Browsing: ब्लॉग

हिन्दी ब्लॉग, WeForNews blog provides the best opinion, stories and views of top expert bloggers in hindi on politics, social issues, sports and other latest news.

बीजिंग ने ढाका को म्यांमार में हिंसक उत्पीड़न से भागकर बांग्लादेशी शिविरों में रहने वाले हजारों रोहिंग्या मुसलमानों के प्रत्यावर्तन में मदद करने का आश्वासन दिया है, साथ ही चीन ने लौटने वालों को समायोजित करने के लिए लगभग 3,000 घरों का निर्माण किया है.

केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि आज जलवायु परिवर्तन वैज्ञानिकों की सबसे बड़ी चिन्ता और चुनौती का विषय है। इससे निपटने के लिए सभी केवीके और आईसीएआर के संस्थानों तथा अन्य वैज्ञानिकों को महत्वपूर्ण निभानी होगी।

नई दिल्ली: उपराष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (National Democratic Alliance) के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ (Jagdeep Dhankhar) – पश्चिम…

कोलकाता/जयपुर: जब पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को उपराष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के आश्चर्यजनक विकल्प…

सर्वे में जहां 25 प्रतिशत लोगों ने राजनीतिक संकट के लिए शिवसेना की अंदरूनी लड़ाई को जिम्मेदार ठहराया, वहीं 18 प्रतिशत ने कहा कि एमवीए गठबंधन सहयोगियों के बीच मतभेदों ने संकट पैदा किया है। वहीं 14 फिसदी ने पार्टी पर ठाकरे की कमजोर पकड़ को जिम्मेदार ठहराया।

मुंबई: महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी (MVA) पर जैसे ही बिजली के झटके की तरह राजनीतिक संकट आया, घटक…

दरअसल, बेरोजगारी के मसले पर कांग्रेस समेत देश के तमाम विपक्षी दल लगातार भाजपा सरकार पर हमला बोलते रहे हैं। भाजपा सांसद वरुण गांधी भी लगातार इस मसले को उठा रहे हैं।

बेहतर शिक्षा और आजीवन शिक्षा – सभी के लिए सुलभ और सस्ती – डिजिटल रूप से इस दशक में वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद में 8 ट्रिलियन डॉलर की भारी वृद्धि कर सकती है।

सोमवार को बुद्ध पूर्णिमा स्नान पर्व पर दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश आदि स्थानों से भारी संख्या में श्रद्धालु हरिद्वार पहुंचकर हरकी पौड़ी पर गंगा स्नान करेंगे।

आपकी लग्नराशि पर आधारित कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल में जानिए, आपका पारिवारिक जीवन, आर्थिक दशा, स्वास्थ्य व कार्यक्षेत्र में आपकी…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को जल संरक्षण के प्रयासों को बढ़ाने का आह्वान किया, ताकि रीसाइक्लिंग और दोबारा उपयोग…

2017 के प्रदेश में हुए विधानसभा चुनावों में भी महिलाओं ने पुरुषो से अधिक संख्या में मतदान किया था। जहां 63.35 फीसद पुरुषो ने मतदान दिया था वही महिलाओ की संख्या 63.63 फीसद थी।

गायों का बुढ़ापा जितना कष्टकारी जीवन शायद ही किसी और प्राणी का होता हो। पता नहीं, इंसान के धार्मिक ठेकेदारों को हम पर कभी तरस भी आएगा या नहीं? फिलहाल, तो उसे तरह-तरह की रार-तकरार से ही फ़ुर्सत नहीं है।

पूर्व प्रधानमंत्री पर हमला करने वाले आत्मघाती हमलावर की पहचान सईद ब्लैकेल के रूप में हुई, जिसकी विस्फोट में मौत हो गई। पुलिस ने पांच आरोपियों- ऐतजाज शाह, शेर जमां, राशिद अहमद, रफाकत और हसनैन गुल को गिरफ्तार किया है।

नई दिल्ली। उत्तराखंड : 5 वर्षों में 3 सीएम बनाने वाली भाजपा के लिए दोबारा जीतना बड़ी चुनौती : उत्तराखंड राज्य…

कहा जाता है कि दिल्ली की गद्दी का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर निकलता है और इसलिए देश की लोक सभा में सबसे ज्यादा 80 सासंद भेजने वाले प्रदेश को भाजपा किसी भी सूरत में गंवाना नहीं चाहती

अन्नपूर्णा एक्सप्रेस के एक हालिया लेख में कहा गया है कि यह देखना दिलचस्प होगा कि आने वाले दिनों में चीनी देउबा के साथ कैसे व्यवहार करते हैं।

भाजपा ने हाल ही में गुजरात, कर्नाटक और उत्तराखंड में मुख्यमंत्री बदले हैं। उत्तराखंड के मामले में इस साल दो बार मुख्यमंत्री बदले गए। कांग्रेस ने भी हाल ही में पंजाब में अपने मुख्यमंत्री को हटाकर उसका अनुसरण किया।

