तालिबान के कब्जे से अफगान सेना ने 59 लोगों को छुड़ाया | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

Published

on

अफगानी सेना ने देश के हेलमंड प्रांत में एक विशेष अभियान में तालिबान की एक जेल से 59 लोगों मुक्त करा लिया है। एक समाचार एजेंसी के अनुसार देश के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि अफगान नेशनल आर्मी के विशेष अभियान बल ने शुक्रवार को नहरी सराज जिले में तालिबान के एक ठिकाने पर छापा मारा और तालिबान के कब्जे से 59 लोगों को छुड़ा लिया।

सेना के एक प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मोहम्मद रसूल जजई ने कहा कि यह अभियान एक पुष्ट खुफिया जानकारी के आधार पर अफगानिस्तान की राजधानी काबुल से दक्षिण 555 किमी दूर चलाया गया और इस दौरान सुरक्षा बल का कोई भी सदस्य हताहत नहीं हुआ।

जजई के अनुसार मुक्त कराए गए लोगों में कई अफगान सैनिक थे, जिन्हें सेना के कोर में ले जाया गया है।

तालिबान आतंकवादी समूह की ओर से अभी तक कोई टिप्पणी नहीं आई है।

wefornews bureau 

 

अंतरराष्ट्रीय

Covid-19: पाकिस्तान ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका टीके को दी आपात इस्तेमाल की मंजूरी

Published

on

Imran Khan Pakistan

कोरोना को हराने के क्रम में पाकिस्तान को भी बड़ी सफलता मिली है। जानकारी के अनुसार पाक ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका टीके को आपात इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। प्रधान मंत्री इमरान खान के विशेष स्वास्थ्य सहायक डॉ फैसल सुल्तान ने शनिवार को इसकी पुष्टि की।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ड्रग नियामक प्राधिकरण ने देश भर में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका कोरोनावायरस वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दे दी है और उम्मीद है कि साल की पहली तिमाही तक यह टीका उपलब्ध हो जाएगी।

रिपोर्ट के अनुसार, असद उमर, जो देश के कोरोनोवायरस कंट्रोल बॉडी के नेशनल कमांड एंड ऑपरेशंस सेंटर (NCOC) के प्रमुख भी हैं, ने कहा कि मार्च तक टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया जाएगा। उमर ने कहा कि पहले चरण में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और 65 वर्ष एवं उससे अधिक आयु के लोगों को वैक्सीन दी जाएगी।

बता दें कि एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड वैक्सीन को पहली बार ब्रिटेन में मंजूरी मिली थी। ये वैक्सीन दूसरे टीकों की तुलना में सस्ती और इस्तेमाल में आसान है। भारत जैसे बड़े देश में भी यह विश्वसनीयता पर खड़ी उतरी है।

WeForNews

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

ट्रंप समर्थकों से डर से ट्विटर के कर्मचारियों ने किया अपना प्रोफाइल लॉक

Published

on

Twitter.

निवर्तमान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों से विरोध का सामना किए जाने के डर से कुछ ट्विटर कर्मियों ने अपने अकाउंट्स को लॉक कर दिया है और तो और कंपनी की तरफ से कुछ एक्जीक्यूटिव को व्यक्तिगत तौर पर सुरक्षा भी मुहैया कराई गई है।

द न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रंप के समर्थकों द्वारा टार्गेट किए जा सकने की आशंका से इन्होंने अपने अकाउंट को प्राइवेट कर दिया है और ऑनलाइन मौजूद अपनी जानकारियों को भी मिटा दिया है।

दरअसल कैपिटल बिल्डिंग में ट्रंप के समर्थको द्वारा हिंसा फैलाए जाने के चलते ट्विटर के 350 कर्मियों ने एक आंतरिक याचिका पर हस्ताक्षर करके कंपनी के सीईओ जैक डोर्सी से ट्रंप के अकाउंट को बंद करने का आग्रह किया था। ऐसे में आगे आने वाले समय में हिंसा के भड़कने की आशंका के चलते 8 जनवरी को ट्विटर ने ट्रंप के अकाउंट को स्थायी रूप से बंद कर दिया।

रिपोर्ट के मुताबिक, जैक डोर्सी पहले इस बात से आश्वस्त नहीं थे कि ट्रंप पर अस्थायी निलंबन सही निर्णय है, लेकिन पिछले हफ्ते किए गए ट्वीट्स को देखते हुए डोर्सी ने आखिरकार कहा कि ट्रंप के अकाउंट का निलंबन एक सही निर्णय है।

Source: IANS

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

ब्रिटेन ने पीएम मोदी को दिया G7 सम्मेलन का न्योता

Published

on

Modi and Boris Johnson
File Photo

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जी-7 शिखर सम्मेलन में अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया है। जी-7 शिखर सम्मेलन इस बार कॉर्नवॉल में जून में आयोजित होगा।

बोरिस जॉनसन बोले जी-7 शिखर सम्मेलन से पहले भारत का दौरा करेंगे। उन्होंने कहा कि दुनिया की फार्मेसी के रूप में भारत पहले से ही दुनिया के 50 फीसदी से ज्यादा वैक्सीन की आपूर्ति करता है। ब्रिटेन और भारत ने कोरोना जैसी महामारी के दौरान एक साथ मिलकर काम किया है। 

WeForNews

Continue Reading

Most Popular