अफगानिस्तान: आतंकियों ने बस से उतारकर 6 यात्रियों गोली से भूना | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

अफगानिस्तान: आतंकियों ने बस से उतारकर 6 यात्रियों गोली से भूना

Published

on

afghanistan
अफगानिस्तान

अफगानिस्तान के कुंदुज प्रांत में मंगलवार को आतंकियों ने राजमार्ग पर तीन वाहनों को बीच रास्ते में रुकवार उनमें सवार छह अफगानी नागरिकों की गोली मारकर हत्या कर दी।

प्रांतीय पुलिस अधिकारी हिजरतुल्लाह अकबरी ने न्यूज एजेंसी सिन्हुआ को बताया कि आतंकियों ने कोचा-ए-कजाकाह इलाके में जबरदस्ती कर तीन बसों को रुकवाया था। अकबरी ने आगे बताया, “हमलावरों ने दो दर्जन यात्रियों को अगवा किया और उन्हें पास के गांवों में ले गए। उन्होंने छह यात्रियों की गोली मारकर हत्या कर दी।”

अधिकारी की माने तो बसों में महिलाओं और बच्चों सहित 180 यात्री सवार थे। यह बस कुंदुज शहर से काबुल जा रही थी। आपको बता दें कि इस हादसे की जिम्मेदारी आतंकवादी संगठन तालिबान ने ली है।

wefornews bureau 

 

 

अंतरराष्ट्रीय

श्रीलंका के राष्ट्रपति ने एलआरटी प्रोजेक्ट के तत्काल निलंबन का आदेश दिया

Published

on

Gotabaya Rajapaksa

कोलंबो, 25 सितंबर (आईएएनएस)। श्रीलंका के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे ने लाइट रेलवे ट्रांजिट (एलआरटी) प्रोजेक्ट को खत्म करने का आदेश दिया है। इसका निर्माण राजधानी कोलंबो में किया जाना था। यह जानकारी स्थानीय इकॉनोमीनेक्स्ट की रिपोर्ट से मिली।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की गुरुवार की रिपोर्ट के अनुसार, सरकारी अधिकारियों ने बताया कि एलआरटी प्रोजेक्ट जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (जेआईसीए) द्वारा वित्त पोषित परियोजना थी और इसके प्रभावी परिवहन समाधान नहीं होने के कारण राष्ट्रपति ने इसके तत्काल निलंबन का आदेश दिया।

इकोनॉमीनेक्स्ट ने राष्ट्रपति के सचिव पी.बी. जयसुंदर द्वारा परिवहन मंत्रालय के सचिव को लिखे पत्र के हवाले से बताया कि यह परियोजना बहुत महंगी थी और शहरी कोलंबो परिवहन बुनियादी ढांचे के लिए उचित प्रभावी परिवहन समाधान नहीं था।

इस परियोजना पर अनुमानित 150 करोड़ अमेरिकी डॉलर लागत आने की संभावना थी।

राष्ट्रपति द्वारा परियोजना कार्यालय को तत्काल बंद करने का आदेश देने की भी जानकारी देते हुए जयसुंदर ने लिखा, शहरी विकास और आवास मंत्रालय और वित्त मंत्रालय के राष्ट्रीय योजना विभाग के परामर्श से एक उपयुक्त परिवहन समाधान पर काम किया जा सकता है।

श्रीलंका ने परियोजनाओं के लिए मार्च 2020 में जापान सरकार के साथ 3000 करोड़ येन (28.457 करोड़ अमेरिकी डॉलर) रियायती ऋण पर हस्ताक्षर किए। साथ ही सरकार ने उन इमारतों के बारे में भी चिंता व्यक्त की जो एलआरटी से प्रभावित हो सकती हैं।

एमएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

बांग्लादेश में अब तक कोरोना के 355,384 मामले, 5,072 मौतें

Published

on

Coronavirus

बांग्लादेश में कोरोनावायरस के 1,540 नए मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या 355,384 हो गई है। एक दिन में यहां 28 नई मौतें हुई जिसके बाद मरने वालों का आंकड़ा 5,072 पहुंच गया है।

बांग्लादेश के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में 12,900 नमूनों की जांच की गई। यहां एक दिन में 2,139 मरीज इस बीमारी से ठीक हो गए, जिसके बाद ठीक होने वालों की संख्या 265,092 हो गई है।

बांग्लादेश में मृत्यु दर 1.43 फीसदी है। जबकि रिकवरी रेट 74.59 फीसदी है।

बांग्लादेश में सबसे ज्यादा एक दिन में 4,019 नए मामले 2 जुलाई को रिकॉर्ड किए गए थे और 30 जून को एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें 64 दर्ज की गई थी।

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

LAC पर तनाव के बीच चीन ने दोकलम के पास तैनात किए परमाणु बॉम्बर और क्रूज मिसाइल

Published

on

missile

पिछले कई महीनों से पूर्वी लद्दाख पर तनाव चल रहा है, इसे खत्म करने के लिए दोनों देशों की तरफ से सैन्य और राजनैतिक स्तर पर बातचीत भी चल रही है।

लेकिन इसके बाद भी चीन अपनी धोखा देने वाली चालों से बाज नहीं आ रहा है। अब चीन पूर्वा भारत में तनाव का नया मोर्चा खोलने की तैयारी कर रहा है।

चीन ने भूटान से लगे दोकलम के पास अपने एच-6 परमामू बॉम्बर और क्रूज मिसाइल को तैनात किया है। चीन अपने गोलमुड एयरबेस पर इन दोनों विनाशकारी हथियारों को तैनात कर रहा है और ये एयरबेस भारत की सीमा से मात्र 1,150 किमी की दूरी पर है। इससे पहले अक्साई चीन के काशगर एयरबेस पर चीन इस बॉम्बर की तैनाती कर चुका है।

इस परमाणु बॉम्बर की तस्वीर ओपन सोर्स इंटेलिजेंस एनालिस्ट डेट्रेस्फा की ओर से जारी की गई है। तस्वीरों में बॉम्बर के साथ केडी-63 लैंड अटैक क्रूज मिसाइल भी नजर आ रही है। इधर एलएसी पर कोर कमांडर की ओर से वहां पहले जैसी स्थिति बनाए रखने के लिए बैठकें की जा रही हैं लेकिन भारत इस बार चीन को लेकर काफी सतर्क है।

भारत ने साफ कर दिया गया है जब तक चीन के पीछे हटने की खबर सामने नहीं आती तब भारत की सेना पैंगोंग की ऊंची पहाड़ियों पर तैनात रहेगी। चीन के साथ सैन्य कमांडर स्तर की बातचीत के दो दिन बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि टकराव वाले बिंदुओं से सेना हटाने के लिए लगातार बातचीत की जा रही है। 

विदेश मंत्रालय ने कहा कि यह प्रक्रिया लंबी और जटिल है। दोनों पक्षों को पारस्परिक बातचीत करते रहना होगा और जमीनी स्थिरता को भी बनाए रखना होगा। 

WeForNews

Continue Reading

Most Popular