अगस्त की शुरूआत में, एक-चौथाई (25 प्रतिशत) ने कहा कि अमेरिका की ओर से 9/11 के बाद अफगानिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई ओवर-रिएक्शन थी, जबकि आधे (49 प्रतिशत) का मानना है कि यह सही कार्रवाई थी।

नई दिल्ली, अगस्त 19: अफगानिस्तान की विस्फोटक स्थिति के बीच क्षेत्रीय और वैश्विक सभी ताकतें अपने दांव लगाने के लिए…

विडंबना यह है कि अफगानिस्तान में गैर होने के बावजूद तुर्की हार नहीं मान रहा है। नवीनतम संदेश में विदेश मंत्री कैवुसोग्लू ने कहा है कि तुर्की तालिबान के सरकार बनाने का इंतजार कर रहा है, ताकि अंकारा उससे बातचीत कर सके।

पिछले अध्ययन के आंकड़ों से पता चला है कि संक्रमण, अस्पताल में भर्ती होने और मौतों के बीच की कड़ी फरवरी से कमजोर हो रही है।

चंडीगढ़ | पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को कहा कि उनकी सरकार ब्रिटेन से स्वतंत्रता सेनानी और शहीद…

भारत में स्मार्टफोन यूजर्स ब्राजील और इंडोनेशिया के बाद दुनिया में औसतन सबसे ज्यादा समय अपने डिवाइस पर बिताते हैं।…

इस सप्ताह आपका पारिवारिक जीवन, आर्थिक दशा, स्वास्थ्य व कार्यक्षेत्र में आपकी स्थिति कैसी रहेगी, यह जानने के लिए प्रस्तुत…

प्रयागराज (उत्तर प्रदेश) | इलाहाबाद विश्वविद्यालय (Allahabad University-AU) के फैकल्टी सदस्य अब गंगा नदी को गिरते पर्यावरणीय से बचाने के…

किसी भी बीमा की तरह फसल बीमा मकसद भी किसानों को मुश्किल दौर में वित्तीय सुरक्षा देना ही है। PMFBY के तहत फसल की बुआई के पहले से लेकर कटाई के बाद तक की बीमा सुरक्षा मिलती है।

मशहूर मेडिकल जर्नल द लैंसेट (The Lancet) के संपादकीय में भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से पैदा हुए…

स्वास्थ्य एवं चिकित्सा (Health and Medical) क्षेत्र में इस्तेमाल होने वाले उपकरणों के विक्रेता फैसल डार कश्मीर (Faisal Dar Kashmir) में कई समाजसेवी संगठनों के साथ जुड़े हुए हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार Proning की जरूरत उस समय पड़ती है जब रोगी को सांस लेने में दिक्कत हो रही हो और शरीर में ऑक्सीजन का स्तर 94 के नीचे चला जाए। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि समय रहते Proning क्रिया के जरिए कई जीवन बचाए जा सकते हैं।

Garlic Health Benefits: लहसुन खाने से खून का जमाव नहीं होता है और हार्ट अटैक (Heart Attack) होने का खतरा कम हो सकता है. लहसुन खाने से हाई बीपी ((Garlic For High BP) में आराम मिल सकता है. दरअसल, लहसुन ब्‍लड सर्कुलेशन (Garlic For Blood Circulation) को कंट्रोल करने में काफी मददगार हो सकता है.

शोधकर्ताओं ने कहा कि अगर तापमान चार डिग्री के बजाय दो डिग्री सेल्सियस तक बढ़ता है तो इस क्षेत्र पर खतरा आधा हो जाएगा।

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह के वसूली संबंधी आरोपों पर उच्च न्यायालय द्वारा सीबीआई जांच का आदेश दिए जाने के बाद सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

उन्होंने आरोप लगाया कि सत्तापक्ष की तरफ से संस्थागत ढांचे पर पूरी तरह कब्जा कर लिया गया है।

सर्वे की मानें तो इन राज्यों में बीजेपी की दाल गलती नहीं नजर आ रही है। जबकि भाजपा शासित असम में भी पार्टी के सामने चुनौतियां बढ़ गई है।

रोजगार के नए अवसर दिलाने को योगी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि के रूप में देखा जाता है और इसके बाद अपराध पर नकेल कसने से संबंधित मुद्दा दूसरे नंबर पर है।

अपने गृहनगर से काम करने के लिए वेतन में कटौती की इच्छा हाइरैरकी (ऊपर से नीचे) के साथ कम हो जाती है – 88 प्रतिशत वरिष्ठ-स्तर के कर्मचारियों का कहना है कि वे वेतन में कटौती करने के लिए तैयार नहीं हैं और 50 प्रतिशत ने कहा कि कि अगर उन्हें नौकरी मिल जाती है तो वे वापस बड़े शहर में चले जाएंगे।

इस रिपोर्ट में पिछले साल कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए भारत सरकार की ओर से लगाए गए लॉकडाउन की भी चर्चा की गई है। इसमें लिखा है कि सरकार की ओर से पिछले साल लागू किया गया लॉकडाउन खतरनाक था। इस दौरान लाखों प्रवासी मजदूरों को पलायन का सामना करना पड़ा।

यूएस की फॉरेंसिक फर्म आर्सेनल कंसल्टिंग (Arsenal Consulting – Computer Forensics Services) के अध्यक्ष मार्क स्पेंसर (MARK SPENCER) ने हाल…

मोदी सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ और संप्रभुता के प्रतीक सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों का बड़े पैमाने पर निजीकरण कर अपने देशी – विदेशी आकाओं के सामने आत्म समर्पण कर दिया है।

उनका आरोप था कि नगरपालिका द्वारा आवंटित दुकानों का प्रतिमाह किराया दिये जाने के बावजूद कार्रवाई की गई और न्यायालय में विचाराधीन मामलों को लेकर भी संज्ञान नहीं लिया गया न ही उचित माध्यम से सूचना दी गई।

महामारी के दौरान वुहान में ठहरे फ्रांसीसी चिकित्सक फिलिप क्लेन ने कहा कि चीन सरकार ने महामारी की रोकथाम में चौंकाने वाला प्रयास किया है, और चीनी लोगों ने भी इसमें बड़ा योगदान दिया है।

गालिब की मां शिक्षित थीं उन्होंने गालिब को घर पर ही शिक्षा दी जिसकी वजह से उन्हें नियमित शिक्षा कुछ ज़्यादा नहीं मिल सकी। गालिब ने आगरा के पास उस समय के प्रतिष्ठित विद्वान ‘मौलवी मोहम्मद मोवज्जम’ से फारसी की प्रारम्भिक शिक्षा प्राप्त की।

साल 1960 में उन्होंने लिखना शुरू किया। शुरू में, उन्होंने भारतीय डाक सेवा (1960-1968) के लिए काम किया, और फिर 1994 तक एक मुख्य पोस्टमास्टर-जनरल और पोस्टल सर्विसेज बोर्ड, नई दिल्ली के सदस्य के रूप में काम किया।

नई दिल्ली स्थित नागरिक सगाई मंच द्वारा एक सर्वे, GovernEye के जरिये पाया गया कि कांग्रेस के पूर्व प्रमुख और वायनाड के सांसद राहुल गांधी कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन में सबसे अधिक मददगार सांसद के सर्वे में नंबर 3 पर हैं।

कुंभ राशि-पुराने प्रोजेक्ट पर फिर से शुरू कर सकते हैं काम। सूरज भगवान को जल चढ़ाना न भूलें। आज के दिन जानवरों के खिलएं खाना। पीपल के पेड़ को जल अर्पित करें। काले तिल का दान करें। धन का हो सकता है लाभ। आज के दिन पंछियों को दाना खिलाएं। काम में मन लगेगा। दुश्मन कमज़ोर रहेगा। मन को शांत रखें। आज के दिन गरीबों में कपड़ा बांटे। आज के लिए आपका लकी नम्बर होगा 2 और शुभ रंग होगा पीला।

आगामी सप्ताह के दौरान भी घरेलू शेयर बाजार की चाल कोरोना वैक्सीन की प्रगति और अमेरिका में प्रोत्साहन पैकेज से चालित विदेशी बाजारों के संकेतों से तय होगी।

किसान कैसे भूल सकते हैं कि तेज़ी से कड़े फ़ैसले लेने वाली सरकार ने जिस संसद से डंके की चोट पर कृषि क़ानून पारित करवाये, उसी ढंग से संविधान के अनुच्छेद 370 का सफ़ाया किया, जम्मू-कश्मीर का विभाजन किया और नागरिकता क़ानून बनाया।

अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिली है कि कौन अभिनेता इस अनटाइटल्ड फिल्म में आनंद राय के निर्देशन में शतरंज ग्रैंडमास्टर का किरदार निभाएगा।

चंडीगढ़, 13 दिसंबर : भारत में प्रदर्शनकारी किसानों के मुखर समर्थक रहे ब्रिटिश लेबर सांसद तनमनजीत सिंह ढेसी ने किसानों…

डॉक्टर के दोस्त ने पैसे की व्यवस्था के बहाने उसे पुलिस तक पहुंचने में मदद की। हालांकि, जब पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची, तो अपहर्ता भाग गए थे और डॉक्टर को बचा लिया गया था।

सिंह राशि-भगवान को चांदी के बर्तन में लगाएं भोग होगा शुभ। आज आप किसी लंबी यात्रा और जा सकते हैं। आज तुलसी के पेड़ की करें पूजा। प्रेमियों के लिए आज का दिन खास है। हनुमान जी की पूजा करें। अपने क्रोध पर काबू रखें। गरीब को चावल का दान करें। आज के दिन रुके काम जल्दी ही पूरे होंगे। आज के लिए आपका लकी नम्बर है 1 और शुभ रंग है सफेद।

मोल्नूपीराविर दवा देने के बाद संक्रमित जानवरों को स्वस्थ जानवरों के साथ एक ही पिंजरे में रखा गया, ताकि यह देखा जा सके कि उनमें संक्रमण फैलता है या नहीं।

