Connect with us

लाइफस्टाइल

कृत्रिम बुद्धिमत्ता क्या है?

Published

on

artificial_intelligence-

बुद्धि मनुष्यों का प्रमुख गुण है। हमारी सभ्यता ने जो कुछ भी उपलब्धियां हासिल की हैं, वे मनुष्य की बुद्धि का ही नतीजा हैं। फिर चाहे आग के इस्तेमाल में महारत हासिल करना हो, अनाज उपजाना हो, पहिये का आविष्कार हो या मोटर इंजन का आविष्कार।

इन सबके पीछे जिस एक चीज की भूमिका है, वह है मनुष्य की बुद्धि है। यही इकलौती चीज है, जो हमें अन्य जीव-जन्तुओं से अलग करती है। बुद्धि की मदद से ही मनुष्य विभिन्न जानवरों का और विभिन्न मशीनों का अपने हित के इस्तेमाल करता है। अब तक जितनी भी मशीनें बनी हैं, वे पहले से निर्धारित काम को करती है।

चाहे वह कारखाने हों, मोटर गाड़ी हो या कंप्यूटर हो। लेकिन अब मनुष्यों ने अपनी बुद्धि की मदद से ही मशीनों को बुद्धिमान बनाने में कामयाबी हासिल कर ली है। हालांकि यह तकनीक अभी शुरुआती दौर में ही है, लेकिन इसके क्रांतिकारी नतीजे सामने आने शुरू हो गए हैं।

मसलन, वाहन निर्माण, बैंकिंग और आईटी क्षेत्र में इसका बड़े पैमाने पर उपयोग हो रहा है। कृत्रिम बुद्धिमत्ता का वैश्विक बाजार 62.9 फीसदी दर से बढ़ रहा है। स्वचालित कार, चैटबॉट (जो वेबसाइट सर्फ करते समय चैटिंग करते हुए सह जानकारी मुहैया कराते हैं), पर्सनल डिजिटल असिस्टेंट (गूगल असिस्टेंट, अमेजन एलेक्सा, एप्पल सीरी, माइक्रोसॉफ्ट कॉर्टना आदि) कृत्रिम बुद्धिमत्ता से संचालित होते हैं।

कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर दुनिया भर में अध्ययन तेज हुए हैं और इसमें भारी निवेश किया रहा है। स्वचालित कारों का निर्माण हो या गो कम्प्यूटर का निर्माण जो किसी मानव खिलाड़ी को आसानी से हरा सकता है। आईबीएम कंपनी का कृत्रिम बुद्धि से लैस डीप ब्ल्यू कंप्यूटर ने कास्पोरोव को शतरंज मे हराया था, तो गूगल ने अल्फागो ने मानव को एक कंप्युटर बोर्ड खेल गो मे हराया था।

तो कृत्रिम बुद्धि में इतनी क्षमता हो सकती है कि वह मनुष्य से भी आगे निकल जाए। कृत्रिम बुद्धिमत्ता में यह ताकत भी है इससे हम गरीबी और बीमारी को खत्म करने का लक्ष्य भी प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि सच यह भी है कि अगर हमने इसके जोखिम से बचने का तरीका नहीं ढूंढ़ा, तो सभ्यता खत्म भी हो सकती है।

तमाम फायदों के बावजूद कृत्रिम बुद्धिमत्ता के अपने खतरे हैं। इसकी मदद से शक्तिशाली स्वचालित हथियार बन सकते हैं या फिर ऐसे उपकरण, जिनके सहारे चंद लोग एक बड़ी आबादी का शोषण कर सकें। यह अर्थव्यवस्था को भी बड़ी चोट पहुंचा सकती है।

यह भविष्य में मशीनों को मनुष्य के नियंत्रण से आजादी दिला सकता है, जिसका हमारे साथ संघर्ष हो सकता है। कुल मिलाकर कृत्रिम बुद्धिमत्ता हमारे लिए फायदेमंद भी है और नुकसानदेह भी। फिलहाल हम नहीं जानते हैं कि इसका स्वरूप आगे क्या होगा?

–आईएएनएस

लाइफस्टाइल

सावधान! प्लास्टिक की बोतल में पानी से हो सकती है ये बीमारियां

Published

on

Plastic-

प्लास्टिक बोतल से पानी पीना आपकी सेहत के लिए बहुत खतरनाक साबित हो सकता है।

प्लास्टिक की बोतलों में पानी भरकर रखना अपकी सेहत को खराब कर रहा है। प्लास्टिक चाहे किसी भी तरह की हो वो अपके लिए नुकसानदायक ही है। हमारे जीवन का हिस्सा बन चुकी प्लास्टिक की बोतलें केमिकल्स और बैक्टीरिया से भरी हुई होती हैं और स्वास्थ्य के लिए बहुत खतरनाक हैं।

Image result for प्लास्टिक बोतल

आइए जानते हैं प्लास्टिक की बोतलों में पानी पीने से क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं।

