राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को केंद्र सरकार से पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना (ईआरसीपी) को राष्ट्रीय परियोजना घोषित करने का आग्रह किया।

उन्होंने ट्विटर पर कहा, “हम ईआरसीपी पर काम जल्द पूरा कर लेंगे ताकि पूर्वी राजस्थान के 13 जिलों को पीने और सिंचाई के पानी की सुविधा मिल सके। राज्य सरकार अब तक इस पर करीब 1,000 करोड़ रुपये खर्च कर चुकी है और इस बजट में 9,600 करोड़ रुपये का प्रस्ताव रखा गया है।”

उन्होंने कहा, चूंकि राज्य सरकार के पास सीमित संसाधन हैं, इसलिए इस परियोजना को पूरा होने में 15 साल लगेंगे और इस दौरान इसकी लागत भी बढ़ जाएगी। अगर केंद्र सरकार इसे राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा देकर अनुदान देती है, तो काम तेजी से और कम लागत में पूरा होगा।

गहलोत ने हैशटैग ईआरसीपी राष्ट्रीय परियोजना के बारे में कहा, यह समझ से परे है कि राजस्थान जैसे रेगिस्तान और पानी की कमी वाले राज्य को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा नहीं मिलेगा तो किस राज्य को मिलेगा? यह स्थिति तब है जब जल शक्ति मंत्री इसी राज्य से हैं लेकिन वह इसके लिए कुछ नहीं कर रहे हैं।

Share.

Leave A Reply