साल 1948 में यूनाइटेड नेशन्स जनरल असेंबली ने इसको अपनाया, लेकिन आधिकारिक तौर पर इस दिन की घोषणा साल 1950 में की गई थी।

नई दिल्ली, 9 दिसम्बर । स्वास्थ्य सेवा से जुड़े संगठन अखिल भारतीय ड्रग एक्शन नेटवर्क (एआईडीएएन) ने स्वास्थ्य मंत्रालय, नीति…

एएमयू के कुलपति प्रो. तारिक मंसूर ने कहा कि संग्रहालय परियोजना के लिए सभी आवश्यक सहायता और सहयोग विश्वविद्यालय द्वारा प्रदान किया जाएगा।

नई दिल्ली, 8 दिसंबर । भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के सहयोग से हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक लिमिटेड की ओर…

इस दिन ब्रिटेन की 90 वर्षीय दादी मार्गरेट कीनन (Margaret Keenan) को फाइजर की कोविड वैक्सीन (Pfizer Covid Vaccine) का पहला टीका लगा।

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि कमलनाथ लंबे समय से कांग्रेस नेतृत्व के करीब रहे है। इसी वजह से जब तक सोनिया गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बनी रहेंगी कमलनाथ इसी तरह मजबूत रहेंगे।

इस बार खास बात ये है कि कार्तिक पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण का साया भी लगने जा रहा है। देव दिवाली को लेकर धार्मिक मान्यता है कि इस दिन सभी देवता स्वर्गलोक से दिवाली मनाने काशी में आते हैं।

दरअसल निरंकारी मैदान पर किसानों के लिए बेसिक आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने का फैसला किया है। इसके तहत सबसे पहले यहां किसानों के लिए पेयजल की व्यवस्था करवाई जा रही है।

मौसम विभाग ने कहा कि हवा की गति तमिलनाडु के आंध्र प्रदेश और चित्तूर जिले के आंतरिक जिलों (रानीपेट, तिरुवन्नमलाई, तिरुपत्तूर, वेल्लोर) में 65-75 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक कम होने की संभावना है।

पटेल को पत्रकारों का मित्र माना जाता था। वह देर रात पत्रकारों को बुलाते थे। लेकिन कभी भी सीधे तौर पर कोई बयान नहीं देते थे। उनके द्वारा दिए गए जवाब के अनुसार, उन्हें जज करना होता था।

मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव की मतगणना मंगलवार सुबह 8 बजे से शुरू हो जाएगी। सभी…

पुलिस या न्यायिक सुधारों को लेकर देश या राज्यों में काँग्रेसी सरकारों ने अतीत में जैसी लापरवाही दिखायी, उसी का दंश मौजूदा काँग्रेसियों को ख़ून के आँसू रोकर भोगना पड़ रहा है। दमन और उत्पीड़न विरोधी क़ानूनों को संसद और विधानसभा में बनाने के बावजूद ज़मीनी हालात में अपेक्षित बदलाव इसीलिए नहीं हुआ क्योंकि वहाँ बदलते दौर की चुनौतियों से निपटने वाला पारदर्शी और जवाबदेह तंत्र मौजूद नहीं रहा।

केन्द्र सरकार इस बात को लेकर बहुत सन्तुष्ट नज़र आती है कि ताज़ा कृषि क़ानूनों का अभी मुख्य रूप से…

मोदी युग की सबसे बड़ी पहचान यही हो गयी है कि यहाँ ‘मन की बात’ की तो भरमार है लेकिन ‘काम की बात’ को ढूँढ़ना मुहाल है। इसीलिए ‘टाइम’ और बोलिविया के अनुभवों से सीखना ज़रूरी है। देश बेचने वालों से निपटना ज़रूरी है।

मध्यम वर्गीय, शिक्षित, खाते-पीते लोगों और ख़ासकर सवर्णों के बीच कांग्रेस की चिर परिचित बीमारियां अरसे से आपसी चर्चा का…

दिलीप घोष ने बीते नवम्बर में रहस्योद्घाटन किया था कि ‘भारतीय नस्ल की गायों में एक खासियत होती है। इनके दूध में सोना मिला होता है और इसी वजह से उनके दूध का रंग सुनहरा होता है। उनके एक नाड़ी होती है जो सूर्य की रोशनी की मदद से सोने का उत्पादन करने में सहायक होती है। इसलिए हमें देसी गायें पालनी चाहिए।

मुंबई, 13 जून (आईएएनएस)। घरेलू शेयर बाजार में इस सप्ताह भारी उतार-चढ़ाव का दौर लगातार जारी रहा, लेकिन लगातार दो…

