Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

अमेरिका के सैन्याभ्यास से चीन को बाहर का रास्ता

Published

on

flag_america_usa_fabric_91298_1920x1080-min
File Photo

अमेरिका ने विश्व के सबसे बड़े अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सैन्याभ्साय में शामिल होने के लिए चीन को भेजे गए निमंत्रण को वापस ले लिया है। पेंटागन ने यह घोषणा की।

सीएनएन के मुताबिक, पेंटागन के एक प्रवक्ता ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि चीन का रुख आरआईएमपीएसी सैन्याभ्यास के सिद्धांतों और उद्देश्यों के विरुद्ध है और इसलिए चीन की नौसेना को 2018 के रिम ऑफ द पैसिफिक (आरआईएमपीएसी) सैन्याभ्यास से बाहर कर दिया गया है।

आरआईएमपीएसी सैन्याभ्यास का हवाई में हर साल में आयोजन किया जाता है। इसमें भारत, ऑस्ट्रेलिया, जापान और ब्रिटेन सहित दुनियाभर के 20 से अधिक देश हिस्सा लेते हैं। एक रक्षा अधिकारी के मुताबिक, अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैट्टिस और व्हाइट हाउस के समन्वित फैसले के तहत चीन को भेजे जाने वाले आमंत्रण को वापस ले लिया गया है।

हवाई पैसिफिक यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और यूएस पैसिफिक कमांड के ज्वाइंट इंटेलिजेंस सेंटर के पूर्व निदेशक कार्ल स्कस्टर ने सीएनएन को बताया कि चीन के आमंत्रण को वापस लेने का फैसला यह बताता है कि तुष्टिकरण के दिन अब लद गए हैं।

उन्होंने कहा, “अब हम कूटनीतिक रूप से कड़ी कार्रवाई करने के लिए तैयार हैं। हम चीन को बता रहे हैं कि दक्षिण चीन सागर में और अधिक पैठ का जवाब उसे कूटनीतिक और आर्थिक नतीजों के रूप में दिया जाएगा।

–आईएएनएस

अंतरराष्ट्रीय

रूस के समंदर में दो जहाजों में लगी आग, 11 की मौत

Published

on

रूस से क्रीमिया को अलग करने वाले केर्च जलडमरूमध्य में दो जहाजों में आग लगने से कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई।

खबरों के मुताबिक इन जहाजों के चालक दल के सदस्यों में भारत, तुर्की एवं लीबिया के नागरिक थे। यह आग रूसी सीमा के जलक्षेत्र के पास सोमवार को लगी थी।

दोनों जहाजों पर तंजानिया के झंडे लहरा रहे थे। इनमें से एक तरलीकृत प्राकृतिक गैस लेकर जा रहा था जबकि दूसरा टैंकर था। यह आग तब लगी जब दोनों पोत एक-दूसरे से ईंधन स्थानांतरित कर रहे थे।

रूसी संवाद समिति तास ने समुद्री अधिकारियों के हवाले से बताया कि इनमें से एक पोत कैंडी में चालक दल के 17 सदस्य मौजूद थे जिनमें नौ तुर्की नागरिक एवं आठ भारतीय नागरिक थे।

दूसरे पोत माइस्ट्रो में सात तुर्की नागरिकों, सात भारतीय नागरिकों एवं लीबिया के एक इंटर्न समेत चालक दल के 15 सदस्य सवार थे। रूसी टेलिविजवन चैनल आरटी न्यूज ने रूसी समुद्री एजेंसी के हवाले से बताया कि कम से कम 11 नाविकों की मौत हुई है।

एजेंसी के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘माना जा रहा है कि एक विस्फोट हुआ (एक पोत में)। फिर यह आग दूसरे पोत तक फैल गई। बचाव नौका पहुंचाई जा रही है।’

प्रवक्ता ने बताया कि करीब तीन दर्जन नाविक नाव से कूद करबच निकल पाने में कामयाब हुए। अब तक 12 लोगों को समुद्र से निकाला जा चुका है। नौ नाविक अब भी लापता हैं।

