Connect with us

स्वास्थ्य

महाराष्ट्र, गुजरात, यूपी समेत कई राज्यों में स्वाइन फ्लू का कहर

Published

on

swine flu
फाइल फोटो

देश के कई राज्य में स्वाइन फ्लू का कहर बरपा हुआ है। महाराष्ट्र, गुजरात, उत्तर प्रदेश और दिल्ली सहित कई राज्यों में स्वाइन फ्लू के चलते सैकड़ों लोगों की मौत हो गई है।

अकेले गुजरात में ही स्वाइन फ्लू से इस साल करीब 230 लोगों की मौत हो चुकी है और दिल्ली में 1307 मामलों से 4 लोगों की मौत हुई है। वहीं उत्तर प्रदेश में इस साल करीब 700 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 21 लोगों की मौत हो गई है। इस तरह देश भर में स्वाइन फ्लू के अब तक 18,885 मामले आए हैं, जिनमें 929 मरीजों की मौत हुई है।

महाराष्ट्र में स्वाइन फ्लू का खतरा

महाराष्ट्र में स्वाइन फ्लू के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं, आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र में 13 अगस्त तक 4011 मामले दर्ज किए गए जिनमें से 404 मरीजों की मौत हो चुकी है। सूबे के अस्पतालों में स्वाइन फ्लू के मरीज पड़े हैं और खौफ के साए में हैं।

गुजरात में स्वाइन फ्लू की महामारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गृह राज्य गुजरात स्वाइन फ्लू पर काबू पाने में नाकामयाब साबित हो रहा है। गुजरात में इस साल स्वाइन फ्लू के करीब 2100 मामले सामने आए हैं, जिसमें से अब तक 230 लोगों की मौत हो चुकी है।

गुजरात में स्वाइन फ्लू को लेकर पिछले 15 दिनों में 60 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि अहमदाबाद में इस साल 500 लोग स्वाइन फ्लू से प्रभावित हैं। जिनमें से 55 लोगों की मौत हो गई है। गुजरात सरकार ने एक एडवाइजरी भी जारी की है। जिसमें सभी अस्पतालों में वेन्टीलेटर ओर टॉमी फ्लू की दवाई का स्टॉक रखने के लिए कहा गया है। इतना ही नहीं सरकार के मुताबिक प्रशासन 5,000 डॉक्टरों की मदद से स्वाइन फ्लू का प्रसार रोकने के लिए जरूरी कदम उठा रहा है।

उत्तर प्रदेश में स्वाइन फ्लू का खतरा

स्वाइन फ्लू के चपेट में दूसरा राज्य उत्तर प्रदेश है। एक साल में स्वाइन फ्लू के करीब 700 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें 21 मौत होने की खबर है। उत्तर प्रदेश के मेरठ में स्वाइन फ्लू से अब तक करीब आठ लोगों की मौत हो चुकी है। मेडिकल कॉलेज में भर्ती स्वाइन फ्लू के तीन रोगियों की 14 अगस्त को मौत हो गई। मेडिकल कॉलेज में बीते एक सप्ताह में तकरीबन 20 मामले सामने आए हैं।

इसके अलावा राजधानी लखनऊ भी स्वाइन फ्लू से जूझ रही है। समाजवादी एमएलसी सुनील साजन भी स्वाइन फ्लू की चपेट में आ गए हैं, जिनका इलाज चल रहा है। योगी सरकार ने एडवाइजरी भी जारी की है। इसके अलावा स्कूलों को भी निर्देश दिए हैं।
दिल्ली पर खतरा

दिल्ली एक बार फिर स्वाइन फ्लू की चपेट में है। पिछले 15 दिनों में स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है। जुलाई के मुकाबले अगस्त में स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या दुगनी हुई है। दिल्ली में 1 जनवरी से लेकर 13 अगस्त अब तक स्वाइन फ्लू के 1307 मामले सामने आए हैं, जबकि 4 मरीजों की स्वाइन फ्लू की वजह जान चली गई है। जबकि 30 जुलाई के आंकड़े के मुताबिक 642 मामले सामने आए थे, यानी कि सिर्फ 13 दिनों में स्वाइन फ्लू के लगभग 50 फीसद मामले बढ़े हैं। इसके अलावा तमिलनाडु में स्वाइन फ्लू के 2969 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 15 है।

स्वाइन फ्लू का वायरस कर्नाटक, केरला, राजस्थान में भी तेजी से पैर पसारे है। सरकार समझ नहीं पा रही है कि आम तौर पर सर्दियों में होने वाला स्वाइन फ्लू इस बार मानसून के सीजन में कैसे फैल रहा है।

क्या है स्वाइन फ्लू?

स्वाइन फ्लू , इनफ्लुएंजा यानी फ्लू वायरस के अपेक्षाकृत नए स्ट्रेन इनफ्लुएंजा वायरस A से होने वाला इनफेक्शन है। इस वायरस को ही H1N1 कहा जाता है। इसके इनफेक्शन ने 2009 और 10 में महामारी का रूप ले लिया था, लेकिन WHO ने 10 अगस्त 2010 में इस महामारी के खत्म होने का भी ऐलान कर दिया था। अप्रैल 2009 में इसे सबसे पहले मैक्सिको में पहचाना गया था। तब इसे स्वाइन फ्लू इसलिए कहा गया था क्योंकि सुअर में फ्लू फैलाने वाले इनफ्लुएंजा वायरस से ये मिलता-जुलता था।

क्या है स्वाइन फ्लू के लक्षण ?

स्वाइन फ्लू के लक्षण भी सामान्य एन्फ्लूएंजा जैसे ही होते हैं

  • नाक का लगातार बहना, छींक आना।
  • कफ, कोल्ड और लगातार खांसी।
  • मांसपेशियां में दर्द या अकड़न।
  • सिर में भयानक दर्द।
  • नींद न आना, ज्यादा थकान
  • दवा खाने पर भी बुखार का लगातार बढ़ना।
  • गले में खराश का लगातार बढ़ते जाना।

स्वाइन फ्लू का वायरस तेजी से फैलता है। कई बार मरीज के आसपास रहने वाले लोगों और तिमारदारों को चपेट में ले लेता है। लिहाजा, किसी में स्वाइन फ्लू के लक्षण दिखें तो उससे कम से कम तीन फीट की दूरी बनाए रखना चाहिए, स्वाइन फ्लू का मरीज जिस चीज का इस्तेमाल करे, उसे भी नहीं छूना चाहिए।

wefornews bureau 

स्वास्थ्य

किशोरावस्था में वजन घटाने की सर्जरी हृदय रोग में मददगार

Published

on

motapa-

बेरियाट्रिक सर्जरी (पेट की सर्जरी) करानेवाले किशोर/किशोरियों में हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है। एक नए शोध में यह दावा किया गया है।

शोध के निष्कर्षो से पता चलता है कि बेरियाट्रिक या वजन घटाने की सर्जनी अगर किशोरावस्था में ही करा ली जाती है, तो यह जीवन में बाद में भी अनियमित ग्लूकोज चयापचय, एथोरोसलेरॉसिस की हृदय की विफलता और स्ट्रोक के विकास और प्रगति को कम करके अद्वितीय लाभ प्रदान कर सकती है।

अमेरिका के ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी कॉलेज के प्रोफेसर मार्क पी. मिचलस्की ने बताया, “यह बेरिएट्रिक सर्जरी के बाद किशोरावस्था में हृदय रोग के जोखिम कारकों में परिवर्तन के पूर्वानुमान को लेकर पहली बार बड़े पैमाने पर किया गया विश्लेषण है। यह शोध ऑनलाइन जर्नल पेडियाट्रिक्स में प्रकाशित किया गया है। यह अध्ययन 242 किशोर/किशोरियों पर किया गया, जिन्हें जांच में हृदय रोग होने की संभावना पाई गई थी।

शोध में पाया गया कि बेरियाट्रिक सर्जरी से पहले 33 फीसदी प्रतिभागियों में तीन या उससे ज्यादा तरह के हृदय रोग होने का खतरा था। बेरियाट्रिक सर्जरी से न सिर्फ वजन में कमी आती है, बल्कि किशोर/किशोरियों के बीच डायस्लिपेडेमिया का जोखिम भी कम हो जाता है, जो रक्त में कोलेस्ट्रॉल का असामान्य रूप से बढ़ा स्तर होने के कारण होता है।

–आईएएनएस

Continue Reading

स्वास्थ्य

आठ घंटे से कम सोने से अवसाद का खतरा

Published

on

नींद
File Photo

अगर आप आठ घंटे से कम नींद ले रहे हैं तो सावधान हो जाइए। एक शोध के मुताबिक, आठ घंटे से कम सोने से अवसाद का खतरा बढ़ सकता है। नियमित तौर पर नींद में बाधा पड़ने से नकारात्मक विचारों से ध्यान हटाने में मुश्किल हो सकती है।

शोधकर्ताओं ने कहा कि अपर्याप्त नींद लेने से व्यक्ति के आसपास के नकारात्मक विचार उसके जीवन में दखल देते रहते हैं। बिंघाम्टन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर मेरेडिथ कोल्स ने कहा, हमने पाया है कि लोगों के दिमाग में कुछ विचार अटक जाते हैं और उनके बढ़े हुए नकारात्मक विचार उनके लिए नकारात्मक उत्प्रेरकों से अलग होने को मुश्किल बना देते हैं।

कोल्स ने कहा, ऐसा माना जाता है ये नकारात्मक विचार लोगों में कई तरह के मनोवैज्ञानिक विकार, जैसे अवसाद व व्यग्रता (डिप्रेशन एवं एंग्जाइटी) पैदा करते हैं। इस शोध का प्रकाशन जर्नल साइंसडायरेक्ट में किया गया है। इसमें लोगों की नींद लेने की अवधि के साथ नकारात्मक विचारों का मूल्यांकन किया गया।

–आईएएनएस

Continue Reading

स्वास्थ्य

महिलाओं के बाल झड़ना ट्यूमर का संकेत!

Published

on

File Photo

जिन महिलाओं के बाल लगातार झड़ते हैं, उनमें गैर-कैंसर वाले ट्यूमर का खतरा बना रहता है। यह ट्यूमर गर्भाशय की दीवारों के भीतर होता है।

सेंट्रल सेंट्रीफ्यूगल सिकेट्रिशियल एलोपेसिया (सीसीसीए) वाली महिलाओं में गर्भाशय के अंदर ट्यूमर का जोखिम पांच गुना अधिक होता है। एक नए शोध में यह पता चला है। फाइब्रॉएड गर्भाशय की दीवार पर पाए जाने वाले चिकनी पेशी के ट्यूमर हैं। वे गर्भाशय की दीवार के भीतर ही विकसित हो सकते हैं या इसके साथ जुड़े हो सकते हैं।

हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया (एचसीएफआई) के अध्यक्ष पद्श्री डॉ. के.के. अग्रवाल ने कहा, “फाइब्रॉएड गर्भाशय की मांसपेशी के ऊतकों में शुरू होते हैं। वे गर्भाशय की कैविटी में, गर्भाशय की दीवार की मोटाई या पेट की गुहा में बढ़ सकते हैं। फाइब्रॉएड के लिए मेडिकल शब्द है- लेय्योमायोमा।

फाइब्रॉएड शरीर में स्वाभाविक रूप से उत्पादित हार्मोन एस्ट्रोजन द्वारा उत्तेजना की प्रतिक्रियास्वरूप विकसित होते हैं। इनकी वृद्धि 20 साल की उम्र में दिख सकती है, लेकिन रजोनिवृत्ति के बाद ये सिकुड़ जाते हैं, जब शरीर एस्ट्रोजेन का बड़ी मात्रा में उत्पादन बंद कर देता है।”

डॉ. अग्रवाल ने आगे कहा, “फाइब्रॉएड का उपचार लक्षणों, आकार, उम्र और रोगी के सामान्य स्वास्थ्य पर निर्भर करता है। यदि कोई कैंसर पाया जाता है, तो यह रक्तस्राव अक्सर हार्मोनल दवाओं द्वारा नियंत्रित किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि कुछ खाद्य पदार्थ फाइब्रॉएड को बढ़ा सकते हैं। इसे रोकने के लिए संतृप्त वसा वाले खाद्य पदार्थो को फाइब्रॉएड रोगियों को नहीं देना चाहिए। ये वसा एस्ट्रोजेन स्तर को बढ़ा सकते हैं, जिससे फाइब्रॉएड बड़ा हो सकता है। कैफीन युक्त पेय पदार्थ गर्भाशय फाइब्रॉएड होने पर नहीं लेना चाहिए।

डॉ. अग्रवाल के मुताबिक, उच्च नमक वाले फूड्स अपने आहार से दूर रखें, क्योंकि वे आपके जिगर पर दबाव डालते हैं। जिगर विषाक्त पदार्थो को हटाने और हार्मोन संतुलन के लिए सबसे अधिक जिम्मेदार अंग है।

–आईएएनएस

Continue Reading
Advertisement
UP Assistant Teacher Recruitment
शहर3 hours ago

Uttar Pradesh: टीचर भर्ती के लिए 68500 वैकेंसी, 25 जनवरी से करें आवेदन

शहर4 hours ago

पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में बस पलटने से 7 की मौत, 22 घायल

10rs coin
राष्ट्रीय5 hours ago

RBI ने दी सफाई- 10 रुपये के सभी 14 तरह के सिक्के वैध और मान्य

pravin-togadia
राजनीति5 hours ago

अस्पताल से छूटते ही मोदी पर बरसे प्रवीण तोगड़िया

surya-pratap-sahi
राजनीति5 hours ago

योगी के मंत्री के खिलाफ गिरफ्तारी और कुर्की का आदेश

cow
शहर5 hours ago

मुस्लिम पार्षद ने गाय को थाने में बांधा, बोले- ‘परिवार की जान को है खतरा’

sumsung-
टेक6 hours ago

सैमसंग ने गैलेक्सी ऑन7 प्राइम लॉन्च

Manish
मनोरंजन6 hours ago

‘मुगल-ए-आजम’ के लिए सम्मानित हुए मनीष मल्होत्रा

ramdev
राष्ट्रीय6 hours ago

भक्ति चैनलों के प्रसारण फीस को लेकर मोदी सरकार पर भड़के रामदेव, कहा- कोई बाबा लाखों रुपए रोज नहीं दे सकता

सुप्रीम कोर्ट
राष्ट्रीय6 hours ago

आधार की अनिवार्यता पर सुप्रीम कोर्ट में उठे ये सवाल

narottam patel
राजनीति3 weeks ago

रूपाणी कैबिनेट में दरार के आसार! नितिन पटेल के समर्थन में उतरे बीजेपी नेता नरोत्‍तम पटेल

lalu yadav
राजनीति2 weeks ago

चारा घोटाला: लालू को साढ़े तीन साल की सजा

Vinod Rai CAG
ब्लॉग4 weeks ago

संघ के 92 साल के इतिहास में विनोद राय की टक्कर का फ़रेबी और कोई नहीं हुआ!

sports
खेल1 week ago

केपटाउन टेस्‍ट: गेंदबाजों की मेहनत पर बल्‍लेबाजों ने फेरा पानी, 72 रनों से हारी टीम इंडिया

Congress party
ब्लॉग3 weeks ago

काँग्रेसियों की अग्निपरीक्षा! इन्हें ही एक बार फिर देश को आज़ाद करवाना होगा

atal bihari vajpai
ज़रा हटके3 weeks ago

आजीवन क्यों कुंवारे रह गए अटल बिहारी बाजपेयी?

hardik-nitin
राजनीति3 weeks ago

नितिन पटेल की नाराजगी पर हार्दिक की चुटकी, कहा- ’10 एमएलए लेकर आओ, मनमाफिक पद पाओ’

ananth-kumar-hegde
ओपिनियन3 weeks ago

ज़रा सोचिए कि क्या भारत के 69 फ़ीसदी सेक्युलर ख़ुद को हरामी बताये जाने से ख़ुश होंगे!

Modi Manmohan Sonia
ओपिनियन4 weeks ago

2G मामले में ट्रायल कोर्ट के फ़ैसले से सुप्रीम कोर्ट और विपक्ष दोनों ग़लत साबित हुए!

rape case
ओपिनियन4 weeks ago

2017 In Retrospect : दुष्कर्म के 5 चर्चित मामलों ने खोली महिला सुरक्षा की पोल

sitaraman
राष्ट्रीय8 hours ago

सुखोई-30 लड़ाकू विमान में उड़ान भरने वाली देश की पहली महिला रक्षा मंत्री बनीं निर्मला सीतारमण

bjp leader
शहर11 hours ago

बीजेपी नेता ने अधिकारी को जड़ा थप्पड़, देखें वीडियो…

shivraj singh chouhan
राजनीति1 day ago

शिवराज सिंह ने किसको जड़ा थप्पड़? देखें वीडियो…

अंतरराष्ट्रीय4 days ago

PoK में पाक सरकार के खिलाफ प्रदर्शन, सड़कों पर उतरे व्यापारी

Supreme Court Judges
राष्ट्रीय5 days ago

पहली बार SC के जज आए सामने, कहा- ‘हम नहीं बोले तो लोकतंत्र खत्म हो जाएगा’

gadkari
राजनीति6 days ago

नौसेना पर बरसे गडकरी, कहा- ‘दक्षिणी मुंबई में नहीं दूंगा एक इंच जमीन’

mumbai-
शहर6 days ago

मुंबई के हुक्काबार में जमकर तोड़फोड़

helicopter
शहर7 days ago

आर्मी-डे परेड की रिहर्सल के दौरान 3 जवान घायल…देखें वीडियो

Ashwini-Kumar-Chopra
राजनीति1 week ago

भाजपा सांसद का बयान- 2019 में जिताओगे तो 2014 के वादे पूरे करूंगा, देखिए वीडियो

iligaters
अन्य1 week ago

ठंड का कहर: मगरमच्छ बन गया बर्फ…देखें वीडियो

Most Popular