आश्चर्य की बात तो यह भी है कि सरकार को नाख़ुश कर रहे 19 हाईकोर्ट का क्षेत्राधिकार तक़रीबन 90 फ़ीसदी आबादी से जुड़ा हुआ है। क्या यह माना जाए कि कोरोना संकट के आगे देश का सारा संवैधानिक ढाँचा चरमरा चुका है। हालात पूरी तरह से हाथ से निकल चुके हैं। सरकारों ने जनता को उसकी क़िस्मत के हवाले कर दिया है।

12 मई को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जिस 20 लाख करोड़ रुपये के आत्म-निर्भर पैकेज़ का ऐलान किया था, वो…

कोरोना संकट के पहले से अर्थव्यवस्था पर गहराई चौतरफ़ा मन्दी और बढ़ती बेरोज़गारी का कहर ग़रीबों के बाद अब मध्य वर्ग पर सितम ढाने को तैयार है। अर्थव्यवस्था के हरेक सेक्टर के सामने अब लाखों-करोड़ों मज़दूरों का टोटा मुँह बाए खड़ा है।

राजनीति में हवा का रुख़ पलटने में ज़्यादा देर नहीं लगती। इसीलिए सभी राजनेता हर बात का राजनीतिकरण करने का मौक़ा ढूँढते रहते हैं। यह हवा जिसके ख़िलाफ़ होती है, वो हमेशा ‘इस मुद्दे पर राजनीति नहीं होनी चाहिए’ की दुहाई देता रहता है। पहले से ही अर्थव्यवस्था ख़राब हालत में थी। लॉकडाउन ने बचे-खुचे को भी ध्वस्त कर दिया। ग़रीबों पर ऐसी मार पहले कभी नहीं पड़ी। इसीलिए रेल-भाड़े की पेशकश कांग्रेस के लिए टर्निंग प्वाइंट बन सकती है।

मुख्यमंत्रियों के साथ 27 अप्रैल को हुई वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जो सबसे बड़ी बात कही, उसे…

मोदीजी को पता है कि जनता जितना कष्ट में रहेगी, उतना ही उनकी ओर तारणहार की तरह देखेगी। तारणहार, यानी भगवान। आम तौर पर लोग कष्टों को भगवान की मर्ज़ी ही समझते हैं। तभी तो भगवान से ही कष्टों को हरने की प्रार्थना करते रहते हैं।

वैसे तो सारी दुनिया में जनता की नब्ज़ को भाँपने के लिए अनेक सर्वेक्षण होते हैं, लेकिन अमेरिकी सर्वेक्षणों की…

अमेरिका की तुलना में, चीन ने वायरस पर प्रभावी ढंग से काबू पाया है। उसने अभूतपूर्व ढंग से महामारी-रोधी उपाय अपनाये हैं और दुनिया को इस महामारी के खिलाफ लड़ने के प्रति मजबूत इच्छाशक्ति और आत्मविश्वास का जोश भरा है।

कोरोना के कहर ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रम्प को चकरघिन्नी बना दिया है। ख़ुद को सर्वशक्तिमान समझने वाला अमेरिका अब…

द्वापर युग में हस्तिनापुर के राजदरबार में जैसे दुर्योधन और दुःशासन ने द्रौपदी का चीरहरण करके अपने माथे पर अमिट…

ऐसे भ्रामक दावों से सरकार जो हासिल करना चाहती थी वो तो कमोबेश उसने हासिल कर लिया, क्योंकि मीडिया ने ICMR के दावों को वैसे ही ‘प्लांट ख़बर’ के रूप में पेश कर दिया, जैसा कि सरकार चाहती थी।

अब भी वक़्त है कि प्रधानमंत्री लॉकडाउन की मियाद बढ़ाने के ऐलान के साथ ही देश और ख़ासकर मेहनतकश तबके को अच्छे ढंग से समझाएँ कि मौजूदा चुनौतियों को देखते हुए सरकारें उनके लिए क्या-क्या करने वाली हैं? जिन चिन्ताओं ने ग़रीबों को बेचैन कर रखा है, उन्हें लेकर ऐसा समाधान ढूँढना होगा, जिससे लॉकडाउन के मक़सद पर आँच नहीं आये।

दक्षिण कोरिया की खुशनसीबी थी कि उसने चीन के ऐसे अनुभवों को देखते हुए अपनी रणनीति बनायी और उसे अमल में लाया। जबकि बाक़ी दुनिया के देशों का मूर्ख नेतृत्व अपने सियासी अहंकारों में ही मदमस्त रहा।

राष्ट्रपति ट्रम्प आशंका जता चुके हैं कि अमेरिका की 34 करोड़ की आबादी में से क़रीब 2.5 लाख लोग कोरोना की भेंट चढ़ जाएँगे। यदि भारत में ऐसा ही अनुपात रहा तो अमेरिका से चार गुना आबादी वाले 130 करोड़ भारतीयों में से मृतकों की संख्या 10 लाख तक क्यों नहीं पहुँचेगी?

