चीनी वैज्ञानिकों का अभ्यास रहस्य

बीजिंग | 30 मई को चीन का पांचवां राष्ट्रीय विज्ञान व तकनीकी कार्यकर्ता दिवस मनाया जाता है। फिलहाल विज्ञान व तकनीकी सृजन विश्व में रणनीतिक लड़ाई में एक मुख्य मैदान बन गया है। इस लड़ाई में जीत पाने के लिए विभिन्न देशों के वैज्ञानिक मेहनत से काम कर रहे हैं। फिर चीनी वैज्ञानिक कैसे इसकी तैयारी कर रहे हैं? इस रिपोर्ट में हम मार्शल आर्ट के अभ्यास में शामिल कुछ रहस्यों के माध्यम से चीनी...

दूल्हा हुआ लापता, दुल्हन ने एक बाराती से की शादी

दुल्हन के परिवार ने बारात में आए लड़कों में से एक को चुना और संबंधित परिवारों ने परामर्श के बाद गठबंधन की रस्म पूरी करने पर सहमति जताई।

कोविड डायरी : कोविड के समय में एक श्मशान स्थल के कर्मचारी का अनुभव

नई दिल्ली, 12 मई । शाम ढल रही है, इस जगह से बाहर निकलने का समय आ गया है। लेकिन अभी भी लोग अपने मृतकों के साथ आ रहे हैं। श्मशान घाट के शांत पर्याय को एम्बुलेंस सायरन, पीपीई सूट में रिश्तेदारों और जलती हुई लकड़ी की दरारों ने बदल दिया है। चंडीगढ़ के सेक्टर-25 में स्थित श्मशान घाट जब दशकों पहले स्थापित किया गया तब पहले कभी इतनी चिताएं यहां नहीं देखी। एक निश्चित...

बांछड़ा समुदाय: कभी अंग्रेज लाए थे हवस मिटाने, अब सेक्स बन गया उनकी रोजी-रोटी

बांछड़ा समुदाय के परिवार मुख्य रूप से मध्यप्रदेश के रतलाम, मंदसौर व नीमच जिले में रहते हैं। इन तीनों जिलों में कुल ६८ गांवों में बांछड़ा समुदाय के डेरे बसे हुए हैं।

हिन्दू नववर्ष पर विशेष : संविधान में भारतीय तिथि क्यों नहीं लिखी गयी?

जैसे पृथ्वी की श्वेत-श्याम कला को दिन और रात का नाम मिला, वैसे ही चन्द्रमा के इसी स्वरूप को शुक्ल और कृष्ण पक्ष कहा गया। शक सम्वत की तरह भारत में बेहद प्रचलित विक्रम सम्वत में भी महीने तो 12 ही हैं, महीनों के नाम और उनका क्रम भी एक जैसा ही है, लेकिन विक्रम सम्वत की तिथियाँ 15-15 दिन के दो पखवाड़ों यानी पक्षों तक सीमित हैं, इसीलिए ये चन्द्र-मासी या ‘Lunar Calendar’ कहलाता...

चैत्र को आखिर क्यों माना जाता है सम्वत का पहला महीना?

क्या देश की एकता और समरसता से कैलेंडर या पंचांग का कोई नाता हो सकता है? आज़ादी के बाद, 1952 में जवाहर लाल नेहरू ने पाया कि काल-गणना के लिए भारत में कम से कम 30 पंचांग प्रचलित हैं, जो अशुद्ध गणितीय सिद्धान्तों के दलदल में फँसे थे। जिसकी वजह से मौसम आधारित पर्व-त्योहारों का वक़्त भी बेमौसम बताया जाता था। इसकी सबसे प्रमुख वजह थी कि खगोल शास्त्र में हुई वैज्ञानिक प्रगति के अनुसार...

Rashifal 25 December: इस राशि के लोग अपने किसी प्रिय को दें उपहार, देखें अपना राशिफल

वृश्चिक राशि (Scorpio)-रुके काम बन सकते हैं। भगवान को चांदी के बर्तन में लगाएं भोग होगा शुभ। आज तुलसी के पेड़ की करें पूजा। आज आप किसी लंबी यात्रा और जा सकते हैं। प्रेमियों के लिए आज का दिन खास है। हनुमान जी की पूजा करें। अपने क्रोध पर काबू रखें। गरीब को चावल का दान करें। आज के दिन रुके काम जल्दी ही पूरे होंगे। आज के लिए आपका लकी नम्बर है 1 और शुभ रंग है सफेद।

Google Top 10: इस साल बॉलीवुड से सिंगर Kanika Kapoor को सबसे ज्यादा किया गया सर्च, कंगना 10वें स्थान पर

एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री से कनिका कपूर सबसे ज्यादा सर्च की गईं सेलिब्रिटी बन गई हैं। कनिका कपूर इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर हैं।

COVID-19 से लड़ाई में गेमचेंजर साबित हो सकती है नई दवा Monupiravir

मोल्नूपीराविर दवा देने के बाद संक्रमित जानवरों को स्वस्थ जानवरों के साथ एक ही पिंजरे में रखा गया, ताकि यह देखा जा सके कि उनमें संक्रमण फैलता है या नहीं।

प्यार में युवती को मिला धोखा तो प्रेमी के घर के सामने डीजे लगाकर ‘तेरे इश्क में नाचेंगे’ पर जमकर किया डांस, देखें Viral Video

खबरों की मानें तो इस लड़की का दिल टूटने के बाद वह ब्वॉयफ्रेंड के घर के सामने बॉलीवुड के दिग्गज एक्टर आमिर खान की प्रसिद्ध फिल्म राजा हिंदुस्तानी के गीत 'तेरे इश्क में नाचेंगे' के गाने पर डांस करते दिखाई दे रही थी।

एजीआर मामला: वोडाफोन आइडिया बोर्ड का बड़ा फैसला, 25 हजार करोड़ जुटाने को मंजूरी दी

समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) बकाये के भुगतान से जूझ रही निजी दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया (वीआईएल) के निदेशक मंडल ने कंपनी की 25,000 करोड़ रुपये का कोष जुटाने की योजना को मंजूरी दे दी। कंपनी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी है। कंपनी निदेशक मंडल की ओर से कोष जुटाने की यह मंजूरी उच्चतम न्यायालय के फैसले के कुछ ही दिन बाद दी गई है। शीर्ष अदालत ने दूरसंचार कंपनियों को समायोजित सकल राजस्व (एजीआर)...

क्या कोमा में चले गए हैं उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन

ययांग: उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन (KIM JONG-UN) की सेहत को लेकर पिछले कुछ दिनों से काफी खबरें तैर रही हैं और हर खबर उनकी हालत के गंभीर होने के संकेत दे रहे हैं। अब बताया जा रहा है कि मित्र चीन ने किम के लिए मेडिकल टीम उत्तर कोरिया भेजी है जिसके बाद अब जापानी मीडिया दावा कर रही है कि हार्ट सर्जरी के बाद किम कोमा में चले गए हैं। जापान के...

कोरोना से जुड़ा सबसे बड़ा झूठ

ये सबसे बड़ा झूठ है कि कोरोना वायरस को चीन या अमेरिका ने अपने किसी जैविक हथियार के रूप में विकसित किया था, लेकिन दुर्भाग्यवश वो प्रयोगशालाओं के तालों और दीवारों को चकमा देकर निकल भागा और अब सारी दुनिया में नरसंहार कर रहा है। जबकि वैज्ञानिक सच्चाई ये है कि आज तक मनुष्य अपनी प्रयोगशालाओं में किसी भी नये जन्तु का निर्माण नहीं कर पाया है। लिहाज़ा, कोरोना वायरस को किसी जैविक हथियार के...

कोरोना वायरस के डर से चिकन की जगह कटहल की मांग बढ़ी

हालांकि, इस मेले ने वायरस के प्रकोप के बीच लोगों के मन से चिकन, मटन और मछली के सेवन को लेकर आशंकाएं दूर करने में कुछ खास काम नहीं किया।

उमर अब्दुल्ला की सफेद दाढ़ी वाली तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल

श्रीनगर, 25 जनवरी | जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की नवीनतम तस्वीर शनिवार को सोशल मीडिया के माध्यम से सामने आई है। तस्वीर में वह ऊनी टोपी पहने और लंबी सफेद दाढ़ी के साथ नजर आए। यह तस्वीर अब वायरल हो गई है। बैकड्रॉप में बर्फ के साथ मुस्कुराते हुए नजर आ रहे उमर की यह फोटो रेट्रो टच है। सूत्रों के मुताबिक तस्वीर असली है। पांच अगस्त, 2019 को संसद द्वारा...

इंदौर के गौतमपुरा में बरसे आग के गोले, 19 घायल

इंदौर, 28 अक्टूबर | मध्य प्रदेश की व्यावसायिक नगरी इंदौर के गौतमपुरा में वषरें से चली आ रही परंपरा के मुताबिक, दीपावली के दूसरे दिन गोवर्धन पूजा के मौके पर हिंगोट युद्घ आयोजित किया गया। आसमान पर उड़ते हुए आग के गोले दो दलों ने एक-दूसरे पर बरसाए। इस युद्घ में कुल 19 लोग घायल हुए, जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद घरों को रवाना कर दिया गया। जिला मुख्यालय से 55 किलोमीटर दूर स्थित गौतमपुरा...

चोर बैंगलोर में कर रहे कार चोरी के क्रेश कोर्स

राजधानी दिल्ली और आस पास के कार चोर दिन ब दिन हाईटेक होते जा रहे है। कार चोर अब चोरी को अंजाम देने के लिए अपने हाथ में लैपटॉप के साथ आधुनिक डिवाइस लेकर चलते हैं। कार चोर डोर को मास्टर चाबी से खोलने के बजाए सिक्योरिटी सिस्टम को हैक करते हैं। वक्त-वक्त पर अपडेट होने वाले सिक्योरिटी सिस्टम के चलते खुद को भी अपडेट रखने के लिए क्रेश कोर्स करने बैंग्लोर जाते हैं। इस...

बकरों को भी होता है दर्द न दें कुर्बानी

पेटा के अनुसार, वीडियो ईद के पहले जारी किया गया है ताकि लोग देख सकें कि बकरे को कितनी तकलीफ होती है और वे लोगों से शाकाहारी बनने की गुहार लगाते हैं।

बिहार : मधुबनी में गिरे रहस्यमय पत्थर को संग्रहालय में रखा जाएगा

पटना, 24 जुलाई | बिहार में मधुबनी जिले के लौकही के एक गांव में सोमवार को आसमान से गिरे 13 किलोग्राम वजन के रहस्यमय पत्थर (उल्कापिंड) को बुधवार को पटना लाया गया। इसमें चुंबकीय गुण है और लोहे को यह अपनी ओर आकर्षित करता है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस पत्थर को देखने के बाद कहा कि इसे बिहार संग्रहालय में रखा जाएगा, जिससे आम लोग भी देख सकेंगे। यह रहस्यमय पत्थर सोमवार को मधुबनी...

बेचारा चुनाव आयोग भी क्या-क्या सम्भाले!

क्या आप जानते हैं कि देश में किन-किन पार्टियों ने कॉल-सेंटर्स की सेवाएँ लेकर ये जानने का अभियान छेड़ रखा है कि आगामी चुनाव में आप किस पार्टी के वोट देने वाले हैं दिल्ली में कई पत्रकारों के पास किसी स्वनामधन्य के नम्बरों से फ़ोन आया है। कुछेक नम्बर हैं :– +918657551908, +917290068517, +917304587730, +917304586372. मज़े की बात ये है कि मैं भी चौकीदार का नारा लगाने लाखों राष्ट्रवादी लोग जाने कहाँ जा मरे हैं...

सुमित ने मिस्त्रीगिरी कर पढ़ाई की, फिर पास की UPSC परीक्षा

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। इसमें एक नौजवान तेज धूप में मिस्त्री का काम करते नजर आ रहा है और उसके आगे लिखा है कि 'मिस्त्री से बना कलेक्टर'।

सवर्ण हिन्दुओं से ज़्यादा डरपोक क़ौम आज दुनिया में कोई और नहीं!

भारत में मुस्लिम काल का संस्थापक शहाबुद्दीन मोहम्मद गोरी को बताया जाता है। मोहम्मद गोरी एक अफ़गानी था। उसने 1194 में दिल्ली के गहड़वाल वंश के राजा जयचन्द्र को पराजित करके ग़ुलाम वंश की स्थापना की। जयचन्द्र को हराने से पहले गोरी का दो बार पृथ्वीराज चौहान से युद्ध हुआ। तराइन के पहले युद्ध (1191) में गोरी हारा और दूसरे (1192) में पृथ्वीराज। इससे पहले, गोरी ने 1175 में मुल्तान को जीता था। लेकिन तीन...

जहां 40 की उम्र में आता है बुढ़ापा

बीजापुर छत्तीसगढ़, 9 जनवरी । ‘रहिमन पानी राखिये, बिन पानी सब सून..’ रहीम की ये पंक्ति पानी की महत्ता को दर्शा रही है कि यदि पानी नहीं रहेगा तो कुछ भी नहीं रहेगा, लेकिन जब पानी अमृत के बजाय जहर बन जाए तो पूरा जीवन अपंगता की ओर बढ़ चलता है। यह कोई कहानी नहीं बल्कि हकीकत है। बीजापुर जिला मुख्यालय से तकरीबन 60 किमी दूर भोपालपटनम में स्थित छत्तीसगढ़ का एक ऐसा गांव जहां...

ज्यादातर पाकिस्तानी नहीं जानते इंटरनेट क्या है : सर्वेक्षण

इस्लामाबाद, 12 नवंबर | पाकिस्तान में 15 साल से लेकर 65 साल की उम्र के 69 फीसदी लोगों को नहीं मालूम है कि इंटरनेट क्या होता है। यह बात सूचना-संचार प्रौद्योगिकी है(आईसीटी) आधारित एक सर्वेक्षण में प्रकाश में आई है। श्रीलंका के थिंक टैंक लाइर्नी एशिया द्वारा करवाए गए सर्वेक्षण की रिपोर्ट सोमवार को डॉन में प्रकाशित हुई है। रिपोर्ट पाकिस्तान के 2,000 लोगों के सर्वेक्षण के आधार पर तैयार की गई है। सर्वेक्षक थिंक...

ज़हर उगलने वाले 13 सेकेंड के इस वीडियो को क्या आपने देखा!

जैसे शरीर के तपने का मतलब बुख़ार होता है, वैसे ही जब फेंकू ख़ानदान Fake News/Views/Video पर उतर आये तो समझ लीजिए कि अपने पतन की आहट सुनकर वो बदहवासी में झूठ तथा अफ़वाह की उल्टियाँ कर रहा है! क्योंकि झूठ किसी को हज़म नहीं होता, भक्तों का पाचन-तंत्र भी इसे हज़म नहीं कर पाता है! लिहाज़ा, भक्तों को भी उल्टी-दस्त यानी डीहाइड्रेशन की तकलीफ़ होना स्वाभाविक है! इसीलिए जैसे ही संघ परिवार के चहेते...

लोगों ने 3 महीनों में व्हाट्सएप पर बिताए 85 अरब घंटे

सैन फ्रांसिस्को, 21 अगस्त | सोशल मीडिया प्लेटफार्म व्हाट्सएप के संबंध में एक रोचक जानकारी सामने आई है। एक रपट से पता चला है कि लोगों ने बीते तीन महीनों में फेसबुक के स्वामित्व वाले व्हाट्सएप पर 85 अरब घंटे समय बिताया। फोर्ब्स की सोमवार को रपट के अनुसार, अमेरिका स्थित एप विश्लेषक कंपनी एप्पटोपिया की ओर से जारी आंकड़े में बताया गया है कि बीते तीन महीनों में लोगों ने व्हाट्सएप पर अपने 85...

लड़कियों की तुलना में लड़कों का यौन उत्पीड़न ज्यादा!

नई दिल्ली, 6 अगस्त | देश में अक्सर जब बात बच्चों से यौन उत्पीड़न के मामलों की आती है तो दिमाग में लड़कियों के साथ होने वाली यौन उत्पीड़न की घटनाएं आंखों के सामने उमड़ने लगती हैं, लेकिन इसका एक पहलू कहीं अंधकार में छिप सा गया है। महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय की 2007 की रिपोर्ट दर्शाती है कि देश में 53.22 फीसदी बच्चों को यौन शोषण के एक या अधिक रूपों का सामना...

अपहरण के आरोपी सबसे अधिक सांसद-विधायक भाजपा से

नई दिल्ली, 30 जुलाई | भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कम से कम 16 सांसदों और विधायकों के खिलाफ अपहरण से संबंधित आपराधिक मामले दर्ज हैं। यह भारत में किसी भी राजनीतिक दल से सबसे ज्यादा है। मौजूदा 4,867 सांसदों और विधायकों द्वारा दाखिल हलफनामों के एक विश्लेषण से यह खुलासा हुआ है। चुनाव एवं राजनीतिक सुधारों के लिए काम करने वाली एक गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स द्वारा सोमवार को यह...

ये सरासर झूठ है कि भारतीय अर्थव्यवस्था ने फ़्राँस को पछाड़ दिया है!

यदि भारत की जीडीपी एक दशक में दोगुनी हो गयी और वो कौन-कौन से देश हैं, जिनकी जीडीपी इसी दौरान भारत की जीडीपी से पहले दोगुनी हुई है?

बदलता जलवायु, गर्माती धरती और पिघलते ग्लेशियर

मार्च 2014 में संयुक्त राष्ट्र की एक वैज्ञानिक समिति के प्रमुख ने चेतावनी दी है कि अगर ग्रीनहाउस गैसों का प्रदूषण कम नहीं किया गया तो जलवायु परिवर्तन का दुष्प्रभाव बेकाबू हो सकता है। ग्रीनहाउस गैसें धरती की गर्मी को वायुमंडल में अवरुद्ध कर लेती हैं, जिससे वायुमंडल का तामपान बढ़ जाता है और ऋतुचक्र में बदलाव देखे जा रहे हैं। जलवायु परिवर्तन पर अंतर-सरकारी समिति ने इस विषय पर 32 खंडों की एक रिपोर्ट...

BJP कॉर्पोरेट की चहेती, 5 पार्टियों के संयुक्त चंदे से 9 गुणा अधिक चंदा मिला : report

नई दिल्ली, 30 मई | सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) को वर्ष 2016-17 में पांच राष्ट्रीय पार्टियों के संयुक्त चंदे का नौ गुणा चंदा प्राप्त हुआ है। एक रपट से यह खुलासा हुआ। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) ने बुधवार को अपनी रपट में बताया, “भाजपा कॉर्पोरेट दानदाताओं के लिए स्पष्ट रूप से पसंदीदा पार्टी है। इनके द्वारा चंदे के रूप में दी गई यह राशि कांग्रेस को पहले दी गई राशि से 14 गुणा ज्यादा...

‘हे मूर्खज्ञ, इतना तो मोदी भी अपने बारे में नहीं जानते, जितना आपका दावा है!’

क्या आपने कभी सोचा है कि मोदी की तारीफ़ और विरोधियों के चरित्रहनन के मक़सद से लिखे गये ऐसे भ्रामक सन्देशों को कौन लिखवा और फैला रहा है? ये करतूत मोदी के ट्रोल्स की है। जिन्होंने बाक़ायदा तनख्वाहें देकर पाला-पोसा जा रहा है।

संघी ट्रोल ये झूठ क्यों फैला रहे हैं कि नेहरू ने अपनी बीमार पत्नी का ख़्याल नहीं रखा?

1925 से ही झूठ और अफ़वाह फ़ैलाना संघियों का स्थायी स्वभाव रहा है। आज़ादी से पहले जहाँ काँग्रेस की अगुवाई में चल रहे स्वतंत्रता आन्दोलन में पलीता लगाना संघ का मक़सद था, वहीं आज़ादी के बाद जब चुनाव दर चुनाव भारत की जनता संघियों को नकारती रही तो उन्होंने झूठ की बदौलत विरोधियों का चरित्र-हनन करने को ही अपने जीवन का उद्देश्य बना लिया। इसी उद्देश्य के तहत जवाहर लाल नेहरू को लेकर असंख्य झूठ...

‘शुभ्रक’ घोड़े का वायरल सच

संघियों को जब-जब लगता है कि उनकी प्रतिष्ठा गिर रही है, तब-तब उनके ट्रोल्स सोशल मीडिया और ख़ासकर WhatsApp पर झूठ की सप्लाई बढ़ा देते हैं। फिर संघी ट्रोल्स इसी झूठ को वायरल करते है। इसका मक़सद बग़ैर सामने आये जनता के दिमाग़ में ज़हर भरना होता है। आपकी जानकारी के लिए हम ऐसे ही एक और मैसेज़ को हूबहू यहाँ कॉपी-पेस्ट कर रहे हैं। साथ ही पूरे प्रसंग की सच्चाई भी बता रहे हैं।...

भारतीय राजनीति की सबसे बड़ी समस्या: तुम करो तो रासलीला, हम करें तो कैरेक्टर ढीला!

जिन लोगों ने भारत को आज़ाद करवाने के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया, उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि आज़ादी के महज 70 साल बाद ही उनके वंशजों की राजनीति का सबसे बड़ा सूक्ति वाक्य होगा, ‘तुम करो तो रासलीला, हम करें तो कैरेक्टर ढीला!’ इसे ही शायर अकबर इलाहाबादी (1846-1921) ने कहा कि ‘वो क़त्ल भी करते हैं तो चर्चा नहीं होती, हम आह भी भरते हैं तो हो जाते हैं...

ख़ुद जायसी ने ‘पद्मावत’ के अन्त में लिखा है कि पद्मावती का कथानक काल्पनिक है!

बाजीराव मस्तानी, जोधा अकबर और पद्मावती जैसे ऐतिहासिक पात्रों में मामला हिन्दू और मुसलमान के बीच हुए इश्क़ की नाटकीयता का है। छद्म हिन्दूवादियों को यही बात हज़म नहीं होती!

विदेश में पढ़ रही नेताजी की बेटी अनिता को नेहरू का बनाया ट्रस्ट भेजता था मासिक ख़र्च

1964 तक तक अखिल भारतीय काँग्रेस कमेटी की ओर से अनिता बोस को सालाना 6,000 रुपये की मदद भेजी जाती रही। इस आर्थिक सहयोग को 1965 में अनिता की शादी के बाद बन्द कर दिया गया।