दिल्ली की सुनसान रातों में पिता का डर्टी गेम, रेप की कोशिश के बाद हत्या | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

शहर

दिल्ली की सुनसान रातों में पिता का डर्टी गेम, रेप की कोशिश के बाद हत्या

Published

on

rape case

दिल्ली में आए दिन रेप, अपहरण और हत्या के मामले देखने को मिलते रहते है। कहा जाता है कि बेटी अपने बाप के साथ सबसे ज्यादा सुरक्षित रहती है। लेकिन क्या मालूम था रक्षक ही भक्षक बनकर अपनी ही बेटी की आबरू को तारतार कर उसको मौत के घाट उतारने के लिए उतारू हो जाएगा।

दक्षिण पूर्व दिल्ली के जैतपुर इलाके में रिश्तों को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। घटना में 35 साल के वहशी पिता ने अपनी 15 साल की बेटी के साथ दुष्कर्म की कोशिश की। वहीं लड़की ने पिता की करतूत का विरोध किया और चुपचाप छत पर जाकर सो गई थी। जिसके बाद गुस्साए पिता नेअपनी ही बेटी का गला घोंट कर उसको जान से मार डाला।

बात यहीं खत्म नहीं हुई, घटना के बाद कातिल पिता ने अपनी पत्नी को और अन्य बच्चों को भी जान से मारने की धमकी देते हुए उन्हें चुप रहने के लिए कहा और फिर चुपचाप अपनी मृतक बेटी का अंतिम संस्कार कर उसकी अस्थियां कालिंदी नदी में बहा दीं।

17 अप्रैल का है मामला

मामला 17 अप्रैल का है जब आरोपी राकेश की पत्नी सुबह सोकर उठी तो उसने देखा कि घर की ऊपरी मंजिल पर सो रही उसकी बड़ी बेटी रमा कंबल में लिपटी हुई थी और उसकी मौत हो गई थी।

बेटी की अश्लील वीडियो बनाता था पिता

आपको बता दें कि रमा की मां जानती थी कि उसका पति उसकी बेटी की अश्लील वीडियो बनाता था और उसके साथ गलत हरकत भी करता था। इस बात पर दोनों का कई बार झगड़ा भी हुआ था। आरोपी ने अपनी पत्नी का जान से मारने की धमकी देते हुए पूरे मामले पर चुप्पी रखने की नसीहत दी थी लेकिन पत्नी ने अपने भाई और पुलिस को सारी घटना की जानकारी दी।

पुलिस ने मामला किया दर्ज

पुलिस ने मामला दर्ज कर कातिल पिता को गिरफ्तार कर अश्लील वीडियो की जांच शुरू कर दी है। पुछताछ के दौरान मालूम चला की कातिल पिता ने अपने पड़ोस में सबको बताया था कि रमा को मिर्गी का दौरा पड़ गया था जिसके चलते उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी पिता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। हालांकि जांच के दौरान मालूम पड़ा के वहशी पिता ने अपनी बेटी की अश्लील वीडियो बना रखी थी।

WEFORNEWS BUREAU

शहर

यूपी के मेरठ में दिल दहला देने वाली वारदात, बोरी में 15 टुकड़ों में खून से सनी मिली महिला की लाश

Published

on

CRIME-SCENE

उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध का सिलसिला जारी है। मेरठ में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है।

बताया जा रहा है कि लिसाड़ी गेट थाना इलाके के श्मशान घाट के पास बोरी में एक महिला की 15 टुकड़ों में लाश मिली है। बोरी में महिला की खून से सनी लाश मिलने के बाद इलाके में सनसनी फैल गई है।

खबरों के मुताबिक, फातिमा गार्डन कॉलोनी के पास श्मशान घाट के पास कुछ बच्चे खेल रहे थे। इसी दौरान बच्चों ने कुत्तों को खून से सनी प्लास्टिक की बोरी को खींचते हुए देखा। इसके बाद बच्चों ने इसकी सूचना परिजनों को दी। जैसे ही लोगों को लाश की सूचना मिली बड़ी संख्या में लोग मौके पर जमा हो गए।

घटना की जानकारी मिलने पर एसपी सिटी अखिलेश नारायण पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने बोरी खोलकर देखा तो सभी के होश उड़ गए। बोरी के अंदर एक महिला की लाश के करीब 15 टुकड़े मिले। पुलिस शव के टुकड़ों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह के मुताबिक, महिला की उम्र करीब 35 साल रही होगी। पुलिस का मानना है कि करीबी व्यक्ति ने पहले हत्या की वारदात को किसी घर में अंजाम दिया।

इसके बाद लाश को कई टुकड़े कर बोरी में भरकर श्मशान घाट के पास फेंकर फरार हो गया। लाश पर कपड़े भी नहीं थे। ऐसे में रेप के बाद हत्या की आशंका भी जताई जा रही है। फिलहाल पुलिस इलाके के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।