“दुनिया मे पहली दफा ऐसा होगा कि जब रमजान के वक्त पाबंदियां होंगी, एक साथ और लोग घरों में रहेंगे। इससे पहले 39 बार मक्का को लोगों की इबादत के लिये बंद कर दिया गया था, लेकिन लॉकडाउन बढ़ने की स्थिति में ऐसा पहली बार होगा दुनिया की तारीख में जब रमजान पांबदियों से गुजरेगा।”

मैं ‘राष्ट्रद्रोही-लिबरल-सेक्यूलर’ मौजूदा दौर में क्या करूँ? पत्रकारिता का धर्म कैसे निभाऊँ? कैसे कहूँ कि “हुज़ूर, वज़ीर-ए-आज़म आपने ‘जनता कर्फ़्यू’ और ‘टोटल लॉकडाउन’ का फ़ैसला लेने में बहुत देर कर दी। जिस वक़्त आप अपने प्रिय दोस्त डोनॉल्ड ट्रम्प के स्वागत वाले ‘इवेंट मैनेजमेंट’ में मशगूल थे, उसी वक़्त आपको भारत को सील कर देना चाहिए था।

वुहान और चीन को भी कोरोना की स्टेज के बारे में जानने में वक़्त लगा। यही हाल दुनिया के तमाम देशों का भी रहा। भारत को प्रकृति ने औरों के अनुभव से सीखने का बहुत मौका दिया।

ज्योतिरादित्य की दो बुआ यशोधरा राजे सिंधिया और वसुंधरा राजे सिंधिया भाजपा की कद्दावर नेता हैं। अब ज्योतिरादित्य के कांग्रेस छोड़ने से दोनों बुआ खुश हैं। यशोधरा राजे ने इसे ज्योतिरादित्य की घरवापसी करार दिया है।

क्या बीजेपी ने दिल्ली में अपने पुनर्निर्वाचित विधायक ओम प्रकाश शर्मा को सुपर पीएम बना दिया है? वर्ना वो कैसे…

हेमंत सोरेन ने ‘बदलाव यात्रा’ की शुरुआत संथाल परगना के साहिबगंज से की थी और इसका समापन रांची में हुआ। इस यात्रा के दौरान उन्होंने पूरे झारखंड के सुदूर इलाकों का दौरान किया और लोगों की समस्याएं सुनीं और उसके समाधान का वादा किया।

IT Cell की बदौलत तरह-तरह के झूठ, अफ़वाह और विरोधियों के चरित्र-हनन का सहारा लेकर बीजेपी ने 2014 में सबको धूल चटा दी। तब तक उसका IT Cell अभेद्य दुर्ग की तरह अपराजेय बन चुका था। 2015 में आम आदमी पार्टी ने भी बीजेपी के आज़माये हुए इसी नुस्ख़े को और सफलता से अपनाया।

सरकार कभी अफ़ग़ानिस्तान से तो कभी मिस्र से प्याज़ के आयात का भारी-भरकम आँकड़ा देकर कहती है कि ‘देश में तो सब ठीक है’। प्याज़ का दाम न तो कोई राष्ट्रीय समस्या है और ना ही कोई प्राकृतिक आपदा। हरेक दो-तीन साल पर प्याज़ ऐसे ही और लाल हो उठता रहा है, तो प्याज़ के भाव घटने के बजाय बढ़ क्यों रहा है?

सियासी दंगल को देखें तो इनमें से अलग-अलग मुहावरे, अलग-अलग मठाधीशों पर बिल्कुल सटीक ढंग से चस्पाँ होता है। हरेक मुहावरा दंगल के अलग-अलग खिलाड़ियों मसलन, बीजेपी, शिवसेना, एनसीपी और काँग्रेस की मार्कशीट बनकर उभरता है।

यदि आप महाराष्ट्र में आनन-फ़ानन में देवेन्द्र फड़नवीस और अजीत पवार की ताजपोशी के लिए राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी जैसे…

अवैध कॉलोनियों के निवासियों के लिए ये तय करना बेहद मुश्किल होगा कि अपने वोट के ज़रिये किस पार्टी के प्रति आभार और विश्वास जताएँ? रोज़मर्रा की महत्वपूर्ण चीज़ों को मुफ़्त देने वाली पार्टी को या दशकों पुरानी फ़रमाइश को सशुल्क पूरी करने वाली पार्टी को।

BHU में अपने ही छात्रों का विरोध झेल रहे प्रोफेसर फिरोज खान एक तरह से अंडरग्राउंड हो गए। वह हैरान हैं कि पूरी उम्र उन्‍होंने संस्‍कृत पढ़ी तो क‍िसी ने मुसलमान होने का अहसास नहीं दिलाया, जब पढ़ाने जा रहे हैं तो मुसलमान बता कर उनका व‍िरोध हो रहा है।

नई दिल्ली, 19 नवंबर | महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) बीच न्यूनतम साझा…

शिवसेना को अपना मुख्यमंत्री बनाने के लिए अपने दो परंपरागत प्रतिद्वंद्वियों एनसीपी और कांग्रेस का समर्थन लेना पड़ेगा। ऐसे में यहां अब सवाल यह उठता है कि हिंदू हृदय सम्राट बाल ठाकरे की शिवसेना उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे की अनुवाई में सत्ता के लिए कट्टर हिंदुत्ववाद का रास्ता छोड़ देगी और सेकुलर शब्द को ‘छद्म’ कहने वाली शिवसेना सेकुलर रास्ता अख्तियार करेगी?

