के अनुसार, मंगलवार को एक संघीय कैबिनेट बैठक में प्रधानमंत्री इमरान खान ने संबंधित अधिकारियों को पीएमएल-एन नेता को वापस लाने के लिए सभी उपाय करने को कहा है।

आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
मनोरंजन2 mins ago

पायल घोष केस में वर्सोवा पुलिस स्टेशन पेश होने के लिए पहुंचे अनुराग कश्यप

Corona Test-min
राष्ट्रीय3 mins ago

दिल्ली अपनी क्षमता से 4 हजार परीक्षण कम कर रही है : हाई कोर्ट

राजनीति11 mins ago

कृषि बिल के विरोध में आज से अकाली दल का प्रदर्शन

delhi high court
राष्ट्रीय14 mins ago

सीआईएसएफ का जवान क्यों गुम है, क्राइम जांच करे : दिल्ली हाईकोर्ट

sensex-min
व्यापार18 mins ago

सेंसेक्स 480 अंक उछला, 1 फीसदी चढ़ा निफ्टी

राष्ट्रीय23 mins ago

कश्मीर में पाकिस्तानी गोलीबारी में एक भारतीय जवान शहीद

राष्ट्रीय27 mins ago

हाथरस कांड: एसआईटी ने शुरू की जांच

Ramnath Kovind
राष्ट्रीय34 mins ago

रामनाथ कोविंद: कानपुर की दलित बस्ती से राष्ट्रपत‍ि भवन तक, ऐसा है सफर

Lpg gas
व्यापार52 mins ago

जानिए इस महीने से रसोई गैस सिलिंडर सस्ता हुआ या महंगा

coronavirus
अंतरराष्ट्रीय53 mins ago

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले 3.38 करोड़ के पार

Sonia Gandhi and Rahul
ब्लॉग4 weeks ago

कांग्रेस की बीमारियां उन्हें क्यों सता रहीं जिन्होंने इसे वोट दिया ही नहीं?

Mayawati
राजनीति3 weeks ago

मायावती शासन की अनियमितताओं पर शुरू होगी कार्रवाई

राजनीति1 week ago

किसान बिल पर हंगामे के चलते राज्यसभा के 8 सांसद निलंबित

Rhea-
मनोरंजन3 weeks ago

सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती को भेजा गया मुंबई जेल

Supreme Court
राष्ट्रीय3 weeks ago

लोन मोरेटोरियम केस: SC ने कहा- आखिरी सुनवाई से पहले जवाब दाखिल करे सरकार

Face-Shield
लाइफस्टाइल4 weeks ago

‘फेस शील्ड और एन-95 मास्क मिलकर भी कोरोना को नहीं रोक सकता’

अंतरराष्ट्रीय3 weeks ago

रूस ने तैयार किया कोविड-19 वैक्सीन का पहला बैच

Coronavirus Test
राष्ट्रीय4 weeks ago

दिल्ली : मार्केट, बस स्टैंड, साप्ताहिक बाजारों में होंगे कोरोना टेस्ट

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य4 weeks ago

बढ़ते संक्रमण के बीच लॉकडाउन को तेजी से खोलना होगा विनाशकारी: WHO

ipl
खेल4 weeks ago

लंबे इंतजार के बाद जारी हुआ शेड्यूल, मुंबई और चेन्नई के बीच होगा पहला मुकाबला

8 suspended Rajya Sabha MPs
राजनीति1 week ago

रात में भी संसद परिसर में डटे सस्पेंड किए गए विपक्षी सांसद, गाते रहे गाना

Ahmed Patel Rajya Sabha Online Education
राष्ट्रीय2 weeks ago

ऑनलाइन कक्षाओं के लिए गरीब छात्रों को सरकार दे वित्तीय मदद : अहमद पटेल

Sukhwinder-Singh-
मनोरंजन2 months ago

सुखविंदर की नई गीत, स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर देश को समर्पित

Modi Independence Speech
राष्ट्रीय2 months ago

Protected: 74वें स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी का भाषण, कहा अगले साल मनाएंगे महापर्व

राष्ट्रीय2 months ago

उत्तराखंड में ITBP कैम्‍प के पास भूस्‍खलन, देखें वीडियो

Kapil Sibal
राजनीति4 months ago

तेल से मिले लाभ को जनता में बांटे सरकार: कपिल सिब्बल

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय5 months ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर6 months ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य6 months ago

WHO को दिए जाने वाले अनुदान पर रोक को लेकर टेडरोस ने अफसोस जताया

Sonia Gandhi Congress Prez
राजनीति6 months ago

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

Most Popular