ट्रंप ने 'पैरासाइट', ब्रैड पिट को ऑस्कर मिलने पर रैली में साधा निशाना | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

ट्रंप ने ‘पैरासाइट’, ब्रैड पिट को ऑस्कर मिलने पर रैली में साधा निशाना

Published

on

Houston Howdy Modi Donald Trump

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोलोराडो में एक प्रचार रैली के दौरान दक्षिण कोरियाई फिल्म ‘पैरासाइट’ को बेस्ट पिक्चर का ऑस्कर देने पर और हॉलीवुड अभिनेता ब्रैड पिट को भी ऑस्कर से सम्मानित करने पर निशाना साधा। ट्रंप ने रैली में भीड़ से पूछा, “वैसे, इस साल अकेडमी अवार्ड्स कितने बुरे थे?”

उन्होंने कहा, “और विजेता है.. दक्षिण कोरिया की एक फिल्म! यह सब क्या बेतुका सा था?”

ट्रंप ने कहा, “दक्षिण कोरिया के साथ व्यापार को लेकर हमें कई समस्याएं मिली हैं और इन सबसे ऊपर वे उन्हें वर्ष की सर्वश्रेष्ठ फिल्म का अवार्ड दे देते हैं। क्या यह अच्छा था? मुझे नहीं पता। आइए, ‘गॉन विद द विंड’, ‘सनसेट बुलेवार्ड’ और कई बेहतरीन फिल्में कृपया फिर लाएं।”

समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, ट्रंप ने दोनों देशों की राजनीतिक और आर्थिक स्थिति को फिल्म को दिए जाने वाले पुरस्कार के साथ जोड़ा, जो कांस फिल्म फेस्टिवल फिल्म में भी अवार्ड अपने नाम कर चुका है।

उन्होंने सर्वश्रेष्ठ अंतर्राष्ट्रीय फीचर फिल्म श्रेणी के संदर्भ में पूछा, “मुझे लगा कि यह सबसे अच्छी विदेशी फिल्म थी?” इसे भी ‘पैरासाइट’ ने भी जीता।

‘पैरासाइट’ ने सर्वश्रेष्ठ फिल्म का ऑस्कर जीतने वाली पहली विदेशी भाषा की फिल्म बनकर इतिहास रच दिया।

फिल्म के अमेरिकी वितरक, नियॉन की प्रतिक्रिया कुछ मिनट बाद ट्विटर पर आई। उन्होंने कहा, “समझ में आता है, वह नहीं पढ़ सकते हैं।”

सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के लिए पिट को पुरस्कृत करने के लिए भी ट्रंप ने ऑस्कर की आलोचना की।

उन्होंने कहा, “और फिर आपने ब्रैड पिट को अवार्ड दिया, मैं कभी भी उनका बहुत बड़ा प्रशंसक नहीं रहा।”

–आईएएनएस

अंतरराष्ट्रीय

कोरोनावायरस: एडीबी ने बांग्लादेश के लिए मंजूर किए 3 लाख डॉलर

Published

on

ADB
फाइल फोटो

ढाका। एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने कोरोनोवायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में बांग्लादेश की सहायता के लिए 300,000 डॉलर के आपातकालीन अनुदान को मंजूरी दे दी है। एक मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई। बीडीन्यूज 24 ने एडीबी के बयान के हवाले से कहा कि यह अनुदान स्वास्थ्य सुरक्षा सामग्री की खरीद में मदद करेगा, जिसमें व्यक्तिगत सुरक्षा गियर, एन95 मास्क, सुरक्षा चश्मे, एप्रन, थर्मामीटर और बायोहेजर्ड बैग शामिल हैं।

अनुदान सहायता एशियाई विकास बैंक की क्षेत्रीय तकनीकी सहायता ‘कोरोनोवायरस रोग के प्रकोप और अन्य संचारी रोगों के संभावित प्रकोप से निपटने के लिए क्षेत्रीय समर्थन’ से प्राप्त होती है।

बीडीन्यूज24 ने एडीबी के कंट्री डायरेक्टर मनमोहन प्रकाश के हवाले से कहा, “एडीबी कोविड-19 को नियंत्रित करने की लड़ाई में पूरी तरह से बांग्लादेश की सहायता करने के लिए प्रतिबद्ध है, और एडीबी की यह पहली नियोजित सहायता है। एडीबी सरकार को इस कठिन परिस्थिति से निपटने में मदद करने की तैयारी कर रहा है।”

उन्होंने कहा कि यह सहायता बांग्लादेश को कोरोना के रोकथाम में मजबूत करने, रोग से स्वास्थ्य पेशेवरों की सुरक्षा में सुधार करने, संक्रमण का पता लगाने के लिए लोगों का परीक्षण करने, गंभीर मामलों का प्रबंधन करने और घातक वायरस के जन संचरण के जोखिम को कम करने में मदद करेगा।

देश के ‘इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी, डिजीज कंट्रोल एंड रिसर्च’ के अनुसार, बांग्लादेश में कोरोना के कारण 5 मौतों के साथ वर्तमान में कन्फर्म मामलों की संख्या 48 है।

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

ट्रंप ने जीएम को वेंटिलेटर बनाने को मजबूर किया

Published

on

Houston Howdy Modi Donald Trump

न्यूयॉर्क, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोनावायरस मरीजों के इलाज के लिए वेंटिलेटर की तत्काल जरूरत के मद्देजर ऑटो सेक्टर की दिग्गज कंपनी जनरल मोटर्स को वेंटिलेटर बनाने के लिए मजबूर किया है और इसके लिए उन्होंने रक्षा शक्तियों का इस्तेमाल किया है। 

राष्ट्रपति ने कंपनी के वादों से पीछे हटने और कीमतों को लेकर परेशान व सौदेबाजी करने के बाद ऐसा किया है। 

ट्रंप ने शुक्रवार को घोषणा की कि वह जीएम के खिलाफ रक्षा उत्पादन अधिनियम (डीपीए) का इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “हमने सोचा कि हमारे पास 40,000 वेंटिलेटर के लिए एक सौदा था और अचानक, 40,000 से 6,000 तक नीचे आ गया। और फिर उन्होंने इस बारे में बात की। उच्च मूल्य की तुलना में हम चर्चा कर रहे थे, जितने पर हम बात कर रहे थे, उससे कहीं ज्यादा कीमतों के बारे में बात की। इसलिए मुझे यह पसंद नहीं आया।”

वेंटिलेटर की उपलब्धता महामारी से निपटने के लिए देश की तैयारियों का मापदंड बन गया है, क्योंकि अमेरिका में शुक्रवार रात तक 1,706 मौतों के साथ कोरोना के 104,463 मामले सामने आ चुके थे। 

स्थिति की गंभीरता को दर्शाते हुए, मिशिगन राज्य के एक हॉस्पिटल ग्रुप ने कथित तौर पर जीवन रक्षक उपकरणों की कमी होने पर हेल्थ केयर की व्यवस्था के संबंध में पत्र लिखा।

सीएनएन के अनुसार, डॉक्युमेंट में कहा गया है, “जिन मरीजों के बेहतर होने की सबसे ज्यादा संभावना है, वे हमारी पहली प्राथमिकता हैं।”

इसने कथित तौर पर कहा कि रिकवरी के लिए कम संभावना वाले गंभीर मरीजों को वेंटिलेटर से इनकार किया जा सकता है।

हॉस्पिटल ग्रुप ने सीएनएन को बताया कि वर्तमान में ऐसी नीत नहीं है लेकिन बेहद खराब हालात में ऐसा हो सकता है। 

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

अबू धाबी हिंदू मंदिर में ऑनलाइन ‘सत्संग’

Published

on

coronavirus

अबू धाबी: कोरोनावायरस महामारी के कारण संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में धार्मिक सभाओं को निलंबित कर दिया गया है। इस बीच अबू धाबी में एक हिंदू मंदिर हर शुक्रवार शाम साप्ताहिक ‘सत्संग सभा’ का एक वेबकास्ट आयोजित कर रहा है।

एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि यह प्रयास लोगों को शांत रखने में मदद करेगा। खलीज टाइम्स की रिपोर्ट में अबू धाबी के बीएपीएस श्री स्वामीनारायण मंदिर के हवाले से यह जानकारी मिली। “वैश्विक स्तर पर फैली कोरोनावायरस महामारी के मद्देनजर इस वायरस को रोकने के लिए और सरकार के प्रयासों में सहायता करने के लिए हमने यह निर्णय किया है। हमने अगली नोटिस तक बीएपीएस हिंदू मंदिर में सभी सत्संरग सभाओं को स्वेच्छा से निलंबित कर दिया है।”

“हालांकि, भक्तजन हमारी साप्ताहिक प्रार्थनाओं में हर शुक्रवार शाम चार बजे ऑनलाइन शामिल हो सकते हैं।”

मंदिर के निदेशकों में से एक अशोक कोटेचा ने कहा, “सरकार के प्रयासों का समर्थन करने के लिए हमने पिछले सप्ताह से ही अपनी गतिविधियों को निलंबित कर दिया है। ‘सभा डॉट मंदिर डॉट एई’ पर शुक्रवार को शाम चार बजे ऑनलाइन प्रार्थना का आयोजन कर रहे हैं।”

इस बीच, सेंट थॉमस इंडियन ऑर्थोडॉक्स चर्च के विक्टर और अध्यक्ष रेव फ्रान निनान फिलिप ने कहा, “हालांकि चर्च के द्वार बंद कर दिए गए हैं, लेकिन चर्च परिसर के भीतर रहने वाले प्रीस्ट द्वारा पूरे दिन प्रार्थना और सेवाओं का आयोजन किया जा रहा है। महामारी के शिकार लोगों के लिए प्रार्थनाएं की जा रही हैं।”

दुबई में सेंट मैरी कैथोलिक चर्च हर दिन पूजा के स्थानों पर लाइव-स्ट्रीमिंग का आयोजन कर रहा है, जिन्होंने कोरोनावायरस को फैलने से रोकने के लिए एहतियात के तौर पर अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है।

फादर सेंट मैरी कैथोलिक चर्च के पैरिश प्रीस्ट लेनी कोनली ने खलीज टाइम्स को बताया, “हम हर दिन के लिए एक प्रीस्ट को ऑनलाइन जनसमूह का संचालन करने के लिए देते हैं। हम लोगों की अच्छी सेवा कर रहे हैं। क्योंकि कुछ भी नहीं करने से बेहतर है कुछ करना।”

यूएई में अब तक कोरोनोवायरस के 405 मामलों पुष्टि हुई है और दो मौतें हुई हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular