राष्ट्रीय

अयोध्या मंदिर विवाद सुलझाने के लिए मैं 100 बार फेल होने को तैयार: श्री श्री

sri sri ravi shankar-min
फाइल फोटो

श्री श्री रविशंकर ने अयोध्‍या विवाद के समाधान की पेशकश के साथ गुरुवार को अयोध्‍या में सभी पक्षकारों से मुलाकात की। मुलाकात के बाद श्री श्री रविशंकर ने कहा कि राम मंदिर मुद्दे पर फॉर्मूला निकालना आसान नहीं है, लेकिन वह 100 बार फेल होने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा कि कोर्ट का फैसला एक पक्ष पर भारी पड़ेगा, हमें सोचने के लिए थोड़ा समय चाहिए, राजनीति और कोर्ट को इन मुलाकातों से अलग रखें। संघर्ष के बिना ही हल निकलना चाहिए।

इसके साथ ही कहा कि अयोध्‍या विवाद के समाधान के लिए आशान्वित हैं। इस पर बीजेपी के पूर्व सांसद राम विलास वेदांती ने सख्‍त ऐतराज जताते हुए कहा है कि श्री श्री रविशंकर मध्‍यस्‍थता करने वाले कौन हैं? उनको अपना एनजीओ चलाना चाहिए और विदेशी फंड को जमा करना चाहिए। मेरा मानना है कि उन्‍होंने अकूत संपत्ति अर्जित कर ली है और उस जांच से बचने के लिए राम मंदिर मुद्दे में कूद पड़े हैं।

डॉ. रामविलास दास वेदांती ने कहा कि श्री श्री रविशंकर को इस मामले में नहीं पड़ना चाहिए। वह चाहते हैं कि मंदिर और मस्जिद एक साथ बने, लेकिन उनका फॉर्मूला हमें मंजूर नहीं। वे अपने फायदे के लिए अयोध्‍या आ रहे हैं। हम श्री श्री रविशंकर से मिलने नहीं जाएंगे।

इस बीच योगी आदित्‍यनाथ ने अयोध्‍या विवाद पर कहा है कि अब इस मसले पर बातचीत का कोई मतलब नजर नहीं आ रहा क्‍योंकि बहुत देर हो गई है। 5 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू होने वाली है। गौरतलब है कि बुधवार को श्री श्री रविशंकर ने लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी से इस मुद्दे पर मुलाकात की थी।

 wefornews bureau

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top