WeForNews

Continue Reading

शहर

‘बहुत खराब’ लेवल पर दिल्ली की हवा

Published

on

सर्दियां जैसे-जैसे करीब आ रही हैं दिल्ली-एनसीआर की आबोहवा दिनोंदिन बिगड़ती ही जा रही है। शुक्रवार को भी दिल्ली-एनसीआर जहरीले धुंध की चादर में लिपटा हुआ है। आज तो कई इलाकों में धुंध इतनी ज्यादा थी कि पास की चीजें भी नजर नहीं आ रही थीं। वहीं वायु गुणवत्ता सूचकांक की बात करें तो दिल्ली के कई इलाकोें में यह शुक्रवार सुबह 400 के पार और अधिकतर इलाकों में 300 के पार दर्ज किया गया। 

दिल्ली के अलीपुर में आज सुबह छह बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक 436 दर्ज किया गया जो गंभीर श्रेणी में आता है। वहीं आनंद विहार आदि इलाकों में वायु गुणवत्ता सूचकांक 300 के पार ही रहा।
इंडिया और आसपास सैर करने वालों ने तो ये भी कहा कि आज तो उन्हें इंडिया गेट दिखाई ही नहीं दे रहा जबकि रोज इसी जगह से इंडिया गेट आसानी से दिखता था।

Continue Reading

शहर

दिल्ली हिंसा : ताहिर हुसैन की जमानत याचिका खारिज, कोर्ट ने सरगना बताया

Published

on

By

Tahir-Hussain

नई दिल्ली, 22 अक्टूबर । दिल्ली की एक अदालत ने गुरुवार को आम आदमी पार्टी के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन द्वारा तीन मामलों में दायर जमानत याचिकाओं को खारिज कर दिया है। कोर्ट ने दिल्ली के दंगों में उनकी सक्रिय भूमिका के सबूत के आधार पर याचिकाओं को खारिज कर दिया और यह भी कहा कि उन्होंने धन और अपने राजनीतिक रसूख का इस्तेमाल करते हुए ‘सरगना’ की तरह हिंसा की योजना बनाई।

पूर्व राजनीतिक नेता ने दिल्ली दंगों के मामले से संबंधित तीन मामलों में जमानत की मांग की थी। इन तीनों के अलावा हुसैन सांप्रदायिक दंगों के आठ अन्य मामलों में भी अभियुक्त माने गए हैं।

गौरतलब है कि फरवरी में हुई हिंसा में सीएए समर्थकों और सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पों के कारण स्थिति नियंत्रण से बाहर हो गई थी। हिंसा में 53 लोग मारे गए और 748 लोग घायल हुए थे।

उनकी तीन याचिकाओं को खारिज करते हुए एडिशनल सेशंस न्यायाधीश विनोद यादव ने कहा, “यह स्पष्ट है कि उन्होंने अपने धन और राजनीतिक दबदबे का इस्तेमाल सांप्रदायिक संघर्ष की योजना बनाने, उकसाने और उन्हें भड़काने में सरगना के रूप में काम किया। मुझे लगता है कि रिकॉर्ड में पर्याप्त तथ्य मौजूद हैं, जो साबित करते हैं कि आवेदक मौके पर मौजूद था और दंगाइयों को उकसा रहा था।

कोर्ट ने आगे कहा कि हुसैन ने दंगाइयों को ‘मानव हथियारों’ के रूप में इस्तेमाल किया, जो उनके इशारे पर किसी को भी मार सकते थे। न्यायाधीश ने आगे कहा, “दिल्ली दंगा 2020, बड़ी वैश्विक शक्ति बनने की आकांक्षा वाले देश की अंतरात्मा में एक गहरा घाव है। आवेदक के खिलाफ आरोप अत्यंत गंभीर हैं।”

कोर्ट ने कहा कि स्वतंत्र गवाहों के रूप में पर्याप्त साक्ष्य हैं, जिनका यह मानना है कि आवेदक अपराध के स्थान पर मौजूद था और दंगाइयों को प्रेरित कर रहा था।

उन्होंने आगे कहा, “मुझे एक प्रसिद्ध अंग्रेजी उद्धरण की याद आ रही है, जिसमें कहा गया है कि जब आप अंगारे से खेलना चाहते हैं, तो आप हवा को दोष नहीं दे सकते कि चिंगारी थोड़ी दूर तक ही जाए और आग फैल जाए। ऐसे में आवेदक का यह कहना कि उसने शारीरिक तौर पर दंगे में भाग नहीं लिया, इसलिए दंगों में उसकी कोई भूमिका नहीं है, यह उचित नहीं है।”

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश ने आगे कहा, “यह रिकॉर्ड किया जाए कि इन मामलों में सार्वजनिक गवाह एक ही इलाके के निवासी हैं और यदि इस समय आवेदक को जमानत पर रिहा किया जाता है, तो आवेदक द्वारा उनको धमकी देने या उन्हें डराने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। मामले के तथ्यों और परिस्थितियों को देखते हुए, मुझे जमानत देना उपयुक्त नहीं लग रहा।”

वरिष्ठ अधिवक्ता के.के. मेनन और अधिवक्ता उदित बाली ने हुसैन का प्रतिनिधित्व करते हुए तर्क दिया था कि उनके मुवक्किल को ‘जांच एजेंसी और उनके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों द्वारा कानून का दुरुपयोग करके उन्हें परेशान करने के उद्देश्य से’ झूठे मामलों में फंसाया जा रहा है।

विशेष लोक अभियोजक (एसपीपी) मनोज चौधरी ने तीनों जमानत याचिकाओं का विरोध किया और कहा कि हुसैन के कॉल डिटेल रिकॉर्ड घटनाओं की तारीखों पर अपराध स्थल पर और उसके आसपास दर्ज हुए हैं, जो उनकी मौजूदगी की पुष्टि करते हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
pulwama terror attack
राष्ट्रीय7 hours ago

पाकिस्तान ने कबूली पुलवामा हमले की बात, इमरान के मंत्री ने बताया बड़ी कामयाबी

राष्ट्रीय7 hours ago

राजस्थान सरकार ने स्कूल फीस में 30 से 40 फीसदी तक कटौती का निर्देश दिया

Supreme_Court_of_India
राष्ट्रीय8 hours ago

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट को बताया- वायु प्रदूषण से निपटने को लाए हैं अध्यादेश

Twitter.
टेक8 hours ago

अंग्रेजी सहित हिंदी में लॉन्च हुआ ट्विटर का टॉपिक फीचर

Randeep Surjewala
राजनीति9 hours ago

नीतीश राज ने बिहार को अराजकता की आग में झोंक: कांग्रेस

राष्ट्रीय9 hours ago

बिहार: मुंगेर में हिंसा के बाद DM, SP नपे, आयुक्त करेंगे हिंसा की जांच

Mehbooba Mufti-min
राष्ट्रीय9 hours ago

हिरासत में लिए गए पीडीपी कार्यकर्ता, महबूबा बोलीं- इतनी ताकत है तो चीन को निकालो बाहर

राजनीति9 hours ago

प्रियंका ने बुनकरों की समस्याओं को लेकर लिखा योगी को पत्र

trivendra_singh_rawat
राष्ट्रीय11 hours ago

उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत को सुप्रीम कोर्ट से राहत, अदालत ने सीबीआई जांच पर लगाई रोक

राजनीति11 hours ago

गुजरात के दो बार मुख्यमंत्री रहे केशुभाई पटेल का निधन

मनोरंजन3 weeks ago

मुंबई की अदालत ने रिया और शोविक की न्यायिक रिमांड को 20 अक्टूबर तक बढ़ाया

narendra modi Black
ओपिनियन4 weeks ago

बढ़ती बेरोज़गारी, गर्त में जाती अर्थव्यवस्था के बीच सरकारों का निजीकरण पर जोर

Election
चुनाव4 weeks ago

यक़ीनन, अबकी बार बिहार पर है संविधान बचाने का दारोमदार

Narendra Damodar Das Modi
ओपिनियन4 weeks ago

‘टाइम’ में अमरत्व वाली मनमाफ़िक छवि अर्जित करने से श्रेष्ठ और कुछ नहीं!

Hathras and Babri Demolition
ब्लॉग4 weeks ago

हाथरस के निर्भया कांड को बाबरी मस्जिद के चश्मे से भी देखिए

Rape Sexual Violence
ज़रा हटके3 weeks ago

राजनीति को अपराधियों से बचाये बग़ैर नहीं बचेंगी बेटियां

Nitish Modi
चुनाव3 weeks ago

नीतीश को निपटाने के लिए बीजेपी ने अपनी दो टीमें मैदान में उतारीं

Coronavirus
लाइफस्टाइल3 weeks ago

स्वास्थ्य मंत्रालय का नया प्रोटोकॉल, इमेरजेंसी में कर सकते हैं इन दवाओं का इस्तेमाल

disney
लाइफस्टाइल4 weeks ago

डिज्नी का बड़ा फैसला, थीम पार्क के 28 हजार कर्मचारियों की होगी छंटनी

खेल4 weeks ago

आईसीसी महिला टी-20 टीम रैंकिंग में तीसरे स्थान पर पहुंचा भारत 

8 suspended Rajya Sabha MPs
राजनीति1 month ago

रात में भी संसद परिसर में डटे सस्पेंड किए गए विपक्षी सांसद, गाते रहे गाना

Ahmed Patel Rajya Sabha Online Education
राष्ट्रीय1 month ago

ऑनलाइन कक्षाओं के लिए गरीब छात्रों को सरकार दे वित्तीय मदद : अहमद पटेल

Sukhwinder-Singh-
मनोरंजन3 months ago

सुखविंदर की नई गीत, स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर देश को समर्पित

Modi Independence Speech
राष्ट्रीय3 months ago

Protected: 74वें स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी का भाषण, कहा अगले साल मनाएंगे महापर्व

राष्ट्रीय3 months ago

उत्तराखंड में ITBP कैम्‍प के पास भूस्‍खलन, देखें वीडियो

Kapil Sibal
राजनीति5 months ago

तेल से मिले लाभ को जनता में बांटे सरकार: कपिल सिब्बल

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय6 months ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर6 months ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य7 months ago

WHO को दिए जाने वाले अनुदान पर रोक को लेकर टेडरोस ने अफसोस जताया

Sonia Gandhi Congress Prez
राजनीति7 months ago

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

Most Popular