Connect with us

व्यापार

शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में मजबूती

Published

on

sensex
File Photo

देश के शेयर बाजार मंगलवार को मजबूती के साथ खुले।

प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.48 बजे 99.99 अंकों की मजबूती के साथ 35,583.46 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 26.00 अंकों की बढ़त के साथ 10,812.95 पर कारोबार करते देखे गए।

बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 41.83 अंकों की मजबूती के साथ 35,525.30 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 29.2 अंकों की बढ़त के साथ 10,816.15 पर खुला।

–आईएएनएस

व्यापार

शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में कमजोरी

Published

on

sensex-1
File Photo

देश के शेयर बाजार मंगलवार को गिरावट के साथ खुले।

प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.24 बजे 79.11 अंकों की कमजोरी के साथ 35,469.15 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 33.90 अंकों की कमजोरी के साथ 10,765.95 पर कारोबार करते देखे गए।

बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 4.21 अंकों की मामूली बढ़त के साथ 35,552.47 पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 10.4 अंकों की कमजोरी के साथ 10,789.45 पर खुला।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

लाल निशान में खुले शेयर बाजार

Published

on

sensex
फाइल फोटो

देश के शेयर बाजार सोमवार को गिरावट के साथ खुले। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.43 बजे 51.50 अंकों की गिरावट के साथ 35,570.64 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 15.25 अंकों की कमजोरी के साथ 10,802.45 पर कारोबार करते देखे गए।

बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 76.29 अंकों की मजबूती के साथ 35,698.43 पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 12.5 अंकों की बढ़त के साथ 10,830.20 पर खुला।

–आईएएनएस

Continue Reading

व्यापार

गोडाउन दालों से भरे पड़े हैं फिर भी दाल आयात को मिली मंजूरी!

Published

on

pulses-wefornewshindi
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

केंद्र सरकार ने दालों के आयात के लिए कोटा आवंटित किया है और मोज़ाम्बिक के साथ एक अतिरिक्त आयात समझौता लागू कर रहा है, जबकि घरेलू दालों का उच्‍च स्‍तर मौजूद हैं और आगे भी उत्‍पादन उत्पादन अधिक होने की उम्‍मीद है।

द हिन्‍दू के मुताबिक, किसान और मिलर्स स्थिति से नाखुश हैं, लेकिन सरकार का कहना है कि यह भारतीय उपभोक्ताओं की जरूरतों को संतुलित करता है और एक तरफ विदेशी व्यापार भागीदारों के प्रति प्रतिबद्धता और दूसरे ओर भारतीय किसानों के हितों को भी प्रतिबद्ध करता है।

मानसून के अच्छे पूर्वानुमान के पीछे, कृषि आयुक्त ने 2018-19 में 24 मिलियन टन घरेलू दालों के उत्पादन की भविष्यवाणी की, जो पिछले साल की तुलना में अधिक है। इसके बावजूद भी मोदी सरकार ने दाल आयात को मंजूरी दी।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular