बच्चों के लिए सेक्स एजुकेशन कब और क्यों? | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

लाइफस्टाइल

बच्चों के लिए सेक्स एजुकेशन कब और क्यों?

Published

on

Representative Images

नई दिल्ली, हम भले ही 21वीं सदी में जी रहे हैं, लेकिन ‘सेक्स’ जैसे किसी शब्द को सुनते ही आज भी हम खुद को असहज महसूस करने लगते हैं। ऐसे में उस पर बात करना हमारे लिए और भी मुश्किल हो जाता है, जब बच्चे इसे लेकर हमसे कोई सवाल पूछने लगते हैं।

बच्चों के लिए टीवी पर ‘कंडोम’ के विज्ञापन में अंकल-आंटी को कुछ अजीब सी स्थिति में देखना उनमें इस बात की उत्सुकता पैदा कर देता है कि आखिर दोनों कर क्या रहे हैं? और अगर यह सवाल उन्होंने हमसे पूछ लिया तो हम चाहते हैं कि किसी तरह से बस वहां से गायब हो जाए। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि आखिर सेक्स को लेकर अभिभावक बच्चों के साथ बातचीत कैसे और कब शुरू करें?

यहां सबसे महत्वपूर्ण बात हमारा यह समझना है क्या हमारा बच्चा इस बारे में जानने व समझने के लिए सक्षम है? इसके लिए बच्चों की कोई निश्चित उम्र तय नहीं की जा सकती, लेकिन जब बच्चों में इस विषय को लेकर उत्सुकता दिखने लगे या बार-बार वे आपसे इसी बारे में सवाल पूछने लगे, तब समझ जाए कि अब आप अपने बच्चे से इस बारे में संबंधित जानकारी साझा कर सकते हैं। शुरुआत आप शारीरिक अंगों को उनके सही नामों से बुलाकर कर सकते हैं, अब आप कोर्ड वर्ड का इस्तेमाल करना बंद कर दें।

वे जैसे-जैसे बड़े होते जाते हैं, उनसे इस बारे में चर्चा करें कि बच्चे कैसे पैदा होते हैं या उनके शब्दों में बच्चे कहां से आते हैं। इसके साथ ही उन्हें यह भी बताए कि कोई समस्या होने पर माता-पिता व चिकित्सक ही उनके निजी अंगों को स्पर्श कर सकते हैं और किसी को ऐसा करने की इजाजत नहीं है। बच्चों को आजकल इस बारे में जागरूक करना बेहद आवश्यक है।

सेक्स या यौन संबंध का मासूमियत से कोई लेना-देना नहीं है। बच्चे मासूम हैं इसलिए उनसे इस बारे में बात करना उचित नहीं, यह सोचना छोड़ दें। एक जागरूक बच्चे का तात्पर्य ‘शैतान’ बच्चे से नहीं है।

उनसे बात कैसे करें?

हम खुशकिस्मत हैं कि आज हम एक ऐसे दौर में जी रहे हैं, जहां इस बारे में चर्चा शुरू करने के लिए कई साधन उपलब्ध हैं। रॉबी एच हैरिस की किताबों से इसकी शुरुआत की जा सकती है। मैंने खुद इन्हें कई बार पढ़ा है, इसके बाद आईने के सामने खड़े होकर इसे जोर-जोर से पढ़ें और आखिर में बच्चों के सामने इन्हें पढ़ना शुरू करें। अगर बच्चों के किसी सवाल का जवाब आप उसी वक्त देने में असमर्थ हैं, तो उन्हें बताए कि आप फिर कभी इस बारे में बात करेंगे, बाद में ही सही लेकिन बात जरूर करें।

सेक्स के बारे में बात करना एक निरंतर प्रक्रिया है। इसके बाद गर्भधारण, हस्तमैथुन, प्यार, आकर्षण, शारीरिक आकर्षण, सेक्स जैसे कई मुद्दों पर धीरे-धीरे चर्चा करें। कई बार ऐसा होता है कि किशोरावस्था में लड़के-लड़कियों को उनके वर्जिन होने के चलते कई उपहासों का सामना करना पड़ता है, ऐसे में आपका उनसे खुलकर बात करना बेहद महत्वपूर्ण है।

माता-पिता होने के नाते हमारे लिए यह समझना आवश्यक है कि बच्चों में उत्सुकता या यौन आग्रह का होना एक सामान्य सी बात है। इसका प्रभाव उनकी नैतिकता और बड़े होने पर नहीं पड़ेगा। दोस्तों या पॉर्न साइट से इस बारे में गलत जानकारी पाने से बेहतर है कि माता-पिता उन्हें सही और सुरक्षित ज्ञान उपलब्ध कराए।

–आईएएनएस

लाइफस्टाइल

ऑनलाइन ऑडिशन का आयोजन कराएगी यूडली फिल्म्स

Published

on

Online payment

मुंबई: कोरोनोवायरस महामारी के कारण देशव्यापी लॉकडाउन के कारण प्रोडक्शन हाउस यूडली फिल्म्स ने अपने हाउस के लिए ऑनलाइन ऑडिशन कराने का फैसला किया है।

सारेगामा, टेलीविजन एंड फिल्म्स के उपाध्यक्ष सिद्धार्थ आनंद कुमार ने कहा, “जैसा कि कहते हैं न कि आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है, इसी को ध्यान में रखते हुए हमने योजना बनाई है कि हम मौजूदा लॉकडाउन के दौरान भी कैसे काम कर सकते हैं। हमने महसूस किया कि है कि यह सबसे अच्छा वक्त है जब हम अपनी आगामी फिल्म के लिए नई प्रतिभाओं को मौका देने के लिए ऑनलाइन ऑडिशन का आयोजन करा सकते हैं।”

उन्होंने कहा कि जहां इंटरनेट कनेक्शन कमजोर हैं, वहां सेल्फ-ऑडिशन वीडियो काम कर सकता है।

उन्होंने आगे कहा, “हालांकि हमारे सभी ऑडिशन लाइव आयोजित किए जाते हैं, और हमने इसे एक गेम-चेंजर के तौर पर देखा है।”

–आईएएनएस

Continue Reading

ज़रा हटके

COVID 19 : ..तो दुनिया में पहली बार रमजान के दौरान रहेंगी बंदिशें?

“दुनिया मे पहली दफा ऐसा होगा कि जब रमजान के वक्त पाबंदियां होंगी, एक साथ और लोग घरों में रहेंगे। इससे पहले 39 बार मक्का को लोगों की इबादत के लिये बंद कर दिया गया था, लेकिन लॉकडाउन बढ़ने की स्थिति में ऐसा पहली बार होगा दुनिया की तारीख में जब रमजान पांबदियों से गुजरेगा।”

Published

on

By

नई दिल्ली, 7 अप्रैल | कोरोनावायरस इस वक्त पूरी दुनिया मे अपना पैर पसार चुका है और सभी देश इस बीमारी से लड़ने में जुटे हुए हैं। भारत भी इस बीमारी की चपेट में है और इस वक्त पूरे देश मे लॉकडाउन है और लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं।

रमजान का पाक महीना 24 अप्रैल से 23 मई तक होगा, और रमजान खत्म होने के साथ ही ईद-उल-फितर का त्यौहार मनाया जाएगा। रमजान को अब 18 दिन बचे हैं और अभी भी पूरे देश मे लॉकडाउन है। सरकार अभी इस पर विचार कर रही है कि लॉकडाउन को आगे बढ़ाया जाए या नहीं। ऐसे में मौलानाओं का कहना है की अगर ऐसा ही चलता रहा तो पूरी दुनिया में पहली बार होगा, जब रमजान के वक्त पाबंदी होगी और वह भी एक बीमारी के डर से। इस स्थिति में लोग रमजान के वक्त घरों में नमाज अदा करेंगे, और मस्जिदों में तालाबंदी होगी, कोई नागरिक घर से बाहर नहीं होगा।

जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने इस बारे में आईएएनएस को बताया, “मेरी जानकारी के मुताबिक कभी ऐसा नहीं हुआ। जिस वक्त प्लेग फैला था, तब भी ऐसा नहीं हुआ। लोगों में उस वक्त भी डर था। 1400 साल पहले हुजूर के समय की बात करूं, तब भी प्लेग के वक्त लोग मस्जिद में आते थे और यह तब एक शहर, कस्बे तक ही सीमित था। दुनिया की तारीख में मुझे याद नहीं और न ही मैंने कभी पढ़ा कि कोई ऐसी बीमारी आई हो, जिसकी वजह से लोगों रमजान के वक्त मस्जिदों को छोड़ कर घरों में नमाज पढ़ी हो।”

ऑल इंडिया इल्मो हुनर के चीफ मु़फ्ती मोहम्मद मंजूर जियाई ने इस बारे में आईएएनएस से कहा, “दुनिया मे पहली दफा ऐसा होगा कि जब रमजान के वक्त पाबंदियां होंगी, एक साथ और लोग घरों में रहेंगे। इससे पहले 39 बार मक्का को लोगों की इबादत के लिये बंद कर दिया गया था, लेकिन लॉकडाउन बढ़ने की स्थिति में ऐसा पहली बार होगा दुनिया की तारीख में जब रमजान पांबदियों से गुजरेगा।”

जिस तरह के इस वक्त देश में हालात बने हुए हैं, उससे कम ही लगता है कि रमजान के वक्त में पहले की तरह रौनक नजर आएगी।

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

इतिहास में पहली बार पॉप ने अकेले मनाया होली वीक

Published

on

वेटिकन सिटी: कोरोनोवायरस महामारी के कारण पोप फ्रांसिस ने पहली बार यहां के सेंट पीटर्स बेसिलिका में अकेले ही पाम संडे मनाया। ऐसा इतिहास में पहली बार हुआ है।

एफे न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, कैथोलिक कैलेंडर में रविवार को एक महत्वपूर्ण धार्मिक त्योहार होली वीक की शुरुआत हुई, जो कि इस बार वेटिकन स्क्वायर में हर बार की तरह आयोजित नहीं हुई। वहीं इस बार समारोह में लोगों की मंडली भी शामिल नहीं हुई।

हालांकि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर दुनियाभर में लागू आइसोलेशन में रह रहे लाखों लोगों ने इंटरनेट, रेडियो और टेलीविजन के माध्यम से प्रार्थना सभा में भाग लिया।

इस दौरान पोप ने कहा, “हम जिस त्रासदी का सामना कर रहे हैं, वह हमें उन चीजों को गंभीरता से लेने के लिए कह रहा है जो वास्तव में गंभीर हैं और उसे कम नहीं आंकना चाहिए। यह फिर से समझने की जरूरत है कि यदि दूसरों की सेवा नहीं की जाती है तो जीवन का कोई फायदा नहीं है। जीवन को प्यार से मापा जाता है।”

इस दौरान सर्विस के लिए पादरी के साथ लोगों का एक छोटा समूह मौजूद था, जो एक दूसरे से सुरक्षित दूरी बनाए हुए थे।

दुनिया भर में 12 लाख से अधिक लोगों के संक्रमित होने और इससे 66,500 लोगों की मौत होने के बाद वेटिकन में एहतियातन सख्ती बरती गई है।

गौरतलब है कि इटली में 128,948 पुष्ट मामलें सामने आए हैं और कोविड-19 के कारण यहां 15,887 मौतें हो चुकी हैं, जो कि दुनियाभर के किसी भी देश से सबसे अधिक है।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
Corona India Tablighi Jamaat
राष्ट्रीय13 mins ago

उप्र : मऊ में 2 और जमातियों की हुई पहचान

Coronavirus
राष्ट्रीय33 mins ago

क्वारंटाइन में प्रकृति से जोड़ा नाता

Unemployment
अंतरराष्ट्रीय38 mins ago

कोरोना से अमेरिका में लाखों बेरोजगार, भत्ते के लिए सड़कों पर उतरे लोग

Coronavirus Nurse
शहर53 mins ago

तमिलनाडु में गलती से डिस्चार्ज किया गया कोविड-19 मरीज

राष्ट्रीय1 hour ago

नोएडा : यूपी सरकार ने सार्वजनिक जरूरतों के लिए हेल्पलाइन नंबर किया जारी

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
अंतरराष्ट्रीय1 hour ago

डब्ल्यूएचओ का ट्रंप को जवाब, कहा- ‘कोरोना पर राजनीति बंद करो’

Coronavirus
राष्ट्रीय1 hour ago

बिहार : सीवान के एक ही परिवार में 9 पॉजिटिव

Coronavirus-Infections
अंतरराष्ट्रीय2 hours ago

कोविड-19 : फ्रांस में एक दिन में 541 मौत

Donald Trump
अंतरराष्ट्रीय2 hours ago

प्रधानमंत्री मोदी का शुक्रिया, वे बहुत अच्छे हैं : ट्रंप

Coronavirus
राष्ट्रीय2 hours ago

राजस्थान में कोविड-19 के 9 जमाती सहित 30 नए मामले सामने आए

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
अंतरराष्ट्रीय2 days ago

चीन ने महामारी के फैलाव को कारगर रूप से नियंत्रित किया : डब्ल्यूएचओ

मनोरंजन2 weeks ago

शिवानी कश्यप का नया गाना : ‘कोरोना को है हराना’

Honey Singh-
मनोरंजन1 month ago

हनी सिंह का नया सॉन्ग ‘लोका’ हुआ रिलीज

Akshay Kumar
मनोरंजन1 month ago

धमाकेदार एक्शन के साथ रिलीज हुआ ‘सूर्यवंशी’ का ट्रेलर

Kapil Mishra in Jaffrabad
राजनीति2 months ago

3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे: कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम

मनोरंजन2 months ago

शान का नया गाना ‘मैं तुझको याद करता हूं’ लॉन्च

मनोरंजन2 months ago

सलमान का ‘स्वैग से सोलो’ एंथम लॉन्च

Shaheen Bagh Jashn e Ekta
राजनीति2 months ago

Jashn e Ekta: शाहीनबाग में सभी धर्मो के लोगों ने की प्रार्थना

Tiger Shroff-
मनोरंजन2 months ago

टाइगर की फिल्म ‘बागी 3’ का ट्रेलर रिलीज

Human chain Bihar against CAA NRC
शहर2 months ago

बिहार : सीएए, एनआरसी के खिलाफ वामदलों ने बनाई मानव श्रंखला

Most Popular