Connect with us

व्यापार

थोक महंगाई दर मामूली घटकर 2.47 फीसदी हुई

Published

on

inflation

देश की मार्च महीने की थोक मूल्य आधारित महंगाई दर (डब्ल्यूपीआई) में फरवरी के मुकाबले मामूली गिरावट आई है। मार्च में थोक महंगाई दर 2.47 फीसदी रही है।

वहीं, फरवरी 2018 में यह दर 2.48 फीसदी थी। वाणिज्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, मार्च 2017 में डब्ल्यूपीआई महंगाई दर इससे दोगुनी से भी अधिक 5.11 फीसदी थी। मार्च महीने के दौरान खाद्य महंगाई दर 0.07 फीसद से घटकर (-)0.07 फीसद पर आ गई है।

वहीं सब्जियों से जुड़ी महंगाई दर 15.26 फीसद से घटकर (-) 2.7 फीसद पर आ गई है। इसके अलावा प्राइमरी आर्टिकल्स से जुड़ी महंगाई दर 0.79 फीसद से घटकर 0.24 फीसद पर आ गई है। वहीं दालों की महंगाई दर (-) 24.51 फीसद से (-) 20.58 फीसद पर आ गई है।

साथ ही अंडे और मांस से जुड़ी महंगाई दर मार्च महीने में (-) 0.22 फीसद से (-) 0.82 फीसद फीसद पर आ गई है। वहीं इसके अलावा मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की महंगाई दर 3.09 फीसद से घटकर 3.03 फीसद रही है। फ्यूल एवं पावर सेक्टर की महंगाई दर 3.80 फीसद से बढ़कर 4.70 फीसद रही है।

वहीं जनवरी महीने में थोक महंगाई 2.84 फीसद रही थी। आपको बता दें कि दिसंबर महीने में डब्ल्यूपीआई महंगाई दर घटकर 3.58 फीसद के स्तर पर आ गई थी। वहीं नवंबर महीने में यह 3.93 फीसद रही थी। गौरतलब है कि फरवरी महीने में खुदरा महंगाई दर 4 महीने के निचले स्तर पर रही है।

बता दें मार्च महीने के दौरान खाने पीने की चीजें भी सस्ती हुई हैं। मार्च महीने में खाद्य महंगाई 3.26 फीसद से घटकर 2.81 फीसद पर आ गई है। वेजिटेबल इन्फ्लेशन घटकर 11.7 फीसद पर आ गई है जो कि फरवरी महीने में 17.57 फीसद रही थी।

साथ ही  दालों की महंगाई दर (-) 13.4 फीसद रही है, जो कि फरवरी महीने में (-) 17.35 फीसद रही थी। वहीं मार्च में कोर महंगाई दर 5.30 फीसदी से घटकर 5.17 फीसदी रही है। फूड एवं बेवरेज इन्फ्लेशन 3.01 फीसद रही है जो कि फरवरी में 3.38 फीसद रही थी।

 

Wefornews Bureau

व्यापार

सेंसेक्स में 287 अंकों की गिरावट

Published

on

sensex
File Photo

देश के शेयर बाजारों में  गिरावट दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 287.15 अंकों की गिरावट के साथ 33,847.23 पर और निफ्टी 98.45 अंकों की गिरावट के साथ 10,146.80 पर बंद हुआ।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 198.5 अंकों की गिरावट के साथ 33,935.88 पर खुला और 287.15 अंकों या 0.84 फीसदी गिरावट के साथ 33,847.23 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 34,073.92 के ऊपरी और 33,742.75 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी गिरावट रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 124.40 अंकों की गिरावट के साथ 13,834.50 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 167.71 अंकों की गिरावट के साथ 13,637.17 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 92.65 अंकों की गिरावट के साथ 10,152.60 पर खुला और 98.45 अंकों या 0.96 फीसदी गिरावट के साथ 10,146.80 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,222.10 के ऊपरी और 10,102.35 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 सेक्टरों में से केवल दो -रियल्टी (0.41 फीसदी) और बिजली (0.10 फीसदी)- में तेजी रही।

गिरावट वाले सेक्टरों में सूचना प्रौद्योगिकी (2.79 फीसदी), प्रौद्योगिकी (2.48 फीसदी), स्वास्थ्य (2.43 फीसदी), आधारभूत सामग्री (1.74 फीसदी) और उपभोक्ता गैर-अनिवार्य वस्तु एवं सेवाएं (1.23 फीसदी) प्रमुख रूप से शामिल रहे।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

पेटीएम मालिक को ब्लैकमेल कर मांगी 20 करोड़ की फिरौती

Published

on

पेटीएम के मालिक विजय शेखर शर्मा का पर्सनल डाटा चुराकर 20 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी गई है। विजय शर्मा का निजी डाटा कंपनी के ही तीन कर्मचारियों ने चुराया और फिर उन्हें ब्लैकमेल करने लगे।

इस बाबत नोएडा के सेक्टर 20 में शिकायत दर्ज कराई गई है। पुलिस ने ब्लैकमेल करने वाले तीनों कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें एक महिला भी शामिल है, जो विजय की सेक्रेटरी है। नोएडा के एसएसपी अजय पाल शर्मा के मुताबिक विजय शर्मा ने उनसे शिकायत की थी कि कोई उन्हें ब्लैकमेल कर रहा है।

विजय शर्मा ने बताया कि 20 सितंबर को जब वे जापान में थे, उसी समय उनके पास थाइलैंड के एक नंबर से ब्लैकमेलर का कॉल आया था। उसने दावा किया कि विजय शर्मा के निजी डाटा उसके पास हैं। इसके एवज में ब्लैकमेलर ने 20 करोड़ की मांग की है। साथ कहा कि अगर उसे पैसे नहीं दिए गए तो वे पर्सनल डाटा सार्वजनिक कर देगा, जिससे विजय शेखर की इमेज खराब हो जाएगी।

ब्लैकमेलर ने कहा कि उसके पास ये डाटा कंपनी के ही एडमिन डिपार्टमेंट में काम करने वाले राहुल और देवेंद्र से मिली है। इन दोनों कर्मचारियों को विजय शर्मा के पर्सनल डाटा कंपनी में सेक्रेटरी सोनिया से मिली है। ब्लैकमेलर ने ये भी बताया कि उगाही की रकम का 10 प्रतिशत राहुल और देवेंद्र को दिया जाएगा।

कंपनी के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट और विजय शर्मा के भाई अजय शर्मा ने बताया कि ब्लैकमेलर को यकीन दिलाने के लिए उन्होंने उनके बताए खाते में दो लाख रुपये ट्रांसफर भी कर दिए, ताकि उन्हें सबूतों के साथ रंगे हाथ पकड़ पाए। विजय शेखर के मुताबिक अपने ही कर्मचारियों की इस कारगुजारी पर उन्हें पहले तो विश्वास ही नहीं हुआ।

इससे वे तनाव में आ गए। शिकायत मिलने पर नोएडा पुलिस कंपनी के सेक्टर पांच स्थित ऑफिस पहुंची और तीनों आरोपियों- सेक्रेटरी सोनिया, राहुल और देवेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक इस पूरी साजिश की मास्टरमाइंड सोनिया है। उसे इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस की मदद से दबोचा गया।

WeForNews

Continue Reading

व्यापार

शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 181 अंक नीचे

Published

on

sensex-min

हफ्ते के पहले कारोबारी दिन शेयर बाजार की मजबूत शुरुआत हुई, लेकिन बाजार अपनी तेजी को बनाए नहीं रख सका। सोमवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का सेंसेक्स सुबह 373.76 अंकों की मजबूती के साथ 34,689.39 पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों वाला इंडेक्स निफ्टी 102.3 अंकों की मजबूती के साथ 10,405.85 पर खुला।

हालांकि बाद के कारोबारी घंटों में बाजार ने अपनी मजबूत बढ़त गंवा दी। निफ्टी 58.30 अंक टूटकर 10,245.25 पर बंद हुआ। निफ्टी के 33 शेयर लाल निशान में जबकि 16 शेयर हरे निशान में बंद हुए।

वहीं सेंसेक्स 181.25 अंक टूटकर 34,134.38 पर बंद हुआ। सेंसेक्स में सबसे ज्यादा मजबूती आईसीआईसीआई बैंक, वेदांत, एचडीएफसी और भारतीय स्टेट बैंक के शेयरों में रही। वहीं इंडसइंड बैंक, यस बैंक, रिलायंस और टाटा मोटर्स के शेयर में मुनाफावसूली की वजह से दबाव रहा।

बैंकिंग शेयरों में तेजी से शुरुआत में बाजार को सपोर्ट मिला लेकिन बाद में यह काउंटर बिकवाली के दबाव में आ गया। बीएसई का बैंकिंग इंडेक्स करीब 100 अंक टूटकर बंद हुआ। इंडियाबुल्स हाउसिंग के शेयरों में शानदार 10 फीसद का उछाल देखने को मिला।

WeForNews 

Continue Reading

Most Popular