एक जहाज का नाम कैंडी है जिसमें 17 सदस्यों का चालक दल है। इसमें तुर्की के 9 सदस्य और भारत के आठ नागरिक सवार हैं। वहीं मैस्त्रो जहाज में 15 सदस्यों का चालक दल है। जिसमें सात तुर्की, सात भारतीय और एक लिबिया का इंटर्न है। यह बात रूस की न्यूज एजेंसी तास ने कही है।

रूसी समुद्री एजेंसी का कहना है कि 11 लोगों की मौत हो चुकी है। संभवत: एक जहाज में धमाका होने से आग लग गई जो दूसरे जहाज में फैल गई। बचाव दल को भेज दिया गया है। जलते हुए जहाजों से कूदकर तीन नाविकों ने अपनी बचाई।

समुद्र से अभी तक 12 लोगों को बचाया जा चुका है। 9 नाविक फिलहाल लापता हैं। गंभीर मौसम परिस्थितियों की वजह से पीड़ित मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए तट पर नहीं पहुंच पाए।

WeForNews

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

इंडोनेशिया में 6.2 तीव्रता का भूकंप

Published

on

earthquake

इंडोनेशिया के ईस्ट नुसा तेंगारा प्रांत में मंगलवार को रिक्टर पैमाने 6.2 की तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। इससे सुनामी आने की संभावना नहीं है। देश के मौसम विज्ञान और भूभौतिकी एजेंसी ने यह जानकारी दी। 

एजेंसी ने कहा कि किसी तरह के नुकसान होने की कोई प्रारंभिक रिपोर्ट नहीं आई है। 

मौसम विज्ञान एवं भूभौतिकी एजेंसी के प्रभारी अधिकारी अजीज सुगियारसो ने कहा कि भूकंप का केंद्र प्रांत के सुंबा बरात जिले के दक्षिणपश्चिम में 103 किलोमीटर दूर और समुद्र तल के नीचे 10 किलोमीटर की गहराई में था।

उन्होंने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया, “इस भूकंप से सुनामी आने का कोई संकेत नहीं है, इसलिए हमने इसके लिए चेतावनी जारी नहीं की।”

उन्होंने आगे कहा, “हमें भूकंप से कोई नुकसान या किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है।”

अधिकारी ने कहा कि भूकंप के नौ मिनट बाद, प्रांत में 5.2 तीव्रता का एक और झटका महसूस किया गया। 

–आईएएनएस

WeForNews

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

पाकिस्तान में तेल टैंकर-बस की भिड़ंत, 26 की मौत

Published

on

accident

पाकिस्तान में एक बस और ट्रक के बीच भिड़ंत में 26 लोग मारे गए हैं, अधिकारियों ने यह जानकारी दी। ‘डॉन’ के मुताबिक, यह हादसा बलूचिस्तान के लासबेला जिले के हब तहसील में सोमवार को हुआ।

विपरीत दिशा से आ रहे ट्रक से बस की टक्कर तब हुई जब वह 40 से अधिक सवारियों के साथ कराची से पंजगुर जा रही थी। 

टक्कर के बाद भीषण आग लग गई, क्योंकि ट्रक में ईंधन रखा हुआ था। विशाल आग की लपटों ने बस और ट्रक को घेर लिया और दोनों वाहनों में बैठे लोग फंस गए।

लासबेला के डिप्टी कमिश्नर शब्बीर मेंगल ने कहा, “हमने वाहन से 24 शव बरामद किए हैं। सभी जली हुई अवस्था में हैं।”

करीब 16 लोग घायल हुए हैं, उनमें से पांच गंभीर रूप से घायल हैं और उन्हें एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

’इदी’के बचावकर्मी बस से शेष शवों को बाहर निकालने के प्रयास कर रहे थे। ज्यादातर बरामद शव बुरी हालत में जले होने के कारण पहचान में नहीं आ रहे थे। 

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular