Connect with us

खेल

हार की इन चार वजहों ने रोका कोहली की सेना का विजयी रथ

Published

on

Virat Kohli
इंडियन स्किपर विराट कोहली (फाइल फोटो)

जोहान्सबर्ग के गीले मैदान में रुक-रुककर हुए खेल में टीम इंडिया को जीत दिलाने वाले फिरकीबाज़ फेल हो गए… और उन्हें सफलता मिली भी तो गलत गेंद पर… इन तमाम गड़बड़झालों में उलझी टीम इंडिया को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज़ में पहली बार हार का स्वाद चखना पड़ा… साउथ अफ्रीका से वांडरर्स वनडे में मिली पांच विकेट की हार की चार सबसे बड़ी वजहें क्या रही… इनको जानना भी बेहद ज़रूरी हो जाता है…

जोहान्सबर्ग वनडे में भारत को दक्षिण अफ्रीका के हाथों हार का सामना करना पड़ा… लेकिन 6 मैचों की सीरीज़ में चार मैच के बाद विराट सेना अभी भी 1-3 से आगे है… यानी टीम इंडिया को इतिहास रचने के लिए सिर्फ एक जीत की दरकार है… इस मुकाबले से पहले तक टीम इंडिया ने एकतरफा मुकाबलों में जीत की हैट्रिक लगाई थी… लिहाज़ा चौथे वनडे में मेन इन ब्लू का साउथ अफ्रीका की पिंक जर्सी से इस तरह से हारना सवाल तो खड़े करती है… वांडरर्स में दक्षिण अफ्रीका की गुलाबी गैंग ने कैसे सीरीज़ में वापसी की इसकी कुछ खास वजहें हैं…

हार की पहली वजह… गीले मैदान में ओवर का घटना पड़ गया भारी

बार-बार बारिश के कारण खेल में बाधा आने के बावजूद दक्षिण अफ्रीका ने 15 गेंद पहले ही लक्ष्य हासिल कर भारत को पांच विकेट से हरा दिया… खराब मौसम के कारण जब दूसरी बार मैच रुका… तब ये तय हो गया कि पूरे 50 ओवर का मैच नहीं होगा… दूसरे ब्रेक के दौरान दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 7.2 ओवर में 1 विकेट पर 43 रन था… फिर हुए ब्रेक के बाद प्रोटियाज़ को 28 ओवर में 202 रन का लक्ष्य मिला… ये स्थिति मेज़बानों के पक्ष में गई… प्रोटियाई बल्लेबाज़ टी20 फॉर्मेट के एक्सपर्ट्स हैं… लिहाज़ा स्पिनर्स से खौफ खाने वाले अफ्रीकी बल्लेबाज़ों ने मैदान के चारों ओर जमकर शॉट्स लगाए… कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जमकर पिटाई हुई… इस दौरान टी20 फॉर्मेट के सुपर स्टार्स मिलर और क्लासेन अलग ही रूप में नजर आए…

जब वांडरर्स मैदान पर बारिश हुई तो इसे स्क्वायर के आकार में कवर कर दिया गया जबकि बाकी मैदान पानी से भीगता रहा… जब मैच दोबारा शुरू हुआ तो आउटफील्ड काफी गीली थी… इससे टीम इंडिया को दो बड़ी मुश्किलें हुई… पहली कि स्पिनर्स की ग्रिप पर पकड़ नहीं बनी और दूसरी फील्डिंग भी मुश्किल चुनौती बन गई… चहल और चाइनामैन कुलदीप जो अब तक टीम इंडिया के ट्रंप कार्ड साबित होते रहे हैं उनकी खूब पिटाई हुई… ये दोनों ही गेंद को स्पिन नहीं करा पाए… उनकी गेंद पिच पर पड़ने के बाद फिसली नहीं और सीधे बल्ले पर जाकर लगी… गीले मैदान के कारण कुछ मिस फील्डिंग देखने को मिली… जिससे टीम इंडिया को काफी नुकसान हुआ।

