'कोरोना पर हर वक्त सोचने से पड़ सकते हैं बीमार' | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

लाइफस्टाइल

‘कोरोना पर हर वक्त सोचने से पड़ सकते हैं बीमार’

Published

on

depression.
File Photo

नई दिल्ली, चीन से विश्व भर में फैले तथा दुनिया में महामारी घोषित हुए कोविड-19 यानी कोरोना वायरस को मात देने के लिए सरकार और समाज के द्वारा अनेकों प्रयास जारी है। ऐसे में अपने दिलो-दिमाग पर कोरोना के भय को कतई प्रभावी ना होने दें।

हर वक्त कोरोना के बारे में सोचने से आप बेवजह मानसिक तनाव में आ सकते हैं। राज्य नोडल अधिकारी (मानसिक स्वास्थ्य) डॉ. सुनील पाण्डेय ने बताया कि हम जिस विषय में भी बहुत देर तक सोचते व मनन करते हैं वह हम पर हावी हो जाता है। ऐसे में उसका नफा-नुकसान नजर आने लगता है, जो कि किसी के लिए भी खतरनाक हो सकता है।

उन्होंने बताया कि लॉकडाउन की स्थिति में सभी चीजें ठहर सी गई हैं। इसके लिए जरूरी है कि अपनी दिनचर्या में बदलाव लाएं और यदि आवश्यक सेवाओं से नहीं जुड़ें हैं, तो घर से बाहर निकलने से परहेज करें।

टीवी, अखबार और सोशल मीडिया में सिर्फ कोरोना के बारे में देखने-समझने और अपनो से सिर्फ उसी बारे में बात करने से बचें। ऐसा करने से आप मानसिक तनाव में आकर अपने साथ ही घर के अन्य सदस्यों को बीमार बना सकते हैं।

उन्होंने इससे ध्यान हटाने के लिए टीवी सीरियल देखने, पुस्तकें पढ़ने आदि की सलाह देते हुए कहा, “खाना बनाने का शौक है तो किचेन में कुछ वक्त बिताएं, यदि आपको घर पर ही रहना है तो अपने शौक को जिंदा रखें। अगर खाना बनाने का शौक है तो अपने हाथों से कुछ नई डिश बनाएं और अपनों के साथ शेयर करें। “

–आईएएनएस

लाइफस्टाइल

डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने इस दवा के इस्तेमाल पर दुनिया को किया सतर्क

Published

on

Tedros Adhanom Ghebreyesus WHO
डब्ल्यूएचओ डायरेक्टर जनरल टेड्रोस एडहैनम घेब्रियेसुस (फाइल फोटो)

कोरोना महामारी के दौरान एहतियात के तौर पर लोग इससे बचने के लिए बिना डॉक्टर की सलाह लिए तरह-तहर की दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं। इतना ही नहीं कोरोना के मरीजों को भी तमाम देशों में कई तरह की दवाएं दी जा रही हैं। ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने चेताया है। डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि कोरोना महामारी के दौरान एंटीबायोटिक्स के अधिक इस्तेमाल से खतरा बढ़ गया है। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि एंटीबायोटिक्स के अधिक इस्तेमाल से बैक्टीरिया की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ रही है और इस वजह से अब अधिक मौतें होंगी।

द गार्जियन डॉट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, डब्ल्यूएचओ डायरेक्टर जनरल टेड्रोस एडहैनम घेब्रियेसुस ने कहा कि एंटीबायोटिक्स के अधिक इस्तेमाल का बुरा असर न सिर्फ कोरोना महामारी के दौरान, बल्कि उसके बाद के वक्त में भी देखने को मिलेगा।

डब्ल्यूएचओ ने एंटीबायोटिक्स के अधिक इस्तेमाल पर चिंता जताते हुए कहा है कि कोरोना वायरस संकट के दौरान यह ट्रेंड और बढ़ सकता है। घेब्रियेसुस ने कहा कि ऐसे मामले बढ़ रहे हैं जिनमें बैक्टीरिया से संक्रमित मरीजों पर उन दवाओं का असर नहीं हो रहा है, जिन दवाओं के जरिए पहले वे ठीक हो रहे थे।

घेब्रियेसुस ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान एंटीबायोटिक्स का इस्तेमाल बढ़ गया है। इससे बीमारों की संख्या और मौतें बढ़ जाएंगी।

डब्ल्यूएचओ डायरेक्टर जनरल ने कहा कि कोरोना के सिर्फ कुछ मरीजों को ही एंटीबायोटिक्स की जरूरत होती है। उन्होंने डॉक्टरों से अपील की है कि बैक्टेरियल इंफेक्शन ना होने पर कोरोना के हल्के लक्षण वाले मरीजों पर एंटीबायोटिक थेरेपी का इस्तेमाल ना करें।

टेड्रोस एडहैनम घेब्रियेसुस ने एंटीमाइक्रोबियल रेजिस्टेंस को इस वक्त की सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक बताया। उन्होंने कहा है कि यह साफ है कि दुनिया बेहद जरूरी एंटीमाइक्रोबियल दवाओं के इस्तेमाल की क्षमता खो रही है।

उन्होंने यह भी कहा कि खासकर कुछ देशों में एंटीबायोटिक्स का अधिक इस्तेमाल हो रहा है। जबकि गरीब देशों में दवाओं की कमी की वजह से लोग तकलीफ में हैं और मर रहे हैं।

Continue Reading

राष्ट्रीय

दिल्ली : 2 महीने बाद भी पूरी तरह नहीं खुला चांदनी चौक बाजार

Published

on

नई दिल्ली, दिल्ली और केंद्र सरकार द्वारा लिए गए निर्णयों के बाद दिल्ली के अधिकांश इलाकों में दुकानें व बाजार यूं तो खोल दिए गए हैं और चांदनी चौक में भी मेवों, मिठाई, कपड़ों, हार्डवेयर, फुटवेयर, स्टेशनरी, बेकरी जैसी कई दुकानें खुल गई हैं।

लेकिन यहां के थोक एवं खुदरा बाजारों में अभी भी दर्जनों दुकानें बंद ही हैं। चांदनी चौक में कई स्थानों पर दुकानें काफी छोटी हैं तो कहीं पर दुकानों के सामने ग्राहकों के खड़े होने के लिए ज्यादा जगह ही नहीं है। इनमें से कई स्थानों पर तो सोशल डिस्टेंसिंग बेहद मुश्किल है।

यहां बड़ी तादाद में ऐसी दुकानें हैं, जहां खरीदार और दुकानदार के बीच भी ढंग से सोशल डिस्टेंसिंग ही नहीं हो पा रही। दुकान में दो-तीन ग्राहक होने पर ग्राहकों और दुकानदारों के बीच महज एक-दो फीट की दूरी ही रह जाती है

चांदनी चौक में जरी और लेडीज कपड़ों के कारोबारी अशोक जैन ने कहा, “हमारी दुकानें बहुत बड़ी नहीं है और फिर दुकान के अंदर ही हमें सारा माल भी रखना होता है। दुकान में दो कर्मचारी भी हैं। ऐसे में अगर एक-दो ग्राहक आ जाएं तो फिर ज्यादा दूरी बनना संभव नहीं है।” कुछ यही हालत चांदनी चौक के फतेहपुरी इलाके में स्थित मिठाई की दुकानों पर भी दिखी।

दुकान के बाहर फुटपाथ पर खड़े लोग न तो किसी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे थे, न ही दुकानदार की ओर से सोशल डिस्टेंसिंग की कोई व्यवस्था की गई थी।

चांदनी चौक के एक अन्य व्यापारी ओ.पी. जिंदल ने कहा, “दिल्ली सरकार ने दुकानों के लिए ऑड-ईवन सिस्टम आज ही खत्म किया है। इसके बाद कल से कई और दुकानें खुलने लगेंगी। इसके अलावा कई व्यापारियों के घर ऐसे इलाकों में हैं, जिन्हें कोरोना हॉटस्पॉट मानकर सील कर दिया गया है। इसलिए फिलहाल सभी लोग अपनी दुकानें नहीं खोल पा रहे हैं।”

वहीं, करीब दो महीने बाद बाजार खुलने के बावजूद चांदनी चौक में ग्राहकों की मौजूदगी भी बेहद कम रही। यहां बल्लीमारान के समीप कुर्ते-पाजामे बेचने वाले एक दुकानदार जहांगीर ने कहा कि बाजार में फिलहाल ग्राहक न के बराबर हैं। लोग केवल आवश्यक वस्तुओं की ही खरीदारी कर रहे हैं।

बाजार में कई ऐसे दुकानदार भी हैं, जिनके पास पुराने ऑर्डर थे, लेकिन लॉकडाउन के कारण इन ऑर्डर को पूरा नहीं कर सके। अब ऐसे माल की खेप पूरी की जा रही है। आधी-अधूरी दुकानें खुलने और कम ग्राहकों के बावजूद चांदनी चौक के आसपास कई स्थानों पर छोटे टेंपो, रेहड़ी-रिक्शा व टू-व्हीलर का जाम सामान्य दिनों की भांति लगना शुरू हो चुका है।

–आईएएनएस

Continue Reading

लाइफस्टाइल

पर्यटन : सर्दियों से पहले यात्रा उद्योग में सुधार की उम्मीद नहीं

Published

on

नई दिल्ली: विश्व के अधिकतर देश कोरोनावायरस महामारी से जूझ रहे हैं। इसका अन्य क्षेत्रों के साथ ही पर्यटन पर भी गहरा असर पड़ा है।

संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा निलंबित है और आने वाले दिनों में यहां बाहरी पर्यटकों के आने की संभावना नगण्य है।

एस. पी. जैन ग्लोबल की ओर से आयोजित वैश्विक लक्जरी बिजनेस पैनल के अनुसार, आतिथ्य एवं विमानन क्षेत्र (हॉस्पिटैलिटी एवं एविएशन सेक्टर) कोविड-19 के कारण सबसे अधिक प्रभावित हैं। भारतीय आतिथ्य उद्योग को 4.5 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है।

हालांकि उद्योग के चौथी तिमाही में वापसी करने का अनुमान भी है। वहीं अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों पर देशों द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों के कारण इनबाउंड और आउटबाउंड पर्यटन ठंडा रहने की ही उम्मीद है। घरेलू कॉर्पोरेट यात्रा में भी देश में व्यवसायों की स्थिति के आधार पर असर देखने को मिल सकता है। हालांकि घरेलू अवकाश यात्रा में फिर से उछाल आ सकता है और यह उद्योग को महामारी के बाद उबरने में मदद करने का एक प्रमुख कारक होगा।

आईजे ड्रीम वकेशन के निदेशक देबाशीष मैत्रा ने आईएएनएस को बताया, शुरुआत में दुनिया के विभिन्न हिस्सों में फंसे लोग भारत की यात्रा करेंगे। कुल मिलाकर इनबाउंड टूरिज्म में धीमी वृद्धि देखी जा सकती है। हालांकि भारत हमेशा से ही अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों के साथ-साथ स्थानीय लोगों के लिए भी एक पसंदीदा और किफायती स्थान रहा है। इसलिए हम 2021 तक सामान्य स्थिति की उम्मीद कर सकते हैं।

स्टर्लिग हॉलिडे रिसॉर्ट्स के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक रमेश रामनाथन के अनुसार, अंतर्राष्ट्रीय यात्रा कम से कम इस वर्ष के लिए धीमी रहने की उम्मीद है। उन्होंने ईमेल के जरिए कहा, गंतव्य को शॉर्ट लिस्ट करते समय सुरक्षा, स्वच्छता, सामाजिक दूरी जैसे पहलुओं पर ध्यान दिया जाएगा। भारत में हिल स्टेशनों, समुद्र तटों, जंगलों, सांस्कृतिक स्थलों और अन्य प्रतिष्ठित एवं शानदार स्थानों की भरमार है और भारतीय यात्रियों की ओर से अपने करीबी लोगों के साथ तनाव मुक्त, पॉकेट-फ्रेंडली घरेलू छुट्टी की योजना बनाने की सबसे अधिक संभावना है।

रामनाथन ने कहा कि कई लोग कोविड-19 के तनाव को दूर करने के लिए जुलाई से बुकिंग कर रहे हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि स्थिति सही होने में तीन से छह महीने और लगेंगे।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
Nakul Nath
राजनीति6 hours ago

मप्र में छात्रों को जनरल प्रमोशन दे सरकार: नकुल नाथ

coronavirus
स्वास्थ्य7 hours ago

उप्र में कोरोना के अब 8729 मरीज, अब तक 229 मौतें

coal-mining
राष्ट्रीय7 hours ago

सिंगरेनी कोयला खदान में विस्फोट, 4 मजदूरों की मौत

-Coronavirus-min
स्वास्थ्य7 hours ago

बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या 4000 पार, अब तक 24 मौतें

facebook
अंतरराष्ट्रीय8 hours ago

ट्रंप की पोस्ट को लेकर जुकरबर्ग पर बरसे फेसबुक कर्मचारी

Corona India Tablighi Jamaat
राष्ट्रीय8 hours ago

क्वारंटाइन अवधि पूरी कर चुके जमातियों को छोड़ने का आदेश

cbse result
राष्ट्रीय8 hours ago

जून के अंत में आएंगे यूपी बोर्ड परीक्षा के परिणाम: उपमुख्यमंत्री

T20 World Cup
खेल8 hours ago

इस साल टी 20 विश्व कप होने वाला नहीं: डीन जोंस

ABVP Gujarat
राष्ट्रीय9 hours ago

एबीवीपी ने पीएम से की 26 मांगें

Coronavirus
राष्ट्रीय10 hours ago

महाराष्ट्र में कोरोना के 2287 नए केस, 103 लोगों की मौत

Multani Mitti-
लाइफस्टाइल4 weeks ago

चेहरे के लिए इतनी फायदेमंद होती है मुल्तानी मिट्टी…

Migrant Workers in Train
ब्लॉग4 weeks ago

सम्पन्न तबके की दूरदर्शिता के बग़ैर पटरी पर नहीं लौटेगी अर्थव्यवस्था

Sonia Gandhi Congress Prez
ओपिनियन4 weeks ago

क्या काँग्रेस के लिए टर्निंग प्वाइंट बनेगी ग़रीबों का रेल-भाड़ा भरने की पेशकश?

Rs 2000 Note
व्यापार4 weeks ago

कर्नाटक में बंद प्रभावित सेक्टरों के लिए 1610 करोड़ रुपये का राहत पैकेज

Swine Flu
राष्ट्रीय4 weeks ago

कोरोना संकट के बीच भारत में पहली बार खतरनाक अफ्रीकी फ्लू की दस्तक

wheat-min
व्यापार4 weeks ago

पंजाब में गेहूं की खरीद 100 लाख टन के पार

Migrant Worker labour laws
ओपिनियन3 weeks ago

बेशक़, प्रधानमंत्री की सहमति से ही हो रही है श्रम क़ानूनों की ‘हत्या’!

Anil Kumble
खेल4 weeks ago

कोविड-19 के खिलाफ हमें एकजुट होकर जीत दर्ज करनी होगी: कुंबले

ayurved
लाइफस्टाइल1 week ago

हल्की खांसी और गले में खराश, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

PM Modi
ब्लॉग2 weeks ago

कोरोना पैकेज़: झुनझुना बजाने और ऐलान करने के मोर्चे पर प्रधानमंत्री से आगे निकलीं वित्तमंत्री

Vizag chemical unit
राष्ट्रीय4 weeks ago

आंध्र प्रदेश: पॉलिमर्स इंडस्ट्री में केमिकल गैस लीक, 8 की मौत

Delhi Police ASI
शहर2 months ago

दिल्ली पुलिस के कोरोना पॉजिटिव एएसआई के ठीक होकर लौटने पर भव्य स्वागत

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
स्वास्थ्य2 months ago

WHO को दिए जाने वाले अनुदान पर रोक को लेकर टेडरोस ने अफसोस जताया

Sonia Gandhi Congress Prez
राजनीति2 months ago

PM Modi के संबोधन से पहले कोरोना संकट पर सोनिया गांधी का राष्ट्र को संदेश

मनोरंजन2 months ago

रफ्तार का नया गाना ‘मिस्टर नैर’ लॅान्च

WHO Tedros Adhanom Ghebreyesus
अंतरराष्ट्रीय2 months ago

चीन ने महामारी के फैलाव को कारगर रूप से नियंत्रित किया : डब्ल्यूएचओ

मनोरंजन2 months ago

शिवानी कश्यप का नया गाना : ‘कोरोना को है हराना’

Honey Singh-
मनोरंजन3 months ago

हनी सिंह का नया सॉन्ग ‘लोका’ हुआ रिलीज

Akshay Kumar
मनोरंजन3 months ago

धमाकेदार एक्शन के साथ रिलीज हुआ ‘सूर्यवंशी’ का ट्रेलर

Kapil Mishra in Jaffrabad
राजनीति3 months ago

3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे: कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम

Most Popular