राष्ट्रीयआम आदमी पार्टी ने गोवा में मुफ्त बिजली का फॉर्मूला आगे बढ़ाया

IANSJuly 14, 20212501 min

गोवा में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में मतदाताओं को लुभाने के प्रयास में आम आदमी पार्टी (आप) ने अब गोवा को मुफ्त और रियायती बिजली देने के अपने वादे को आगे बढ़ाया है। आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, जो गोवा के दो दिवसीय दौरे पर थे, उन्होंने कहा कि अगर राज्य विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो राज्य के प्रत्येक परिवार को प्रति माह 300 यूनिट बिजली मुफ्त मिलेगी।

 

40 सदस्यीय गोवा विधानसभा के लिए चुनाव अगले साल फरवरी में होने हैं।

 

राज्य में खुद को राजनीतिक विकल्प के तौर पर पेश कर रही आप ने बुधवार को चार वादे किए, ये सभी बिजली से जुड़े थे।

 

गोवा में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, केजरीवाल ने घोषणा की कि प्रत्येक घर को प्रति माह 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली का लाभ मिलेगा, पुराने बिजली के बिल पूरी तरह से माफ किए जाएंगे, कृषि उद्देश्यों के लिए मुफ्त बिजली और चौथी और आखिरी 24 घंटे बिजली का लाभ मिलेगा।

 

केजरीवाल का बयान लगभग वही है, जो उन्होंने हाल ही में दो अन्य चुनावी राज्यों पंजाब और उत्तराखंड से किए थे।

 

उन्होंने कहा, “मैं राज्य में लोगों की जरूरतों को देखते हुए मुफ्त बिजली के हमारे फार्मूले की घोषणा कर रहा हूं। आप के स्वयंसेवक लोगों की शिकायतों को जानने के लिए डोडो-टू-डोर जा रहे हैं और यह पाया गया है कि गोवा में लोग हर महीने बिजली के बेतरतीब बिलों से तंग आ चुके हैं।”

 

केजरीवाल ने कहा कि गोवा के एक बिजली सरप्लस राज्य होने के बावजूद, लगातार बिजली कटौती हो रही है और लोगों को इस कोविड -19 महामारी के बीच अपने बिजली बिलों का भुगतान करने में कठिनाई हो रही है।

 

केजरीवाल ने कहा, “अगर दिल्ली में लोगों को मुफ्त बिजली मिल सकती है, तो गोवा में लोगों के लिए मुफ्त बिजली क्यों नहीं। दिल्ली में लगभग 73 प्रतिशत घरों को मुफ्त बिजली का लाभ मिल रही है और अगर आप गोवा में सत्ता में आती है, तो लगभग 87 प्रतिशत घरों को बिजली मिलेगी।”

 

केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस दोनों पर निशाना साधते हुए कहा कि दोनों पार्टियों ने वैकल्पिक रूप से राज्य में शासन किया है लेकिन राज्य के लोगों के लिए कुछ नहीं किया है।

 

केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने चार वादे किए हैं, जो उनकी प्रतिबद्धताएं हैं और अगले महीने कुछ और घोषणाओं के साथ राज्य वापस जाएंगे।

 

आगामी विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए मंगलवार को गोवा पहुंचे केजरीवाल ने राज्य के पार्टी नेताओं और स्वयंसेवकों के साथ कई बैठकें कीं।

 

आप के सूत्रों ने पुष्टि की कि उन्होंने शहर के एक होटल में महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) के प्रमुख दीपक धवलीकर और उनके भाई सुदीन से भी मुलाकात की, जिससे 2022 के विधानसभा चुनावों से पहले संभावित गठबंधन के कयास लगाए जा रहे हैं।

 

एमजीपी राज्य में भाजपा के नेतृत्व वाले सत्तारूढ़ गठबंधन का हिस्सा थी, लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले मध्यरात्रि में उसके दो विधायकों के भाजपा में शामिल होने के बाद उसने गठबंधन तोड़ दिया।

 

–आईएएनएस

Related Posts