सूत्रों का कहना है कि राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) ने स्पष्ट रूप से गडकरी को राज्य के नए मुख्यमंत्री के रूप में स्थापित करने का रोडमैप तैयार किया है।

बेंगलुरू, 3 नवंबर | मैसूर साम्राज्य के पूर्व शासक टीपू सुल्तान पहले भारतीय थे, जिन्होंने रॉकेट विकसित किया और 18वीं…

नई दिल्ली, 1 नवंबर 😐 मुंबई स्थित विवादास्पद कंपनी, दीवान हाउसिंग फायनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (डीएचएफएल) के साथ उत्तर प्रदेश सरकार…

“नोटिस कानूनन दिया गया है। ताकि जेल में बंद मुजरिम कहीं राष्ट्रपति के यहां दया याचिका दाखिल करना जाने-अनजाने भूल न जाएं। यह जेल की ड्यूटी थी।”

बीते दो दशक में राष्ट्रीय राजधानी में शायद यह पहला मौका है, जब दिवाली की रात सड़क पर ड्यूटी दे रहे मातहत पुलिसकर्मियों के हाथों में किसी पुलिस आयुक्त ने झिड़कियों के बजाए मिठाई के डिब्बे बांटे हों।

दायर की गईं करीब 12 अलग-अलग याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में 14 नवंबर को सुनवाई होगी। केंद्र और जम्मू एवं कश्मीर को सुप्रीम कोर्ट में अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दाखिल करनी होगी और राज्य से विशेष दर्जा हटाए जाने के फैसले से संबंधित सभी कागजात सुप्रीम कोर्ट के समक्ष रखने होंगे।

नई दिल्ली, 2 अक्टूबर | महात्मा गांधी के परपोते तुषार अरुण गांधी ने कहा कि सरदार पटेल का राष्ट्रपिता के…

भीड़ ‘गांधी..गांधी..’ चिल्लाते हुए मोहनदास पर टूट पड़ी। बिल्कुल उसी तरह, जिस तरह आज अपने देश में अफवाहों पर भड़की हुई भीड़ किसी निर्दोष पर टूट पड़ती है।

जेटली ने ही न्यायपालिका में मौजूद कॉलेज़ियम प्रणाली को ख़त्म करने की रणनीति बनायी। संसद में तो वो सफल हो गये, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने उनकी बाज़ी पटल दी। जेटली ने ही काली सूची में डाले गये उन हथियार निर्माताओं के गुनाह को माफ़ करवाया, जिन पर गम्भीर अनियमितता के आरोप लगे।

कश्मीर के विपक्षी नेता नज़रबन्द हैं। मोदी सरकार को डर है कि विपक्षी नेता अपने बचे-खुचे जनाधार की बदौलत उसके तमाम वादों-इरादों की कलई खोल देंगे। जिससे सरकार की छीछालेदर होगी, लोगों का गुस्सा फट पड़ेगा, सरकार को जनता का गुस्सा हज़म नहीं होता।

लोकसभा चुनाव 2019 में काँग्रेस के ख़राब प्रदर्शन की ज़िम्मेदारी लेते हुए आख़िरकार, राहुल गाँधी ने काँग्रेस अध्यक्ष का पद…

केंद्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की मोदी सरकार पूर्ण बहुमत से एक बार फिर सत्ता में काबिज हुई, तो…

नरेन्द्र मोदी की टक्कर का झूठ बोलने वाला और लम्बी-चौड़ी फेंकने वाला प्रधानमंत्री भारत में पहले कभी पैदा नहीं हुआ।…

ओडिशा की राजधानी में बड़ी-बड़ी होर्डिग लगी हुई हैं जिनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यहां से पार्टी प्रत्याशी अपराजिता सारंगी की तस्वीरें हैं लेकिन इनमें धर्मेद्र प्रधान नजर नहीं आ रहे हैं।

अगली बार जब आप वोट देने जाएँ तो पहले ज़रा उपरोक्त सवालों के उत्तर तलाशने की कोशिश करें। इसके लिए भी सिर्फ़ और सिर्फ़ अपनी समझ और जानकारी से काम लें।

2014 की तस्वीर में अटल-आडवाणी-जोशी-राजनाथ ऊपर थे। अब सिर्फ़ राजनाथ फड़फड़ा पाते हैं। बाक़ी अटल दुनिया से चले गये और आडवाणी-जोशी तो कूड़ेदान (मार्गदर्शक मंडल) में फेंकने लायक भी नहीं रहे।

भाजपा अभी तक जिन आठ संसदीय क्षेत्रों के लिए उम्मीदवारों के नामों का फैसला नहीं कर पाई है, उनमें इंदौर, विदिशा, गुना, सागर, खजुराहो, धार, रतलाम और भोपाल शामिल हैं।

“अब चुनाव राहुल और भाजपा के बीच नहीं रह गया है। अब चुनाव अमेठी और वायनाड के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच है कि कौन उनके लिए ज्यादा वोट सुनिश्चित करेगा।”

हर चुनाव में कुछ न कुछ नयापन जुड़ता रहता है। इस बार VVPAT चोटी पर है। लेकिन VVPAT की पर्चियों की गिनती को लेकर चुनाव आयोग की ओर से सुप्रीम कोर्ट में जो दलीलें दी गयी हैं, उसमें सच्चाई कम और बहानेबाज़ी ज़्यादा है।

चुनावी मौसम में तीन बातें सिर चढ़कर बोलती हैं। पहला, किसका-किससे-कैसा और क्यों गठबन्धन या तालमेल हो रहा है? दूसरा,…

“इससे स्पष्ट संकेत मिल रहा है कि मतदाता सरकार के कामकाज से संतुष्ट नहीं हैं। सरकार को प्राथमिकताएं तय करनी होंगी और इन क्षेत्रों में अधिक निवेश करना होगा।”

बालाकोट की बमबारी को प्रधानमंत्री ने ‘पायलट प्रोजेक्ट’ बताया है। उन्होंने कहा कि असली प्रोजेक्ट तो अभी शुरू होना बाक़ी…

कभी पाकिस्तान के सबसे ख़ास दोस्त रहे अमेरिका के सामने अब धर्मसंकट है। अमेरिका को प्रत्यक्ष या परोक्ष तौर पर ये स्वीकार करना होगा कि पाकिस्तान को लेकर उसकी पुरानी नीति ग़लत थी।

मैं तीन दशक से पेशेवर पत्रकार हूँ। कई बड़े और प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों के लिए रिपोर्टिंग की। सैन्य अभियानों और…

घंटों की चुप्पी के बाद भारत ने पुष्टि की कि उसका एक पायलट कार्रवाई में लापता है, लेकिन इससे ज्यादा कुछ बताने से मना कर दिया। इस बात की भी पुष्टि की गई कि भारत ने पाकिस्तान के एक विमान को मार गिराया, लेकिन यह नहीं बताया कि क्या यह एफ-16 है।

कई सूत्रों ने पुष्टि की है कि एमबीडीए के भारत प्रमुख लोइस पीडीवाचे को सोमवार को ईडी की दिल्ली शाखा में पेश होने को कहा गया है। सूत्रों ने दावा किया कि भारतीय बलों के साथ कंपनी के जुड़ाव पर सवालों के अलावा उससे तलवार के एनजीओ में भुगतान पर भी सवाल किए जाएंगे।

नई दिल्ली, 13 फरवरी | भारत के नियंत्रक-महालेखापरीक्षक (कैग) ने 36 राफेल विमान समेत प्रस्तावित रक्षा खरीद के चार सौदों…

जैसा कि जी के मामले में हुआ था, एमएफ्स ने गिरवी रखे शेयरों को इसलिए नहीं बेचा था कि इससे शेयरों के दाम तेजी से गिर जाएंगे और मूल रकम की वसूली नहीं हो पाएगी। इससे यह सवाल उठ खड़ा होता है कि जब गिरवी रखे शेयरों को भुनाकर कर्ज की वसूली नहीं की जा सकती तो एमएफ्स ने क्या सोचकर इतनी भारी-भरकम रकम का कर्ज शेयरों को गिरवी रखकर दिया।

प्रमुख राज्यों और सहयोगियों को संभालने वाले एक सशक्त कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस महासचिव कमलनाथ ने मध्यप्रदेश की सत्ता के…

नई दिल्ली, 10 फरवरी | संकट में फंसे शराब कारोबारी विजय माल्या और युनाइटेड ब्रेवरीज होल्डिंग्स लिमिटेड (यूबीएचएल) समेत किंशफिशर…

चेहरे की पहचान की प्रौद्योगिकी का उपयोग दुनियाभर में बढ़ रहा है। ऐसे में इसके दुरुपयोग को रोकना आवश्यक है।…

नई दिल्ली, 8 फरवरी । भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या का बैंकों के कंसोर्टियम से लिए गए 5,500 करोड़ रुपये…

क्या प्रियंका वाड्रा, राहुल गांधी का ब्रहमास्त्र हैं, जिनका निशाना केवल भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) है? या कांग्रेस अध्यक्ष के निशाने…

प्रियंका की चारुता और लंबी कद-काठी व उनके साड़ी पहनने का ढंग बिल्कुल इंदिरा गांधी जैसा है। प्रियंका की शख्सियत सार्वजनिक जीवन के लिए काफी आशावादी है।

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि प्रियंका की राजनीतिक सक्रियता चौंकाने वाली होगी और भाजपा, सपा व बसपा तीनों को नुकसान संभव है।

गांधीनगर, 18 जनवरी | औपनिवेशीकरण के खिलाफ महात्मा गांधी के अभियान को याद करते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष और…

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का कहना है कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा)…