हार की दूसरी वजह… भारी पड़ी चहल की गलती

वीओ 3 – जोहान्सबर्ग वनडे में चहल की एक गलती भारी पड़ गई… जब डेविड मिलर सिर्फ सात रन पर थे तब युजवेंद्र चहल ने उन्हें बोल्ड किया… लेकिन वो नो बॉल थी… नो बॉल से मिलर को जीवनदान मिल गया… आखिरकार मिलर ने 39 रन बनाकर टीम को सीरीज़ में पहली जीत दिला दी…

चहल ने इस मुकाबले में 5.3 ओवर गेंदबाजी की… जिसमें उन्होंने 68 रन खर्च कर सिर्फ 1 विकेट लिया… यानी अबतक भारत की जीत के सुपरहीरो रहे चहल ने वांडरर्स में हार ओवर 12 से भी ज्यादा रन खर्च किए… वहीं चाइनामैन कुलदीप ने हर ओवर साढ़े 8 रन खर्च किए… कुलदीप ने 6 ओवर में दो विकेट लेकर 51 रन दिए… पहले तीन वनडे में चहल और कुलदीप की गेंदों पर कुल 13 बाउंड्री लगी थी… जिनमें 4 छक्के शामिल थे… लेकिन अकेले चौथे वनडे में साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों ने 14 बाउंड्री जड़ दी… जिनमें 8 छक्के हैं… मौजूदा वनडे सीरीज में ये दोनों स्पिनर्स 12-12 विकेट लेकर टॉप पर हैं… शुरुआती तीन वनडे में दोनों की फिरकी इस कदर चली कि अफ्रीकी लगातार ढेर होते गए… और टीम इंडिया ने छह वनडे मैचों की सीरीज में 3-0 की बढ़त हासिल कर ली… लेकिन जोहान्सबर्ग में फिरकी की सुपर जोड़ी के फेल होते ही भारत को हार का स्वाद चखना पड़ गया…

तस्वीर साफ है… मौजूदा सीरीज़ में स्पिन डिपार्टमेंट विराट सेना का तुरूप का इक्का रहा है… लेकिन वांडरर्स में टीम के ट्रंप कार्ड्स रहे चहल-कुलदीप नाकाम हो गए… इन दोनों ने मिलकर 119 रन खर्च कर सिर्फ तीन विकेट झटके… टी20 जैसा की तरह बन चुके इस वनडे मैच में फिरकी के उस्तादों का ये फिगर टीम इंडिया को हराने वाला साबित हुआ…

हार की तीसरी वजह… खराब मौसम से बदला पिच का मिजाज

चौथे मैच में भारत की हार में मौसम भी विलेन बन कर उभरा… इस मैच में बारिश और कम रोशनी की वजह से खेल को बार-बार रोकना पड़ा… मैच रुकने की वजह से भारत को गंभीर नतीजे भुगतने पड़े… इन फॉर्म चल रहे शिखर धवन भी बारिश के बाद दोबारा खेल शुरू होने के बाद आउट हो गए… जब बारिश के कारण खेल रुका… तब टीम इंडिया 34.2 ओवर में दो विकेट खोकर 200 रन बना चुकी थी… तब लग रहा था कि कोहली का विकेट खोने के बावजूद टीम इंडिया करीब 350 रन का स्कोर बनाएगी… लेकिन ब्रेक के बाद जब मैच शुरू हुआ तो टीम इंडिया ने धवन और रहाणे के विकेट जल्दी-जल्दी गंवा दिए… इससे टीम इंडिया का रनरेट धीमा हुआ और दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाज़ों को हावी होने का मौका मिला…

लाइटनिंग ब्रेक के बाद अगले 15 ओवर में टीम इंडिया सिर्फ 89 रन जोड़ सकी… जबकि उसने 5 विकेट गंवा दिए… यानी महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में टीम इंडिया का मिडिल और लोअर मिडिल ऑर्डर पिच के बदल रहे मिजाज़ से तालमेल नहीं बिठा सकी… हालांकि धोनी ने 43 गेंद में नाबाद 42 रन बनाए… लेकिन श्रेयस अय्यर और हार्दिक पांड्या की नाकामी के चलते टीम रफ्तार नहीं पकड़ सकी… नतीजतन उम्मीद से 50 रन कम बने… 50 ओवर के बाद भारत का स्कोर सात विकेट पर 289 रन रहा… ये आखिर में जीत के लिए ज़रुरी लक्ष्य से काफी कम साबित हुआ…

हार की चौथी वजह… ढीली बैटिंग, बॉलिंग और फील्डिंग
चौथे वनडे में टीम इंडिया की कई खामियां सामने आई… विराट कोहली पहले तीन वन-डे में हवाई शॉट्स खेलते नहीं दिखे… लेकिन जोहान्सबर्ग में उन्होंने कई बार बड़े शॉट्स खेलने की कोशिश की… क्रिस मॉरिस की गेंद पर उन्होंने एक रिस्की शॉट खेला… जिसका खामियाजा टीम को भुगतना पड़ा… 75 के निजी स्कोर पर डेविड मिलर ने उनका आसान कैच लपका… गेंदबाज़ी में भी खिलाड़ियों का जोश पहले के तीन वनडे की तुलना में कम नजर आया… चहल ने दो नो बॉल डाली… जिसमें से एक पर मिलर का विकेट मिला… जबकि दूसरे पर क्लासेन ने छक्का जड़ दिया…

टीम इंडिया की फील्डिंग भी उसकी टॉप लेवल की नजर नहीं आई… श्रेयस अय्यर ने चहल की गेंद पर स्क्वायर लेग में किलर मिलर का कैच टपकाकर रही-सही कसर पूरी कर दी… ऐसे में शिखर धवन की तरह फैंस भी इसे चाहें तो इसे टीम इंडिया का खराब दिन मान सकते हैं…

WeForNews

खेल

बैडमिंटन: डेनमार्क ओपन के पहले दौर में सायना, समीर जीते, सिंधु हारीं 

Published

on

saina nehwal

ओडेंसे (डेनमार्क), डेनमार्क ओपन का पहला दिन मंगलवार भारत के लिए मिलीजुली सफलता लेकर आया। रियो ओलम्पिक की रजत पदक विजेता पी.वी. सिंधु पहले दौर में ही हार कर बाहर हो गईं, जबकि सायना नेहवाल को जीत मिली। पुरुष युगल में समीर वर्मा विजयी आगाज करने में सफल रहे, लेकिन मिश्रित युगल में अश्विनी पोनप्पा और सात्विकसाइराज रैंकीरेड्डी की जोड़ी को हार मिली।

सायना ने महिला एकल के पहले दौर के मैच में हांगकांग की चेयुंग नगान यी को कड़े संघर्ष के बाद 20-22, 21-17, 24-22 से मात दी। भारतीय खिलाड़ी ने एक घंटे 21 मिनट तक चले संघर्षपूर्ण मुकाबले में फतह हासिल कर दूसरे दौर में प्रवेश किया।

वल्र्ड नंबर-11 सायना ने इस जीत के बाद चेयुंग नगान यी के खिलाफ अब अपना करियर रिकॉर्ड 2-1 का कर लिया है।

प्री-क्वार्टर फाइनल में सायना का सामना दूसरी सीड जापान की अकाने यामागुची से होगा जिनके खिलाफ भारतीय खिलाड़ी का करियर रिकॉर्ड 1-6 का है। यामागुची ने पहले दौर के मुकाबले में स्पेन की बीट्रिज कोरेल्स को 21-18 15-21 16-21 से हराया।

सायना ने पहला गेम 20-22 से हारने के बाद दूसरे गेम में शानदार वापसी की और 21-17 से गेम जीत लिया। तीसरा गेम दोनों खिलाड़ियों के बीच काफी रोमांचक रहा।

तीसरे गेम में सायना ने 4-2 की बढ़त के साथ शुरुआत की, लेकिन यी ने एक समय 17-17 की बराबरी हासिल कर ली थी। भारतीय खिलाड़ी फिर 21-22 से पीछे हो गई। लेकिन इसके बाद उन्होंने पहले तो 22-22 से बराबरी की और फिर 24-22 से गेम तथा मैच अपने नाम कर लिया।

टूर्नामेंट में तीसरी सीड सिंधु को महिला एकल के पहले दौर में अमेरिका की बीवन झांग ने 56 मिनट में 21-17 16-21 21-18 से पराजित किया।

इस जीत के बाद अमेरिकी खिलाड़ी ने सिंधु के खिलाफ अब अपना करियर रिकॉर्ड 3-2 का कर लिया है।

भारतीय खिलाड़ी ने पहला गेम 17-21 से हारने के बाद दूसरे गेम में अच्छी वापसी की। सिंधु ने दूसरा गेम 21-16 से अपने नाम किया।

हालांकि तीसरे गेम में सिंधु अपनी लय कायम नहीं रख पाईं और 18-21 से गेम तथा मैच हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गईं।

समीर ने पुरुष एकल वर्ग के पहले दौर में शी यूकी को कड़े मुकाबले में 21-17,21-18 से मात दी। यह मैच 44 मिनट तक चला। दूसरे दौर में समीर का सामना इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी से होगा जिन्होंने हांगकांग के वोंग विंग कीविसेंट को 17-21, 21-18, 21-13 से मात देकर पहले दौर की बाधा पार की।

अश्विनी और सात्विक की जोड़ी को मिश्रित युगल वर्ग के पहले दौर के मैच में दक्षिण कोरिया के जाए सेयुंग और युजुंग चाए की जोड़ी ने 21-17,21-18 से मात दी। दक्षिण कोरियाई जोड़ी को मैच जीतने में 35 मिनट का समय लगा।

–आईएएनएस

Continue Reading

खेल

‘मीटू’ में फंसे राहुल जौहरी छुट्टी पर

Published

on

Rahul Johri-
File Photo

एक अज्ञात महिला लेखक द्वारा यौन शोषण के आरोप में फंसे भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जौहरी अब छुट्टियों पर जा रहे हैं।

इसी दौरान उन्हें प्रशासकों की समिति (सीओए) ने उनके ऊपर लगे आरोपों की सफाई देने के लिए सप्ताह भर का समय दिया है। जौहरी पर एक ट्वीटर हैंडल पर एक अन्य महिला द्वारा लिखे गए पत्र के स्क्रीनशॉट्स जारी किए गए थे, जिसमें जौहरी पर उस अज्ञात महिला लेखक से यौन शोषण के आरोप लगाए थे।

इस पर संज्ञान लेते हुए सीओए ने जौहरी से आरोपों की सफाई देने के लिए सात दिन का समय दिया था। वेबसाइट ईएसपीएन क्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, जौहरी इस समय छुट्टी पर जा रहे हैं और इसी बीच वह अपने जवाब पेश करेंगे। इस दौरान बीसीसीआई का कामकाज सीओए के हवाले होगा।

वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक, जब से जौहरी पर आरोप लगे हैं उसके बाद से उन्होंने एक भी बार बीसीसीआई मुख्यालय स्थित अपने ऑफिस में कदम नहीं रखा है। जौहरी ने सीओए से अपील की थी कि वह सिंगापुर में इसी सप्ताह के अंत में होने वाली अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की बैठक में हिस्सा नहीं ले पाएंगे।

सीओए जौहरी की गैरमौजूदगी में बीसीसीआई के कामकाज के लिए ऑपरेशंस टीम पर निर्भर रहेगी। सीओए के चैयरमेन विनोद राय ने क्रिकइंफो से कहा, “हम इस मुद्दे को धीरे-धीरे बढ़ने देना नहीं चाहते इसलिए हमने जौहरी को सात दिन का समय दिया है ताकि वह अपने ऊपर लगे आरोपों पर सफाई दे सकें।

उन आरोपों के पीछे कोई अज्ञात है। वह शिकायत एक अनजान ट्वीटर हैंडल पर उस वक्त की है जब जौहरी बीसीसीआई में थे भी नहीं। सीओए को लगा कि हमारे लिए और उनके लिए यह सही होगा कि हम उन्हें सफाई देने का मौका दें।”

सीओए के अलावा जौहरी पर फैसला बीसीसीआई की कानूनी टीम भी लेगी और अगर जरूरत पड़ी तो अप्रैल में महिलाओं के खिलाफ कामकाजी जगह पर यौन उत्पीड़न एक्ट 2013 के तहत बनाई गई समिति भी इसमें दखल दे सकती है।

–आईएएनएस

Continue Reading

खेल

रायपुर की पद्मा ने कराटे में जीता स्वर्ण पदक

Published

on

padma-
फोटो-आईएएनएस

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर की कराटे खिलाड़ी पद्मा ब्यौहार ने अखिल भारतीय कराटे चैंपियनशिप प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतकर प्रदेश को गौरवान्वित किया है।

गोवा सरकार और आल इंडिया कराटे एसोसिएशन की तरफ 14 अक्टूबर से 16 अक्टूबर तक इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। राज्य खेल जगत के लोगों और परिजनों ने पद्मा को उसकी उपलब्धि के लिए बधाई दी है।

पद्मा के कोच रमेश प्रधान ने गोवा से जानकारी दी है कि रायपुर की पद्मा ब्यौहार ने कुमीते फाइट में शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक पर अपना कब्जा जमाया।प्रधान ने बताया कि पद्मा ने भारत में अब तक के खेलों में 20 से ज्यादा पदक प्राप्त किए हैं, जिसमें राष्ट्रीय खेलों में 10 से ज्यादा पदक शामिल हैं।

इसके पहले दिल्ली के इंडिपेंडेंस कप में भी पद्मा ने शानदार प्रदर्शन कर छत्तीसगढ़ को पदक दिलाया था। पद्मा ने विजग में हुई अंतर्राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता में भी रजत पदक हासिल किया था। वर्तमान में पद्मा रायपुर के छत्तीसगढ़ पब्लिक स्कूल में 11वीं की छात्रा हैं। अगले वर्ष से वह सीनियर कैटेगरी में खेलना शुरू कर देंगी।

पद्मा का नाम अब देश के प्रमुख कराटे खिलाड़ियों में शामिल हो गया है। वर्ष 2020 से कराटे को ओलंपिक खेलों में शामिल कर लिया गया है, जिसके बाद से कराटे में खिलाड़ियों का अच्छा भविष्य हो सकता है। छत्तीसगढ़ की कराटे टीम 18 अक्टूबर को राजधानी रायपुर लौट आएगी।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
unemployment in India
ब्लॉग3 mins ago

नई नौकरियां नहीं पैदा हुई, देश में बढ़ी बेरोजगारी दर

Manvendra Singh
राजनीति48 mins ago

पूर्व बीजेपी नेता मानवेंद्र सिंह कांग्रेस में शामिल

jammu and kashmir-min
राष्ट्रीय49 mins ago

बारामूला में पुलिस पार्टी पर आतंकी हमला

india women
राष्ट्रीय52 mins ago

देश में 92 फीसदी महिलाओं की तनख्वाह 10 हजार से भी कम

india women
ब्लॉग1 hour ago

देश में 92 फीसदी महिलाओं की तनख्वाह 10 हजार से भी कम

Navratri
राष्ट्रीय1 hour ago

नवरात्रि में भक्तों में बिखरे मां दुर्गा की भक्ति के रंग

rupee
व्यापार1 hour ago

एक रुपये की वसूली के लिए बैंक ने खर्च किये 85 रुपये

Anna Burns-
अंतरराष्ट्रीय1 hour ago

आइरिश लेखिका एना बर्न्स को ‘मिल्कमैन’ के लिए मिला मैन बुकर पुरस्कार

Pushpdeep Bhardwaj-
मनोरंजन2 hours ago

‘जलेबी’ को दिल्ली में फिल्माना शानदार अनुभव : पुष्पदीप भारद्वाज

Accident-
शहर2 hours ago

छत्तीसगढ़ के नुवापाड़ा सड़क हादसे में 10 की मौत

RAJU-min
राष्ट्रीय4 weeks ago

रक्षा मंत्री के दावे को पूर्व एचएएल चीफ ने नकारा, कहा- भारत में ही बना सकते थे राफेल

Shashi-Tharoor
ओपिनियन4 weeks ago

संशय भरे आधुनिक युग में हिंदू आदर्श धर्म : थरूर

man-min (1)
ज़रा हटके4 weeks ago

इस हॉस्पिटल में भूत-प्रेत करते हैं मरीजों का इलाज

Kapil Sibal
टेक2 weeks ago

बहुमत के फ़ैसले के बावजूद ग़रीब और सम्पन्न लोगों के ‘आधार’ में हुई चूक!

Sonarika Bhadauriya
टेक2 weeks ago

सोशल मीडिया पर कमेंट्स पढ़ना फिजूल : सोनारिका भदौरिया

mohan bhagwat world hindu congress, Bharatiya Janata Party, BJP, Chicago, Hindu Community, Hinduism, Hindus, Hindutva, Illinois, Mohan Bhagwat, Narendra Modi, Rashtriya Swayamsevak Sangh, RSS, TheySaidIt, WHC, World Hindu Congress
ब्लॉग4 weeks ago

मोहन भागवत झूठ पर झूठ परोसते रहे और भक्त झूम-झूमकर कीर्तिन करते रहे!

Matka
ज़रा हटके3 weeks ago

मटकावाला : लंदन से आकर दिल्ली में पिलाते हैं प्यासे को पानी

,Excercise-
लाइफस्टाइल3 weeks ago

उम्र को 10 साल बढ़ा सकती हैं आपकी ये 5 आदतें…

Vivek Tiwari
ब्लॉग3 weeks ago

विवेक की हत्या के लिए अफ़सरों और नेताओं पर भी मुक़दमा क्यों नहीं चलना चाहिए?

IAF Chief Dhanoa Rafale Jet
ब्लॉग2 weeks ago

राफ़ेल पर सफ़ाई देकर धनोया ने वायुसेना की गरिमा गिरायी!

राजनीति1 week ago

छेड़छाड़ पर आईएएस की पत्नी ने चप्पल से बीजेपी नेता को पीटा, देखें वीडियो

airforce
राष्ट्रीय1 week ago

Air Force Day: 8000 फीट की ऊंचाई से उतरे पैरा जंपर्स

Assam
शहर1 week ago

…अचानक हाथी से गिर पड़े असम के डेप्युटी स्पीकर, देखें वीडियो

Karnataka
ज़रा हटके2 weeks ago

कर्नाटक में लंगूर ने चलाई यात्रियों से भरी बस, देखें वीडियो

Kangana Ranaut-
मनोरंजन2 weeks ago

कंगना की फिल्म ‘मणिकर्णिका’ का टीजर जारी

BIHAR
राजनीति2 weeks ago

नीतीश के मंत्री का मुस्लिम टोपी पहनने से इनकार, देखें वीडियो

Hyderabad Murder on Road
शहर3 weeks ago

हैदराबाद: दिनदहाड़े पुलिस के सामने कुल्हाड़ी से युवक की हत्या

Thugs of Hindostan-
मनोरंजन3 weeks ago

धोखे और भरोसे के बीच आमिर-अमिताभ की जंग, ट्रेलर जारी

kapil sibal
राष्ट्रीय3 weeks ago

‘आधार’ पर मोदी सरकार का कदम असंवैधानिक ही नहीं अलोकतांत्रिक भी था: सिब्‍बल

rahul gandhi
राजनीति4 weeks ago

राहुल ने मोदी से पूछा- अब तो बताओ, ओलांद सच कह रहे हैं या झूठ

Most Popular