कांग्रेस पार्टी ने केंद्र के भारतीय रेलवे में गैर संरक्षा श्रेणी के 91,629 पदों को समाप्त करने के फैसले को भाजपा द्वारा ‘नौकरी मुक्त भारत’ बनाने का प्रयास करार दिया है।

कांग्रेस पार्टी ने केंद्र के भारतीय रेलवे में गैर संरक्षा श्रेणी के 91,629 पदों को समाप्त करने के फैसले को बीजेपी द्वारा ‘नौकरी मुक्त भारत’ बनाने का प्रयास करार दिया है। कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी पर आरोप लगाते हुए शनिवार को कहा कि रेलवे का 91 हजार पदों को समाप्त करने का फैसला बेरोजगारी की आग में घी डालने वाला फैसला है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा,’बीजेपी कि पकौड़ा नीति के चलते पिछले ही महीने बेरोजगारी दर 7.8 प्रतिशत से 9.80 फीसदी बढ़ गई है।’

जयवीर ने कहा कि सच तो यह है कि बीजेपी युवाओं को लोकलुभावन वादे कर प्रतिवर्ष दो करोड़ नौकरी देने की बजाय नौकरी छीनने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार के रेलवे में 50 फीसदी पदों को रद्द करने का फैसला साबित करता है कि बीजेपी भारत को नौकरी मुक्त बनाना चाहती है। बीजेपी का यह फैसला युवाओं की शिक्षा, अपेक्षा, सपने और उद्देश्य पर पानी फिरने वाला है।

दरअसल भारतीय रेल में गैर संरक्षा श्रेणी के 91,629 पदों पर भविष्य में कभी भर्तियां नहीं की जाएंगी। सरकार ने इनको गैर जरूरी बताते हुए समाप्त कर दिया है। इस बाबत रेलवे बोर्ड ने सभी 17 जोनल रेलवे गैर संरक्षा श्रेणी के 50 फीसदी पदों को समाप्त करने निर्देश जारी कर दिए हैं। इसमें रेलवे की उत्पादन ईकाइयों, पहिया-इंजन कारखानें व कोच फैक्टरियां भी शमिल हैं।

रेलवे बोर्ड के निर्देश में कहा गया है कि सभी जोनल रेलवे व रेल उत्पादन ईकाइयां 31 मई तक 50 फीसदी पद समाप्त कर अनुपालन रिपोर्ट बोर्ड को भेजें। इसमें रेलवे का वाणिज्य, इंजीनियरिंग, आरपीएफ, मेडिकल विभाग, प्रशासनिक विभाग, अकाउंट, स्टोर, बोर्ड के अधिकारी कर्मचारी आते हैं। इसके अतिरिक्त कारखानों, फैट्रियों, वर्कशॉप आदि में भी कर्मियों की छंटनी होनी है।

Share.

Leave A Reply


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/wefornewshindi/public_html/wp-includes/functions.php on line 5275