Connect with us

शहर

दिल्ली में हवा की गुणवत्ता हुई खराब

Published

on

smog-pollution
File Photo

ठंड बढ़ने के साथ ही दिल्ली-एनसीआर की हवा जहरीली होती जा रही है। इसके लिए केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने कहा है कि वायु प्रदूषण को रोकने के लिए सोमवार से आपात कार्य योजना लागू की जाएगी।

हवा की गुणवत्ता बेहद खराब श्रेणी में जाने का संकेत मिलने के बीच विभिन्न कदम उठाए जाने की योजना है। फिलहाल, हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी में है, लेकिन अधिकारियों का अनुमान है कि अगले कुछ दिनों में यह बहुत खराब श्रेणी में जा सकती है।

वायु गुणवत्ता बहुत खराब होने पर डीजल चालित जेनरेटर पर रोक लगा दी जाएगी। सड़कों की सफाई होगी और पानी का छिड़काव किया जाएगा। जीआरएपी के अलावा सीपीसीबी ने विभिन्न स्रोतों से प्रदूषण रोकने के वास्ते नियमों के समुचित क्रियान्वयन पर नजर रखने के लिए दिल्ली एनसीआर में 41 टीमों को भी तैनात किया है।

सीपीसीबी के एक अधिकारी ने कहा कि 11 अक्टूबर तक दिल्ली एनसीआर में दलों ने 96 जगहों का मुआइना किया और निरीक्षण की कवायद आगामी दिनों में और तेज की जाएगी। आपात योजना यानि श्रेणीबद्ध प्रतिक्रिया कार्य योजना (जीआरएपी) के तहत शहर में वायु गुणवत्ता के आधार पर सख्त कदम उठाए जाते हैं।

एक अधिकारी ने बताया कि ‘मध्यम से खराब’ श्रेणी में वायु गुणवत्ता होने पर कचरा फेंकने वाले स्थानों पर कचरा जलाना रोक दिया जाता है और ईंट भट्ठी तथा उद्योगों में प्रदूषण नियंत्रण के सभी नियमनों को लागू किया गया है। अगर हवा की गुणवत्ता ‘बहुत खराब से आपात’ श्रेणी में होती है तो कुछ और अतिरिक्त कदम उठाए जाएगें।

दिल्ली में ट्रकों (आवाश्यक सामानों को ढोने वाले ट्रकों को छोड़कर) का प्रवेश रोका जाता है, निर्माण गतिविधियां रोक दी जाती हैं तथा स्कूल बंद करने सहित किसी भी अतिरिक्त उपाय पर फैसले के लिए कार्यबल का गठन किया गया है। सोमवार से हवा की गुणवत्ता किस तरह रहती है, इसके आधार पर विभिन्न कदम उठाए जाएंगे।

WeForNews

शहर

मुंबई : अस्पताल में आग से 1 की मौत

Published

on

mumbai

मुंबई। अंधेरी (ईस्ट) स्थित कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) अस्पताल में सोमवार को भीषण आग लगने से कम से कम एक व्यक्ति की मौत हो गई। 47 अन्य को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। इनमें अधिकतर मरीज और कर्मचारी थे। बीएमसी आपदा नियंत्रण ने यह जानकारी दी।

आग शाम करीब सवा चार बजे लगी। आग लगने का कारण शॉट सर्किट हो सकता है। यह आग एमआईडीसी इलाके स्थित पांच मंजिला इमारत की ऊपरी मंजिल पर लगी। यह इलाका उत्तरी-पश्चिमी उपनगर का औद्योगिक केंद्र है।

आग पर काबू पाने के लिए कम से कम दमकल की 10 गाड़ियां, 15 वाटर टैंकर और अन्य विशेष उपकरण मौके पर पहुंचे और तीसरी व चौथी मंजिल पर फंसे लोगों को सीढ़ियों के सहारे बाहर निकाला गया।

सुरक्षित निकाले गए लोगों में से 10 को कूपर अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां एक को मृत लाया गया था। होली स्पिरिट अस्पताल और सेवन हिल्स अस्पताल में 15-15 लोगों को भर्ती कराया गया है, वहीं सात को इलाज के लिए ट्रॉमा अस्पताल में भेजा गया है।

उपनगर में दूर से धुएं की मोटी परत दिखाई दे रही थी और बचाव अभियान के परिणामस्वरूप शाम को अंधेरी के व्यस्त इलाके में भारी जाम लग गया।

–आईएएनएस

Continue Reading

शहर

गुरुग्राम में फ्लाईओवर का एक हिस्सा ढहा, यातायात बाधित

Published

on

Gurugram
प्रतीकात्मक तस्वीर

दिल्ली-जयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर रामपुरा फ्लाईओवर का एक बड़ा हिस्सा ढहने के कारण मानेसर और गुरुग्राम के बीच यातायात बाधित हो गया।

प्रत्यक्षदर्शी जितेंद्र यादव ने कहा, “चार-लेन के फ्लाईओवर के बीच का कंक्रीट का हिस्सा ढह गया लेकिन खुशकिस्मती से इस दौरान कोई चोटिल नहीं हुआ।” हरियाणा में रामपुरा फ्लाईओवर का करीब छह वर्ग फुट का हिस्सा सुबह करीब नौ बजे ढह गया। फ्लाईओवर दिल्ली से लगभग 46 किमी दूर है।

मानेसर के यातायात पुलिस प्रमुख मुनेश कुमार ने बताया, “एक्सप्रेसवे का प्रभावित हिस्सा (जयपुर-दिल्ली मार्ग पर) को बंद कर दिया गया है।” उन्होंने कहा, “हमने फ्लाईओवर पर और उसके पास अतिरिक्त पुलिस तैनात की है और भारी यातायात को सर्विस लेन से गुजारा जा रहा है।”

कुमार के अनुसार, “भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) द्वारा जारी निदेशरें के बाद प्रभावित फ्लाईओवर के नीचे से गुजरने वाले यातायात को पूरी तरह बंद कर दिया गया है।”

रामपुरा के पूर्व सरपंच विजय यादव ने कहा, “सड़क पर भारी यातायात के समय स्थिति खराब हो सकती है।” फ्लाईओवर लगभग दो साल पहले यातायात के लिए खोला गया था। 2018 की शुरुआत में मानेसर और हीरो होंडा चौक के पास एक और फ्लाईओवर का हिस्सा ढह गया था।

–आईएएनएस

Continue Reading

शहर

नोएडा में स्कूल की दीवार ढही, 2 छात्रों की मौत

Published

on

नोएडा के सलारपुर कालोनी स्थित खजान मेमोरियल पब्लिक स्कूल की छत की दीवार गिरने से बड़ा हादसा हो गया है। हादसे में दो छात्रों की मौत हो गई, जबकि एक की हालत गंभीर बताई जा रही है।

नोएडा सेक्टर 49 स्थित एक प्ले स्कूल की दीवार गिरने से 2 बच्चों की मौत हो गई जबकि 3 घायल हो गए हैं। अब तक मिली जानकारी के अनुसार स्कूल में निर्माण कार्य चल रहा था और पीछे से मिट्टी भरने का काम चल रहा था। इस बीच मिट्टी पर दबाव पड़ा और बड़ा हादसा हो गया।

इस मामले के संज्ञान में आने पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी को राहत व बचाव कार्य का नीरिक्षण करने और ये भी घोषणा की है कि घायलों को पर्याप्त मेडिकल सहायता दी जाएगी।

बच्चों के माता-पिता ने बताया है कि जब यह हादसा हुआ तो बच्चों की परीक्षा शुरू हुई थी। हादसे के वक्त स्कूल स्टाफ कॉपी जांच रहा था और हादसे के बाद भाग खड़ा हुआ। यह स्कूल किराए की बिल्डिंग में चल रहा था।

घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर डीएम बीएन सिंह, एसएसपी डॉ. अजयपाल शर्मा, एसपी सिटी सुधा सिंह, एसडीएम निरंजन कुमार, एनडीआरएफ की टीम समेत तमात प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे।

एसएसपी ने बताया कि अस्पताल में भर्ती चार बच्चों में से 2 की मौत हो गई है। घटना की जांच चल रही है और जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular