Connect with us

खेल

वर्ल्ड क्रिकेट पर अभी 10 साल और राज करेंगे विराट कोहली

Published

on

Virat Kohli
भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली (फाइल फोटो)

कोहली ने वर्ल्ड क्रिकेट को खुली चुनौती दे दी है कि आने वाले 10 सालों तक वो क्रिकेट जगत पर राज करते रहेंगे.. यानी 2027 तक क्रिकेट जगत में विराट युग जारी रहेगा… तीन वर्ल्ड कप और खेलने की चाहत रखने वाले कोहली के निशाने पर तमाम वैसे बड़े रिकॉर्ड्स भी होंगे जिनसे वो अभी कोसों दूर हैं… लेकिन टारगेट सिर्फ यही नहीं है… कोहली भारतीय खेलों को एक नए मुकाम पर पर पहुंचाना चाहते हैं… और अच्छी बात ये है कि वो अपनी इस योजना का विराट आगाज़ कर चुके हैं…

ये सवाल फैंस को अभी से विचलित कर सकता है कि कोहली को आप कितने और साल मैदान पर खेलते देखना चाहते हैं.. ज़ाहिर है ऐसे टैलेंट को देखने के लिए आंखे कभी नहीं थकती.. सचिन तेंदुलकर अगर आज भी मैदान पर बल्ला लेकर उतर जाएं तो शहरों की गलियों में सन्नाटा पसर जाएगा.. हर कोई फिर से सचिन बल्लेबाज़ी को अपनी आंखों में समेट लेना चाहेगा… ऐसा कुछ विराट कोहली के साथ भी है.. लगभग 10 साल के करियर के बाद विराट कोहली ने अपनी क्रिकेटिंग लाइफ के बारे में एक फैसला कर दिया… कोहली का मानना है कि वो 8 से 10 साल और क्रिकेट को दे सकते हैं…

हालांकि खेलने की उम्र में जब आप अपनी पीक पर हों तो किसी भी खिलाड़ी के लिए ये तय कर पाना बेहद मुश्किल होता है कि वो कब तक मैदान पर अपना बेस्ट दे पाएगा… लेकिन कोहली को अपनी फिटनेस, अनुशासन, प्रेरणा, समर्पण और त्याग ने इतना तैयार कर दिया है कि उन्होंने अपनी स्पोर्टिंग लाइफ को पूरी तरह से प्लान कर लिया.. हालांकि ये सब इतना आसान नहीं होता.. लेकिन जुनून, लगन और मेहनत से कोहली कभी पीछे हटे नहीं और इसी अनुशासन ने उन्हें एक अलग मुकाम पर ला कर खड़ा कर दिया…

यही वजह भी है कि विराट आगे आने वाले 10 सालों में खुद के भविष्य में आसानी से झांक पा रहे हैं… यानी कोहली अगर यूं ही 10 साल बिना रुके बिना थके मैदान पर खेलते रहे तो क्रिकेट जगत के कई बड़े रिकॉर्ड्स का टूटना या फिर बनना तय हो जाएगा.. कोहली की इसी काबलियत ने उन्हें एक चैंपियन का दर्जा दिया है.. कोहली एक ट्रू स्पोर्ट्समैन हैं लिहाज़ा वो बेहतरी से जानते हैं कि एक एथलीट को खुद की क्षमता पर सबसे ज्यादा भरोसा होना चाहिए… उसे तब तक नहीं थकना चाहिए जब तक वो गिर ना जाए..

यानी क्रिकेट की दुनिया के तमाम बड़े मुकाम हासिल करने के बाद कोहली की तैयारी अब हिन्दुस्तान को अपने जैसे वर्ल्ड चैंपियन्स देने की है… कोहली की ख्वाहिश है कि उन्होंने जो क्रिकेट जैसे खेल से देश को दिया वैसा ही दूसरे एथलीट्स भी अपने अपने खेलों से मुल्क की अलग पहचान बनाए..

सिर्फ क्रिकेट ही नहीं बल्कि दूसरे खेलों में भी देश का मान बढ़े, मेडल्स मिलें, पहचान मिले, सम्मान मिले और इसके लिए ऐसे खिलाडियों को तैयार करने की ज़रूरत है जो अपने अपने खेल में बेस्ट खिलाड़ी हैं लेकिन उन्हें चैंपियन्स होने का दर्जा हासिल नहीं है… इसी ज़रूरत ने कोहली को अपने जैसे चैंपियन्स देश को देने जिम्मा उठा लिया..

कोहली की फाउंडेशन ऐसे खिलाडियों की पहचान कर उनकी ट्रेनिंग से लेकर न्यूट्रीशन तक.. इक्विपमेंट से लेकर उनकी परफोर्मेंस को बेस्ट करने वाली टेक्नीक तक का ख्याल रखने की कोशिश करेगी.. और इसके लिए कोहली ने सालाना 2 करोड़ का बजट भी तैयार किया है.. ये रकम खिलाड़ियों की तैयारियों के हिसाब से और बड़ी भी हो सकती है लेकिन उनका ये प्रण है कि वो अपने जैसे कई चैंपियन्स तैयार करें तो हर खेल में देश का मान बढ़ा सकें

यही नहीं कोहली ने अपनी क्रिकेटिंग फेटर्निटी के खिलाड़ियों से भी अपील की क्रिकेट के साथ बाकी खेलों के खिलाड़ियों के लिए भी वो आगे आएं.. जो इन खिलाड़ियों को ज़मीनी स्तर से लेकर एक चैंपियन बनने तक के सफर में मदद करें… कोहली ने जैसे अपने क्रिकेटिंग फ्यूचर को प्लान किया है वैसे ही मौजूदा दौर में बाकी खेलों में भारत के बढ़ते वर्चस्व को देखते हुए ये साफ कर दिया कि अगर उनकी ये कोशिश सफल हुई तो आगे आने वाले 5-10 सालों में भारत ना सिर्फ एक कंप्लीट स्पोर्टिंग नेशन होगा बल्कि सभी खेलों में भारत के खिलाड़ी वर्ल्ड स्पोर्ट्स में डॉमिनेट भी करेंगे

कोहली की ये पहल वाकई अच्छी है उन्हें देश को अपने जैसे ही चैपियन्स मुहैया कराने है.. सिर्फ क्रिकेट में नहीं बल्कि दूसरे खेलों में भी ताकि आने वाले वक्त में देश का सीना तमगों से चमके और खेलों में दुनिया में भारत का राज हो..

wefornews bureau

खेल

चैम्पियंस ट्रॉफी : भारत ने दर्ज की दूसरी जीत, ओलम्पिक विजेता को हराया

Published

on

ChampionsTrophy2018
champions trophy 2018

ब्रेदा (नीदरलैंडस)। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने रविवार को चैम्पियंस ट्रॉफी के अपने दूसरे मुकाबले में ओलम्पिक विजेता अर्जेटीना को 2-1 से मात देकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। पहले मुकाबले में उसने शनिवार को ही चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 4-0 से मात दी थी।

भारत के लिए हरमनप्रीत सिंह और मनदीप सिंह ने गोल किए। अर्जेटीना के लिए गोंजालेज पेलिएट ने एकमात्र गोल किया। भारत के वरिष्ठ खिलाड़ी सरदार सिंह का यह 300वां अंतर्राष्ट्रीय मैच था।

पहले क्वार्टर की शुरुआत दोनों टीमों ने धीमी की और किसी तरह की जल्दबाजी में नहीं दिखीं। भारत ने हालांकि धीरे-धीरे अर्जेटीना के घेरे में जाना शुरू किया। उसे चौथे मिनट में पेनाल्टी कॉर्नर मिल सकता था जिसे अर्जेटीना ने रेफरल लेकर नकार दिया।

अर्जेटीना कुछ देर बाद लय में आई और उसे 11वें मिनट में लगातार दो पेनाल्टी कॉर्नर मिले जिसे उसने जाया कर दिया। पहले क्वार्टर का अंत बिना गोल के हुआ।

दूसरे क्वार्टर में 17वें मिनट में भारत को पहला पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसे हरमनप्रीत ने गोल में बदल कर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिलाने में कोई गलती नहीं की। अगले ही मिनट भारत ने एक और मौका बनाया लेकिन अर्जेटीनी डिफेंस ने एस.वी सुनील को रास्ते में ही रोक दिया।

20वें मिनट में अर्जेटीना ने लगभग गोल कर ही दिया था जिसे श्रीजेश ने नकार दिया। अर्जेटीना बराबरी का गोल करने को बेताब दिख रहा था। इसी बीच भारत ने 28वें मिनट में गोल कर उसकी परेशानी को और बढ़ा दिया। यह गोल मनदीप ने दिलप्रीत के पास पर किया।

अर्जेटीना को अगले मिनट पेनाल्टी कॉर्नर मिला और इस बार गोंजालेज गोल करने में कामयाब रहे। दूसरे क्वार्टर के अंत तक स्कोर भारत के पक्ष में 2-1 था।

तीसरे क्वार्टर की शुरुआत में दोनों टीमें धीमा खेल खेल रही थीं, लेकिन अंत तक आते दोनों ने कुछ अच्छे मूव बनाए। 41वें मिनट में मनदीप के पास वन टू वन चांस में गोल करने का आसान मौका था, लेकिन वह जब तक गेंद को नेट में डाल पाते उससे पहले ही अर्जेटीना के दो डिफेंडरों ने उनका रास्ता रोक दिया।

अर्जेटीना की कोशिश पेनाल्टी कॉर्नर हासिल करने की थी जिसमें 43वें मिनट में वह सफल रही। हालांकि वह इस मौके पर बराबर का गोल नहीं कर पाई। अगले ही मिनट दिलप्रीत ने भारत के लिए मौका बनाया। दिलप्रीत, मनदीप और ललित साथ मिलकर भी गेंद को नेट में नहीं डाल पाए। इसी दौरान सुरेंद्र कुमार को ग्रीन कार्ड मिला और उन्हें बाहर जाना पड़ा।

आखिरी क्वार्टर में अर्जेटीना बराबरी की कोशिश में था। इसी कारण वह आक्रमक खेल खेल रहा था बावजूद इसके वह दूसरा गोल नहीं कर सका। उसने हालांकि भारत को तीसरा गोल करने से महरूम भी रखा।

WeForNews

Continue Reading

खेल

फीफा विश्व कप 2018 : जर्मनी ने स्‍वीडन को हराया, प्री-क्वार्टर फाइनल की जगी उम्मीद

Published

on

germany
जीत के बाद जश्‍न मनाते जर्मन खिलाड़ी।

सोचि। फीफा विश्व कप की मौजूदा चैम्पियन जर्मनी ग्रुफ एफ के अपने दूसरे मुकाबले में करिश्माई मिडफील्डर टॉनी क्रूस के इंजुरी टाइम (95वें मिनट) में किए गए दमदार गोल की बदौलत स्वीडन को 2-1 से हराया। इस जीत के बाद जर्मनी के तीन अंक हो गए हैं और उसने प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है।

फिश्ट स्टेडियम में जर्मनी ने मैच की आक्रामक शुरुआत की और चौथे मिनट में ही जूलियन ड्रेक्सलर को स्वीडन के बॉक्स में छह गज की दूरी से गोल करने का शानदार मौका मिला लेकिन वह डिफेंडर को छकाने में कामयाब नहीं हो पाए।

मैच के 12वें मिनट में स्वीडन ने बेहतरीन काउंटर अटैक किया। जर्मनी के खिलाड़ी ने मिडफील्ड में गेंद पर नियंत्रण खोया और स्वीडन के स्ट्राइकर मार्कस बर्ग ने गेंद के साथ हाफ-लाइन से अच्छी दौड़ लगाई। हालांकि, विश्व के सर्वश्रेष्ठ गोलकीपरों में शुमार मैनुअल नॉयर ने बॉक्स में शानदार बचाव करके विपक्षी टीम को शुरुआती बढ़त नहीं बनाने दी ।

इस काउंटर अटैक के बाद भी जर्मनी ने अपना आक्रामक खेल जारी रखा लेकिन स्वीडन मैच का पहला गोल करने में सफल रही। 32वें मिनट में जर्मनी के खिलाड़ी ने एक बार फिर अपने हाफ में गेंद पर नियंत्रण खोया और स्वीडन के मिडफील्डर विक्टोर क्लाएसन ने ओला तोइवोनेन को शानदार पास दिया जिन्होंने नॉयर को छकाते हुए गेंद को गोल में डालकर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी।

पहले हाफ के इंजुरी टाइम (47वें मिनट) में सेबस्टियन लार्सन ने बॉक्स के बाहर से बेहतरीन फ्री-किक लीया जिस पर बर्ग हेडर लगाने में कामयाब रहे लेकिन नॉयर ने अपने दाईं ओर कूदते हुए शानदार बचाव किया।

जर्मनी ने दूसरे हाफ की भी दमदार शुरुआत की और 48वें मिनट में बराबरी का गोल दागा। स्ट्राइकर टीमो वर्नर ने दाएं फ्लेंके से बॉक्स में शानदार पास दिया। मिडफील्डर मार्को रेउस ने गेंद को गोल में डालने में कोई गलती नहीं की और टूर्नामेंट के 21वें संस्करण का अपना पहला गोल दागा।

मैच के 61वें मिनट में रेउस एवं मारियो गोमेज को छह गज की दूरी से जर्मनी को बढ़त दिलाने का शानदार मौका मिला लेकिन दोनों खिलाड़ी दाईं छोर से मिले पास पर गोल नहीं कर पाए।

जर्मनी को 82वें मिनट में झटका लगा, डिफेंडर जेरोम बोटेंग को दूसरा पीला कार्ड मिलने के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा। हालांकि, इससे जर्मनी के आक्रामक रूख में काई बदलाव नहीं आया और 88वें मिनट में गोमेज ने बॉक्स में शानदार हेडर लगाया लेकिन गोलकीपर मार्टिन ओलसन ने स्वीडन को मैच में बनाए रखा।

इंजुरी टाइम में जर्मनी को बॉक्स के पास बाईं छोर पर फ्री-किक मिली जिस पर टॉनी क्रूस ने शानदार गोल दागते हुए अपनी टीम को अप्रत्याशित जीत दिला दी।

जर्मनी ग्रुप स्तर के अपने अगले मुकाबले में बुधवार को दक्षिण कोरिया से भिड़ेगी जबकि स्वीडन का सामना मेक्सिको से होगा।

–आईएएनएस

Continue Reading

खेल

फीफा विश्व कप : अंतिम-16 में पहुंचा मेक्सिको

Published

on

mexico team
जीत का जश्‍न मनाते मेक्सिको के खिलाड़ी।

रोस्टोव ऑन डॉन। मेक्सिको ने फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण में रोस्टोव एरिना में खेले गए ग्रुप-एफ के अपने दूसरे मैच में कोरिया को 2-1 से मात देकर प्री-क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है।

यह मेक्सिको की इस विश्व कप में लगातार दूसरी जीत है। पहले मैच में मेक्सिको ने मौजूदा विजेता जर्मनी को 1-0 से मात दी थी। वह अपने ग्रुप से अंतिम-16 में पहुंचने वाली पहली टीम बनी है।

मेक्सिको के लिए कार्लोस वेला ने पहले हाफ में और जेविरयर हर्नाडेज ने दूसरे हाफ में गोल किए। कोरिया के लिए हेयून मिन सोन ने आखिरी मिनट में इकलौता गोल किया।

मैच में मेक्सिको पूरी तरह से कोरिया पर हावी रही। मेक्सिको ने अपना पहला करीबी मौका 12वें मिनट में बनाया जब उसे प्री किक मिली। मिग्युएल लायुन ने गेंद आंद्रेस हर्नाडेज के पास पहुंचाई जो उसे बाहर खेल बैठे।

कोरिया के पास 21वें मिनट में पहला मौका आया। गुआडाडरे गेंद को अपने पास ले नहीं पाए सोन ने इस मौके को भुनाने का प्रयास किया। गोल खाली पड़ा था, लेकिन सोन चूक गए। उन्होंने एक के बाद एक तीन प्रयास किए जिसे जो बेकार हो गए। इसके बाद कोरिया को लगातार दो कॉर्नर मिले जो बेकार चले गए।

यहां मेक्सिको ने काउंटर अटैक किया और कोरिया के बॉक्स में घुस गए। इसी दौरान गेंद गलती से कोरियाई खिलाड़ी जांग ह्यन सू के हाथ से टकरा गई। रेफरी ने मेक्सिको को पेनाल्टी दी जिसे वेला ने गोल में बदल कर अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया।

कोरिया यहां से दवाब में थी और मेक्सिको आक्रमण करते हुए खेल रही थी। 43वें मिनट में एक बार फिर मेक्सिको के लाजानो ने 15 यार्ड की दूरी से गेंद को गोल में डालना चाहा, लेकिन उनकी कोशिश को अंजाम तक पहुंचाने के लिए कोई मौजूद नहीं था।

दूसरे हाफ में आते ही लोजानो ने एक और मौका बनाया। इस बार वो गेंद को बार के ऊपर से खेल बैठे।

58वें मिनट में कोरिया के गोलकीपर चू ह्यून वू ने आंद्रेस हर्नाडेज के बॉक्स के बाहर से खेले गए झन्नोदार शॉट को दाईं तरफ डाइव मार रोक मेक्सिको के खाते में दूसरा गोल नहीं जाने दिया।

वू हालांकि 66वें मिनट में जेवियर को गोल करने से रोक नहीं पाए। यह जेवियर के अंतर्राष्ट्रीय करियर का 50वां गोल था। लोजानो ने मध्य से गेंद ली और गोल की तरफ दौड़ पड़े। बॉक्स से पास आते ही उन्होंने बाएं तरफ जेवियर को गेंद दी जिन्होंने पहले एक डिफेंडर के सामने से गेंद को काटा और फिर उसे नेट में डाल अपनी टीम को 2-0 से आगे कर दिया।

सोन ने एक बार फिर 75वें मिनट में कोरिया के लिए गोल करने का मौका हड़बड़ी में गंवा दिया। वो हालांकि 93वें मिनट में अपनी टीम के लिए पहला गोल करने में कामयाब रहे। उन्होंने बॉक्स के बाहर से गेंद को गोल के दाएं कोने में डाल अपनी टीम का गोल का सूखा खत्म किया।

WeForNews

Continue Reading
Advertisement
मनोरंजन17 mins ago

IIFA 2018: श्रीदेवी को बेस्ट एक्ट्रेस, इरफान को बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड

Noida
शहर37 mins ago

नोएडा सेक्टर 15 में पुलिस एनकाउंटर में 2 गिरफ्तार

राष्ट्रीय50 mins ago

सेशेल्स के राष्ट्रपति आज प्रधानमंत्री मोदी से करेंगे मुलाकात

nigeria-wefornews
अंतरराष्ट्रीय1 hour ago

नाइजीरिया में हमला, 86 की मौत

अंतरराष्ट्रीय1 hour ago

तुर्की में एर्दोगन ने जीता राष्ट्रपति चुनाव

शहर1 hour ago

29 जून को दिल्ली में दस्तक देगा मानसून

PM Modi
राष्ट्रीय2 hours ago

10,000 विधवाओं ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा

ChampionsTrophy2018
खेल15 hours ago

चैम्पियंस ट्रॉफी : भारत ने दर्ज की दूसरी जीत, ओलम्पिक विजेता को हराया

kapil-sibal
राजनीति15 hours ago

सिब्‍बल ने शाह से पूछा- कैसी है वो सरकार जहां महिलाओं का गैंगरेप और किसान कर रहे हों खुदकुशी

OP-Rajbhar
राजनीति15 hours ago

योगी के मंत्री ने गठबंधन छोड़ने के दिये संकेत, कहा- ‘बड़ा तूफान आएगा’

beadroom-min
ज़रा हटके2 weeks ago

ये हैं दुनिया के अजीबोगरीब बेडरूम

beer spa
ज़रा हटके2 weeks ago

यहां पीने के साथ नहाने का भी उठा सकते हैं लुफ्त

amit-shah-yogi-adityanath
ब्लॉग3 weeks ago

इस्तीफ़े की हठ ठाने योगी को अमित शाह का दिलासा

congress
चुनाव2 weeks ago

भाजपा को लगा झटका, कांग्रेस ने जीती जयनगर सीट

burger-min
ज़रा हटके2 weeks ago

इस मंदिर में प्रसाद में बंटता है बर्गर और ब्राउनीज

Climate change
Viral सच3 weeks ago

बदलता जलवायु, गर्माती धरती और पिघलते ग्लेशियर

Lack of Toilets
ब्लॉग3 weeks ago

बुंदेलखंड : ‘लड़कियों वाले गांव’ में शौचालय नहीं

bhadash cafe-min
ज़रा हटके2 weeks ago

भड़ास निकालनी हो तो इस कैफे में जाइए…

राष्ट्रीय3 weeks ago

किसान आंदोलन के पांचवे दिन मंडियों में सब्जियों की कमी से बढ़े दाम

bundelkhand water crisis
ब्लॉग3 weeks ago

बुंदेलखंड में पानी के लिए जान दे रहे जानवर और इंसान

SANJU-
मनोरंजन5 days ago

‘संजू’ में रहमान का गाना ‘रूबी रूबी’ रिलीज

Loveratri Teaser
मनोरंजन2 weeks ago

सलमान के बैनर की लवरात्रि का टीजर रिलीज

Salman khan and sahrukh khan
मनोरंजन2 weeks ago

‘जीरो’ का नया टीजर दर्शकों को ईदी देने को तैयार

soorma
मनोरंजन2 weeks ago

‘सूरमा’ का ट्रेलर रिलीज

Dhadak
मनोरंजन2 weeks ago

जाह्नवी की फिल्म ‘धड़क’ का ट्रेलर रिलीज

मनोरंजन3 weeks ago

सपना के बाद अब इस डांसर का हरियाणा में बज रहा है डंका

sanju-
मनोरंजन3 weeks ago

फिल्म ‘संजू’ का रिलीज हुआ पहला गाना, ‘मैं बढ़िया, तू भी बढ़िया’

race 3
मनोरंजन3 weeks ago

‘रेस 3’ का तीसरा गाना ‘अल्‍लाह दुहाई है’ रिलीज

salman khan
मनोरंजन4 weeks ago

सलमान खान की फिल्म रेस-3 का ‘सेल्फिश’ गाना हुआ रिलीज

राष्ट्रीय1 month ago

दिल्ली से विशाखापट्टनम जा रही आंध्र प्रदेश एक्‍सप्रेस के 4 कोच में लगी आग

Most Popular