चुनाव

तमिलनाडु विधानसभा चुनाव के मद्देनजर डीएमके और कांग्रेस ने मिलाया हांथ

तमिलनाडू चुनाव में अम्मा का रथ रोकने के लिए डीएमके और कांग्रेस के बीच सीटों के बटवारें पर सहमति बन गयी है।

आज ग़ुलाम नबी आज़ाद की डीएमके चीफ एम करूणानिधि से तीसरी मुलाक़ात थी और आखिरकार सीटों के बंटवारे पर दोनों ही पार्टियों की सहमति बन ही गयी। इससे पहले कांग्रेस वरिष्ठ नेता ग़ुलाम नबी आज़ाद ने करूणानिधि से फरवरी 13 और मार्च 24 को मुलाक़ात की थी। दो मुलाक़ातों के बाद भी सीट बंटवारे पर बातचीत ज़ारी रही

सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस ने 2011 की ही तरह 63 सीटों की मांग की थी जिस पर डीएमके राज़ी नहीं हुई। डीएमके 33 से ज्यादा सीटें देने के मूड में नहीं थी। जिसके बाद आज आखिर 41 सीटों पर बात तय हुई। डीएमके सूत्रों की माने तो कांग्रेस से जी के वसन के निकल जाने से पार्टी कमज़ोर हो गयी है। साथ ही अंदरूनी झगड़ों ने कांग्रेस की जड़ों को और भी कमज़ोर कर दिया है। यहीं कारण है की डीएमके ज्यादा सीटें देने को राज़ी नहीं हुई।

तमिलनाडु में 234 विधानसभा सीट हैं। यहां 16 मई को पार्टियों का भाग्य ईवीएम मशीन में कैद हो जायेगा और 19 मई को मतगणना होगी। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने सीट बंटवारे की घोषणा करते हुए कहा कि लंबी बातचीत और कई राउंड की बैठकों के बाद हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं.’उन्होंने कहा कि ‘सीट बंटवारे के लिए कांग्रेस पार्टी के नेताओं के साथ डीएमके प्रमुख और पार्टी के युवा नेताओं से भी सभी पहलू पर विस्तार से चर्चा हुई।’

साथ ही ये भरोसा भी जताया कि ‘तमिलनाडु में हर 5 साल में सरकार बदलने की परंपरा चली आई है इसलिए अब डीएमके ही सरकार बनाएगी।”डीएमके और कांग्रेस ने जयललिता की पार्टी एआईएडीएमके का रथ रोकने के लिए ये गठजोड़ किया है। हालांकि एआईएडीएमके को भरोसा है कि ब्रांड अम्मा रथ पर सवार जे जयललिता ही इस बार भी सरकार बनाएगी।

एआईएडीएमके का कहना है की ‘ये जनता जानती है कि किस तरह डीएमके और कांग्रेस ने मिलकर देश को लूटा है और केंद्र के बाद अब राज्य में भी जनता इन्हे बाहर करेगी।’2011 में डीएमके के साथ कांग्रेस ने 63 सीटों पर चुनाव लड़ा था जिसमे केवल 5 सीटों पर ही जीत हासिल की और डीएमके केवल 23 सीटों पर जीत पायी।
Tamil Nadu, Amma, chariots, DMK, Congress

wefornews bureau

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top