नुकसानदायक रसायनों के अलावा प्लास्टिक फ्लोराइड, आर्सेनिक और एल्युमीनियम जैसे पदार्थ भी रिलीज करती है, जो मानव शरीर के लिए जहरीले होते हैं। प्लास्टिक की बोतल में पानी पीने का मतलब है कि आप अपनी सेहत को धीमा जहर दे रहे हैं। प्लास्टिक गर्म वातावरण में पिघलती है।

जब हम कार या बाइक में प्लास्टिक की बोतल रखते हैं तो ये सूर्य की सीधी रोशनी के संपर्क में आ जाता है। इस हीटिंग से डाॅॅक्सिन निकलता है जो ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ा सकता है। बाइफिनाइल एक ऐसा रसायन है जो डायबिटीज, फर्टिलिटी, व्यवहार से संबंधित समस्याएं पैदा कर सकता है।

अच्छा होगा कि आप प्लास्टिक की बोतलों में पानी भरकर रखना छोड़ दें। प्लास्टिक में फैथलेट्स जैसे केमिकल की मौजूदगी की वजह से लिवर कैंसर का खतरा भी बढ़ जाता है। यही नहीं, इससे स्पर्म काउंट भी घट जाता है। जब हम प्लास्टिक की बोतलों में पानी पीते हैं तो इससे हमारा इम्यून सिस्टम भी प्रभावित होता है। प्लास्टिक की बोतलों से केमिकल हमारे शरीर में पहुंच जाते हैं और प्रतिरक्षा तंत्र को डिस्टर्ब कर देते हैं।

WeForNews

Continue Reading

लाइफस्टाइल

सुबह उठकर गर्म नींबू पानी पीने से होते हैं ये फायदे

Published

on

-lemon-

अगर आपके दिन की शुरुआत अच्छी जाए तो आपका पूरा दिन अच्छा जाता है। पूरे दिन की भाग-दौड़ के लिए शरीर का स्वस्‍थ्‍ा और सक्रिय रहना बेहद जरूरी है।

अधिकतर लोग अपने दिन की शुरुआत कॉफी या चाय के प्याले के साथ करते हैं। लेकिन अगर आप चाहें तो गर्म पानी में नींबू की कुछ बूंदें डालकर इसे हेल्दी ड्रिंक बनाकर पी सकते हैं। गर्म पानी में नींबू मिलाकर पीने के ये फायदे आपको चाय और कॉफी से दूरी बनाने पर मजबूर कर देंगे।

सुबह उठकर गुनगुने पानी में नींबू के रस की कुछ बूंदें मिलाकर पीना बहुत फायदेमंद होता है। अगर गर्म नींबू पानी को सुपर ड्रिंक कहें तो गलत नहीं होगा। नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ न्यूट्रिशन की रिपोर्ट के मुताबिक, 31 फीसदी पुरुष और 26 फीसदी महिलाएं हाइपरटेंशन का शिकार होती हैं।

इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया था कि आपका खान-पान हाइपरटेंशन को नियंत्रित करने में अहम भूमिका निभाता है। इस पर नियंत्रण करने के लिए एक सुपरफूड है- नींबू। यह ना केवल ब्लड प्रेशर को कम करता है बल्कि रक्त नलिकाओं को मुलायम और लचीला बनाता है। अधिकतर सेहतमंद लोगों की तंदरुस्ती का राज गर्म नींबू पानी होता है।

अगर आपको गर्म नींबू पानी पीने के फायदे नहीं पता है तो चलिए हम आपको बताते हैं।

पाचन में मददगार-

हम जो खाना खाते हैं, वो फूड पाइप के जरिए पास होता है। जब हम अच्छी नींद लेकर उठते हैं तो कई अवशेष फूड पाइप में फंसे रह जाते हैं और गर्म नींबू पानी पीने से ये अवशेष बाहर निकल जाते हैं। गर्म पानी पीने से ऑयलीनेस भी कम होता है जो आजकल के खान-पान से ज्यादा हो जाती है।

इम्युनिटी सुधारता है-

नींबू में मौजूद विटामिन सी और पोटैशियम इम्यूनिटी बढ़ाने का काम करता है। खाली पेट नींबू पानी लेने पर पोषक तत्वों का अवशोषण और भी बेहतर ढंग से हो पाता है। इस तरह से शरीर पूरे दिन पौष्टिक तत्वों का अच्छी तरह से अवशोषण कर उनका पूरा फायदा उठा पाता है।

वजन घटाने में मदद-

वजन घटाने की बात आती है तो गर्म नींबू पानी का नाम सबसे पहले लिया जाता है। गर्म नींबू पानी मेटाबॉलिज्म भी बढ़ाता है और फैट बर्न होता है जिसकी वजह से वजन कम करने में मदद होती है। जबकि सुबह उठकर चाय या कॉफी पीने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा तो बढ़ती है ही, साथ ही शुगर लेवल पर भी असर पड़ता है।

खूबसूरत स्किन-

नींबू में मौजूद विटामिन सी कोलेजन फॉर्मेशन के लिए आवश्यक है। इससे आपकी स्किन हेल्दी होती है। स्किन केयर में हाइड्रेशन भी बहुत अहम है। सुबह गर्म नींबू पानी पीने से जहरीले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं और स्किन में निखार आता है।

कब्ज की समस्या को दूर करने में सहायक

गर्म पानी के साथ नींबू की कुछ बूंदें पेट के लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकती हैं। अगर आपको पेट से जुड़ी ऐसी कोई भी समस्या है तो नींबू पानी पीना आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है।

लिवर की सेहत-

लिवर की सेहत मेटाबॉलिज्म का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है और गर्म नींबू पानी पीने से लिवर साफ होता है। लिवर पूरी रात सक्रिय रहता है और सुबह गर्म नींबू पानी पीने से लिवर की एनर्जी रिस्टोर होती है।

मुंह की बदबू को दूर करने में

नींबू एक नेचुरल माउथ फ्रेशनर होता है। रोज सुबह नींबू पानी पीने से मुंह की दुर्गंध धीरे-धीरे दूर हो जाती है।

इसके अलावा चोट भरने में मददगार होता है। नींबू में मौजूद विटामिन सी कोलेजन के उत्पादन में मदद करता है और घाव भरने में मदद करता है। यह ऊतकों के निर्माण में भी मदद करता है। नींबू में अम्लीय गुण पाया जाता है।

ये शरीर के पीएच स्तर को भी बनाए रखने में मददगार है। यह लीवर को सक्रिय बनाता है और शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर करने में सहायक साबित होता है।

WeForNews

Continue Reading

लाइफस्टाइल

करवाचौथ पर पति के सामने कैसे दिखें ‘परफेक्ट’

Published

on

karwa chauth -min

करवाचौथ के खास मौके पर विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी आयु की कामना करती हैं और जीवन भर इस दिन उपवास रखती हैं। इस साल यह त्योहार 28 अक्टूबर को है। इस मंगल दिवस पर हर महिला चाहती है कि वह अपने जीवन-साथी के सामने परफेक्ट दिखे।

Related image

युवा, उद्यमी मेकअप आर्टिस्ट और ब्रश एन ब्लशर की संस्थापक कोमल अग्रवाल ने करवा चौथ पर उचित तरीके से मेकअप करने के कुछ टिप्स साझा किए हैं :

* रेडिएंट स्किन : त्वचा को स्वस्थ रखने और इसमें चमक बनाए रखने के लिए यह बहुत जरूरी है कि आप अधिक से अधिक पानी पीएं। मुल्तानी मिट्टी के साथ शहद वाले घर में बने घरेलू पैक का इस्तेमाल करें। अपने रोजाना की डाइट में फल और हरी सब्जियां लें।

Image result for मुल्तानी मिट्टी चेहरे पर* मेहंदी : मेहंदी मोहब्बत की पहचान है, क्योंकि इसके रंग की गहराई ये बताती है कि पति अपनी पत्नी को कितना प्यार करता है। अपने हाथों और पैरों को और अधिक सुंदर बनाने के लिए आप वैक्सिंग, मैनिक्योर, पेडिक्योर आदि भी करा सकती हैं। नाखूनों के लिए बहुप्रचलित नेल आर्ट की ओर भी आप रुख कर सकती हैं।

Related image

* हेयरडू : आज बालों को रंगने का चलन है। अपने चेहरे के आकार और उसके टोन के हिसाब से बालों का रंग चुनें। आपके परिधान के मुताबिक आपका हेयरस्टाइल बन, ब्रेड, कर्ल आदि आकार वाला हो सकता है। उपयुक्त हेयर एक्सेसरीज का इस्तेमाल करके आप अपने हेयर स्टाइल में चार चांद लगा दे सकती हैं। साधारण और आंखों को भा जाने वाले लुक के लिए आप बालों को हल्का कर्ल कर सकती हैं या इसे सीधा रख सकती हैं।

Related image

* आई मेकअप : रंगीन या सबका ध्यान खींचने वाले रंग के आई लाइनर का इस्तेमाल करें। आप डबल आई लाइनर का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। पहले साधारण ब्लैक लाइनर का इस्तेमाल करें और फिर उसके ऊपर रंगीन लाइनर का। अगर आप वाकई आई शैडो का इस्तेमाल करना चाहती हैं तो फिर आप कच्चे रंग को चुनें या फिर उसके ऊपर भूरा या काले रंग का इस्तेमाल स्मूक के तौर पर करें। आंख के बीचो-बीच कुछ ऐसे रंग का इस्तेमाल करें जो सबका ध्यान खींचे।

Related image

* चेहरे का मेकअप : चेहरे पर फाउंडेशन एकसार लगाएं जिससे कि आपका मेकअप ज्यादा भड़कीला नहीं लगे। इसके बाद कॉम्पैक्ट पाउडर से टचअप करें।

Related image

* होंठ : लिप्स यानी होंठ हमेशा ही आपके लुक को पूरा बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। मरून और लाल रंग की लिपिस्टिक का इस्तेमाल यहां न करें। किसी दूसरे मुख्य रंगों में से एक को चुनें, जैसे गहरा भूरा, बरगंडी ताकि आप कुछ अलग और आकर्षक लग सकें।

Related image

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular