दुनिया की ऐसी जगह जहां से नीचे धरती को देखना है खौफनाक | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

Published

on

बुर्ज खलीफा, दुबई

दुनिया की सबसे ऊंची बिल्डिंग में शुमार बुर्ज खलीफा इसकी उचाई 2700 फीट है। यहां से खड़े हो कर पूरे दुबई को देखा जा सकता है। एडवेंचर्स पसंद लोगों को यह खूब भाता है।

Image result for बुर्ज खलीफा, दुबई

द विलिस टॉवर, शिकागो

द विलिस टॉवर में 1 हजार 300 फीट की ऊंचाई पर ग्लास की बालकनी बनी हुई है। यहां से खड़े होकर लोग शिकागो की खूबसूरती को देख सकते हैं। ये ग्लास 4535.92 तक का वजन झेल सकता है।

Related image

ग्रांड कैन्योन स्काईवॉक

इस स्काईवॉक से 700 फीट की ऊंचाई से नीचे देखना एक शानदार अनुभव होता है।

Image result for ग्रांड कैन्योन स्काईवॉक

मोंट ब्लांक, फ्रेंच आल्प्स

मोंट ब्लांक यूरोप की सबसे ऊंची चोटी है इसको फ्रेंच आल्प्स के नाम से जाना जाता है। यहां 12,600 फीट की ऊंचाई पर ग्लास फ्लोर बना है, जिसे ‘स्टेप इन टू द वॉयड’ का नाम दिया है। यहां से मोंट ब्लांक के इर्द-गिर्द स्थित बर्फीले चोटी का अद्भुत नज़ारा देखना रोमांच और खोफ से भर देता है। इन्ही सब वजहों से हर साल लाखों सैलानी यहां घूमने आते हैं।

Related image

सीएन टॉवर, टोरंटो

1800 फीट की ऊंचाई पर बना है ये टॉवर और यहां से शहर का अमेजिंग व्यू दिखाई देता है।

Image result for सीएन टॉवर, टोरंटो

लैंगकावी स्काईब्रिज, मलेशिया

मलेशिया का लैंगकावी स्काईब्रिज 2300 फीट की ऊंचाई पर बना है और 410 मीटर लंबा ये स्काईब्रिज केबल ( तार ) के सहारे बना हुआ है।

Image result for लैंगकावी स्काईब्रिज, मलेशिया

वॉक ऑफ फेथ, चीन

चीन के झांगजियाजी में 4700 फीट की ऊंचाई पर बना है वॉक ऑफ फेथ ग्लास वॉकवे। यहां आप केबल कार के द्वारा ही जा सकते हैं।

Related image

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य

सुरक्षा, क्षमता निर्माण पर होगी रेलवे की नजर : रेलवे बोर्ड अध्यक्ष

Published

on

By

Dinesh Kumar Yadav

नई दिल्ली, 1 फरवरी | रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वी.के. यादव ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय रेल को अब तक की सबसे ज्यादा पूंजीगत व्यय राशि 1.85 लाख करोड़ रुपये मिली है और रेलवे का मुख्य फोकस सुरक्षा साधन, क्षमता निर्माण, मॉबिलिटी में सुधार और यात्रियों की सुरक्षा पर होगा। वित्तमंत्री पीयूष गोयल द्वारा संसद में अंतरिम बजट पेश किए जाने के बाद रेलभवन में संवाददाताओं से बातचीत के दौरान यादव ने कहा, “वित्त एवं रेलमंत्री पीयूष गोयल ने जैसाकि अंतरिम बजट भाषण में जिक्र किया है कि यह साल अब तक का सबसे सुरक्षित साल रहा है।”

रेलवे बोर्ड अध्यक्ष ने कहा, “हमारा ध्यान सुरक्षा साधनों, क्षमता निर्माण, मॉबिलिटी और यात्रियों की सुरक्षा पर होगा।”

उन्होंने कहा कि रेलवे ने बड़ी लाइन के अपने नेटवर्क में सभी मानवरहित लेवल क्रॉसिंग को समाप्त कर दिया है। उन्होंने कहा कि रेलवे ऑटोमेटिक ट्रेन सुरक्षा प्रणाली पर काम कर रही है।

यादव ने कहा कि रेलवे ने पूर्वोत्तर के राज्यों में 43 परियोजनाएं शुरू की हैं जिनपर अनुमानित लागत 93,000 करोड़ रुपये आएगी।

इससे पहले रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र के लिए इन्फ्रास्ट्रक्च र आवंटन 21 फीसदी बढ़ाकर 2019-20 में 58,166 करोड़ रुपये कर दिया गया है।

Continue Reading

अन्य

बांधवगढ़ ले जाए जाएंगे उत्पाती हाथी

Published

on

Elephant

भोपाल, 19 सितंबर | छत्तीसगढ़ में उत्पात मचाने वाले हाथी काफी समय से मध्य प्रदेश के सीधी जिले में घुसकर उत्पात मचा रहे हैं। इस दौरान दो लोगों की मौत होने के अलावा संपत्ति का भारी नुकसान हो चुका है। वन अमले ने इन हाथियों को कब्जे में ले लिया है और इन्हें बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान भेजने की तैयारी हो रही है। वन विभाग की ओर से बुधवार को दी गई आधिकारिक जानकारी में बताया गया कि छत्तीसगढ़ के हाथी मवई नदी को पार कर सीधी जिले में घुस गए और यहां जमकर उत्पात मचाया। इन हाथियों ने कुंदौर गांव के कच्चे घरों को तोड़कर उनमें रखा अनाज खा लिया और खेतों की फसलों को तबाह कर दिया।

हाथियों के बढ़ते आतंक को देखते हुए टाइगर रिजर्व प्रबंधन ने तत्काल सोलर लाइट गांव की सीमा पर लगा कर हाथियों को गांव में घुसने से रोका। इसके बाद हाथी अन्य गांवों में भी इसी तरह उत्पात मचाते हुए सीधी मुख्यालय की 15 किलोमीटर की परिधि में पहुंच गए। हाथियों को भगाने के लिए पश्चिम बंगाल से विशेषज्ञ भी बुलाए गए। अगस्त से सितंबर के बीच इन उत्पाती हाथियों ने दो ग्रामीणों की जान भी ले ली।

उत्पाती हाथियों पर काबू पाने के लिए बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के संचालक मृदुल पाठक के नेतृत्व में अधिकारियों और कर्मचारियों के दल ने अभियान चलाया और कुल पांच हाथियों को कब्जे में ले लिया है। इन हाथियों को बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान ले जाया जाएगा।

–आईएएनएस

Continue Reading

अन्य

हिंदी ब्लॉग्स को हर महीने 3 करोड़ पेज व्यू : मॉमस्प्रेसो

Published

on

Hindi Blog

नई दिल्ली, 14 सितम्बर | भारत के महिलाओं के लिए सबसे बड़े यूजर-जनरेटेड कंटेंट प्लेटफार्म मॉमस्प्रेसो ने हिंदी दिवस (14 सितंबर) पर अपने 6,500 से ज्यादा ब्लॉगर्स के डेटा का विश्लेषण कर नई रिपोर्ट प्रस्तुत की है। विश्लेषण कहता है कि हिन्दी ब्लॉग्स ने हर महीने 3 करोड़ से ज्यादा पेज व्यू हासिल की है। इसमें से 95 प्रतिशत की खपत पाठकों ने मोबाइल पर की है।

प्लेटफार्म ने बताया कि हिंदी पेज व्यू अंग्रेजी से ज्यादा हो गए हैं और इस समय कुल पेज व्यू का 50 प्रतिशत हो गया है।

मॉमस्प्रेसो की ओर से जारी बयान में कहा गया कि प्लेटफार्म पर हिंदी में लेखन की सूची मुख्य रूप से उन शहरों की माताओं ने तैयार की है, जिनकी तुलनात्मक रूप से भागीदारी कम रही है। इनमें पटना, आगरा, लखनऊ, शिमला, भुवनेश्वर और इंदौर शामिल है। 75 प्रतिशत हिन्दी ब्लॉग्स को मॉमस्प्रेसो मोबाइल ऐप के जरिये लिखा गया है, जबकि अंग्रेजी में ऐसा नहीं है। 60 प्रतिशत ब्लॉगर्स अभी भी ब्लॉग लिखने के लिए डेस्कटॉप उपयोग करते हैं। मोबाइल ऐप पर बने हिन्दी ब्लॉग्स में से 93 प्रतिशत एंड्रायड फोन पर बने हैं। प्लेटफार्म पर इस समय 1,595 हिन्दी ब्लॉगर्स हैं, जिन्होंने अब तक 14,746 ब्लॉग्स बनाए हैं। हर महीने करीब 1,800 ब्लॉग्स जोड़े जा रहे हैं।

मॉमस्प्रेसो ने बताया कि हिन्दी की अधिकतम रीडरशिप लखनऊ, जयपुर, इंदौर, चंडीगढ़, आगरा और पटना से है। यह भी बताया गया कि 95 प्रतिशत यूजर्स ने लेखन का इस्तेमाल मोबाइल पर किया। जिस कंटेंट ने अधिकतम रीडरशिप (65 प्रतिशत) हासिल की, वह ‘मां की जिंदगी’ या ‘मॉम्स लाइफ’ सेक्शन था। रिलेशनशिप्स से लेकर पैरेंटिंग और सामाजिक उत्तरदायित्व तक का लेखन इस पर उपलब्ध है। अन्य लोकप्रिय सेक्शन में प्रेग्नेंसी, बेबी, हेल्थ और रैसिपी भी शामिल हैं।

हिंदी पोस्ट्स को अंग्रेजी की तुलना में 4.2 गुना ज्यादा एंगेजमेंट मिला। इसमें लाइक्स, शेयर और कमेंट्स शामिल हैं। हिन्दी में हाइपर एंगेजमेंट की एक बड़ी वजह हिन्दी कंटेंट की क्वालिटी है। पहली बार महिलाओं को कई मुद्दों पर अपने विचार अभिव्यक्त करने के लिए सुरक्षित स्थान मिला है। कई महिलाएं जो लैंगिंक भेदभाव, सामाजिक मुद्दों और अन्य वजहों से खुलकर बोल नहीं पाती थी, वह भी इस पर अपने आपको अभिव्यक्त कर रही है।

मॉमस्प्रेसो के सह-संस्थापक और सीईओ विशाल गुप्ता ने कहा, “हमारा विजन यह है कि अगले तीन वर्षो में हमारे प्लेटफॉर्म पर सभी माताओं में से 70 फीसदी को लेकर आना है और क्षेत्रीय भाषा लेखन इस लक्ष्य को प्राप्त करने में महत्वपूर्ण है। हमें गर्व है कि मॉमस्प्रेसो एक ऐसा मंच प्रदान कर रहा है जहां भारत भर की माताएं बिना डर के अपने विचार व्यक्त कर रही हैं। इन विषयों पर बहस और चर्चाओं को प्रोत्साहित करती हैं। पिछले 12 महीनों में हमारे ट्रैफिक चार गुना बढ़ा है और हिंदी की भूमिका इस विकास में महत्वपूर्ण रही है। इस समय हमारे पास चार अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में लेखन है और वर्ष के अंत से पहले हमारी योजना 3 और जोड़ने की है।

हिंदी भाषा लेखन का उपयोग करने वाले ब्रांड्स की संख्या 2017 के 6 फीसदी से बढ़कर 2018 में 27 फीसदी हो गई है। इसमें पैम्पर्स, डेटॉल, बेबी डव, नेस्ले, जॉनसन एंड जॉन्सन, एचपी, ट्रॉपिकाना एसेंशियल्स और क्वैकर जैसे ब्रांड शामिल हैं।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
Kapil Sibal
चुनाव3 hours ago

इस बार भी मैं चॉँदनी चौक से चुनाव लडूंगा : कपिल सिब्बल

Ajay Devgn,-
मनोरंजन5 hours ago

अजय देवगन की फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ का फर्स्ट पोस्टर जारी

Olympics World Games,-min
खेल6 hours ago

भारत ने स्पेशल ओलम्पिक में 85 स्वर्ण सहित 368 पदक जीते

Shivalli,
राजनीति6 hours ago

कर्नाटक के मंत्री शिवाली का निधन

Rahul-Gandhi-Tejashwi-Yadav-PIC
चुनाव6 hours ago

बिहार में महागठबंधन: RJD 20 और कांग्रेस 9 सीटों पर लडे़गी चुनाव

shiv sena
चुनाव6 hours ago

लोकसभा चुनाव : शिवसेना ने महाराष्ट्र के लिए 21 उम्मीदवारों की घोषणा की

Katrina Kaif,-
मनोरंजन6 hours ago

कैटरीना कैफ ने प्रशंसकों के साथ होली मनाई

City Workers In The Canary Wharf Business, Financial And Shopping District
व्यापार6 hours ago

फिच ने 2019-20 में भारत की जीडीपी वृद्धि दर घटाकर 6.8 फीसदी किया

akhilesh yadav
राजनीति7 hours ago

सशस्त्र बलों के बलिदान पर सवाल उठाना ठीक नहीं : अखिलेश

Imran-Khan-XI-JINPING
अंतरराष्ट्रीय7 hours ago

पाकिस्तान को चीन से 2.1 अरब डॉलर का मिलेगा कर्ज

green coconut
स्वास्थ्य3 weeks ago

गर्मियों में नारियल पानी पीने से होते हैं ये फायदे

chili-
स्वास्थ्य4 weeks ago

हरी मिर्च खाने के 7 फायदे

sugarcanejuice
लाइफस्टाइल3 weeks ago

गर्मियों में गन्ने का रस पीने से होते है ये 5 फायदे…

ILFS and Postal Insurance Bond
ब्लॉग4 weeks ago

IL&FS बांड से 47 लाख डाक जीवन बीमा प्रभावित

Bharatiya Tribal Party
ब्लॉग4 weeks ago

अलग भील प्रदेश की मांग को लेकर राजस्थान में मुहिम तेज

egg-
स्वास्थ्य4 weeks ago

रोज एक अंडा खाने से होते हैं ये फायदे….

indian air force
ब्लॉग3 weeks ago

ऑपरेशन बालाकोट में ग़लत ‘सूत्रों’ के भरोसे ही रहा भारतीय मीडिया

Raveesh Kumar
ओपिनियन3 weeks ago

जंग के कुहासे में धूमिल पड़ गई सच्चाई

Chana
स्वास्थ्य3 days ago

क्या आपको पता है काले चने खाने से होते हैं ये फायदे…

Narendra Modi
ब्लॉग2 weeks ago

जुमलेबाज़ी के बजाय प्रधानमंत्री राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े सवालों का जवाब दें

Most Popular