जम्मू-कश्मीर में शुक्रवार को दो अलग-अलग घटनाओं में दो आतंकवादी मारे गए और एक सुरक्षाकर्मी शहीद हो गया और पांच अन्य घायल हो गए।

सुंजवान क्षेत्र के जलालाबाद इलाके में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए और 3 अन्य सुरक्षाकर्मी घायल हो गए।

विशेष सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त टीमों ने जलालाबाद इलाके को घेर लिया जहां जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के दो आतंकवादी छिपे हुए थे।

जब चुनौती दी गई, छिपे हुए आतंकवादियों ने एक मुठभेड़ शुरू कर दी, जिसमें दो आतंकवादी मारे गए। इस ऑपरेशन में 3 सुरक्षाकर्मी घायल हो गए।

आतंकवादियों के पास से 1 सैटेलाइट फोन, 2 एके-47 राइफल, भारी गोला-बारूद बरामद किया गया। ऐसा लगता है कि मारे गए दोनों आतंकवादी फिदायीन थे।

जम्मू क्षेत्र के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मुकेश सिंह ने संवाददाताओं से कहा, खोज अभियान जारी है।

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा, सुंजवान मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए हैं।

सुंजवान में छिपे आतंकवादी एक बड़े हमले की योजना बना रहे थे। इसका उद्देश्य सुरक्षा बलों को ज्यादा से ज्यादा हताहत करना था।

एक अन्य आतंकी घटना में आतंकवादियों ने सुबह की ड्यूटी के लिए 15 जवानों को ले जा रही सीआईएसएफ की एक बस पर हमला किया। ये घटना शुक्रवार तड़के करीब 4.25 बजे की है

सूत्रों ने कहा, सीआईएसएफ कर्मियों ने जवाबी कार्रवाई की और उग्रवादियों को भागने के लिए मजबूर किया। इस घटना में एक एएसआई मारा गया और सीआईएसएफ के दो जवान घायल हो गए।

जम्मू शहर में आतंकी हमले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जम्मू और सांबा जिलों के दौरे से दो दिन पहले हुए हैं। मोदी 24 अप्रैल को पल्ली ग्राम पंचायत में पंचायत राज दिवस कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं। पल्ली पंचायत में प्रधानमंत्री के समारोह में एक लाख से ज्यादा लोगों के शामिल होने की उम्मीद है।

Share.

Leave A Reply