राजनीतिव्यापारभाजपा कृषि के साथ घरेलू अर्थव्यवस्था को भी कर रही चौपट: अखिलेश यादव

WeForNews DeskJuly 3, 202122251 min

लखनऊ, 3 जुलाई | समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर निशाना साधा और कहा कि इस सरकार ने कृषि अर्थव्यस्था को बर्बाद करने के बाद अब वह घरेलू को भी चौपट करने में लग गई है।

अखिलेश ने आज यहां जारी बयान में कहा कि भाजपा जबसे सत्ता में आई है, मंहगाई विकराल बनती गई है। चारों तरफ इसके प्रसार से आम आदमी की तो कमर ही टूट गई है। मंहगाई के जरिए हर क्षेत्र में अभाव की स्थिति फैदा करने में लगी है, ताकि लोग भूख, कुपोषण और बीमारी की वजह से काल कवलित होते रहे, उसका फार्मूला गरीबी हटाने के लिए गरीब को ही तबाह करने का है। कहा भाजपा ने कृषि के साथ घरेलू अर्थव्यवस्था को चौपट किया है।

उन्होंने कहा कि पेट्रोल दो महीने में 10 प्रतिशत से ज्यादा मंहगा हुआ है तो डीजल के दाम भी दिन-दूनी रात-चौगुनी की कहावत के अनुसार बढ़ रहे हैं। कृषि और परिवहन के दामों में भारी वृद्धि से ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर गहरा प्रभाव पड़ रहा है। किसान सिंचाई, खाद-बीज, कीट नाशक, कृषियंत्र व जुताई के बढ़े दामों से हुई परेशानी बता भी नहीं पाया कि उस पर बिजली की बढ़ी दरें थोप दी गई हैं।

अखिलेश ने कहा कि डीजल की दर पिछले छह महीने में 40 फीसद तक बढ़ गई हैं। इसकी तुलना में माल ढुलाई की दरों में 25 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। माल भाड़ा बढ़ने से सब्जी-फल व अन्य सभी जरूरी वस्तुओं के दाम भी बढ़ गए हैं। पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों से परिवहन सेवाएं टेम्पों, बस, रेल, के भाड़े में भारी उछाल आया है। अब ताजी सूचना के अनुसार, रसोई गैस के दामों में भी भारी वृद्धि कर दी गई है। सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर 25 से 50 रुपये महंगा हो गया है जबकि कॉमर्शियल सिलेंडर 84 रुपये महंगा हो गया है।

उन्होंने कहा कि आर.टी.आई से मिली सूचना के अनुसार, पेट्रोलियम उत्पादों से भारत सरकार को 4.51 लाख करोड़ रुपए का फायदा हुआ है। तेल उत्पादक कंपनियों से जमकर कमाई की। इन सबके बीच जनता पिसती रही है।

Related Posts